Tuesday, May 15, 2018

हांसी के व्यापारियों के धरने पर दुष्यंत ने दिया समर्थन


हांसी:  सीजन शुरू होते ही मनोहर लाल खट्टर सरकार ने प्रदेश में गेहूं का एक-एक दाना खरीदने के बड़े-बड़े दावे किए थे परन्तु अब अनाज मंडियों में सरकार ने 15 दिन बाद ही गेहूं की खरीद बंद कर दी है। ऐसी क्या वहज है कि हांसी सहित अनेक अनाज मंडियों में गेहूं की खरीद पिछले एक सप्ताह से खरीद नहीं कर रही है। यह सवाल आज इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने सरकार से पूछा। वे शनिवार को हांसी की अनाज में मंडी गेहूं खरीद न होने के विरोध में धरने पर बैठने व्यापारियों को संबोधित कर रहे थे। दुष्यंत चौटाला ने यहां धरने पर बैठे व्यापारियों की मांगों का समर्थन करते हुए बिना विलंब के गेहूं की खरीद शुरू करने की मांग की। इससे पहले अनाज मंडी के व्यापारियों ने दुष्यंत के समक्ष गेहूं खरीद बंद करने की जानकारी विस्तार से दी। उन्होंने बताया कि 24 अप्रैल से हांसी की अनाजमंडी में गेहूं की खरीद नहीं हो रही है। वे इस बारे में अधिकारियों से अनेक बार गुहार लगा चुके हैं और डीएफएससी लगातार उनके साथ टरकाऊ रवैये अपनाए हुए हैं। 
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भाजपा एक तरफ तो किसानों की आय दोगुना करने की बात कर रही है दूसरी सरकार ने गेहूं की खरीद बंद कर दी है जबकि सरकार ने गेहूं की खरीद का समय 15 मई तक निर्धारित किया हुआ है। उन्होंने कहा कि इस बार गेहूं का उत्पादन पिछले वर्ष के गुना 20 प्रतिशत अधिक हुआ तो सरकार गेहूं की खरीद नहीं कर रही है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि भाजपा नेता खेती बारे क्या जानें, वे तो सिर्फ यह जानते हैं कि समाज के लोगों को जात-पात के नाम पर लड़वाना जानते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा के वर्तमान में कृषि मंत्री, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सहित अन्य कई नेता अर्धनग्र होकर स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने की मांग कर रहे थे और अब किसानों की गेंहू व सरसों की खरीद नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का रवैया विकास करने और तस्वीर सुधारने का न होकर समाज की तस्वीर बिगाडऩे और समाज को जात-पात के नाम पर बंटवाने का रहा है। उन्होंने धरने पर व्यापारियों से आहन किया कि वे अपने इस संघर्ष किसानों के साथ और संगठित हो कर चलाएं, निश्चित रूप से अपनी जीत होगी। उन्होंने कहा कि इस संषर्घ में इनेलो उनके साथ खड़ी है। 
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि वे गेहूं खरीद को लेकर मुख्य सचिव से बातचीत करेंगे हांसी सहित अन्य मंडियों में गेहूं खरीद शुरू करने की मांग करेंगे। उनके साथ जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, पूर्व मंत्री सुभाष गोयल, हलका प्रधान इंद्र फौजी, सतबीर सिसाय, अनिल मित्तल, रवि गोयल, युवा जिला प्रधान अमित बूरा, राजीव शर्मा, रविंद्र सैनी, करण सिंह दैपल,  जयवीर सिहाग, बाली भाटोल, संतोष पानू, वीना चौधरी, सहित अन्य नेता थे।

No comments:

Post a Comment