Monday, October 2, 2017


शिक्षा मंत्री जी कोई एक उपलब्धि तो गिनवाओ - दिग्विजय चौटाला


भिवानी : हरियाणा के इतिहास में शिक्षा नीति का दिवाला भाजपा सरकार में चर्म सीमा पर है। शिक्षकों की भर्ती कोर्ट के आदेश पर होती है और सरकार अपनी पीठ थपथपाकर अपने मन को तसल्ली दे रही है। शिक्षा मंत्री आए दिन अखबारी बयान देकर जनता को बरगलाने का काम कर रहे हैं। एक भी उपलब्धि शिक्षा मंत्री गिनवा दें। यह आरोप इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने शिक्षा के बयान पर पलटवार करते हुए कहे। इनसो अध्यक्ष ने कहा कि आज सबसे बुरा हाल सरकारी स्कूलों का है। शिक्षकों के हजारों पद खाली पड़े हैं, लेकिन सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, स्वच्छता अभियान और गायों के मुद्दों के सहारे आम जनता को बरगलाने का काम कर रही है। भाजपा के स्वच्छता अभियान के ऊपर चुटकी लेते हुए दिग्विजय ने कहा कि जिस दिन भी भाजपा नेता फोटो सेशन के लिए हाथ में झाड़ू लेकर निकलते हैं, उससे अगले दिन कूड़े का ढेर लगा मिलता है। यह सब अखबारों में झूठे बयान और अपनी फोटो लगवाने के लिए किया जाता है। जेबीटी पात्र महिला टीचरों ने तो अपने बाल तक कटवा लिए, लेकिन सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंगती। महिला पात्र टीचरों का बाल कटवाना सरकार की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की पोल खोलता है। चौटाला  ने शिक्षा मंत्री को अखबारी मंत्री करार देते हुए कहा कि शिक्षा मंत्री को धरातल पर काम करना शुरू करना चाहिए, अखबारों में बयान बहुत हो चुके। बेहतर शिक्षा व्यवस्था का झूठा हवाला देने वाले शिक्षा मंत्री को शायद सरकारी स्कूलों की वास्तविकता नहीं पता, जहां पर पीने के लिए पानी नहीं, पढ़ाने के लिए शिक्षक नहीं और इमारत के नाम पर हादसों को न्यौता देने वाली इमारत हैं। और तो और बच्चों को बैठने के लिए डेस्क तक नहीं है। दिग्विजय ने सरकार को घेरते हुए कहा कि आए दिन सरकारी नौकरियों के पेपर लीक होना यह दर्शाता है कि भाजपा सरकार नई भर्ती करना ही नहीं चाहती। वह सिर्फ युवाओं का पैसा बर्बाद कर रही है।

No comments:

Post a Comment