Tuesday, October 24, 2017

इनसो की नई नियुक्तियों से संगठन को मिलेगी मजबूती - कुणाल 

आशीष सुहाग बने इनसो के प्रदेश संयुक्त सचिव

सोनीपत: इण्डियन नैशनल लोकदल पार्टी की छात्र ईकाई इनसो ने संगठन को मजबूती प्रदान करने के लिए संगठन में नई नियुक्ति की। इनसो की नई प्रदेश कार्यकारणी में इनसो नेता आशीष सुहाग, कृष्ण सरोहा, मोहित बागड़ी को प्रदेश संयुक्त सचिव की जिम्मेवारी दी गई है। युवा इनैलो जिलाध्यक्ष कुणाल गहलावत, खरखोदा युवाध्यक्ष मोनू शर्मा, जिला युवा उपाध्यक्ष रविन्द्र दहिया ने पार्टी के शीर्ष नेतृत्व का मेहनती साथियों को नियुक्ति देने पर आभार प्रकट किया। बैंयापुर गांव में सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों का फूल मालाओं से स्वागत किया गया व मिठाई बांटी।
इस मौके पर संयुक्त सचिव आशीष सुहाग ने कहा सोनीपत जिले में इनसो के संगठन में ईमानदार, साफ छवि के मेहनती छात्रों को जोड़ा जाएगा। ज्लद ही जिले व हल्का स्तर पर इनसो के संगठन का गठन किया जाएगा। 
इस मौके पर कवल सरोहा, मोटिं मंडल, विक्की रामपुर, शुभम सरोहा, कुणाल सरोहा, संदीप सरोहा, विशाल सरोहा, विकास बलहारा, दीपक सरोहा राठधना, आकाश शर्मा, प्रिंस शर्मा, संदीप शर्मा, हिमांशू सरोहा, सचिन सरोहा, नविन शर्मा आदि मौजूद रहे। 

छात्र संघ चुनाव पर सरकार गंभीर नहीं- दिग्विजय चौटाला

भिवानी, 24 अक्टूबर: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष युवा तेज तर्रार नेता दिग्विजय चौटाला ने आज जारी बयान में हरियाणा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि नवंबर तक यदि सरकार ने छात्र संघ चुनाव बहाल नहीं किए तो सरकार बड़े आंदोलन का सामना करने को तैयार रहे। इनसो अध्यक्ष ने सरकार को स्पष्ट शब्दों में कहा कि पूर्व की कांग्रेस और अब भाजपा सरकार ने छात्रों के साथ नाइंसाफी की है लिहाजा समय रहते यदि सरकार ने इनसो की छात्र संघ चुनाव बहाल करने की मांग को गंभीरता से नहीं लिया तो इनसो सड़कों पर और कॉलेजों में सरकार की र्इंट से ईंट बजा देंगे। दिग्विजय ने खट्टर सरकार को विफल सरकार करार दिया और कहा कि विधानसभा चुनावों में भाजपा ने किसानों के लिए स्वामीनाथ आयोग रिपोर्ट लागू करने, बेरोजगारी भत्ता देने, दो लाख रोजगार देने के साथ-साथ पहली कलम से प्रदेश में छात्र संघ चुनाव को बहाल करने का लोक लुभावना घोषणा-पत्र जारी किया था लेकिन मौजूदा सरकार किसी भी क्षेत्र में सफल नहीं हुई वहीं देश की युवा शक्ति छात्र ईकाई को भी धोखा देने से नहीं चूकी। पिछले दिनों इनसो ने कई वर्षों के संघर्ष को नया रूप देते हुए सभी कॉलेज और विश्वविद्यालयों पर ताला जड़ दिया था तो इनसो के आंदोलन से घबराकर सरकार ने नवंबर तक छात्र संघ चुनाव को बहाल करने की बात कही थी लेकिन नवंबर आने को है। सरकार ने अभी तक
छात्र संघ चुनाव की बहाली के लिए किसी भी तरह का कोई कदम नहीं उठाया है। चौटाला ने सरकार को चेताते हुए कहा कि लींगदोह कमेटी के रिपोर्ट के बावजूद भी भाजपा सरकार गंभीर नहीं है। सरकार के इस तरह उदासीन रवैये से छात्रों में रोष है और इनसो छात्रों के प्रति वचनबद्ध होते हुए भाजपा सरकार के खिलाफ कड़ा रूख अपनाने में गुरेज नहीं करेगी। यदि नवंबर तक भाजपा ने छात्र संघ चुनाव बहाल नहीं किए तो हरियाणा के अंदर एक ओर बड़ा आंदोलन शुरू होने में देर नहीं होगी। जिसकी जिम्मेदारी मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर, शिक्षा मंत्री सहित सत्ता में बैठी भाजपा सरकार की होगी। दिग्विजय ने कहा कि यदि छात्र संघ चुनाव को बहाल करवाने के लिए नेक इरादे से इनसो को दोबारा ताला बंदी करनी पड़ी तो इनसो पीछे नहीं हटेगी।दिग्विजय चौटाला ने प्रदेश के सभी इनसो कार्यकर्ताओं को तैयार रहने का निर्देश भी दिया और कहा कि इनसो देश के अंदर प्रमुख छात्र संगठनों में से एक है। इनसो के साथी एक आवाज पर प्रदेश में छात्र संघ चुनाव के लिए बड़े से बड़े आंदोलन के लिए तैयार रहते हैं।
सांसद दुष्यंत ने मुकलान के स्कूल में सोलर पैनल लगाने की घोषणा की

प्रतिभा सम्मान समारोह में 47 विद्यार्थियों और खिलाड़ियों को किया सम्मानित


हिसार, 24 अक्टूबर: बिजली गुल हो जाने पर मुकलान गांव के सरकारी स्कूल में पढऩे वाले विद्यार्थियों को पसीना से तरबतर नहीं होना पड़ेगा। इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने बिजली जाने की वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर स्कूल में सोलर पैनल लगाने की घोषणा की। इसके अलावा दोनों सरकारी स्कूलों में एचपीसीएल के सीएसआर फंड से एक-एक वाटर कूलर लगाने की भी घोषणा की गई। सांसद दुष्यंत चौटाला सरकारी स्कूल में विभिन्न क्षेत्रों में गांव का नाम रोशन करने वाले विद्यार्थियों और खिलाड़ियों को सम्मानित करने पहुंचे थे। इस कार्यक्रम का आयोजन श्रीराम जाखड़ मेमोरियल पर्यावरण एवं शिक्षा उत्थान ट्रस्ट द्वारा किया गया था। एचपीसीएल के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक अजय भारद्वाज इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि थे। ट्रस्ट के अध्यक्ष एडवोकेट प्रभुदयाल जाखड़ ने सांसद दुष्यंत चौटाला सहित अन्य अतिथियों का स्वागत किया। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने विद्यर्थियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि जीवन में बड़े लक्ष्य रखो और लगातार मेहनत करते रहो, सफलता आपके कदम अवश्य चूमेगी। समारोह में दुष्यंत ने गांव मुकलान के स्कूली खेलों में राष्ट्रीय स्तर पर साफ्टबॉल में प्रतिनिधित्व करने वाले श्योराम व संदीप को, बेसबॉल प्रतियोगिता में स्कूली खेलों में राज्य स्तर पर गोल्ड मेडल जीतने वाले विशेष, मनजीत व हरिकेष को सम्मानित किया। अपनी कक्षाओं में प्रथम आने वाली छात्रा रविना, तम्मना, प्रिया, रेखा, साक्षी, हिमांशी, मुस्कान, अंशिका, सारिका, वनिता व विशु सहित 47 विद्यार्थियों को भी पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, महिला विंग की प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण, अमित बूरा, सत्यनारायण मंगाली, दलबीर धीरणवास, अनूप धनखड़, धर्मसिंह घोसला, ओमप्रकाश भेरिया, नफेसिंह देवां, मातुराम गंगवा, मानसिंह बैनिवाल, पूर्णसिंह दर्जी सहित भारी संख्या में गांववासी मौजूद थे। 
सांसद दुष्यंत ने 7 गांवों में बांटी हैल्थ क्यूब किट

नि:शुल्क हो सकेंगे 32 प्रकार के टेस्ट


हिसार, 24 अक्टूबर: ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को सस्ती और सहज स्वास्थ्य सुविधाएं देने के उद्देश्य से इनेलो सांसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने 7 गांवों को हेल्थ क्यूब किट बांटी। सामान्य अस्पताल में आयोजित इस कार्यक्रम में दुष्यंत चौटाला ने ये किट ग्राम पंचायतों व स्वास्थ्य विभाग को सुपुर्द की। हैल्थ क्यूब किट आइडिया कंपनी के सी.एस.आर. कार्यक्रम के तहत दी गई है। हैल्थ किट का सीधा लाभ गांव कालीरावण, सिसाय, सिवानी बोलान, लाडवा, पेटवाड़,उमरा, मुकलान व आसपास के गांवों को मिलेगा। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अच्छा स्वास्थ्य ही मनुष्य का असली पूंजी है। जिसके लिए प्रदेश सरकार को चाहिए कि सभी लोगों के लिए खासकर ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाएं। उन्होंने कहा कि सरकार लगातार बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं की घोषणा कर रही है परन्तु हालात इसके बिल्कुल विपरीत हैं और जिला स्तर के सरकारी अस्पतालों में भी चिकित्सकों और दवाओं की भारी कमी है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से आइडिया कंपनी से संपर्क साधा और 7 गांवों में हैल्थ क्यूब किट देने का निर्णय लिया। उन्होंने क हा कि यह किट गरीब व कमेरे वर्ग के लिए बहुत लाभदायक सिद्ध होगी व विभाग को भी चाहिए कि गांव के गरीब व निचले वर्ग तक इसका लाभ पहुंचाए। उन्होंने कहा कि यह हैल्थ किट एक छोटा अस्पताल की तरह ही है व शहर में जाकर ब्लड चैक करवाने वाले लोगों को गांव में ही नि:शुल्क चैकअप का लाभ मिलेगा। 
उन्होंने कहा कि ग्रामीण आंचल स्वास्थ्य सेवाओं न मिलने को लेकर बुरी तरह प्रभावित है। उन्होंने कहा कि यह हैल्थ क्यूब किट उन सेवाओं को सुधारने की दिशा में एक कदम है। उन्होंने कहा कि अगर शरीर के समय समय पर चैकअप होते रहे तो हर बीमारी का इलाज संभव हो सकता है। सांसद चौटाला ने कहा कि यह अभियान एक सामाजिक पहल है जो कि आइडिया कंपनी के सामाजिक कल्याण के कामों का एक प्रयास है। उन्होंने इस किट से लोगों का समय व पैसा दोनों की ही बचत होगी। इस अवसर पर इनेलो के जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, डा. दयानंद, डा. कुलदीप सिंधू, डा. जया गोयल, रमेश पूनिया, रविंद्र चोपड़ा सहित ग्राम पंचायतों के सरपंच व प्रतिनिधि उपस्थित थे। 

32 प्रकार के टैस्ट होंगे किट से

इस किट से ब्लड प्रैशर, होम्योग्लोबिन, कोलेस्ट्रोल, यूरिक एसिड, एच.आई.वी., हैपाटाइसिस बी, हैपाटाइसिस सी, साइफिलस, मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, ट्रोपनीन आई, प्रैगनैंसी, टाइफाइड, ब्ल्ड ग्रुपिंग, बाडी टैंपरेचर, पल्स आक्सिमैंटरी, यूरिन अनायलिसस, ब्लड प्रैसर आदि हैल्थ के कुल 32 टैस्ट किए जा सकेंगे। किट में एक बार में 500 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जा सकती है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग अपने स्तर पर इसे प्रयोग कर सकता है। किट में वजन करने की मशीन व टैबलैट भी है। जिससे इसमें हैल्थ चैक के समय ही मरीज का सारा डाटा स्टोर कर लिया जाएगा। 

डैमो करके दिखाया

गांवों में कार्यक्रम के दौरान आइडिया कंपनी की ओर से प्रोजैक्ट हैड प्रंशात ने ग्रामीणों को हैल्थ मशीन से टैस्ट करके लोगों को डैमो दिखाया। ग्रामीणों ने बड़ी रूचि से ब्ल्ड टैस्ट का डैमो देखा व इसको अच्छा प्रयास बताया। इस मौके पर प्रशांत ने कहा कि यह मशीन बहुत ही आधुनिक तकनीक से निर्मित की गई जिसके परिणाम मात्र कुछ ही सैकेंड में हासिल किए जा सकते है। उन्होंने बताया कि इसे आपरेट करना भी बहुत ही आसान है व आम लोग भी इसका प्रयोग कर सकते है। उन्होंनेे कहा कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को इसके लिए आइडिया कंपनी प्रशिक्षण भी देगी।

Monday, October 23, 2017

इनेलो ने शहर की समस्याओं को लेकर किया धरना प्रदर्शन, महामहिम के नाम एस.डी.एम. को सौंपा ज्ञापन




डबवाली, 23 अक्तूबर : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला के नेतृत्व में डबवाली शहर के इनैलो कायकत्र्ताओं ने भाजपा सरकार व कांग्रेस की नगरपरिषद की नाकामियों को उजागर करते हुए धरना प्रदर्शन किया। इनैलो कार्यकत्र्ताओं ने भाजपा की प्रदेश सरकार व क्रांगेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए महामहिम राज्यपाल के नाम एस.डी.एम. डबवाली की मार्फत ज्ञापन भी प्रेषित किया। ज्ञापन में डबवाली शहर की विशेषकर नगर परिषद के नकारेपन समेत सभी समस्याओं को शामिल किया गया। जिसको लेकर ज्ञापन एस.डी.एम. की गैरमौजूदगी में तहसीलदार को दिया गया। इससे पहले सभी इनैलो कार्यकत्र्ता अनाज मंडी स्थित इनैलो कार्यालय में एकत्रित हुए व वहां से पैदल अस्पताल के आगे से होकर एस.डी.एम. कार्यालय पहुंचे। जहां पर एस.डी.एम. कार्यालय के सामने सरकार व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। भारी संख्या में पहंचे शहरवासियों के समर्थन से गदगद हुए इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने कहा है कि प्रदेश में भाजपा व नगर परिषद कांग्रेस का राज है लेकिन डबवाली शहर में कोई विकास का काम नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि आज डबवाली शहर का बुरा हाल है, हर तरफ अराजकता का माहौल है, शहरवासियों के छोटे छोटे काम तक नहीं हो रहे। जिसके लिए पूरी तरह से भाजपा व कांग्रेस जिम्मेदार है। डबवाली शहर बदहाल हो रहा है, लेकिन कोई भी इनकी सुध लेने वाला नहीं है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर 1 माह में शहर की समस्याएं हल नहीं हुई तो वह सभी इनैलो कार्यकत्र्ताओं को लेकर डी.सी. कार्यालय सिरसा पर धरना प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि डबवाली शहर की समस्याओं को लेकर डबवाली की विधायक नैना चौटाला विधानसभा में भी उठा रही है तो वहीं इनैलो कार्यकत्र्ता यहां धरना प्रदर्शन कर रहे है ताकि सरकार व प्रशासन जाग सके। इस मौके पर स्वयं दिग्विजय चौटाला व पूर्व विधायक डा. सीता राम ने प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए कार्यकत्र्ताओं में जोश भर दिया। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि कांगेस के नेता नगर परिषद पर काबिज होकर तो बैठ गए लेकिन उन्हें शहर के विकास से कोई मतलब नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा अपने कार्यकाल में व कांगेस की नगर परिषद अपने कार्यकाल में कोई भी विकास का काम नहीं कर पाई है और आज लोग इसका जबाव मांग रहे है। उन्होंने कहा कि शहर की समस्याओं को हल करवाने के लिए वह इनैलो कार्यकत्र्ताओं के साथ मिलकर संघर्ष जारी रखेंगे। चाहे इसके लिए कोई भी आंदोलन करना पड़े लेकिन समस्याएं हल करवाकर रहेंगे। 


दिग्विजय चौटाला ने कहा कि भाजपा व कांगेस के नेताओं की सोच विकास विरोधी है व नैगेटिव सोच से भरे हुए इनके नेताओं की आपस में मिलीभगत है और चौटाला परिवार को बदनाम करने के प्रयास करना ही उनका काम रह गया है। उन्होंने कहा कि गलत सोच के कांगेस व भाजपा के नेताओं ने पिछले काफी समय से ओछी राजनीति करके राजनीति के स्तर को बहुत गिरा दिया है। जिसका समाज व भाईचारे को नुकशान हो रहा है।
महामहिम के नाम सौंपे ज्ञापन में शहर के 1 से लकर 21 वार्ड तक किसी भी वार्ड में गली नहीं बनना, कुड़ा कर्कट उठाने के लिए लगे रिक्शा बंद करने व शहर में सफाई व्यवस्था का बुरा हाल होने, गलत तरीके से प्रोपर्टी टैक्स लगाने, विद्यार्थियों के डोमिसाइल व आम लोगों के बी.पी.एल. कार्ड बनवाते समय उनसे हाऊस टैक्स की रशीद मांग कर परेशान करने, अधुरे अंडरब्रिज का निर्माण पूरा करने व वहां कुड़ा कर्कट न डालने, फायर टैक्स की वसूली बंद करने, नगरपरिषद की दुकानों को पुराने बैठे लोगों को अलाट करने, सभी विभागों में शिकायत पुस्तिका लगाने व सिटीजन चार्टर लगवाने, नगर परिषद में स्थयी रूप से स्टाफ लगाने, शहर की सीवरेज व्यवस्था ठीक करने, सीवरेज व पेयजल सप्लाई साथ होने की समस्या हल करने, आबादी वाली जगह पर सीवरेज न डाल कर बिना मकानों वाले एरिया में सीवरेज डालने की जांच करने व लोगों की जरूरत अनुसार सीवरेज लाइन डालने, 200 लीटर पेयजल टंकी मुफत में बांटने के बाद उनके पानी कनेक्शन न दिए जाने व पहले से जारी कनैक्शन के कई कई बिल आने, खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा राशन कार्ड न बनाने, पुलिस द्वारा लोगों के वाहनों के बेवजह चालान काटने, अनाज मंडी में सभी गेट पर धर्मकांटे लगाने, जी.एस.टी. का सरलीकरण करके टैक्स स्लैब कम करने, बस स्टैंड में सफाई व्यवस्था को ठीक करने व राजकीय काजेल के पास बसे रूकवाने के लिए, कालोनी रोड़ को पूरा बनवाने, अस्पताल में चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने, शहर की बिजली व्यवस्था को ठीक करने व 24 घंटे बिजली देने, शहर में मृतक पशुओं के लिए अलग से हड्डा रोड़ी बनवाने, सभी विभागों में सीनियर सिटीजन को मान सम्मान देने, कालोनी रोड़, नगर परिषद की कमियां, बिजली पानी की कमी, पुलिस की लाापरवाही, हरिद्वार व चंडीगढ बस सेवा शुरू करना व शहर को आवारा पशु मुक्त करने जैसी शहर की समस्याएं ज्ञापन में शामिल की गई। 


 प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम से आरएसएस और बीजेपी के काले चिट्ठों का करेंगे खुलासा - दिग्विजय चौटाला 


सिरसा : छात्र संगठन इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि इनसो आगामी 25 अक्टूबर के बाद सभी राजकीय, प्राइवेट स्कूलों एवं राजकीय कॉलेजों में प्रश्रोत्तरी कार्यक्रम चलाएगी जिसमें तथ्यों पर आधारित आरएसएस व भाजपा के काले चिट्ठों से जुड़े सवालों का जिक्र होगा ताकि विद्यार्थियों को इन संगठनों की वास्तविकता का एहसास हो सके।

वे सोमवार को चौटाला हाउस में पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि हाल ही में सेकंडरी एजूकेशन हरियाणा की ओर से इन दिनों कौन बनेगा करोड़पति की तर्ज पर राजकीय स्कूलों के पाठ्यक्रम से ही जोड़कर प्रश्रोत्तरी कार्यक्रम चलाया जा रहा है जिसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की विचारधारा से जुड़े प्रश्रों को तरजीह दी जा रही है। उन्होंने कहा कि करीब एक सप्ताह पूर्व पूछे गए सवालों में किसानों के मसीहा दीनबंधु सर छोटूराम की भूमिका अंगे्रजी शासन के दौरान गलत थी। इस प्रश्र के माध्यम से उनकी छवि को धूमिल करने का प्रयास किया गया। इतना ही नहीं इस प्रश्रोत्तरी में ही एक प्रश्र यह भी शामिल किया गया था जिसमें पूछा गया था कि किस नेता को जेबीटी शिक्षक घोटाले में जेल की सजा सुनाई गई। इस प्रश्र के चार उत्तरों में डॉ. अजय सिंह चौटाला, नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला, हिसार के सांसद दुष्यंत सिंह चौटाला व चंद्रमोहन का नाम शरीक किया गया था। दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि डॉ. अजय सिंह चौटाला ने कई बार अनेक महत्वपूर्ण पदों पर रहकर हरियाणा की राजनीति को एक नई दिशा दी है वहीं देश के सबसे युवा सांसद के रूप में अपनी विशिष्ट पहचान बनाने वाले दुष्यंत सिंह चौटाला की छवि भी अनूठी है। इसके साथ-साथ अभय सिंह चौटाला भी हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के तौर पर आज एक बड़े मुकाम पर हैं जहां उनके नाम को इस प्रकार चिह्नित करने से उनकी छवि को काफी नुकसान पहुुंचा है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के प्रश्रोत्तरी कार्यक्रम पर राज्य सरकार के शिक्षामंत्री का यह रूख है कि यह प्रश्रोत्तरी कार्यक्रम बेहतर है और इससे विद्यार्थियों के ज्ञान में बढ़ौतरी होगी। दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि जब सरकार अपने इस निर्णय से पीछे हटने को तैयार नहीं तो उससे प्रतीत होता है कि सरकार अपने इस कदम को सही मानती है। यदि यह कदम सही है तो इनसो भी सरकार को उसी की भाषा में जवाब देगी और 25 अक्टूबर के बाद सभी निजी, सरकारी स्कूलों के बाद कॉलेजों में भी प्रश्रोत्तरी कार्यक्रम चलाकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं भाजपा की वास्तविकता को उजागर करेगी। उन्होंने कहा कि यह तथ्यपरक है कि देश की आजादी में आज तक किसी भी संघ अथवा भाजपा नेता का कोई भी किसी प्रकार का कोई योगदान नहीं है। उन्होंने कहा कि आजादी से पूर्व और बाद में भी संघ नेताओं ने हमेशा देश को गुलामी की ओर ही धकेला है जिसका खुलासा वे प्रत्येक शैक्षणिक संस्थान में करेंगे। चौटाला ने कहा कि जिस विचारधारा के लोगों के शासन में आतंकियों को उनके घरों तक छोडऩे का काम हुआ हो, हिंदु मुस्लिम समुदायों में दंगे फसाद कराने, साधुओं के नाम पर 50-50 लोगों की हत्या जैसे कार्य हुए हों, उनकी वास्तविकताओं को उजागर करने का सबसे बेहतर अवसर है। उन्होंने इस मौके पर भाजपा नेता बीरेंद्र सिंह पर भी तंज कसा कि जो नेता स्वयं को सर छोटूराम का वंशज कहकर उनकी विचारधारा के नाम पर राजनीति कर रहे हैं, उनकी आत्मा पूरी तरह से मर चुकी है क्योंकि भाजपा के मंचों पर अनेक बार सर छोटूराम के नाम को ठेस पहुंचाने की कोशिश की गई है मगर उनकी ओर से विरोध की कोई आवाज नहीं उठी, मगर वे स्वयं किसान परिवार से हैं और ऐसे में वे सर छोटूराम की छवि को धूमिल होने से बचाने के लिए किसी भी प्रकार का संघर्ष करने के लिए तैयार हैं। इस अवसर पर उनके साथ इनेलो कार्यालय प्रभारी डॉ. हरिसिंह भारी आदि पार्टी पदाधिकारी मौजूद थे। 

Monday, October 16, 2017

सुभाष बराला अपने गिरेबान में झाँके - रामपाल माजरा


चंडीगढ़:  इनेलो नेता एवं पूर्व संसदीय सचिव रामपाल माजरा ने भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बराला भूल रहे हैं कि आज प्रदेश की जनता के सामने मुद्दों की भरमार है, चाहे स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने पर भाजपा की वायदाखिलाफी हो, सुप्रीम कोर्ट का एसवाईएल पर प्रदेश के हक़ में निर्णय आने के बावजूद भाजपा सरकार का नकारात्मक रवैया हो या किसानों के साथ धान, बाजरा और सरसों की खऱीद में घोटाला हो, इसके साथ-साथ प्रदेश में बिगड़ती क़ानून व्यवस्था हो। प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था में बराला परिवार का भी योगदान प्रदेश की जनता ने स्वयं देखा है। हैरानी होती है जब सुभाष बराला जैसे नेता इनेलो की तरफ़ ऊँगली उठाते हैं जबकि इनेलो पार्टी लगातार प्रदेश के हितों की लड़ाई लड़ती रही है। सुभाष बराला को इनेलो पर ऊँगली उठाने से पहले अपने गिरेबान में झाँक लेना चाहिए और याद रखना चाहिए कि किस तरह गाँव की पंचायत ने उनके भाई भीम सिंह का एक लड़की से छेड़छाड के मामले में मुँह काला कर के जुलूस निकाला था और उनके पोते का एक लड़की को अगवा करने के मामले में नाम आया था। उनको यह भी बताना चाहिए के उनके बेटे ने ऐसा कौन सा बहादुरी का काम किया था के चंडीगढ़ पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर के जेल में डाल दिया।
प्रदेश की जनता भाजपा के झूठ को पहचान चुकी है यही कारण है कि जनता उनको सुनना नहीं चाहती और सामाजिक सभाओं में लोग सुभाष बराला को बुलाना तक पसंद नहीं करते हैं। इंडियन नैशनल लोकदल चौधरी देवीलाल का लगाया हुआ पौधा है जो उन्हीं के आदर्शों पर चलते हुए किसान और कमेरे वर्ग की लड़ाई लड़ रहा है। सुभाष बराला जैसे नेता  उल- ज़लुल बयान इसलिए देते हैं कि इनेलो लगातार भाजपा के चेहरे पर चढ़े झूठ के नक़ाब को उतार कर जनता को इनका असली चेहरा दिखाती रहती है।
इनसो ने की जिला प्रधानों की नियुक्तियाँ

अपने संगठन को जमीनी स्तर पर मजबूती देने के लिए इनेलो की छात्र इकाईं इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने आज इनसो के जिला प्रधानो व जिला चेयरमैनों की नियु्कतियाँ कर दी चौटाला ने बताया कि भिवानी से शेट्टी धनाना को प्रधान व मनदीप सुई को चेयरमैन ,कुरूक्षेत्र से बबलू काजल को प्रधान व विशाल मुकिमपुरा को चेयरमैन ,हिसार से आशीष कूंडू को प्रधान व सिल्क पूनिया को  चेयरमैन,जींद से अनुराग खटकड को प्रधान ,करनाल से उत्तम घणघस को प्रधान,अंबाला से नवीन हरि को प्रधान,यमुनानगर से गुरजिंद्र खेडी को प्रधान,सोनीपत से राकेश चहल को प्रधान ,पानीपत से राजिंद्र जैलदार को प्रधान, फतेहाबाद से जतिन बिशनोई को प्रधान ,झज्जर से असचारिया दलाल को प्रधान , मेवात से शाकिर खान ,रेवाड़ी से सतेन्द्र बावल को प्रधान, पंचकूला से पंकज पंवार को प्रधान, रोहतक से अमित नांदल को प्रधान व अभिषेक देशवाल को चेयरमैन ,दादरी से बबलू चौधरी को प्रधान व संजीत धवन को चेयरमैन नियुक्त किया । दिग्विजय चौटाला ने कहा कि बाकि बचे जिलों के प्रधानों की नियुक्तियां भी जल्द ही कर दी जायेंगी । आगामी विस व लोस चुनावों में ये सभी पदाधिकारी एक अहम भूमिका निभाएमगे व पार्टी संगठन को कालेज लेवल से लेकर गाँव गाँव तक इनसो को पँहुचाने का लक्ष अब हम इनसो के साथी लेते है। चौटाला ने फिर वही बात दोहराई कि इनसो पूरी तरह से वचनबद्ध है कि आगामी विस चुनावों में पार्टी को जिताकर चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को मुख्यमंत्री बनाना है। सभी जिला प्रधानो व चेयरमैन्स ने पद मिलने के बाद खुशी जाहिर करते हुए पार्टी हाई कमान का धन्यवाद किया व पार्टी संगठन को और ज्यादा मजबूत करने का वायदा किया।
निष्ठावान कार्यकर्ताओं से इनसो लहराएगी परचम -  दिग्विजय सिंह चौटाला 

 इनसो प्रदेश कार्यकारिणी व जिला अध्यक्ष घोषित 

भिवानी: देश का सबसे मजबूत छात्र संगठन इनेलो की छात्र इकाई इनसो के पदाधिकारियों की घोषणा आज राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने करते हुए जारी की। दिग्विजय चौटाला के निजि प्रवक्ता राजू मेहरा ने बताया कि इनसो की प्रदेश कार्यकारिणी का नऐ सिरे से गठन किया है।  प्रदेश कार्यकारिणी में प्रदीप देशवाल को प्रधान ,आशीष शर्मा ,अमन मोर,करन कस्वा, अमिल बडोला व अमृतपाल मान को वरिष्ठ उपाध्यक्ष ,सचिन जताई,सौरव शर्मा ,प्रियंका गुलिया ,भीष्म दहिया ,दीपक मलिक,नरेन्द्र लाम्बा, अभिषेक देशवाल,अनमोल गुप्ता ,संजीव जाखड़, विशेष राविश, अमरपाल राठी,संदीप भुक्कल,शशि गोगडिया व अंकित माच्छरौली को प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया। अंकित माच्छरौली को प्रदेश उपाध्यक्ष के साथ समालखा का इंचार्ज भी बनाया गया। अमित चौपड़ा ,सचिन दुहन,मनीश छिल्लर,मोन्टू दलाल,अनिल डागर,तम्सपुरा,राजवीर जाखड़,गोपाल जांगड़ा,अमन मान,संदीप डुड्डी,आशु पूनिया ,जसवंत कोयल,रविंद्र सांगवांन दादरी,अंकित सिंहरान,मनोज ग्रोवर ,शुभम कुमार व अंकुश मोंगा  को महासचिव व अंकुश मोंगा को डबवाली का इंचार्ज नियुक्त किया। रोबिन ढांडा व बलराज देशवाल को प्रदेश प्रवक्ता। दीपक कादियान व बलराज देशवाल को कोषाध्यक्ष नियुक्त किया गया । शुभम नैन ,सुखबीर संडवा,सुनील विडाला ,प्रमोद जोगी,साहिद राणा, अंकुश चौधरी,राहुल बस्तारा,पलविन्द्र चीमा,विकास नैन,आशीष सुहाग,आशीष ढाण्डा,कृष्ण सरोहा,पुनीत पाल,हरमन ढिल्लों,अंकित शरोराण,सतीश लौरा ,अमित,धीरज सैन,सार्थ तिवारी,रिचिक कौशिक,संदीप कुमार,यशपाल यादव,ज्योति सांगवान,नजीम,काला कुराड, प्रवेश सैनी,हर्ष खुराना,सोमबीर सिहाग,रविंद्र सांगवान बरोदा,मोहित नरेन सैनी ,प्रताप सिंह,अंकुश,दीपक,अजय,विकास,मोनू,रवि,विशाल,मनीश दिनेश भुक्कल,मनीश व मोहित को संयुक्त सचिव नियुक्त किया गया।  नीरज गुनियाना,अजय खर्ब,विकास पाढा,प्रिंस गिल,रिंकू रिवाड़,बंटी कूण्डू,दीपक नैन,गोलू मलिक,मनदीप घणघस  ,संजय सिवाच,ज्ञानी,रोहित राणा,मोहित सैनी,अमित मलिक,सन्दीप बैनीवाल,अमन गिल,पंकज खारियां,अर्शप्रीत डबवाली,करन जम्मू,ब्रज भूषण राणा,राजेश कुमार,शुभम चौधरी,अंकित काजल,अजय  पुन्हाना,लखविंद्र,अफीम खैम व  दिग्विजय नंदवाली को कार्यकारिणी में बतौर सदस्य़ जगह दी गई हैं।  चौटाला ने इसी के साथ कुरूक्षेत्र विवि से संजीव सिहाग को प्रधान व विक्रम गुज्जर को चेयरमैन नियुक्त किया । चौटाला ने कहा कि  बाकि बचे पदो पर नियुक्तिया जल्द ही करी जायेंगी व केवल और केवल मेहनती छात्रों को ही मौका मिलेगा। पदाधिकारी इनसो के कर्मठ सिपाही है सभी को कार्यकारिणी में जगह उनके काम व मेहनत के बदौलत मिली है । शार्टकट से इच्छा रखने वालों को जगह नहीं दी गई है । दिग्विजय चौटाला ने कहा कि सभी छात्र लंबे समय से इनसो के साथ जुडे रहें है व इनसो से पुराना लगाव सभी का रहा है। 
इनसो राष्ट्रीय कार्यकारिणी में भिवानी का दबदबा, अजय की कर्मभूमि से बने सर्वाधिक पदाधिकारी

मनदीप सुई चेयरमैन, सेठी धनाना बने जिला प्रधान

भिवानी: डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि भिवानी के युवा छात्र नेताओं का इनसो की राष्ट्रीय, प्रदेश व जिला कार्यकारिणी में दबदबा रहा। सर्वाधिक छात्र नेताओं को इनसो की कार्यकारिणी में इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने जगह दी। दिग्विजय के निजि प्रवक्ता राजू मेहरा ने प्रैस को बताया कि भिवानी के युवाओं के संघर्ष को देखते हुए और छात्रहितों की लड़ाई को देखते हुए अधिक से अधिक युवा छात्रों को संगठन में जगह दी गई है। उन्होंने बताया कि मनदीप सुई को जिला चेयरमैन, सेठी धनाना को जिला प्रधान, संजीत धवन को दादरी चेयरमैन, बबलू चौधरी को दादरी जिला अध्यक्ष, योगेश शर्मा भिवानी को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, सूरज बेनीवाल को राष्ट्रीय महासचिव, सचिन जताई को प्रदेश उपाध्यक्ष, रविंद्र फौगाट दादरी व मनीष छिल्लर को प्रदेश महासचिव, दिनेश भूक्कल, सुखबीर संडवा, सुनील बिड़ौला, प्रमोद जोगी को प्रदेश संयुक्त सचिव नियुक्त किया गया। गोलू मलिक, मनदीप घणघस को प्रदेश कार्यकारिणी का सदस्य नियुक्त किया गया। सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों को दिग्विजय सिंह चौटाला ने शुभकामनाऐं दी। इस अवसर पर नवनियुक्त पदाधिकारियों को बधाई देते हुए इनेलो जिला अध्यक्ष सुनील लांबा व प्रदेश सचिव बलदेव घणघस ने कहा कि मेहनती और समर्पित संगठित इनसो कार्यकर्ताओं की नियुक्ति से इनसो संगठन और अधिक मजबूती के साथ उभरेगा और छात्र हितों की आवाज को बुलंद करेगा। 
इनसो ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दूसरी सूची जारी की
 


चंडीगढ़: इंडियन नेशनल स्टूडेंट ओर्गनाइजेशन (इनसो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला जी ने इनसो की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दूसरी सूची जारी करते हुए, जयवीर ढांडा को उपाध्यक्ष और स्वाति तिवाना, सूरज बेनीवाल व रामबीर बदाला को महासचिव नियुक्त किया है।  वहीं, प्रदीप पंघाल, सीना पहलवान, रवि रेडू, विक्रम म्योली, कश्मीर राना और अरविंद गोस्वामी को इनसो सयुंक्त सचिव का पदभार सौंपा गया है। जबकि सुमित फोगाट और शवलिनी सिंह को राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया है। इसी के साथ सचिन चंदौली, मोहित मलिक, विनीत सहरावत और अक्षय शर्मा को राष्ट्रीय सदस्य नियुक्त गया है।
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि इनसो पदाधिकारी इन ओहदों को जिम्मेवारी और सेवा समझें ताकि प्रदेश में हो रहे छात्र हितों की अनदेखी और शोषण के खिलाफ संघर्ष को जारी रखा जाए। उन्होंनेे यह भी कहा कि जब तक खट्टर सरकार छात्र संघ चुनावों की बहाली कर शिक्षण संस्थानों में लोकतांत्रिक ढ़ाचा नहीं खड़ा करती तब तक इनसो का हर एक छात्र व छात्रा, विद्यार्थियों की हर समस्या के समाधान के लिए आवाज उठाते रहेंगे। 
वहीं, नवनियुक्त  पदाधिकारियों ने पार्टी हाई कमान का धन्यवाद किया व कहा कि इस मान सम्मान के लिए वे सदा इनेलो व इनसो के आभारी रहेंगे व जो जिम्मेवारी उन्हें मिली है उसका पूरी जिम्मेवारी के साथ निभाएंगे।
पराली संकट किसानों का नहीं, सरकार के हल न खोज पाने का नतीजा : दौलतपुरिया

इनेलो विधायक बलवान सिंह ने किया अनाज मंडी का दौरा, किसानों ने सुनाई समस्याएं


फतेहाबाद : इनेलो विधाायक बलवान सिंह दौलतपुरिया कहा कि कानूनी आदेश का हवाला देकर भाजपा सरकार पराली न जलाने देने के नाम पर किसानों के उपर तानाशाही डंडा चला रही है। लेकिन सही मायनों में यह पराली संकट किसानों का नहीं, बल्कि सरकार द्वारा इस समस्या का स्थाई हल न खोज पाने का नतीजा है। वे शुक्रवार सुबह स्थानीय अनाज मंडी में धान की अवाक व इसकी खरीद कार्य के दौरान किसानों-व्यापारियों की समस्याओं जानने उपरांत उन्हें संबोधित कर रहे थे। इस दौरान किसानों ने पराली न जलाए जाने की समस्या को उनके लिए गंभीर संकट बताया। विधायक ने किसानों को आश्वस्त किया कि वे जिला प्रशासन के अधिकारियों से बात करके उनसे आग्रह करेंगे कि किसानों की पराली को न जलाए जाने की स्थिति में उसके निदान का भी प्रबंध करें ताकि किसान को अगली फसल लगाने में परेशानी न हो।
बलवान दौलतपुरिया ने कहा कि भाजपा सरकार भी पूर्व की कांग्रेस सरकार के नक्शे कदम पर चलते हुए केवल मात्र हवाई घोषणाएं करके कर्मचारी, मजदूर व किसान वर्ग के लिए कल्याणकारी कदम उठाने का दंभ भर रही है। लेकिन जमीनी स्तर पर उसके तमाम दावों की पोल इन 3 सालों में खुल चुकी है। व्यापारी वर्ग को अनाप-शनाप नियमों के नाम पर इस सरकार ने बर्बाद करने में कोई कसर नहीं छोड़ी तो किसानों के लिए भी भाजपा सरकार अब तक कोई एक भी बड़ा राहत भरा काम नहीं कर पाई है। जो पानी किसानों की जीवनरेखा कहलाता है, उसी पानी की एक-एक बूंद के लिए सरकार किसानों को तरसाने का काम कर रही है। भाजपा सरकार ने जिस तरीके से इनेलो सरकार में शुरू किए गए दादूपुर-नलवी नहर जैसी परियोजनाओं को बंद किया और सुप्रीम कोर्ट का निर्णय आने के बावजूद एसवाईएल का पानी हरियाणा को दिलाने में बेरूखी दिखाई, उससे स्पष्ट होता है कि भाजपा सरकार किसानों के लिए काल बनकर इस प्रदेश में आई है। इनेलो विधायक ने किसानों का आह्वान किया कि वे सरकार के किसी तरह के दबाव में न आएं और यदि उन्हें किसी भी तरह की परेशानी मंडी में धान की आवक व खरीद के दौरान या फिर फसलों की बुआई के दौरान आती है तो इसके बारे में उन्हें सूचित जरूर करें। वे उनकी आवाज को एक सच्चा जनप्रतिनिधि होने के नाते न केवल सरकार तक पहुंंचाने का काम करेंगे। यदि सरकार फिर भी अपनी हठधर्मिता को नहीं त्यागती है तो वे संगठन स्तर पर किसानों के हक में धरना-प्रदर्शन या सड़कों पर उतर उनकी आवाज बुलंद करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। इस अवसर पर उनके साथ शहरी प्रधान पवन चुघ, विकास मेहता, विजय कुमार, धीरज शर्मा सहित क्षेत्र के अनेक किसान व गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Friday, October 13, 2017

विधायक नैना चौटाला के प्रयासों से हलका के 5 गांवों में चलेगा हैल्थ केयर प्रौजेक्ट

32 हैल्थ टैस्ट गांव में ही होंगे संभव, हलका के 5 गांवों में दी जाएगी हैल्थ क्यूब किट

डबवाली हलका में आम लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं न मिलने को हलका की विधायक नैना सिंह चौटाला ने गंभीरता से ले रहे है। विधायक द्वारा लगातार स्वास्थ्य सेवाएं सुधारने के लिए मांग उठाने के बावजूद हलका डबवाली के गांवों में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं नहीं मिल रही। जिस पर विधायक नैना चौटाला के प्रयासों से हलका के 5 गांवों में हैल्थ केयर प्रोजेक्ट चलाया जाएगा जिसमें प्रत्येक गांव में 1 हैल्थ क्यूब किट दी जाएगी। किट से गांव में ही 32 हैल्थ टैस्ट हो सकेंगे व इसका पूरा फंड आइडिया कंपनी की ओर से किया जाएगा। कंपनी के विशेषज्ञ इसे प्रयोग करने का प्रशिक्षण भी गांवों में जाकर देंगे। इसके लिए इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्वजय चौटाला 16 अक्तूबर को पांचों गांवों में स्वयं जाकर किट वितरित करेंगे। दरअसल आइडिया कंपनी अपने सोशल वैल्फैयर प्रोग्राम के तहत हैल्थ केयर प्रोजैक्ट चला रही है जिसमें हैल्थ क्यूब किट तैयार की गई है। कंपनी का यह प्रोजेक्ट युवा सांसद दुष्यंत चौटाला की जानकारी में आया तो उन्होंने हिसार में ये किट उपलब्ध करवाने के लिए कंपनी से बात की। वहीं इसके अलावा सांसद दुष्यंत चौटाला ने हलका डबवाली के लिए 5 हैल्थ क्यूब किट देने के लिए कंपनी को कहा। इसके लिए विधायक नैना चौटाला ने भी इस बारे प्रयास किए जिस पर कंपनी अपने फंड से 5 किट डबवाली हलका को दे रही है। इसके तहत गांव स्तर पर ही आशा वर्कर, ए.एन.एम. आदि भी किट को प्रयोग करके आम लोगों का हैल्थ चैक अप कर सकते है। पहले चरण में हलका के 5 गांवों में ट्रायल के तौर पर इस प्राजेक्ट को चलाया जाएगा। अगर परिणाम बेहतर रहे तो इसे अन्य गांवों में भी विस्तार दिया जा सकता है।
इस हैल्थ क्यूब किट से शहरी क्षेत्र से दूर उन ग्रामीण लोगों को लाभ होगा जोकि टैस्ट करवाने के लिए शहर तक नहीं जा पाते या शहर में मंहगी स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं उठा सकते। वह मरीज गांव स्तर पर डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया जैसी बिमारियों का समय रहते चैक करवा कर इलाज करवा सकता है।
विधायक नैना चौटाला की ओर से हलका के उन 5 गांवों में हैल्थ क्यू किट दी जाएगी जहां लोगों को हैल्थ टैस्ट के लिए सुविधा नहीं व गांव से दूर जाना पड़ता है। इसमें विधायक आदर्श गांव पन्नीवाला रूलदू, टप्पी, खोखर, अहमदपूर दारेवाला, भारूखेड़ा गांव शामिल है।
इस किट से ब्लड प्रैशर, होम्योग्लोबिन, कोलेस्ट्रोल, यूरिक एसिड, एच.आई.वी., हैपाटाइसिस बी, हैपाटाइसिस सी, साइफिलस, मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, ट्रोपनीन आई, प्रैगनैंसी, टाइफाइड, ब्ल्ड ग्रुपिंग, बाडी टैंपरेचर, पल्स आक्सिमैंटरी, यूरिन अनायलिसस, ब्लड प्रैसर आदि हैल्थ के टैस्ट किए जा सकेंगे। किट में एक बारे में 500 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जा सकती है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग अपने स्तर पर इसे प्रयोग कर सकता है। किट में वजन करने की मशीन व टैबलैट भी है। जिससे इसमें हैल्थ चैक के समय ही मरीज का सारा डाटा स्टोर कर लिया जाएगा। मरीज को उसका आई.डी.न. व पासवर्ड उसके मोबाइल नंबर पर सेंड कर दिया जाएगा। जिससे मरीज कभी भी बैबसाइड पर जाकर अपनी रिपोर्ट चैक कर सकता है। इसका एक फायदा यह भी है कि उपमंडल स्तर व जिला स्तर के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी अपने कार्यालय में बैठ कर गांव के लोगों की स्वास्थ्य की जानकारी रख सकेंगे। किट की विशेषता तुरंत परिणाम देना, टैस्ट का इलैक्ट्रोनिक रिकोर्ड होना, आपरेट में आसान होना है।
इनेलो ने की पराली न जलाने पर 5 हजार रुपए प्रति किले प्रोत्साहन राशि की मांग


सिरसा, 13 अक्तूबर : सरकार द्वारा पराली का प्रबंधन करने के बजाय पराली जलाने पर प्रतिबंद्ध तथा ऐसा करने पर जुर्माना राशि लगाने के विरोध में आज इनेलो ने लघु सचिवालय के समक्ष सांकेतिक धरना-प्रदर्शन किया और सीटीएम के माध्यम से राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपते हुए पराली न जलाने के ऐवज में सरकार की ओर से 5 हजार रुपए प्रति किले की प्रोत्साहन राशि दिलाए जाने की मांग की। इस राशि से किसान पराली का प्रबंध करने के लिए यंत्र खरीद सके, जिससे पराली को गलाकर उर्वरक के रूप में इस्तेमाल कर सके। धरने पर मौजूद इनेलो के कालांवाली विधायक बलकौर सिंह, जिलाध्यक्ष पदमचंद जैन, जसवीर सिंह जस्सा, भागीराम, राधेश्याम शर्मा, प्रदीप मेहता, कश्मीर सिंह करीवाल, हरिसिंह भारी, धर्मवीर नैन, मंदर सिंह सरां, मोहनलाल झोरड़, कृष्ण कम्बोज, सह प्रवक्ता महावीर शर्मा आदि ने कहा कि सरकार ने पराली जलाने की समस्या का समाधान निकालने के लिए दो वर्ष पूर्व पराली से बिजली बनाने की घोषणा की थी, जिस पर अभी तक कोई कार्य शुरू नहीं किया गया है। अब फिर से पराली को जलाने पर जुर्माने तथा जेल की सजा का प्रावधान कर दिया है। उन्होंने कहा कि पराली को खेत से साफ किए बिना किसान अगली फसल की बिजाई नहीं कर सकते, ऐसे में किसानों के पास पराली जलाने के अलावा अन्य कोई विकल्प नहीं हैं। पराली गलाकर उर्वरक रूप में खेत में ही दबाने वाले यंत्र की कीमत बेहद अधिक है, जिसे किसान वहन नहीं कर सकते। इसलिए इनेलो सरकार से मांग करती है कि पराली न जलाने वाले किसानों को सरकार 5 हजार रुपए प्रति किले के हिसाब से प्रोत्साहन राशि दे ताकि वह यंत्र खरीदने में समर्थ हो सके। इसके साथ-साथ उन्होंने नरमे व कपास की नष्ट फसल का भी जल्द मुआवजा दिलाए जाने तथा उचित भाव दिए जाने की मांग की। धरने के दौरान सफल मंच संचालन सह प्रेसप्रवक्ता महावीर शर्मा ने किया। इस अवसर पर इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, विधायक मक्खन लाल सिंगला, विधायक रामचंद्र कम्बोज, विधायक बलकौर सिंह, पूर्वमंत्री भागीराम, जिलाउपाध्यक्ष जसबीर जस्सा, किसान प्रकोष्ठ संयोजक कश्मीर सिंह करीवाला, वरिष्ठ नेता प्रदीप महता, सह-प्रवक्ता महावीर शर्मा, डा० हरि ङ्क्षसह भारी, डा० राधेश्याम शर्मा, बुध सिंह सुखचेन, मन्दर सिंह सरां, आत्मा राम सरंपच, वरयाम चन्द, धर्मवीर नैन, अशोक वर्मा, जिला पार्षद जरनेल चंदी, चानन दास, हरपाल कासनियां, हरि राम ओड़, रामकुमार नैन, मनोहर महता, जय सिंह गोरा, मोहन लाल झोरड़, कृष्ण झोरड़, श्रवण डूडी, जगसीर मांगेआना, राजा कस्वांँ, महेन्द्र बाना, सुभाष नैन, भरपुर सिंह गदराना, पवन लढ़ा, सर्वजीत मसीता, विनोद दड़बी,  अजब ओला, भगवान कोटली, हरपाल ढुकडा, सुनील सहारण पार्षद, मोहन साहु, मागेंराम ठेकेदार,  मदन चाडीवाल, नरेश कुसुम्बी, मनोज सोनी, सुरेश दड़बा, रामसरूप जोरसियां, प्रकाश ममेरा, विकल पचार, जगतार सिंह रघुआना, कृष्ण कम्बोज, गुरदेव सिंह गुदर, राजेन्द्र सिंह पार्षद, कृष्ण गर्ग, सतपाल छतरियां, सुरेन्द्र बेनिवाल, अशोक बामनियां, शाम बामनियां, जय सिंह गोरा आदि सैकड़ो कार्यकर्ता मौजूद थे।

Thursday, October 12, 2017


विधानसभा मे इनसो करेगी भागीदारी, निष्ठावान  कार्यकर्ताओ की भरमार है इनसो में- दिग्विजय चौटाला
इनसो ने की राष्ट्रीय कार्यकारिणी घोषित


भिवानी, 12 अक्टूबर: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने आज इनसो की राष्ट्रीय कार्यकारिणी को घोषणा करते हुए बताया कि आगामी विधानसभा चुनाव को ध्यान मे रखते हुऐ इनसो ने  कार्यकारिणी घोषित की है जिसमें जसविंद्र खैरा,जयदेव नौल्था ,सोमबीर सिंह को वरिष्ठ उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया। यह जानकारी दिग्विजय सिंह चौटाला के निजी प्रवक्ता राजू मेहरा ने दी । दिग्विजय सिंह चौटाला ने बताया कि जोनी लठवाल ,संदीप नैन ,योगेश शर्मा, रमन ढाका व योगेश शर्मा भिवानी को उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया। चौटाला ने बताया कि गौतम नैन को राष्ट्रीय सचिव नियुक्त गया है  जबकि नवीन रूखी ,आशीष कूंडू व देवेंद्र बैरागी को राष्ट्रीय संयुक्त सचिव नियुक्त किया व  अनिल ढुल, प्रीति बूरा, अनिल घणघस, मनोज जौरासी , दिनेश जांगड़ा को राष्ट्रीय महासचिव नियुक्त किया गया। जबकि मंजू जाखड़ को राष्ट्रीय गर्ल्स कॉरडिनेटर व मुकेश सिहाग को कोषाध्यक्ष, गुरमीत हुंडल को राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी व ध्रुव सांगवान व अंकिता चौधरी को राष्ट्रीय प्रवक्ता नियुक्त किया गया है। इसी के साथ रवि सैनी, मोहित लोहचब, संपूर्ण कोयल, अशोक गिगनाउ, युवराज सांगवान ,रजत नैन, नरेन्द्र शौकिंद,नीरजा व जगदीप कौर को राष्ट्रीय सदस्य नियुक्त गया है। कार्यकारिणी को घोषणा करते हुए इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि आगामी लोकसभा व विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बनायी गई है व छात्र हितों के साथ कुठाराधात को अब इनसो किसी भी कीमत पर सहन नहीं करेगी। चौटाला ने कहा कि आगामी विस चुनावों को इनेलो की सत्ता वापसी करवाने के लिए इनसो पूरी तरह से वचनबद्ध है व इनसो के सभी पदाधिकारी जी जान लगाकर अपने लक्ष्य को पूरा कर चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को मुख्यमंत्री बनाकर ही रूकेंगे। वहीं दूसरी ओर सभी पदाधिकारियों ने पार्टी हाई कमान का धन्यवाद किया व कहा कि इस मान सम्मान के लिए वे सदा इनेलो व इनसो के ॠणी रहेंगे व जो जिम्मेवारी उन्हे मिली है उसका पूरी जिम्मेवारी के साथ पालन करेंगे।
सांसद दुष्यंत सात गांवों में देंगे हेल्थ चेकअप लैब


  • रोगी करा सकेंगे 32 तरह के टेस्ट 
  • डेंगू, ब्लड शुगर, पीलिया सहित सहित सभी टेस्ट होंगे गांव में ही



हिसार,12 अक्टूबर : सांसद दुष्यंत चौटाला ने सात गांवों में हेल्थ चेकअप लैब देने का फैसला किया है। सात गांवों में हेल्थ चेकअप लैब से हजारों मरीजों को फायदा होगा, उन्हें अपनी बीमारी के टेस्ट के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। इस लैब में 32 तरह के टेस्ट किए जाएंगे।
सांसद दुष्यंत ने बताया कि उनका हमेशा यह प्रयास रहता है कि लोकसभा हिसार में कैसे ज्यादा से ज्यादा विकास कार्य हो। इसके लिए उन्होंने देश की नामी गिरामी कई प्राइवेट कंपनियों को पत्र लिखकर सीएसआर की मार्फत हिसार लोकसभा के लोगों के लिए सुविधाएं मांगी थी। सांसद ने बताया कि मोबाइल नेटवर्क प्रदान करने वाली कंपनी आइडिया ने हेल्थ क्यूब के साथ मिलकर हिसार लोकसभा के 7 गांवों के लिए हेल्थ चेकअप लैब देने का निर्णय लिया है । सांसद ने बताया कि इस लैब में विभिन्न बीमारियों से संबंधित 32 टेस्ट किए जाएंगे, जिनमें से मुख्य रूप से हेपेटाइटिस बी, हेपेटाइटिस सी, यूरिन प्रोटीन, यूरिन शुगर, चिकनगुनिया, मलेरिया, डेंगू, टाइफाइड, ब्लड यूरिक एसिड, ब्लड कोलेस्ट्रॉल, ब्लड ग्लूकोज, ब्लड ग्रुपिंग, ब्लड हीमोग्लोबिन और प्रेगनेंसी के टेस्ट शामिल है। सांसद ने बताया कि प्रथम चरण में कालीरावण, लाडवा, मुकलान, सिसाय,पेटवाड़, उमरा तथा सिवानी बोलान गांव शामिल हैं। 
युवा सांसद ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में जनसंपर्क अभियान के दौरान उन्होंने सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं को बारीकी से देखा था। किसी भी सरकारी अस्पताल में मरीज की बीमारी के टेस्ट करने के लिए मशीनें उपलब्ध नहीं थी। मरीजों को बीमारी के टेस्ट के लिए भटकना पड़ता था और फिर घंटों तक उन्हें टेस्ट की रिपोर्ट भी नहीं मिल पाती थी। सांसद ने बताया की हेल्थ क्यूब नामक इस मशीन से 5 सेकंड से 5 मिनट तक के समय मे सारे चेकअप हो जाएंगे और मरीज को रिपोर्ट तुरंत मिल जाएगी।
सांसद दुष्यंत ने बताया कि इस संबंध में सिविल सर्जन हिसार से मीटिंग हो चुकी है। इन सात गांवों में तैनात स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी ही इन मशीनों को प्रयोग करेंगे। विदित रहे कि सांसद दुष्यंत चौटाला इससे पहले भी हिसार लोकसभा के 50 से भी ज्यादा गांवों में फागिंग मशीन दे चुके है। 

Wednesday, October 11, 2017

किसानों को लागत मूल्य का 50 प्रतिशत मुनाफा दे सरकार - अभय सिंह चौटाला 


चंडीगढ़, 11 अक्तूबर: नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने सरकार से मांग की है कि आगामी गन्ना बोर्ड की मीटिंग में न केवल गन्ने के दामों को स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट की सिफारिश के अनुसार निर्धारित करे बल्कि गन्ने की खरीद की नीति को सुचारू एवं किसान हितैषी बनाने का भी निर्णय करे।
अभय सिंह चौटाला ने सरकार को याद दिलाया कि इस वर्ष केंद्र सरकार द्वारा गन्ने के एफआरपी (फेयर रिम्यूनिरेटिव प्राइस) को अगेती गन्ने की फसल के 230 रुपए प्रति क्विंटल के दाम को बढ़ाकर 255 रुपए प्रति क्विंटल करने का निर्णय लिया है। इस प्रकार केंद्र सरकार द्वारा गन्ने के अगेती फसल की खरीद में केवलमात्र लगभग 11 प्रतिशत की बढ़ौतरी की है।
दूसरी तरफ पिछले वर्ष राज्य में अगेती फसल का स्टेट एडवाइज्ड प्राइस (एसएपी) मूल्य 320 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया था और पछेती फसल का 310 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया था। परंतु न तो केंद्र सरकार द्वारा और न ही राज्य सरकार द्वारा देश के किसानों को दिए गए आश्वासन का पालन किया गया। चौधरी अभय सिंह चौटाला ने याद दिलाया कि भाजपा ने प्रत्येक मंच से अपने घोषणा-पत्र सहित किसानों से यह वादा किया था कि वह उन्हें स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट की सिफारिशों के अनुसार लागत मूल्य पर 50 प्रतिशत का मुनाफा देने के लिए प्रतिबद्ध है। 
नेता विपक्ष ने आगे कहा कि अब सरकार को सत्ता में बने हुए तीन वर्ष से अधिक का समय बीत चुका है इसलिए प्रदेश के किसान यह आशा करते हैं कि वह उनसे किए गए इस वायदे को निभाएगी और गन्ने की अगेती फसल का मूल्य 400 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित करेगी। यदि राज्य सरकार केंद्र की तरह ही इस मूल्य को 11 या उससे कुछ अधिक प्रतिशत बढ़ाकर तय करती है तब भी वह किसानों के साथ अन्याय होगा क्योंकि उससे उन्हें अपनी लागत मूल्य पर 50 प्रतिशत का लाभ नहीं प्राप्त होगा। यह न केवल यह उनके साथ विश्वासघात होगा बल्कि भाजपा की किसान विरोधी मानसिकता का प्रमाण भी होगा। 
इसके अतिरिक्त नेता विपक्ष ने यह भी मांग की कि सरकार अपनी गन्ना खरीद प्रणाली में सुधार लाते हुए राज्य की सभी सहकारी मिलों की पिराई की क्षमता में बढ़ौतरी करते हुए उसे दोगुना करे ताकि राज्य में गन्ने के बढ़े हुए उत्पादन की खपत हो। इसके अतिरिक्त उन्होंने इस ओर भी ध्यान दिलाया कि किसानों के गन्ने को तो बोंडेड बना दिया जाता है परंतु उनके पूरे उत्पादन की खरीद चीनी मिलों द्वारा नहीं की जाती। परिणामस्वरूप किसान को दर-दर भटककर किसी भी भाव पर अपने गन्ने को बेचना पड़ता है। इसलिए सरकार यह सुनिश्चित करे कि बोंडेड क्षेत्र के सारे उत्पादन की खरीद और पिराई मिलों द्वारा की जाए।
अभय सिंह चौटाला ने यह भी मांग की कि मिलों द्वारा अपनाई जा रही ‘पड़ता’ पद्धति को तुरंत समाप्त किया जाए क्योंकि इसके द्वारा किसानों का शोषण किया जा रहा है। उन्होंने यह भी मांग की कि किसानों का भुगतान मिलों द्वारा गन्ना प्राप्त होने के 15 दिनों के भीतर किया जाए जिससे उसकी अर्थव्यवस्था सुचारू रूप से चल सके।

जनता के स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही बर्दास्त नहीं - दुष्यंत चौटाला

भिवानी, 11 अक्तूबर : इनेलो संसदीय दल के नेता सांसद दुष्यंत चौटाला ने हिसार लोकसभा के अंर्तगत बवानीखेड़ा हल्का के गांव को बिमारियों को ध्यान में रखते हुए लाखों की ग्रांट के साथ तीन फोगिंग मशीन दी। 
दुष्यंत चौटाला ने गांव अलखपुरा, घुसकानी, जताई गांव के साथ-साथ हल्का बवानीखेड़ा की जनता के स्वास्थ्य के लिए मच्छरों से पनप रही बिमारियों को खत्म करने के लिए तीन मशीनें जिनकी किमत दो लाख 26 हजार 737 रूपये है हल्के को दी। इस अवसर पर इनेलो संसदीय दल प्रमुख दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रशासन की लापरवाही के कारण समय पर मच्छरों से बचने के लिए फोगिंग नहीं करवाई जिससे क्षेत्र में डेंगू, मलेरिया व अन्य बिमारियों ने भयानक रूप ले लिया है। जनता के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए इन फोगिंग  मशीनों की आवश्यकता थी। उन्होंने पहले भी हिसार लोकसभा में सबसे ज्यादा 50 फोगिंग मशीनें अपने सांसद निधि कोष से दी थी जो अपने आप में रिकार्ड हैऔर आगे भी फोगिंग मशीनें दी जाऐंगी। चौटाला ने फोगिंग मशीनों का समय-समय पर प्रयोग करने का आदेश भी दिया। जिससे की लोग बिमारियों से बच सके। क्योंकि बवानीखेड़ा हल्के में धान की फसल होती है तो यहां मच्छरों का प्रकोप अन्य क्षेत्र से ज्यादा है लेकिन सरकार की तरफ से कोई भी बड़ा कदम नहीं उठाया गया। जो चिंता का विषय है। इससे पहले दुष्यंत चौटाला लोकसभा हिसार में अनेक जनहित कार्य करते रहे हैं। उनके कार्य को देखते हुए हाल ही में फेम इंडिया और एशिया पोस्ट के सर्वे में प्रथम स्थान प्राप्त करके हरियाणा का नाम रोशन किया है। दुष्यंत चौटाला को 798 अंकों के साथ प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है।

इनेलो कार्यकर्ताओं का धन्यवाद करने नूंह पहुंचे अभय सिंह चौटाला 



                 
आज चौ. अभय सिंह चौटाला नूँह में "सम्मान-दिवस" की सफलता के लिए जिला नूँह के इनेलो कार्यकर्ताओं का धन्यवाद करने नूँह आए थे। बैठक में पंहुचनें पर मुख्य अतिथि चौ. अभय सिंह चौटाला का इनेलो कार्यकर्ताओं ने फूलमालाएँ डालकर स्वागत किया। खेलरत्न चौ. अभय सिंह चौटाला ने कार्यकर्ता-बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि इस बार 25 सितंबर को किसान-मजदूरों के मसीहा जननायक स्व: चौधरी देवीलाल जी का जन्मदिवस "सम्मान-दिवस" के रूप में भिवानी में मनाया गया जिसमें मेवात क्षेत्र से इनेलो कार्यकर्ताओं ने अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाया तथा सम्मान-दिवस में लोगों ने हजारों की संख्या में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। इसके लिए आप सभी कार्यकर्ताओं का धन्यवाद करता हूँ। उन्होंने कहा कि आप लोगों को जब भी इनेलो पार्टी की तरफ से किसी भी तरह की जिम्मेदारियाँ सौंपी गई आपने बखूबी निभाई हैं। 
उन्होंने कहा कि अब वो दिन दूर नहीं जब प्रदेश में आपकी लोकप्रिय इनेलो सरकार बनेगी तथा इनेलो सुप्रीमो चौधरी ओमप्रकाश चौटाला इस प्रदेश के मुख्यमंत्री होंगे। श्री चौटाला ने भाजपा व कांग्रेस को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि ये दोनों पार्टियाँ एक ही सिक्के की दो पहलू हैं। प्रदेश की जनता की आँखों में धूल झोंकनें का काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश को पहले 10 वर्ष तो कांग्रेस ने खूब लूटा और अब भाजपा की सरकार प्रदेश को बर्बाद करने पर तुली है। मँहगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ रखी है। किसान आत्महत्या करने पर मजबूर है। चारों तरफ त्राहि-त्राहि मची हुई है। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि भाजपा सरकार किसान विरोधी सरकार है। आज पूरे देश का किसान परेशान है और आत्महत्या करने पर मजबूर है। सरकार को किसानों व आम जन की कोई चिंता नहीं है। भाजपा सरकार ने चुनावों से पहले जनता से लम्बे-लम्बे वायदे किए लेकिन सरकार बनने के बाद सभी वायदे खोखले साबित हुए। उन्होंने कहा कि जी एस टी के नाम पर देश के किसानों व आम जन को लूटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री जी चुनावों से पहले कहते थे कि काला धन लेकर आऊंगा और सभी के खातों में 15-15 लाख रुपये डालेंगे। आज कहाँ गया वो काला धन और 15-15 लाख रुपये। अभय सिंह चौटाला ने कांग्रेस पर भी जमकर हमला बोला और कहा कि कांग्रेस ने पिछले दस सालों में केंद्र व हरियाणा को जमकर लूटा। 


चौटाला ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी ने विपक्ष की भूमिका पूरी तरह निभाई है। हर समस्या को विभिन्न स्तरों पर पार्टी ने जोरदार तरीके से उठाया है। हरियाणा की जीवनरेखा एस वाई एल के महत्वपूर्ण मुद्दे पर इनेलो ने लगातार लड़ाई लड़ी है। पिछले एक साल से लगातार विरोध प्रदर्शन किया तथा पार्टी के सभी विधायक, सांसद व अन्य वरिष्ठ नेता जेल की सलाखों के पीछे भी गए। उन्होंने अध्यापकों के भर्ती पर चौ0 औमप्रकाश चौटाला व डाॅ0 अजय सिंह चौटाला के जेल जाने पर कहा कि अगर 3200 घरों को रोजगार देना गुनाह है तो चौटाला परिवार ऐसा गुनाह बार-बार करेगा। उन्होंने कहा कि अब तो 3200 अध्यापकों को रोजगार दिया आगे हम बत्तीस लाख रोजगार देने से भी पीछे नहीं हटेंगे। कार्यकर्ता-बैठक को पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत, नूँह से इनेलो विधायक चौधरी ज़ाकिर हुसैन, पूर्व मंत्री चौ0 मो0 इलयास, विधायक नसीम अहमद, जिलाध्यक्ष मास्टर बदरुद्दीन आदि इनेलो के वरिष्ठ नेताओं ने भी संबोधित किया।
नूँह से इनेलो विधायक चौधरी ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि इनेलो ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो चौ0 ओमप्रकाश चौटाला के आशीर्वाद व मार्गदर्शन में खेलरत्न चौ0 अभय सिंह चौटाला के नेतृत्व में प्रदेश के हितों व अन्याय के खिलाफ हर तरह की लड़ाई लड़ रही है। विधायक चौधरी ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में कांग्रेस ने प्रदेश को खूब लूटा, अब भाजपा की सरकार में आम-जन परेशान हो चुका है। अब वो दिन दूर नहीं जब प्रदेश में इनेलो की सरकार होगी और इनेलो सुप्रीमो चौ0 ओमप्रकाश चौटाला हरियाणा प्रदेश के मुख्यमंत्री होंगे।
इस अवसर पर गणेश दास अरोड़ा, हरीश मलिक, चौ0 मौ0 तलहा एडवोकेट, जान मौ0 हल्का अध्यक्ष, नासिर हुसैन, महिला अध्यक्ष सरोज, जगन पार्षद,  आस मौ0 सालाहेड़ी, हितेश देशवाल, अल्ली प्रधान, साहून बाई, सिराज, हाजी फते मो0, याकूब सरपंच, वहीद सरपंच,  हाजी अब्दुल्ला सरपंच, रमजान सरपँच रोजकामेव, मल्लाह, मौ0 खाँ सरपंच, समय चंद नूँह,अमरसिँह सरपंच, हड़ जाकिर भड़ंगाका, जैकम चंदेनी, हाजी सोहराब सरपंच, हाफिज शाद, पहलू कंवरसीका, खुर्शीद सरपंच निजामपुर, प्रकाश सरपंच किरा, लाला वैद, जाहुल ठेकेदार, हरीश शर्मा उर्फ बॉबी, डाॅ0 हनीफ सरपंच, मास्टर एजाज, इब्राहीम पहलवान, असलम मेवली, जमील दिहाना,आमीन खरक, मद्दीन सेक्रेटरी, नसरू सरपंच, निसार पहलवान, वसीम अकरम, शकील फिरोजपुर नमक,मुबीन बड़का  आदि इनेलो के वरिष्ठ कार्यकर्ता मौजूद थे।

Tuesday, October 10, 2017



जमानत जब्त के डर से दीपेंद्र हुड्डा नहीं लड़ रहा चुनाव- दिग्विजय चौटाला



भिवानी, 10 अक्टूबर :  इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष युवा तेज तर्रार नेता दिग्विजय चौटाला ने आज जारी बयान में दीपेंद्र हुड्डा को लोकसभा चुनाव लडऩे की चुनौती दी है। इनसो अध्यक्ष ने दीपेंद्र हुड्डा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यदि दीपेंद्र हुड्डा उनके सामने भिवानी से चुनाव लड़ कर देखले तो उन्हें अपनी आखों पर जमी धूल का पता लग जाएगा। यदि दीपेंद्र हुड्डा भिवानी से चुनाव लड़ने से डरते हैं तो वे स्वयं रोहतक से चुनाव लड़ने का न्यौता दें। वे उन्हें रोहतक में भी हराने में सक्षम हैं। लोकप्रियता की बात करने वाले कागजी शेर दीपेंद्र हुड्डा आऐ दिन देश के किसी न किसी नेता पर कटाक्ष करते रहते हैं लेकिन असलियत में दीपेंद्र हुड्डा मेरे सामने चुनाव लड़ने से डरते हैं। उन्होंने कहा कि इतिहास गवाह है की चौ. देवीलाल से लेकर औमप्रकाश चौटाला, डा. अजय सिंह चौटाला, दुष्यंत चौटाला ने घर से बाहर जाकर चुनौतियों को स्वीकार करके बड़े-बड़े चुनाव जीते हैं लेकिन भूपेंद्र हुड्डा और दीपेंद्र हुड्डा मांद में घुसकर अखबारी बयान देकर अपने आपको लोकप्रिय बनाना चाहते हैं। दीपेंद्र हुड्डा की इस गलत फ़हमी को दूर कर दिया जाएगा यदि वह भिवानी या रोहतक से उनके सामने लोकसभा चुनाव लडऩे के लिए तैयार है तो। चौ. देवीलाल ने यहां हरियाणा प्रदेश के अनेक क्षेत्रों से लोकसभा और विधानसभा चुनाव लड़े है, चौ. औमप्रकाश चौटाला ने भी अपने गृह क्षेत्र को छोड़कर जनता की आवाज पर अन्य लोकसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ा है। डा. अजय सिंह चौटाला ने जहां भिवानी को अपनी कर्मस्थली बनाया वहीं हिसार लोकसभा क्षेत्र से उन्होंने मजबूत चुनाव लड़ा, इसी तरह युवाओं के आईकॉन सांसद दुष्यंत चौटाला ने कुलदीप कुलदीप विश्नोई की गलत फहमी को दूर किया था। दिग्विजय चौटाला ने एक बार फिर से दीपेंद्र हुड्डा को लोकसभा चुनाव के लिए खुली चुनौती देते हुए कहा कि लोकप्रियता का पता जनता के आहवान पर घर से बाहर निकल कर चुनौतियों को स्वीकार करके लगाया जाता है। यदि दीपेंद्र हुड्डा मेरे सामने चुनाव लडऩे से डरते हैं और उन्हें अपनी जमानत जब्त होने का डर है तो वह सावर्जनिक तौर पर मना भी कर सकते हैं। क्योंकि घर से बाहर निकलकर चुनाव लडऩे का आशीर्वाद जनता ने इनेलो के निष्ठावान कार्यकर्ता को दिया है। वे एक अल्टीमेटम पर दीपेंद्र के सामने चुनाव लड़ने के लिए तैयार है।
फेम इंडिया और एशिया पोस्ट के सर्वे में
दुष्यंत चौटाला देश के टॉप 25 में और प्रदेश में नंबर वन सांसद बने


हिसार: 10 अक्टूबर: साढ़े तीन वर्ष पूर्व हिसार लोकसभा सीट से चुन कर देश के सबसे युवा सांसद का गौरव हासिल करने वाले दुष्यंत चौटाला अपनी कार्यशैली के दम पर देश के टॉप 25 सांसदों में शुमार हो गए हैं और हरियाणा के नंबर वन सांसद चुने गए हैं। यह सर्वेक्षण देश की नामचीन संस्था एशिया पोस्ट व फेम इंडिया मैग्जीन ने मिल कर किया है। संस्था ने अपनी सर्वे रिपोर्ट के नतीजे हाल ही में घोषित किए हैं। 
इस सर्वे में संस्था ने देश भर से सर्वेश्रेष्ठ 25 सांसदों का चुनाव उनकी संसद में उपस्थिति, कार्यशैली, प्रश्नों की संख्या, बहस में हिस्सा, जनता से जुड़ाव आदि को आधार बनाते हुए किया था। इस सर्वेक्षण में हरियाणा से केवल तीन ही सांसद चुने गए थे जिसमें हिसार लोकसभा से इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला रोहतक से कांग्रेस के सांसद दीपेंद्र हुड्डा और सोनीपत से सांसद रमेश कौशिक। दुष्यंत चौटाला को तथ्यों पर आधारित किए गए इस सर्वेक्षण में सर्वाधिक 798 अंक, दीपेंद्र हुड्डा ने 710 अंक और रमेश कौशिक ने 646 अंक मिले हैं। 
इस सर्वेक्षण में दुष्यंत चौटाला को सामाजिक सहभागिता में 95 प्रतिशत, जनता से जुड़ाव में 87 प्रतिशत, कार्यशौली में 89 प्रतिशत, प्रदेश व पार्टी में प्रभाव के 87 प्रतिशत, छवि में 88 प्रतिशत, सदन में उपस्थिति में 88 प्रतिशत, सदन में प्रश्न के 90 प्रतिशत, बिल के 93 प्रतिशत, बहस में हिस्सा के 81 प्रतिशत अंक हासिल हुए । इस प्रकार संस्थान ने दुष्यंत को 798 अंक प्रदान किए।
इसके अलावा देश भर से जो सांसद शामिल किए गए हैं उनमें गुजरात से किरीट प्रेम जी, झारखंड से निशिकांत दूबे, दिल्ली से उदित राज, महाराष्ट्र से सुप्रिया सुले, मध्यप्रदेश से रोडमल नागर, राजस्थान से ओम बिडला, हिमाचल से अनुराग ठाकुर, पं बंगाल से रत्ना डे, महाराष्ट्र से पूनम महाजन व  अरविंद सांवत आदि प्रमुख हैं। 
एशिया पोस्ट ने सर्वे में 25 प्रभावशाली सांसदों को चुनने में संबंधित सांसद से जुड़े तथ्यों और आंकड़ों को आधार बनाती है। इसमें लोगों से पूछे गए सवाल अथवा उनके विचार शामिल नहीं होते। 

Monday, October 9, 2017

बीजेपी के नेता भ्रष्ट शहरवासी सीवर-पानी की समस्या से त्रस्त- इनेलो

इनेलो सरकार बनते ही मंत्री से लिया जाएगा पाई-पार्ई का हिसाब-सुरेन्द्र

बीजेपी ने केवल भाषण देने में विकास किया, कागजों में ही सिमटकर रह गए काम


सोनीपत 9 अक्टूबर: सीवर व पानी की समस्या से सोनीपत की जनता बेहद परेशान है और शहर की कैबिनेट मंत्री आंखे बंद करके बैठी है। यह बात इनेलो पार्टी के सोनीपत हल्का प्रधान सुरेन्द्र छिक्कारा ने सरस्वती विहार कालोनी वासियों की समस्या सुनते हुए कही। छिक्कारा ने कहा सोनीपत के लोग नरकिय जीवन जिने को मजबूर हो गए हैं। इनेलो नेता ने कहा इनेलो की सरकार बनते ही खजूर घोटाला, पैंशन घोटाला, सफाई घोटाला व अन्य सभी घोटालों की जांच की जाएगी। बीजेपी के नेता आज जिस तरह से जनता के पैसे डकार रहे हैं, उनसे पाई-पाई का हिसाब लिया जाएगा। स्थानिय निवासियों ने कैबिनेट मंत्री कविता जैन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। स्थानिय निवासियों ने बताया सीवर का गंदा पानी बैक मार रहे है, जिससे घरों में रहना मुश्किल हो गया। अधिकारियों से मिलने के बाद भी झुठे आश्वासन मिलते हैं। न तो पानी की सप्लाई सरकार कर पाई है और न ही सीवर की समस्या को दूर किया गया है। 
इस मौके पर युवा इनेलो जिलाध्यक्ष कुणाल गहलावत ने कहा गरीब जनता को पैंशन के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही हैं। चौधरी देवीलाल ने बुर्जगों को सम्मान देने के लिए पैंशन की शुरूआत की थी, बीजेपी ने सम्मान पैंशन को अपमान पैंशन बना दिया है। गहलावत ने कहा बीजेेपी सरकार युवाओं को रोजगार देने में असफल रही है, ऊपर से बेफिजूल बयान देकर जले पर नमक छिड़कने का काम करती है। 
इस मौके पर युवा जिलाध्यक्ष कुणाल गहलावत, जितेन्द्र वर्मा, प्रदीप बड़वासनी, प्रो. बंसीलाल कुण्डू, आशीष सुहाग, विकास खत्री, अरूण मलिक, सूबेदार जगतपाल, विकास, बिमला देवी, राजवंती, कमला, किरण, सावित्री, सुमित्रा, पालाराम, दीपक, रामेहर आदि मौजूद रहे।
13 अक्टूबर को प्रातः 10 बजे इनेलो करेगी प्रदर्शन- पदम् जैन 


सिरसा 09, अक्टूबर : इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन ने कहा कि इनेलो 13 अक्टूबर प्रात: 10 बजे किसानों को धान की पराली जलाने की इजाजत ना देने व नरमा-कपास के मुल्यों में कमी के विरोध में लघुसचिवालय में धरना प्रर्दशन करेगी। जैन ने कहा कि जिस प्रकार भाजपा सरकार किसानों को धान के अवशेष को जलाने से रोक रही है वह किसानों के साथ अन्याय है तथा सरकार इस पराली को या तो स्वयं खरीदे या फिर इसका कोई विकल्प ढुड़े। इनेलो नेता ने कहा कि जिस प्रकार नरमा-कपास भाव रोजाना गिर रहे है उससे किसान का आर्थिक नुकसान हो रहा है तथा किसान चिंतित है। इन सभी मुद्दे को लेकर धरना-प्रर्दशन करके किसानों के हितों की रक्षा करेगी। उन्होंने सभी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से इस कार्यक्रम में शामिल होने का आह्वान किया।
 सिरसा की स्थानीय नगरपरिषद प्रधानमंंत्री के सफाई अभियान को दिखा रही है ठेंगा- प्रदीप मेहता  

सिरसा 09, अक्टूबर: इनेलो के वरिष्ठ नेता प्रदीप मेहता ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि एक ओर भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्वच्छता अभियान पर जोर देकर अपने आस-पास सफाई रखने का संदेश दे रहे है, परन्तु दूसरी ओर सिरसा की स्थानीय नगरपरिषद प्रधानमंंत्री के सफाई अभियान को ठेंगा दिखा रही है। मेहता ने कहा कि वैसे तो शहर के विभिन्न विशेष तौर पर बाहरी हिस्सों में गंदगी के ढेर लगे हुए है। लेकिन सिरसा का ए ब्लॉक सफाई अभियान से कोसों दूर सफाई की बाट जो रहा है। इनेलो नेता ने कहा कि ए ब्लाक में पिछले एक महीने से सफाई ना होने के  कारण यहां-वहा गंदगी बिखरी हुई है। कई-कई दिन सफाई कर्मचारी आते ही नही और यदि आते भी है तो केवल खानापूर्ति करके चले जाते है। उन्होंने कहा कि ए ब्लॉक में स्थित पार्कों का तो और भी बुरा हाल है पार्कों  में लगे गंदगी के ढेर आने वाले लोगों को चिढ़ातें है तो वही इन पार्को में आवारा पशुओं ने अपना सामा्रज्य बना रखा है। सुअरों के झुंड गंदगी फ़ैलाने में बखूबी जुटे हुए है जिससे बीमारी फैलने का खतरा बना रहता है। प्रदीप महता ने प्रशासन से मांग करते कहा कि शीघ्र ही ए ब्लॉक में स्थायी सफाई कर्मचारी की ड्यूटी लगाई जाए अन्यथा ब्लॉक वासियों को साथ लेकर वे सड़क पर उतरेंगे।

किसान नहीं जलाएंगे पराली, सरकार हल तो ढूँढकर दे-इनेलो


  • तीन साल में किसान पराली के लिए है आंदोलनरत, सरकार नहीं कर रही कोई ठोस प्रबंध
  • केवल केस दर्ज करने का डंडा दिखाकर किया जा रहा है किसानों को परेशान



फतेहाबाद: भाजपा सरकार को बने 3 साल हो गए हैं और किसानों के खेतों में पराली को लेकर अभी तक कोई प्रबंध नहीं कर पा रही है। उल्टा उन पर पराली जलाने को लेकर किसानों को केस दर्ज करने व जुर्माना आदि का डंडा दिखाकर उनको परेशान किया जा रहा है। यह बात इनेलो की जिला ईकाई ने रविवार को जाट धर्मशाला में पार्टी कार्यालय में आयोजित एक मीटिंग में कही। मीटिंग की अध्यक्षता इनेलो के जिला प्रभारी एवं किसान प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष स.निशान सिंह ने की।  मीटिंग में मुख्य रूप से विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया, जिला प्रधान बलविन्द्र सिंह कैरों, वरिष्ठ नेता कुलजीत कुलडिय़ा, हलका प्रधान भरत सिंह परिहार, बीकर सिंह हड़ौली, हरिसिंह मेहरिया, पवन चुघ, जिला परिषद सदस्य जोगेन्द्र सिहाग, विकास मैहता, यशपाल यश तनेता आदि इनेलो नेता उपस्थित थे। 
इनेलो नेताओं ने कहा कि तीन सालों से किसान प्रदेश में पराली मुद्दे को लेकर आंदोलनरत हैं, किसानों को मजबूरी है कि अगर वह पराली को न जलाएं तो उनकी रबी की फसल की बिजाई समय पर नहीं होगी, सरकार किसानों के लिए पराली न जलाने के फतवे तो जारी कर रही है, लेकिन पराली के समाधान की ओर कोई ध्यान नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि इनेलो लगातार उपायुक्तों के माध्यम से सरकार को ज्ञापन भेजकर किसानों की पराली खेत से निकालने के लिए मशीन देने, जिला स्तर पर गत्ते के कारखाने खोलने, ताकि एग्रो बेस्ड मटेरियल की यहां पर खपत हो सके की मांग करती आई है। लेकिन प्रदेश में यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति बनी हुई है कि सरकार ने इस मामले में 1 कदम भी आगे नहीं बढ़ाया है। उन्होंने बताया कि 10 सितम्बर को जब मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर फतेहाबाद आए थे तो इनेलो का एक प्रतिनिधिमंडल सीएम से मिला था। मुलाकात में सीएम से इनेलो नेताओं ने मांग की थी कि फतेहाबाद में गत्ते की फैक्टरी खोली जाए, लेकिन सीएम ने यह कहते हुए इंकार कर दिया कि गत्ते की फैक्टरी से सरकार को नुक्सान होगा, इसलिए नहीं खोली जा सकती। किसानों को सबसीडी पर मशीन देने की बात को तो सीएम हंसकर टाल गए। इनेलो नेताओं ने बताया कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की सिफारिशों में कहा गया है कि छोटा किसान अपने खेत से पराली नहीं निकाल सकता तो प्रशासन अपने स्तर पर उसे पराली निकालकर दे। इसी प्रकार बड़े किसान को मशीन उपलब्ध करवाई जाए, लेकिन सरकार किसानों का साथ देने की बजाए उनपर डण्डा चलाने से बाज नहीं आ रही है। किसान ने तो अब यह फरमान भी जारी कर दिए हैं कि अगर किसी गांव के खेत में पराली जलती है तो सरपंच को सस्पेंड कर दिया जाएगा और पटवारी इसकी जानकारी प्रशासन को नहीं देता तो उसको सस्पेंड कर दिया जाएगा। यह किसी के साथ न्याय नहीं, बल्कि सरासर तानाशाही है। इनेलो नेताओं ने कहा कि किसान भी समझते हैं कि पराली जलाने से प्रदूषण फैलता है, लेकिन वह मजबूर भी हैं। सरकार को किसानों की मजबूरी को समझना चाहिए। इनेलो सरकार से मांग करती है कि किसानों को खेत से पराली निकालने के 5 हजार रुपये प्रति एकड़ दिया जाए, अन्यथा मनरेगा के तहत किसानों की पराली निकाली जाए। किसान आंदोलनरत है और किसानों के हर कदम में इनेलो उनका साथ देगी। 
खट्टर के दरबार में महिलाओं की इज्जत तार-तार-दुष्यंत चौटाला

सीएम से मिलने आई अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी को पुलिस कर्मियों ने धक्के मार कर निकाला बाहर


हिसार, 8 अक्टूबर : इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने भिवानी में सीएम खट्टर के कार्यक्रम में शरीक होने गई महिलाओं की चुनरी उतारने की घटना की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के साथ खट्टर सरकार का यह व्यवहार न केवल महिलाओं के स्वाभिमान और इज्जत को ठेस पहुंचाने वाला है बल्कि सरकार के सामन्तवादी चेहरे को भी उजागर करता है। इतना ही नहीं भिवानी के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री से मिलने गई एक अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी को धक्के मार कर बाहर भी निकालना और गुड़गाँव में अंतरराष्ट्रीय महिला खिलाड़ी सुनील डबास पर गाड़ी चढ़ाने के आरोपियों को पुलिस द्वारा न पकड़ने की घटनाएं खट्टर सरकार का प्रदेश की महिलाओं के प्रति उदासीन नजरिया बताने के लिए काफी है। 
दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि कहने को खट्टर व उनकी सरकार महिलाओं की सुरक्षा, इज्जत शिक्षा के बड़-बड़े दावे करती है। बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ के नारे को बड़े जोर-शोर से बुलंद करती है और खिलाडिय़ों को सुविधाएं देने के ढिंढोरा पीटती है। पर असल तस्वीर कुछ ओर ही है। युवा सांसद ने कहा कि शनिवार को भिवानी में सीएम के कार्यक्रम में भाग लेने आई महिलाओं के सिर से न केवल काले रंग की चुनरी को खट्टर प्रशासन ने उतार दिया बल्कि काले रंग की डे्रस पहन कर आने वाले महिलाओं को निमंत्रण के बावजूद अंदर नहीं घुसने दिया। दुष्यंत ने कहा कि हरियाणा में महिलाओं की चुनरी, उनकी इज्जत होती है और महिलाएं बिना चुनरी के नहीं रहती। यह बात न तो सीएम खट्टर से छिपी है और न ही पुलिस अधिकारियों से। बावजूद इसके पुलिस प्रशासन द्वारा महिलाओं की चुनरी उतरवाने के पश्चात अनेक महिलाओं को बिना चुनरी के ही अपने घरों की ओर लौटना पड़ा। इतना ही नहीं सीएम से मिलने आई एक अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी को पुलिस कर्मियों ने मिलने नहीं दिया और उसे धक्के मार कर कार्यक्रम से भगा दिया। उन्होंने कहा कि गुडग़ांव एक अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी और पद्यमश्री अवार्डी सुनील डबास पर कुछ लोगों ने गाड़ी चढ़ा कर जान लेने का प्रयास किया। इस घटना पर भी खट्टर सरकार ने गंभीरता नहीं दिखाई और चार दिन बाद भी आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।  उन्होंने क हा कि हरियाणा सरकार के मुखिया के दरबार में ही महिलाओं की इज्जत उछाली जा रही है और महिला खिलाडिय़ों की सरेआम बेइज्जती की जा रही है। भिवानी में आयोजित सीएम के कार्यक्रम में जो महिलाओं के साथ जो सलूक हुआ वह इसका जीवंत प्रमाण है। यानिकि खट्टर के दरबार में महिलाओं की इज्जत तार-तार हो रही है। 

Saturday, October 7, 2017

भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने वाली भाजपा के नेता ही निकले भ्रष्टाचारी: इनेलो

 भाजपा महिला मोर्चा की जिला सचिव ने नौकरी के नाम पर ऐंठे रुपए, भाजपा लगी है बचाने में सरकार के भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने की खुल चुकी है पोल


फतेहाबाद: ईमानदारी व भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने का दावा करने वाली भाजपा सरकार की पोल खुलकर जनता के सामने आने लगी है। प्रतिदिन भाजपा के मंत्रियों व नेताओं पर भ्रष्टाचार के मामलों का खुलासा हो रहा है और भाजपा सरकार आंखें मूंद कर इनको बचाने में अधिक लगी हुई है। यह बात आज इनेलो की जिला ईकाई ने जाट धर्मशाला में आयोजित पार्टी मीटिंग के दौरान की। मीटिंग की अध्यक्षता इनेलो जिला प्रभारी स. निशान सिंह ने की। मीटिंग में मुख्य रूप से विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया, जिला प्रधान बलविन्द्र सिंह कैरों, वरिष्ठ नेता कुलजीत कुलडिय़ा, हलका प्रधान भरत सिंह परिहार, बीकर सिंह हड़ौली, हरिसिंह मेहरिया, पवन चुघ, जिला परिषद सदस्य जोगेन्द्र सिहाग, विकास मैहता, यशपाल यश तनेता आदि इनेलो नेता उपस्थित थे। 
आज के राष्ट्रीय समाचार पत्रों में आई रिपोर्ट के अनुसार, रामसिंह नामक व्यकित ने भाजपा निगरानी कमेटी के लोकसभा संयोजक भारत भूषण मिढ़ा व पुलिस को दी शिकायत में बताया है कि गांव खाराखेड़ी निवासी भाजपा महिला मोर्चा की सचिव रजनी देवी ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला व जिला प्रधान वेद फूलां के नाम पर उसके भाई को कंडक्टर लगाने के नाम पर 3.60 हजार रुपए की मांग की थी। उसने 1 लाख से अधिक रुपए दे दिए, लेकिन ना तो उसके भाई को नौकरी मिली और ना ही रूपए वापिस दिए गए। जब वह रूपये वापिस लेने गया तो उसे पैसे देने से साफ मना कर दिया गया और कहा कि वो पड़ा थाना और वो पड़ा एसपी करले जो करना है। इनेलो नेताओं ने कहा कि इस मामले में सबसे हास्यास्पद तो भारत भूषण मिढ़ा का ब्यान है, जिन्होंने मीडिय़ा को कहा कि वह अगर अपने ही पार्टी के नेताओं को नहीं बचाएंगे तो किसे बचाएंगे। इससे साफ जाहिर है कि भाजपा में भ्रष्टाचार की जड़ें कितनी गहरी हो चली हैं। इनेलो नेताओं ने कहा कि इससे पहले भी भाजपा नेताओं का एक बड़ा मुद्दा टोहाना में सामने आ चुका है। पीएनडीटी एक्ट के इस मामले में डा. अशोक ने करीब 40 लाख रुपये की रिश्वत लेने का मामला सामने आ चुका है। इसमें भाजपा के शीर्ष नेताओं व पुलिस के बड़े अधिकारी का नाम सामने  आया था। इस मामले में पुलिस के कुछ कर्मचारियों को ढाल बनाकर उन पर कार्रवाई कर दी गई, लेकिन भाजपा के शीर्ष नेताओं व पुलिस के उच्चाधिकारी को बचाने का प्रयास किया जा रहा है। इनेलो नेताओं ने कहा कि अगर सीएम सचमें ईमानदार हैं तो इस मामले में भलीभांति जांच करवाकर दोषी भाजपा नेताओं के खिलाफ कारवाई करवाए। उन्होंने कहा कि जो मामले सामने आ रहे हैं, उससे भाजपा की तस्वीर सामने आ चुकी है कि वह जीरो टोलरेंस सिर्फ अपने ब्यानों में बोलती है, असल में भाजपा भ्रष्टाचार की जड़ों को ओर गहरा करने का काम कर रही है। इनेलो नेताओं ने कहा कि नौकरी के नाम पर जनता को ठगने वाले भाजपा नेताओं के खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाई की जाए, अन्यथा इनेलो इस मुद्दे को लेकर बड़ा आंदोलन भी करेगी।
रोजगार के नाम पर मुख्यमंत्री ने हाथ खड़े किए- दिग्विजय चौटाला 

इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल के कार्यक्रम में रोजगार न होने की बात कहना भाजपा सरकार की पूर्ण रूप से नाकामी को दर्शाता है। इनसो अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल पर चुटकी लेते हुए कहा कि जब रोजगार देने में ये लोग असमर्थ थे तो युवाओं से लाखों रोजगार देने का वायदा क्यों किया? उन्होंने सरकार को पूर्ण रूप से युवा विरोधी सरकार करार देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल अब तक के सबसे कमजोर मुख्यमंत्री साबित हुए हैं। लाखों रोजगार की बात करने वाली हरियाणा सरकार अब स्वयं के द्वारा रोजगार ढूंढने की बात कह रही है। आने वाले समय में छात्रों और युवा भाजपा सरकार को चलता करने का काम करेंगे।
पंचायती राज के नाम पर करोड़ों रुपये बर्बाद कर रही है सरकार: दिग्विजय चौटाला

महिलाओं के अपमान से नारी सम्मान को पहुंची ठेस


भिवानी: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल के भिवानी में आयोजित तीन दिवसीय पंचायती राज सम्मेलन कार्यक्रम पर निशाना साधते हुए कहा कि असल में सरकार पंचायती राज का मतलब समझती ही नहीं है। वहीं कार्यक्रम के दौरान महिलाओं के सिर पर से काली चुनरी उतरवाना नारी सम्मान को ठेस पहुंचाना है। भारतीय संस्कृति में नारी के सिर पर चुनरी मान सम्मान को दर्शाती है। लेकिन भाजपा ने अपनी नाकामियों को छिपाने तथा विरोध के डर से महिलाओं के सिर से चुनरी उतरवा दी। इनसो इस घटना का पूर्ण रूप से विरोध करती है। दिग्विजय ने कहा कि एक तरफ तो  तीन दिवसीय कार्यक्रम में सरकार करोड़ों रुपये इसके आयोजन पर खर्च कर रही है लेकिन अनुदान के नाम पर ग्राम पंचायतों को नाममात्र राशि देना सरकार की विफलता दर्शाता है। उन्होने कहा कि जननायक चौधरी देवीलाल ने हमेशा कहते थे कि लोकराज लोकलाज से चलता है। भारतवर्ष की 70 फीसदी जनसंख्या गांव में बसती है। लेकिन भाजपा सरकार ने आज तक ग्रामीण आंचल को उबारने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया। ग्राम पंचायतें को बनी लेकिन विकास के नाम पर कोरे वायदे, ढकोसले मिले हैं। वहीं हरियाणा रोडवेज की बसों का सरकारी कार्यक्रम के दौरान बखूबी से इस्तेमाल किया गया। जिससे पहले से ही घाटे में चल रही हरियाणा रोडवेज को भारी भरकम नुकसान झेलना पड़ा। दिग्विजय सिंह चौटाला ने पंचायती राज कार्यक्रम को पूर्ण रूप से विफल करार देते हुए कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों से आम आदमी का कोई भला नहीं हो सकता।
अभय सिंह चौटाला 8 को भिवानी में

भिवानी, 7 अक्टूबर : नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला 8 अक्टूबर को जिला भिवानी के कार्यकर्ताओं की बैठक को सुबह 9 बजे यहां देवीलाल सदन में संबोधित करेंगे। यह जानकारी देते हुए जिला प्रधान सुनील लांबा व प्रदेश सचिव बलदेव घणघस ने बताया कि नेता प्रतिपक्ष 25 सितम्बर को जननायक चौधरी देवीलाल के जन्मदिवस रैली को सफल बनाने के लिए जिला भिवानी के सभी कार्यकर्ताओं का धन्यवाद करने भिवानी आएंगे।

Friday, October 6, 2017

अतिथि अध्यापकों ने विधायक राजदीप को सौंपा ज्ञापन 
-विधायक राजदीप ने अतिथि अध्यापकों  की मांगों को प्रमुखता से विधानसभा सत्र में उठाने का आश्वासन दिया 



चरखी दादरी : अतिथि अध्यापक संघ जिला कार्यकारिणी दादरी के सदस्यों ने शुक्रवार को हलके के विधायक राजदीप फौगाट को अपना मांग पत्र सौंपा। प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम विधायक को सौंपे ज्ञापन में अतिथि अध्यापकों ने सरकार से उनकी  मांगें पूरी करने की अपील की है। विधायक राजदीप फौगाट ने अतिथि अध्यापक संघ की मांगों को गंभीरता से लेते हुए उन्हें विधानसभा सत्र में जोरशोर से उठाने का आश्वासन दिया। अतिथि अध्यापक संघ दादरी के सदस्यों कंवरपाल सिंह, जितेंद्र कलकल, यशपाल, सुधीर, प्रदीप, राजबाला, राजेश, जयवीर, मंदीप, संगीता, सुनीता, छोटी देवी, राजकुमार, रमेश, अशोक, विनोद इत्यादि ने कहा कि भाजपा ने चुनाव के समय अपने घोषणा पत्र में वायदा किया था कि यदि सरकार बनती है तो अतिथि अध्यापकों को नियमित किया जाएगा। लेकिन सरकार बनने के बाद वादाखिलाफी की जा रही है। करीब तीन साल के कार्यकाल में इस दिशा में कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाया जा रहा। जिससे अतिथि अध्यापकों में सरकार के खिलाफ रोष बढ़ रहा है। भाजपा को चाहिए कि वह अपना चुनावी वायदा पूरा करे ताकि अतिथि अध्यापकों का भविष्य भी संवर सकें। पूरी लगन, जिम्मेदारी से अतिथि अध्यापक अपना कार्य करते आए हैं। बेहतर परीक्षा परिणाम भी इन अध्यापकों के कुशल मार्गदर्शन, अध्यापन का प्रमाण रहा है। संघ ने कहा कि अतिथि अध्यापकों को नियमित किया जाए और जब तक यह नियमित नहीं होते उन्हें सेवा सुरक्षा, समान काम-समान वेतन दिया जाना चाहिए। विधायक राजदीप ने कहा कि अतिथि अध्यापकों के हितों से खिलवाड़ नहीं होने 
दिया जाएगा। उनकी हर मांग, समस्या को विस सत्र में प्रमुखता से उठाकर समाधान करवाया जाएगा।
 नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला आज दादरी में 

चरखी दादरी: इनेलो जिला चरखी दादरी के कार्यकर्ताओं की बैठक 7 अक्तूबर शनिवार को सायं 3 बजे पार्टी कार्यालय में होगी। बैठक को नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित करेंगे।  यह जानकारी देते हुए इनेलो विधायक राजदीप फौगाट व हल्का अध्यक्ष रामनिवास मिर्च ने बताया कि नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला 25 सितंबर को जननायक चौधरी देवी लाल के जन्म दिवस पर सम्मान दिवस  रैली को सफल बनाने के लिए कार्यकर्ताओं व आमजन  का धन्यवाद करेगे। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अधिक से अधिक संख्या में बैठक में पहुँचने की अपील की है।