Saturday, September 2, 2017

जीएसटी ने किसान, कमेरे और मजदूर की कमर तोड़ दी - दुष्यंत चौटाला 


हिसार, 2 सितंबर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए जीएसटी का मतलब गुड एंड सिंबल टेक्स है और केंद्र सरकार के लिए जीएसटी सरकारी खजाना भरने वाला कानून है परन्तु यह नया कानून आम आदमी के लिए मंहगाई की मार लेकर आया है। यह बात इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने आज उकलाना हलके के गांव श्यामसुख में कही। वे 25 सितंबर को जननायक स्व. चौ. देवलाल के जन्म दिवस पर भिवानी में आयोजित होने वाली रैली कानिमंत्रण देने के लिए हलके के गांव किरमारा, सिवानी बोलान, खैरी, किनाला, दौलतपुर, खेदड़, बयानाखेड़ा सहित एक दर्जन गांवों में पहुंचे। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जीएसटी ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। जीएसटी के आनू के बाद  किसान, कमेरे और मजदूर वर्ग के दैनिक उपयोग की अधिकांश वस्तुएं मंहगी हो गई हैं तो छोटे दुकानदार और व्यापारियों के लिए जीएसटी जी का जंजाल बन गया है। उन्होंने कहा कि जीएसटी ने घी, दूध, तेल, कपड़ा, मसाले, खाद-बीज, कीटनाशक टै्रक्टर, कृषि उपकरण मंहगे कर दिए हैं।  


युवा सांसद ने गांव किरमारा में पांच लाख रूपये की कीमत से बने चबूतरे का उद् घाटन किया। इस चबूतरे के लिए राशि सांसद निधि कोष से जारी की गई थी। गांव पनिहारी में दुष्यंत ने 5 लाख 60 हजार रूपये की राशि सांसद निधि कोष से दी। विभाग में यह राशि जमा करवा दी है और इससे गांव में 50 सोलर लाईट लगेंगी। युवा सांसद ने कहा कि ताऊ का जन्म दिवस इस बार सम्मान दिवस के रूप में भिवानी जिले में मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्व. देवीलाल ने हर वर्ग के दुख-दर्द दूर करने के लिए संघर्ष किया और जब-जब उन्हें सत्ता में आने के लिए मौका मिला, उन्होंने किसान, कमेरे व मजदूर वर्ग और छोटे दुकानदारों के हित में कानून बनाए। दुष्यंत ने कहा कि सत्ता में रहते हरियाणा में बनाए गए ताऊ के बनाए कानून, देश भर में लागू किए, उनकी राजनीतिक दूरदर्शिता का लोहा आज भी राजनीतिक दल मानते हैं और उनकी कही बातें का अनुसरण करोड़ों लोग करते हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे घर-घर जाएं और लोगों को सम्मान दिवस समारोह का न्यौता दें। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, हलका विधायक अनूप धानक, विधायक वेद नारंग, विधायक रणबीर गंगवा, सतबीर वर्मा, युवा जिला प्रधान अमित बूरा, एडवोकेट मनदीप बिश् नोई, कैप्टन छाजूराम, प्रवक्ता होशियार सिंह,दिलदार पूनिया, बहादुर सिंह, राजसिंह मोर, सुनील बूरा, सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता और ग्रामीण उपस्थित थे।  

No comments:

Post a Comment