Monday, May 7, 2018

जेल भरो आंदोलन का नेतृत्व जलयुद्ध नायक चौ. अभय सिंह चौटाला व बसपा के वरिष्ठ नेता करेंगे- अशोक अरोड़ा 


एसवाईएल, मेवात केनाल व दादूपुर नलवी के निर्माण के लिए 8 मई को मिनी सैक्रेटेरियट, नूंह में होने वाले इनेलो-बसपा के जेल भरो आंदोलन की तैयारियों का जायजा लेने आज पार्टी कार्यालय, अनाज मंडी नूंह में इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष श्री अशोक अरोड़ा इनेलो- बसपा के कार्यकर्ताओं के बीच पंहुचे। इनेलो बसपा के दोनों नेताओं ने कार्यकर्ताओं के साथ जेल भरो आंदोलन को लेकर विस्तारपूर्वक चर्चा की। 
अरोड़ा ने कहा कि एसवाईएल, मेवात फीडर कैनाल व दादूपुर नलवी नहर के पानी को लेकर इनेलो व बसपा का संघर्ष रंग लाएगा। मिनी सैक्रेटेरियट नूंह में होने वाला 8 मई का इनेलो-बसपा का जेल भरो आंदोलन जलयुद्ध नायक चौ. अभय सिंह चौटाला की अगुवाई में होगा। यह आंदोलन इस मुद्दे पर सरकार को झुकने को मजबूर कर देगा। स्वर्गीय चौधरी देवीलाल ने प्रदेश के किसान सहित हर वर्ग को खुशहाल बनाने के लिए जीवनपर्यंत संघर्ष किया, उन्हीं के पदचिन्हों पर आज इनेलो सुप्रीमों चौ. ओमप्रकाश चौटाला के आशीर्वाद से इनेलो नेता खेलरत्न चौ. अभय सिंह चौटाला की अगुवाई में एसवाईएल, मेवात फीडर कैनाल व दादूपुर नलवी नहर की लड़ाई लड़ रही है। इनेलो नेता ने कार्यकर्ताओं से कहा कि 8 मई को जेल भरो आंदोलन के तहत लघु सचिवालय नूंह में ज्यादा से ज्यादा संख्या में शामिल होने के लिए गाँव-गाँव जाकर लोगों न्योता दें तथा इनेलो द्वारा लङी जा रही एस वाई एल, मेवात फीडर कैनाल व दादूपुर नलवी के निर्माण की लङाई से लोगों को अवगत कराएं। उन्होंनें कहा कि 8 मई को जलयुद्ध नायक चौ. अभय सिंह चौटाला व इनेलो बसपा के वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में मिनी सैक्रेटेरियट, नूंह में हजारों की तादाद में भीड़ जुटेगी तथा इनेलो-बसपा द्वारा प्रदर्शन व जेल भरो आंदोलन कर गिरफ्तारियाँ दी जाएंगी। एसवाईएल, मेवात केनाल व दादूपुर नलवी नहर के निर्माण के लिए इनेलो-बसपा हर कुर्बानी देने के लिए तैयार हैं। 
उन्होंने कहा की भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आमजन में भारी रोष है और अब लोग एकजुटता से सरकार को सत्ता से बेदखल कर इनेलो व बसपा गठबंधन की सरकार बनाने का मन बना चुके हैं। बसपा इनेलो गठबंधन के कार्यकर्ता आमजन को साथ लेकर जन मुद्दों के लिए संघर्ष को तैयार हैं। केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार एसवाईएल, मेवात फीडर कैनाल व दादूपुर नलवी नहर के मामले में चुप्पी साधे हुए हैं। यह जेल भरो आंदोलन सरकार की चुप्पी तोड़ने का काम करेगा। गठबंधन का यह संघर्ष एसवाईएल, मेवात केनाल और दादूपुर नलवी नहर का पानी नहीं मिलने तक जारी रहेगा।  यह आंदोलन राजनीति का ना हो कर अपितु एक आम जन आंदोलन है। इसलिए आम जन पार्टीबाजी से ऊपर उठकर इस लड़ाई में इनेलो-बसपा का सहयोग करें। इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने आरोप लगाया कि भाजपा व कांग्रेस ने हमेशा ही समाज को बांटने का काम किया है और प्रदेश में बने भाईचारे को तोडऩे का काम किया है। इनेलो नेता वे आरोप लगाया कि एसवाईएल मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा प्रदेश के हक में फैसला दिया गया है। इस फैसले के बाद भी भाजपा सरकार एसवाईएल नहर निर्माण में कोई रूचि नहीं दिखा रही है। इससे स्पष्ट हो जाता है कि भाजपा सरकार किसान हितैषी नहीं है और यह सरकार केवल पूंजीपति वर्ग तक ही सीमित रह गई है। प्रदेश के युवाओं को भी रोजगार के उचित अवसर प्रदान नहीं किए जा रहे। प्रदेश में महिलाएं भी असुरक्षित महसूस कर रही हैं। व्यापारी, कर्मचारी, किसान व कमेरा वर्ग भी अपने हकों के लिए संघर्ष की राह अपना रहा है। इसके चलते आज आम आदमी भाजपा की दमनकारी नीतियों से तंग आ चुका है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने भी कभी भी किसानों के हितों की सुध नहीं ली। कांग्रेस ने भी हमेशा ही एसवाईएल के मामले को लेकर राजनीतिक रोटियां सेंकने का ही काम किया है। कांग्रेस राज में अनेक करोड़ों के घोटालें हुए और भ्रष्टाचार को भी बढ़ावा मिला। उन्हेांने दावा किया कि प्रदेश में इनेलो-बसपा का गठबंधन बड़ी मजबूती के साथ आगे बढ़ रहा है, इससे विरोधी दल बौखला गए हैं। उन्होंने कहा कि यह दो दलों का नहीं बल्कि दो दिलों का गठबंधन है। उन्होंने कहा कि इस गठबंधन से भाजपा व कांग्रेस दोनों पार्टियाँ पूरी तरह से बोखला गई हैं, क्योंकि इस गठबंधन की वजह से इन दोनों पार्टियों का सफाया तय है। इनेलो-बसपा के गठबंधन से प्रदेश के हर वर्ग के लोगों में खुशी की लहर है और यह गठबंधन देश व प्रदेश की राजनीति में एक नई ईबारत लिखने का काम करेगा। इस गठबंधन से भाई-बहन का रिश्ता बना है, जो अटूट है। दोनों ही पार्टियाँ किसान-मजदूर, दलित व कमेरे वर्ग की भलाई के लिए प्रयासरत हैं। इनेलो विधायक ने कहा कि यह गठबंधन देश व प्रदेश को भाजपा व कांग्रेस मुक्त बनाने का काम करेगा तथा देश हित में यह गठबंधन तीसरे मोर्चे की भूमिका निभाएगा। 
उन्होंनें कहा कि अब इनेलो-बसपा द्वारा राज्य सरकार की जन-विरोधी नीतियों के खिलाफ संयुक्त संघर्ष किया जाएगा। प्रदेश में होने वाले धरना-प्रदर्शन व एक मई को शुरू होने वाले जेल भरो-आंदोलन में दोनों पार्टियाँ संयुक्त रूप से भागीदारी करेंगी। इनेलो विधायक चौ. ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि प्रदेश में आने वाली सरकार इनेलो-बसपा की होगी तथा मुख्यमंत्री चौ. ओमप्रकाश चौटाला होंगे। देश में तीसरे मोर्चे की सरकार बनेगी, जिसका नेतृत्व बहन कु. मायावती जी करेंगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इनेलो-बसपा की सरकार बनने पर प्रदेश के हर वर्ग के लोगों का विकास होगा। युवाओं को रोजगार दिया जाएगा। मेवात क्षेत्र जो विकास व रोजगार के मामले में अन्य जिलों से पिछड़ गया है, उसे उसका पूरा हक़ मिलेगा। उन्होंने कहा की यह गठबंधन जनता की भावनाओं के अनुरूप है तथा इस गठबंधन से प्रदेश की राजनीति में हलचल मच गई है। उन्होंने कहा की प्रदेश का हर वर्ग वर्तमान सरकार की कार्यप्रणाली से दुखी है। इस गठबंधन से गरीब मजदूर किसान के साथ साथ जहाँ आए दिन दलितों पर हो रहे अत्याचार का सफाया होगा वही हताश बेरोजगार युवा वर्ग को रोजगार देने का काम किया जाएगा। 
इनेलो-बसपा के कार्यकर्ताओं को इनेलो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री अनंतराम तंवर, इनेलो विधायक चौ. ज़ाकिर हुसैन के अलावा विधायक नसीम अहमद, पूर्व मंत्री चौ. मौ. इलयास, जिलाध्यक्ष मास्टर बदरूद्दीन,बसपा नेता महेन्द्र जाजोरिया, हाजी सुबराती खान,  इनेलो नेता श्री रिषीराज राणा, बसपा जिलाध्यक्ष श्री चरण सिंह ईंडरी, अकबर अली, हाजी अब्दुल्ला सरपंच, हरीश शर्मा उर्फ बाॅबी, हाजी आसम आदि नेताओं ने भी संबोधित कर 8 मई को जेल भरो आंदोलन में भारी संख्या में पंहुचनें की अपील की।
इस अवसर पर जगन सिंह पार्षद, देवी सिंह प्रधान, हाजी अब्दुल्ला सरपंच, रणजीत नंबरदार, जान मौ. हल्का अध्यक्ष, मौ. सालाहेड़ी, अकबर अली, हितेश देशवाल, श्री चरण सिंह, महेन्द्र सैन, धनप्रकाश, राधेश्याम, महिला जिलाध्यक्ष सरोज, लियाकत सरपंच, भानू शर्मा, हाजी इस्राइल, मौ. खाँ सरपंच, पहलू कवंरसीका, अमरसिंह सरपंच,  जमील सरपंच, इब्राहीम पहलवान, नासिर हुसैन, साकिर सालाहेड़ी, दीनू, जाकिर भडंगाका, हाफिज मौ. शाद, सरपंच,  जुबेर सरपंच, हाफिज इलयास, केशव तंवर एडवोकेट, इन्द्रजीत, डाॅ0 हनीफ, हाजी इसराईल, इसराईल रेहना, हाजी सोहराब सरपंच, नूरदीन नंबरदार, लियाकत सरपंच, मुंशी जी मेवली आदि सैंकड़ो इनेलो-बसपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment