Friday, May 11, 2018

एसवाईएल का पानी नहीं मिलने तक इनेलो बसपा कार्यकर्ता जेल भरते रहेंगे - अभय सिंह चौटाला  


सिरसा: हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कहा कि लोक दिखावे और छलावे की सरकार बन चुकी भाजपा के अब जाने का वक्त आ चुका है और आने वाला समय किसान और कमेरे का है। अब देश और प्रदेश का किसान और कमेरा अपने अधिकारों के प्रति सचेत हो चुका है और जब तक चैन से नहीं बैठेगा जब तक सत्ता की चाबी उनके हाथ में नहीं होगी। वे शुक्रवार को अनाजमंडी में इनेलो बसपा गठबंधन की ओर से आयोजित जेल भरो आंदोलन के तहत आयोजित विशाल जनसभा में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि इनेलो बसपा गठबंधन के सक्रिय कार्यकर्ता तब तक जेलों को भरते रहेंगे जब तक सरकार हरियाणा के प्यासे खेतों तक एसवाईएल का पानी नहीं पहुुंचाएगी। इतना ही नहीं दादूपुर नलवी नहर के पुनर्निर्माण के साथ-साथ मेवात कैनाल में पानी लाने, किसानों को उनकी फसलों के भावों में 50 फीसदी बढ़ोत्तरी करके स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने और प्रदेश के किसानों के कर्ज माफ करने की मांग भी पूरा कराने के लिए आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि जब से प्रदेश में इनेलो बसपा का गठबंधन हुआ है तभी से प्रदेश के अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं में चिंता पैदा हो गई है और वे विपरीत टिप्पणियां करने पर आमादा हैं जो यह दर्शाता है कि अल्प समय में ही गठबंधन कितना लोकप्रिय है। उन्होंने कहा कि यह गठबंधन दो दलों का नहीं बल्कि भाई और बहन के पवित्र रिश्ते का मेल हुआ है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2016 में सर्वोच्च न्यायालय ने एसवाईएल नहर के निर्माण के लिए केंद्र सरकार को आदेश जारी किए थे मगर प्रदेश की मौजूदा सरकार इस निर्णय को लागू कराने में असफल रही। प्रदेश सरकार बजाए हरियाणा के किसानों की दुख तकलीफों को दूर करने के, केवल प्रदेश के भाईचारे को खराब करने में जुटी है और यही कारण है कि अब से तीन मर्तबा पूर्व प्रदेश को आग के हवाले किया जा चुका है। नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कहा कि हाल ही में एसएस बोर्ड की ओर से प्रतियोगी परीक्षाओं में जानबूझ कर ब्राह्मण समाज को तिरस्कृत करने के उद्देश्य से एक सवाल पूछा गया जिससे आज पूरा ब्राह्मण समाज आहत होकर सड़कों पर है। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए संबंधित व्यक्ति को दंडित करने की बजाए, मुख्यमंत्री ने उनका कार्यकाल बढ़ाकर उन्हें सम्मानित किया है जबकि उन पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार ने संसदीय चुनावों में विजय प्राप्त करने के बाद एक वर्ष तक गांधीजी के सपने को पूरा करने के लिहाज से पूरे देश के हाथों में स्वच्छता अभियान के नाम पर झाडू थमा दी। निरंतर एक वर्ष तक देशवासियों को गुमराह करने के बाद भाजपा ने बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का नारा दिया मगर हैरानीजनक बात यह है कि आज हरियाणा में सर्वाधिक घटनाएं केवल बेटियों की इज्जत से खिलवाड़ की हैं। छोटी बच्चियों से होते रेप और महिलाओं से छेड़छाड़ की सर्वाधिक घटनाओं से आज हरियाणा शर्मसार है। उन्होंने कहा कि आज पूरे प्रदेश में किसान अपने खेतों में नरमा कपास की बिजाई नहीं कर पा रहे क्योंकि आज नहरों में पानी नहीं है। हरियाणा की मंडियों में किसानों को न तो सरसों का उचित भाव मिल रहा है और गेहूं की खरीद भी बंद कर उनके जख्मों पर नमक छिड़का जा रहा है।  


इससे पूर्व बसपा के प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती ने कहा कि हरियाणा में एसवाईएल का पानी लाने के लिए केवल पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल ने ही व्यापक संघर्ष किया। उन्हीं के संघर्ष को आगे बढ़ाते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला, डॉ. अजय सिंह चौटाला व अभय सिंह चौटाला ने भी प्रदेशवासियों के सहयोग से किसान और कमेरे के लिए सदैव संघर्ष किया है। वहीं राष्ट्रीय स्तर पर यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने भी दलितों के उत्थान के लिए जो योजनाएं बनाई, वे अनुकरणीय हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में बसपा और इनेलो गठबंधन की ही सरकार बनेगी और विकासपरक कार्यों को तेजी से चलाया जाएगा। इसी प्रकार इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने भी राज्य सरकार की नाकामियों पर उसे कटघरे में खड़ा किया। अशोक अरोड़ा ने एसवाईएल के लिए चौधरी देवीलाल द्वारा किए गए संघर्ष को विस्तारपूर्वक बताया और इसकी प्राप्ति के लिए कोई भी कुर्बानी देने की बात कही। मंच संचालन इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने किया। इस मौके पर इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी, विधायक मक्खनलाल सिंगला, बलकौर सिंह, रामचंद्र कंबोज, बलवान सिंह दौलतपुरिया, रविंद्र सिंह बलियाली, परमिंद्र ढुल, निशान सिंह, पृथ्वी नंबरदार, रणबीर गंगवा, शीला भ्याण, कृष्णा फौगाट, लीलूराम आसाखेड़ा, प्रदीप कागदाना, भूषण बरोड़, रविंद्र बाल्याण, रविंद्र प्रजापति, नरेंद्र वर्मा, अमीर चावला, वीरभान मेहता, प्रदीप मेहता, जसवीर सिंह जस्सा, डॉ. हरिसिंह भारी, कश्मीर सिंह करीवाला, तरसेम मिढा, महावीर शर्मा, डॉ. राधेश्याम शर्मा, विनोद गोदारा, अजब ओला, अभय सिंह खोड़, भरपूर सिंह गदराना, योगेश शर्मा, सरबजीत मसीतां, कृष्ण गुंबर, मनोहर मेहता, मदन शर्मा सहित अनेक पदाधिकारी मौजूद थे।

बसों में भरकर पहुंचे गिरफ्तारियां देने

कार्यक्रम के दौरान जहां इनेलो बसपा गठबंधन के सैकड़ों कार्यकर्ता जहां हरियाणा रोडवेज की करीब 15 बसों में भरकर कपास मंडी में अस्थाई तौर पर बनाई गई जेल में पहुंचकर गिरफ्तारियां दी। वहीं इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला पैदल ही अपने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ एसवाईएल का पानी लाना है, हरियाणा को बचाना है के नारे लगाते हुए गिरफ्तारी देने पहुंचे। कार्यकर्ताओं में इस दौरान काफी उत्साह देखा गया। 

No comments:

Post a Comment