Thursday, September 7, 2017

प्रदेश के हितों के लिए चौटाला परिवार हर कुर्बानी देने को तैयार है: अभय सिंह चौटाला 


इनेलो द्वारा नई अनाज मंडी, नूँह में 25 सितंबर को भिवानी में मनाए जा रहे "सम्मान-दिवस" को लेकर जिलास्तरीय कार्यकर्ता बैठक का आयोजन हुआ, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिपक्ष नेता खेलरत्न चौ. अभय सिंह चौटाला ने शिरकत की। कार्यकर्ता-बैठक में हजारों इनेलो कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में पहुँचने पर मुख्य अतिथि चौ. अभय सिंह चौटाला का इनेलो कार्यकर्ताओं ने फूलमालाएँ डालकर जोरदार स्वागत किया। खेलरत्न चौ. अभय सिंह चौटाला ने कार्यकर्ता-बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि किसान- मजदूरों के मसीहा जननायक स्व. चौधरी देवीलाल जी का जन्मदिवस " सम्मान-दिवस" के रूप में हर वर्ष मनाया जाता है। इस बार 25 सितंबर को सम्मान दिवस भिवानी में मनाया जाएगा। सम्मान दिवस में प्रदेश व देश से लाखों लोग स्व. चौधरी देवीलाल को श्रद्धासुमन अर्पित करने के लिए पंहुचते हैं। 
अभय चौटाला ने कहा कि आज आपके बीच मेवात की एतिहासिक धरती पर सम्मान- दिवस का निमंत्रण देने आया हूँ। प्रत्येक कार्यकर्ता गाँव-गाँव व् घर-घर जाकर लोगों को इनेलो की नीतियों से अवगत कराएं और 25 सितंबर को भिवानी में मनाए जाने रहे सम्मान दिवस में ज्यादा से ज्यादा संख्या में पहुँचने का न्यौता दें।  श्री चौटाला ने भाजपा व कांग्रेस को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि ये दोनों पार्टियाँ एक ही सिक्के की दो पहलू हैं। प्रदेश की जनता की आँखों में धूल झोंकनें का काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश को पहले 10 वर्ष तो कांग्रेस ने खूब लूटा और अब भाजपा की सरकार प्रदेश को बर्बाद करने पर तुली है। मँहगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ रखी है। किसान आत्महत्या करने पर मजबूर है। चारों तरफ त्राहि-त्राहि मची हुई है। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि भाजपा सरकार किसान विरोधी सरकार है। आज पूरे देश का किसान परेशान है और आत्महत्या करने पर मजबूर है। सरकार को किसानों व आम जन की कोई चिंता नहीं है। भाजपा सरकार ने चुनावों से पहले जनता से लम्बे-लम्बे वायदे किए लेकिन सरकार बनने के बाद सभी वायदे खोखले साबित हुए। 
नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने जी. एस. टी. लागू करने पर भी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जी. एस. टी. लागू होना भी किसान विरोधी एक और फरमान है। किसानों के प्रयोग होने वाली पैट्रोल व डीजल को छोड़कर सभी चीजों पर टैक्स बढा दिया गया है तथा पैट्रोल व डीजल को जी. एस. टी. से बाहर रखा गया है, क्योंकि अगर पैट्रोल व डीजल भी जी. एस. टी. में आते तो उनकी कीमत 40-41 रुपये प्रति लीटर होती। उन्होंने कहा कि जी एस टी के नाम पर देश के किसानों व आम जन को लूटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री जी चुनावों से पहले कहते थे कि काला धन लेकर आऊंगा और सभी के खातों में 15-15 लाख रुपये डालेंगे। आज कहाँ गया वो काला धन और 15-15 लाख रुपये। अभय सिंह चौटाला ने कांग्रेस पर भी जमकर हमला बोला और कहा कि कांग्रेस ने पिछले दस सालों में केंद्र व हरियाणा को जमकर लूटा। चौटाला ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी ने विपक्ष की भूमिका पूरी तरह निभाई है। हर समस्या को विभिन्न स्तरों पर पार्टी ने जोरदार तरीके से उठाया है। हरियाणा की जीवनरेखा एस. वाई. एल. के महत्वपूर्ण मुद्दे पर इनेलो ने लगातार लड़ाई लड़ी है। पिछले एक साल से लगातार विरोध प्रदर्शन किया तथा पार्टी के सभी विधायक, सांसद व अन्य वरिष्ठ नेता जेल की सलाखों के पीछे भी गए। उन्होंने लोगों से 25 सितंबर को भिवानी में ज्यादा से ज्यादा संख्या में पंहुचनें का आवाहन किया।
कार्यकर्ता-बैठक को पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत, नूँह से इनेलो विधायक चौधरी ज़ाकिर हुसैन, पूर्व मंत्री चौ. मो. इलयास, विधायक नसीम अहमद, किशोर यादव आदि इनेलो के वरिष्ठ नेताओं ने भी संबोधित किया।
नूँह से इनेलो विधायक चौधरी ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि इनेलो ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो चौ. ओमप्रकाश चौटाला के आशीर्वाद व मार्गदर्शन में खेलरत्न चौ. अभय सिंह चौटाला के नेतृत्व में प्रदेश के हितों व अन्याय के खिलाफ हर तरह की लड़ाई लड़ रही है। विधायक चौधरी ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में कांग्रेस ने प्रदेश को खूब लूटा, अब भाजपा की सरकार में आम-जन परेशान हो चुका है। अब वो दिन दूर नहीं जब प्रदेश में इनेलो की सरकार होगी और इनेलो सुप्रीमो चौ. ओमप्रकाश चौटाला हरियाणा प्रदेश के मुख्यमंत्री होंगे।
उन्होंने कहा कि भिवानी में 25 सितंबर को  सम्मान दिवस में मेवात क्षेत्र से हजारों इनेलो कार्यकर्ता पंहुचेंगे। इस अवसर पर हाजी सुबराती खाँ, गणेश दास अरोड़ा, हरीश मलिक, चौ. मौ. तलहा एडवोकेट, जान मौ. हल्का अध्यक्ष, नासिर हुसैन, महिला अध्यक्ष सरोज, जगन पार्षद, आस मौ. सालाहेड़ी, हितेश देशवाल, अल्ली प्रधान, साहून बाई, फकरुद्दीन सरपँच शादीपुर, आसफ अली, सिराज, हाजी फते मो0, याकूब सरपंच, वहीद सरपंच,  हाजी अब्दुल्ला सरपंच, रमजान सरपँच रोजकामेव, मौ. खाँ सरपंच, समय चंद नूँह,अमरसिँह सरपंच, हड़ जाकिर भड़ंगाका, जैकम चंदेनी, हाजी सोहराब सरपंच, हाफिज शाद, पहलू कंवरसीका, खुर्शीद सरपंच निजामपुर, प्रकाश सरपंच किरा, लाला वैद, जाहुल ठेकेदार, हरीश शर्मा उर्फ बॉबी, डाॅ. हनीफ सरपंच, मास्टर एजाज, इब्राहीम पहलवान, असलम मेवली, जमील दिहाना,आमीन खरक,  मद्दीन सेक्रेटरी, नसरू सरपंच, निसार पहलवान, वसीम अकरम, मुकीम खान छारोडा, परवेज छारोड़ा, शकील फिरोजपुर नमक,मुबीन बड़का  आदि हजारों इनेलो कार्यकर्ता मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment