Monday, September 4, 2017


बीजेपी सरकार ने वोट की राजनीति के लिए प्रदेश को हिंसा की आग में झोंका - अभय सिंह चौटाला  


हिसार, हरियाणा में खट्टर सरकार कानून व्यवस्था की परीक्षा में तीन बार बुरी तरह से फेल रही है। जब-जब प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ी, खट्टर सरकार स्वयं प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगाडऩे में आगे रही। सरकार की इस नकारात्मक भूमिका के कारण प्रदेश की जनता पूरी तरह से भय के साये में जी रही है। यह बात नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने आज चौ. देवीलाल सदन में आयोजित कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कहा। बैठक में 25 सिंतबर को ताऊ देवीलाल जयंती पर भिवानी में आयोजित होने वाली रैली को लेकर कार्यकर्ताओं के साथ विचार विमर्श किया गया। बैठक में इनेलो संसदीय दल के नेता व सासंद दुष्यंत चौटाला को हिसार जिले का प्रभारी बनाया गया। रैली के लिए हलके अनुसार पार्टी नेताओं की अलग-अलग डयूटियां लगाई गई हैं। 


नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि वोट की राजनीति का शिकार बनाते हुए खट्टर सरकार ने जानबूझ कर जाट आरक्षण में प्रदेश को हिंसा की आग में झोंक दिया। इसी प्रकार बाबा रामपाल की गिरफ्तारी के समय भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर फेल साबित हुए और अब फिर से वोट हथियाने के चक्कर में बाबा राम-रहीम की सजा के समय मुख्यमंत्री और उनकी सरकार के मंत्रियों में हरियाणा को हिंसा का मैदान बना दिया और तीन दर्जन से ज्यादा लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी। जाहिर है कि खट्टर सरकार तीनों परीक्षाओं में बुरी तरह फेल हुई है। यह बात पूरे देश-विदेश का मीडिया भी कह रहा है और प्रदेश की जनता का खट्टर सरकार से विश्वास उठ गया है। राम रहीम को सजा सुनाए जाने के संदर्भ में अभय चौटाला ने कहा कि संविधान से ऊपर कोई नहीं है और सबको अदालत के फैसले का सम्मान करते हुए प्रदेश में शांति व अमन बनाए रखना चाहिए |
अभय चौटाला ने कांग्रेस पर भी जम कर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी आपसी फूट के दलदल में फंसे हुए हैं और व्यक्तिगत स्वार्थों की खातिर आपस में लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता का भाजपा व कांग्रेस से मोह भंग हो चुका है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि जेल जाने के डर से हुड्डा मोदी के आगे नतमस्तक हो रहे हैं तो वीरेन्द्र सिंह सोनिया गांधी से मुलाकात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 25 सितंबर की भिवानी रैली प्रदेश में इनेलो के लिए सत्ता का रास्ता खोलेगी। उन्होंने कहा कि रैली में जाने वाली महिलाओं के लिए पार्टी अलग से वाहन उपलब्ध करवाएगी। 


सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भिवानी रैली में प्रदेश भर से रिकार्डतोड़ भीड़ उमड़ेगी और यह रैली राजनीति के लिहाज से ऐतिहासिक होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता भाजपा के कुशासन से तंग आ चुकी है। किसानों को सिंचाई के लिए पानी नहीं, जनता बिजली के लिए तरस रही है। भाजपा की किसान विरोधी नीति से किसान को बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता भिवानी में पहुंच कर सरकार के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करेंगे। 
सम्मान दिवस समारोह के लिए नलवा व आदमपुर हलके का इंजार्च विधायक रणबीर गंगवा, उकलाना हलके का विधायक अनूप धानक, बरवाला हलके का इंचार्ज विधायक वेद नारंग, पूर्व मंत्री सुभाष गोयल को हांसी के साथ साथ कोसली हलका का इंचार्ज बनाया गया है। 25 सितंबर के लिए हिसार हलके की जिम्मेवारी रामभगत गुप्ता व राजकुमार आर्य, नारनौंद हलके की जिम्मेवारी विधायक परमेंद्र ढुल को सौंपी गई है। बैठक में पूर्व मंत्री सुभाष गोयल, चतर सिंह, युवा जिला प्रधान अमित बूरा, हलका प्रधान सजन लावट, हलका प्रधान सतबीर सिसाय, भागीरथ नंबरदार, सतपाल सरपंच, राजेश गोदारा, एडवोकेट आरएल बिमल, राजसिंह मोर, राजेंद्र चुटानी, इंद्र सिंह फौजी, बहादुर सिंह नायक ,प्रहालद सिंह राड़ा, सतबीर वर्मा, यज्ञदत्त सेतिया, कृष्णा भाटी, राजकुमार सलेमगढ़, डा. राजकुमार दिनोदिया, कैप्टन छाजूराम, अमित ग्रोवर, विक्रांत बागड़ी, मोहित अरोड़ा,छन्नो देवी, ललिता टांक, रिषी खटकड़, सतीश सोनी, विजेंद्र लोहान, संतोष पानू सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment