Thursday, May 17, 2018

भारती को बचाने में लगे हुए हैं मुख्यमंत्री- अशोक अरोड़ा


कुरुक्षेत्र, 17 मई: इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने मुख्यमंत्री द्वारा हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के चेयरमैन भारत भूषण भारती को जांच पूरी होने की अवधि तक हटाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भारती को बचाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार को पूरे चयन आयोग को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त करना चाहिए तथा आयोग के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए।  
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि जिस प्रकार से चयन आयोग की परीक्षा में ब्राह्मणों से संबंधित आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग करके प्रश्न पूछे गए हैं वह निंदनीय है ब्राह्मण पूरे समाज का पथ प्रदर्शक व पूजनीय होता है। उन्होंने कहा कि चाहिए तो यह था कि भारती नैतिक जिम्मेवारी लेते हुए स्वयं इस पद से त्याग पत्र दे देते, लेकिन नैतिकता नाम की कोई चीज तो भाजपाइयों में नहीं है। अब मुख्यमंत्री ने ब्राह्मण समुदाय के नेताओं के साथ बैठक में भारती को केवल जांच की अवधि तक हटाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी मुख्यमंत्री भारती को भ्रष्टाचार के मामले को लेकर उजागर हुई आडियो क्लिप में विजिलेंस जांच पूरी होने से पहले ही क्लीन चिट दे चुके हैं और जब आयोग के कर्मचारी भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किए गए उस मामले में भी मुख्यमंत्री ने भारती को क्लीन चिट दी थी। कर्मचारी तो जेल में है लेकिन ये दलाल व कर्मचारी जिनके लिए काम करते थे वे खुलेआम घूम रहे हैं। अब ब्राह्मण समुदाय से संबंधित मामले में भी गत दिवस मुख्यमंत्री ने मीडिया के सामने भारती को क्लीन चिट दे दी थी ऐसे में जांच कराने का कोई औचित्य नहीं रहता। जांच के नाम पर लीपापोती करके भारती को एक बार फिर से क्लीन चिट देकर दोबारा गद्दीनशीन कर दिया जाएगा। अशोक अरोड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा बार-बार भारती को क्लीन चिट देना संदेह पैदा करता है। उन्होंने कहा कि जांच की अवधि पूरी होने तक हटाने की बजाय चेयरमैन सहित पूरे आयोग को तुरंत प्रभाव से भंग किया जाए। इसी के साथ-साथ अखिल भारतीय सारस्वत ब्राह्मण सभा के संरक्षक एवं पूर्व पार्षद नरेंद्र शर्मा निंदी ने भी भारती को केवल जांच की अवधि तक हटाए जाने की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि यह फैसला ब्राह्मण समुदाय को गुमराह करने वाला है। उन्होंने कहा कि जांच के नाम पर भारती को फिर से क्लीन चिट मिल जाएगी। नरेंद्र शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री को चाहिए कि वह भारती को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त करे।

No comments:

Post a Comment