Wednesday, May 2, 2018

भाजपा के राज में कुरुक्षेत्र की जनता को विकास के नाम पर मिली केवल धूल और मिट्टी- अशोक अरोड़ा 


कुरुक्षेत्र 3 मई : भाजपा को उस समय गहरा झटका लगा, जब नगर परिषद थानेसर के वार्ड 17 (सुरक्षित) की पार्षद रीना रानी अपने परिवार व समर्थकों सहित भाजपा को अलविदा कहकर इनेलो में शामिल होने की घोषणा की। जिला इनेलो कार्यालय में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने रीना रानी को पार्टी का झंडा भेंट किया और इनेलो में शामिल होने पर पार्षद व उनके परिवार के सदस्यों और समर्थकों का फूल माला डालकर स्वागत किया। अरोड़ा ने कहा कि पार्टी में शामिल होने वालों को पूरा मान सम्मान दिया जाएगा। इस अवसर पर पार्षद पति राजकुमार, कैलाश, मुकेश शर्मा, पूनम, अनिता, अमित सोलखे, कमल, इनेलो हल्का प्रधान रणधीर सिंह किरमिच, एससी सैल के जिला प्रधान चंद्रभान बाल्मिकी, अल्प संख्यक प्रकोष्ठ के जिला प्रधान तून खान, तरसेम हरियापुर, हरिश एडवोकेट, अमित एडवोकेट, इनेलो लाडवा हल्का प्रधान सुरेश सैनी, पार्षद कमलेश शर्मा के सुपुत्र योगेश शर्मा, सतबीर शर्मा, अमित सभ्रवाल, सतीश पांचाल, रमेश दयालपुर, डॉ. बलजीत शर्मा, अशोक कुमार, प्रवीण कश्यप, जसमेश घराड़सी, इकबाल राज बाजीगर, दीपक फौजी सहित इनेलो के अनेक नेताओं ने पार्षद रीना रानी व उनके समर्थकों का इनेलो में शामिल होने पर स्वागत किया। पार्षद ने इनेलो की नीतियों में विश्वास जताते हुए कहा कि उनके वार्ड में विकास के नाम पर पिछले दो वर्ष में केवल एक गली बनी है। लोगों के बैठने के लिए बैंच भी नहीं लगाए गए। उन्होंने भाजपा के समान विकास के दावे को खोखला बताते हुए कहा कि भाजपा नेता केवल बातें करते हैं। इस अवसर पर इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने पार्टी में शामिल होने वालों का स्वागत करते हुए कहा कि इनेलो कमेरे वर्ग की पार्टी है। इसीलिए कमेरे वर्ग से संबंधित पार्षद रीना रानी इनेलो में शामिल हुई है। उन्होंने कहा कि कुरुक्षेत्र की जनता को भाजपा के साढे तीन साल में केवल धूल और मिट्टी मिली है। ठीक ठाक सड़कों और गलियों को उखाड़ कर भाजपा के चहेते ठेकेदारों को लाभ पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश बसपा और इनेलो का गठबंधन कमेरे वर्ग का गठबंधन है और यह गठबंधन सत्ता में आएगा। प्रदेश की कानून व्यवस्था पर टिप्पणी करते हुए अरोड़ा ने कहा कि राष्ट्रीय अपराध ब्यूरो के आंकड़ों के अनुसार राष्ट्रीय स्तर पर 0.3 प्रतिशत अपराध की दर है, जबकि हरियाणा में यह दर 1.5 प्रतिशत है। इस प्रकार हरियाणा में भाजपा के राज में अपराध बढ रहे हैं। हरियाणा अपराधियों की शरण स्थली बनकर रह गया है। बेटी बचाओ का नारा लगाने वाली भाजपा के राज में छोटी-छोटी लड़कियों के साथ बलात्कार हो रहे हैं जो कि बड़े शर्म की बात है। 

No comments:

Post a Comment