Wednesday, May 2, 2018

गैर भाजपा व गैर कांग्रेस दलों का तीसरा मोर्चा बनेगा देश में और मायावती होंगी प्रधानमंत्री- अभय चौटाला


कुरुक्षेत्र: बसपा प्रमुख बहन मायावती के नेतृत्व में देश में गैर भाजपा व गैर कांग्रेस दलों का तीसरा मोर्चा बनेगा और देश की अगली प्रधानमंत्री बहन मायावती होगी। यह घोषणा हरियाणा के नेता प्रतिपक्ष व वरिष्ठ इनेलो नेता अभय चौटाला ने रेलवे रोड स्थित एक निजी होटल में पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए की। इस पत्रकार वार्ता में इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, बसपा के चंडीगढ़, पंजाब व हरियाणा बसपा प्रभारी डॉ. मेघराज सिंह, बसपा प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती, पूर्व संसदीय सचिव रामपाल माजरा, बसपा नेता डॉ. बलदेव सिंह, इनेलो प्रवक्ता प्रवीण आत्रेय, इनेलो के वरिष्ठ नेता अश्वनी दत्ता, जिला इनेलो प्रधान कुलदीप सिंह मुलतानी, बसपा जिला प्रधान मान सिंह, युवा इनेलो जिला प्रधान सुनील राणा, इनसो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जसविन्द्र खैरा सहित दोनों दलों के अनेक नेता उपस्थित थे। अभय चौटाला ने बताया कि गठबंधन होने के पश्चात आज कुरुक्षेत्र में दोनों दलों की प्रदेश कार्यकारिणियों की बैठक आयोजित की गई थी। इस बैठक में युवा सांसद दुष्यंत चौटाला, सिरसा के सांसद, चरणजीत सिंह रोडी, राज्यसभा सांसद रामकुमार कश्यप, बूटा सिंह लुखी, मायाराम चन्द्रभानपुरा, डॉ. संतोष दहिया सहित दोनों दलों के सैंकड़ो कार्यकर्ताओं ने भाग लिया और संकल्प लिया इस गठबंधन को और अधिक मजबूत करके प्रदेश में चौ. ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में गठबंधन की सरकार बनाई जाएगी और देश के प्रधानमंत्री के पद पर मायावती को बिठाया जाएगा। गठबंधन की इस बैठक में 6 प्रस्ताव पारित किए गए, जिसमें हरियाणा की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर चिंता व्यक्त की गई तथा एक अन्य प्रस्ताव पारित करके आगजनी से गेहूं की फसल जलने पर उसका मुआवजा देने और किसानों के कर्जे का ब्याज माफ करने की मांग की गई। इसी के साथ-साथ 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों पर बनाए गए मुकदमे वापिस लेने और किसानों पर दिल्ली आंदोलन के दौरान बनाए गए संगीन मुकदमे वापिस लेने की मांग की गई। गठबंधन की इस बैठक में डीजल और पेट्रोल की बढ़ती कीमतों पर रोक लगाने का प्रस्ताव भी पास किया गया। इसी के साथ-साथ हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग को तुरंत प्रभाव से भंग करके आयोग द्वारा की गई भर्तियों की जांच सीबीआई से करवाने का प्रस्ताव भी पास किया गया। बैठक में राष्ट्रमंडल खेलों में मैडल जीतने वाले प्रदेश के खिलाड़ियों का जो अपमान हरियाणा सरकार ने किया है उसकी कड़ी निंदा की गई और सरकार से मांग की गई कि हरियाणा से संबंध रखने वाले हर मैडल जीतने वाले को सरकार की घोषणा के अनुसार ईनाम दिया जाए। अभय चौटाला ने कहा कि आयोग के कर्मचारियों और दलालों को तो गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन उनके सरगना को सरकार ने क्लीन चिट दे दी है। 
अभय चौटाला ने कहा कि एसवाईएल के मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के पश्चात आज तक प्रदेश सरकार ने हरियाणा में एसवाइएल में पानी लाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया जिस कारण इनेलो बसपा गठबंधन को मजबूत होकर 1 मई से जेल भरो आंदोलन शुरू करना पड़ा है। उन्होंने कहा कि 1 मई को भिवानी में जेल भरो आंदोलन के दौरान सरकार ने कार्यकर्ताओं के लिए बनाई गई खुली जेल में कोई मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध नहीं करवाई। अब 4 मई को यमुनानगर जिले में जेल भरो आंदोलन के दौरान जब तक सरकार लिख कर नहीं देगी कि वह मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध नहीं करवा सकती तब तक गठबंधन के कार्यकर्ता रिहा नहीं होंगे। इनेलो नेता ने सरकार से मांग की कि वे श्वेत पत्र जारी करके बताए कि कितने युवकों को रोजगार दिया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि जो भी भर्ती की जा रही हैं उनमें आरएसएस के लोगों को नौकरी दी जा रही है। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि इनेलो की सरकार बनने पर युवकों से नौकरी के लिए आवेदन करने की कोई फीस नहीं ली जाएगी और एक घर से एक युवक को रोजगार दिया जाएगा। रोजगार से वंचित रहने वालों को 15 हजार रुपये महीना बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।
पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए बसपा नेता डॉ. मेघराज सिंह ने कहा कि इस गठबंधन से भाजपा व कांग्रेस बौखला गए हैं। वह गठबंधन के बारे में भ्रामक प्रचार करने में लगे हुए हैं। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि सीटों का बंटवारा तय हो चुका है। चुनाव घोषित होते ही गठबंधन सीटों का बंटवारा घोषित कर देगा। उन्होंने कहा कि यह गठबंधन बहुत मजबूत बंधन है जो कि उत्तर से दक्षिण तक फैलेगा। उन्होंने कहा कि यूपी में बसपा और सपा के गठबंधन ने मोदी और योगी को करारी शिकस्त दी थी। इसी प्रकार अन्य प्रदेशों में भी क्षेत्रीय दलों से गठबंधन करके प्रदेशों के साथ-साथ देश में भी मायावती के नेतृत्व में गठबंधन की सरकार बनेगी।

No comments:

Post a Comment