Tuesday, September 5, 2017

आढ़ती-किसानों के रिश्तों को तोडऩे की कड़ी सरकार की ई-ट्रेडिंग : दौलतपुरिया

मंडियों में ई-ट्रेडिंग के खिलाफ धरनारत व्यापारियों को समर्थन देने पहुंचे इनेलो विधायक, भाजपा को बताया भाईचारा विरोधी सरकार



फतेहाबाद : इनेलो विधायक बलवान दौलतपुरिया ने सरकार की मंडियों में ई-ट्रेडिंग व ऑन लाइन खरीद प्रणाली के खिलाफ भट्टू रोड स्थित मार्केट कमेटी कार्यालय के बाहर धरनारत व्यापारियों के बीच पहुंचकर अपना समर्थन दिया। इस दौरान दौलतपुरिया ने इस व्यवस्था को पूरी तरह से आढ़ती व किसानों के बीच बरसों से चले आ रहे भाईचारे को तोड़ने की भाजपा सरकार की सोची-समझी चाल करार दिया। साथ ही सरकार व्यापारियों को भी आश्वस्त किया कि वे और उनकी पार्टी पूरी तरह से उनके आंदोलन को समर्थन करती है। इसके अलावा एक बार फिर इस मुद्दे को विधानसभा में उठाकर सरकार से इस व्यवस्था को बंद करने की मांग करेगी।
व्यापारियों को संबोधित करते हुए बलवान दौलतपुरिया ने कहा कि किसान वर्ग के लिए मंडियों में बैठा व्यापारी बरसों से एक तरह के एटीएम के रूप में काम करता आ रहा है। क्योंकि जब कभी मुसीबत में फंसे किसान को आर्थिक मदद की जरूरत पड़ी तो ऐसे में उसे आढ़ती ने ही सामाजिक भाईचारे पर खरा उतरते हुए किसान की मदद करने का काम किया। प्रदेश की भाजपा सरकार को किसान व व्यापारी का यह सामाजिक भाईचारा पसंद नहीं आया, इसी के चलते उसने ई-ट्रेडिंग व ऑनलाइन परचेज प्रणाली लागू कर आढ़ती-किसान वर्ग के भाईचारे में दरार डालने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि इस प्रणाली से न किसान वर्र्ग खुश है न व्यापारी, बस सरकार तानाशाही तरीके से इसे लागू करने पर तुली है। यदि सरकार ने अपना तानाशाही रवैया बरकरार रखा और अपने इस निर्णय को वापस न लिया तो इनेलो व्यापारियों व किसानों के हितों की रक्षा करते हुए इस मामले में हर तरह के आंदोलन को तैयार रहेगी। साथ ही विधानसभा में भी सरकार को इस मुद्दे पर घेरते हुए मांग करेगी कि इस प्रणाली को लागू करने का निर्णय तुरंत वापस लिया जाए। इस अवसर पर इनेलो के वरिष्ठ नेता कुलजीत कुलडिय़ा, हरपाल बैनीवाल, राजेन्द्र सूरा, अनिल जांघू, पवन चुघ के अलावा आढ़ती एसोसिएशन प्रधान प्रेमचंद मित्तल, व्यापार मंडल प्रधान सुभाष मुंंजाल, सहित मंडी के अनेक व्यापारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment