Tuesday, May 15, 2018


सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले और ग्रामीण आंचल के युवाओं को नौकरियों में दी जाए विशेष वैटेज- अशोक अरोड़ा


कुरुक्षेत्र :  इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने सरकार से मांग की है कि ग्रामीण आंचल में रहने वाले तथा सरकारी स्कूलों में शिक्षा प्राप्त करने वाले युवाओं को वर्ग सी व डी की नौकरियों में विशेष वैटेज दी जाए, क्योंकि इंटरव्यू प्रणाली खत्म होने से ये युवा लिखित परीक्षाओं में पिछड़ जाने के कारण नौकरी से वंचित हो जाएंगे। अरोड़ा गांव नरकातारी में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने जोगना खेड़ा, दबखेड़ी, बहाली, बगथला, समस्तपुर, मुंडाखेड़ा, पिंडारसी, घराड़सी, झिंझरपुर, बारना तथा मिर्जापुर में भी जनसभाओं को आयोजित करके लोगों को 18 मई को कुरुक्षेत्र की नई अनाज मंडी में पहुंचने का न्यौता दिया।  अरोड़ा ने बताया कि 18 मई को इनेलो बसपा गठबंधन के हजारों कार्यकर्ता एसवाइएल, दादूपुर नलवी नहर व स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने की मांग को लेकर सामूहिक गिरफ्तारी देंगे। इन सभाओं को बसपा नेत्री शशि सैनी, इनेलो के राष्ट्रीय सचिव बलदेव बाल्मीकि, रामस्वरूप चोपड़ा, इनेलो हलका प्रधान रणबीर किरमिच, बसपा हल्का प्रधान सुनील कुमार, चंद्रभान बाल्मीकि, सतबीर शर्मा, प्रवीण कश्यप, मास्टर केहर सिंह, पूर्व पार्षद ओम प्रकाश ओपी, फतेह सिंह खेड़ी, अफसर सिंह, जसमेर घराड़सी, पूर्व सरपंच फकीर चंद बाल्मीकि, तून खान, तरसेम हरियापुर, मोहित सैनी, महाबीर जोगना खेड़ा, रमेश कुमार, ओम प्रकाश जोगना खेड़ा, सरदार तारा सिंह, धर्मसिंह, रेशम सिंह, जोगिंद्र सिंह, नाथूराम यादव सहित दोनों दलों के अनेक नेताओं ने संबोधित किया और लोगों से सामूहिक गिरफ्तारी देने के लिए कुरुक्षेत्र पहुंचने की अपील की।
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि पब्लिक स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थी उच्चश्रेणी की शिक्षा ग्रहण करते हैं और मोटी फीस देकर कोचिंग भी लेते हैं, जबकि सरकारी स्कूलों में गरीब विद्यार्थी पढ़ते हैं। वह मोटी फीस देकर कोचिंग नहीं ले सकते इसलिए वे लिखित प्रतियोगिता परीक्षाओं में पिछड़ जाते हैं। इसी लिए हरियाणा सरकार ऐसे विद्यार्थियों को जो सरकारी स्कूलों में पढ़ते हैं और गांव के रहने वाले हैं नौकरी के लिए विशेष वैटेज दी जाए ताकि ये युवक भी नौकरी पा सके। उन्होंने कहा कि यदि हरियाणा सरकार मैरिट के आधार पर नौकरी देने का दावा करती है तो उन्हें इन विद्यार्थियों को वैटेज देनी चाहिए। नहीं तो ये युवा बेरोजगार रह जाएंगे और पब्लिक स्कूलों में पढऩे वाले व कोचिंग लेने वाले नौकरी की प्रतियोगिताओं में आगे निकल जाएंगे।
अशोक अरोड़ा ने भाजपा सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि युवाओं को नौकरी देने का झांसा देकर वोट बटोरने वाली भाजपा की पोल खोल चुकी है। आज प्रदेश का युवा वर्ग बेरोजगार घूम रहा है। भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में किया गया कोई भी चुनावी वायदा पूरा नहीं किया। किसानों की फसल को लूटा जा रहा है, स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने का दावा करने वाली भाजपा ने सत्ता में आते ही इसे कूृड़ेदान में डाल दिया। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने एसवाईएल के बारे में हरियाणा के पक्ष में फैसला दिया हुआ है लेकिन सरकार एसवाईएल का पानी लाने में नाकामयाब रही है। दादूपुर नलवी नहर के लिए अधिग्रहण की गई जमीन को डी-नोटिफाइड करके सरकार ने इस इलाके के किसानों के साथ अन्याय किया है। उन्होंने कहा कि मजबूर होकर इनेलो बसपा गठबंधन को जेल भरो आंदोलन चलाना पड़ा और जब तक एसवाईएल का पानी नहर में नहीं आता तब तक गठबंधन के कार्यकर्ता जेल भरो आंदोलन जारी रखेंगे। 
अरोड़ा ने हरियाणा की कानून व्यवस्था पर टिप्पणी करते हुए कहा कि देश में कानून व्यवस्था का दिवाला पिट चुका है। दिनदहाड़े गोली मारकर लूटपाट की जा रही है। बलात्कार की घटनाएं बढ़ रही है। प्रदेश में अफसरशाही हावी है। जनता का हर वर्ग सरकार से दुखी है। कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर है, किसानों ने आंदोलन छेड़ रखा है। पूरे हरियाणा की जनता त्राही-त्राही कर रही है। मुख्यमंत्री इन सब से बेखबर विदेश में सैर-सपाटा करने में लगे हुए हैं। उन्हें प्रदेश की जनता के हितों से कोई सरोकार नहीं है। युवाओं के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। सरेआम नौकरियां बेची जा रही है। जो थोड़ी बहुत नौकरियां लगती है उन पर आरएसएस से संबंधित युवाओं को नौकरी दी जाती है। अरोड़ा ने कहा कि आगामी चुनाव में भाजपा का सूपड़ा साफ होगा और प्रदेश में ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार बनेगी। 

No comments:

Post a Comment