Friday, September 29, 2017

अभय सिंह चौटाला 1 से 8 अक्टूबर तक करेंगे प्रदेशव्यापी धन्यवाद दौरा 


चंडीगढ़, 29 सितम्बर: नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने सम्मान दिवस के अवसर पर लाखों की संख्या में भिवानी पहुंचने पर प्रदेशवासियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि 1 अक्तूबर से 8 अक्तूबर तक प्रदेशव्यापी दौरा कर स्वयं जनता का धन्यवाद करेंगे। उन्होंने कहा कि रैली में उमड़े जनसैलाब ने स्पष्ट कर दिया कि प्रदेशवासियों की जननायक चौधरी देवी लाल जी की नीतियों में आज भी आस्था है और वह प्रदेश में सत्ता परिवर्तन चाहती है।
उन्होंने ने कहा कि वह प्रदेश के कर हर जिले में जाकर लोगों से मिलेेंगे और रैली का हिस्सा बनने के लिए उनका आभार प्रकट करेंगे। इन कार्यक्रमों के अंतर्गत नेता विपक्ष 1 अक्तूबर को सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, 2 तारीख को सोनीपत, पानीपत व करनाल और 3 अक्तूबर को कुरुक्षेत्र, अम्बाला, पंचकूला जिलों का दौरा करेंगे। नेता विपक्ष 4 तारीख को यमुनानगर में होने वाली राज्य कार्यकारिणी की बैठक में हिस्सा लेंगे। कैथल, जींद, रोहतक जिलों का दौरा 5 को, 6 अक्तूबर को मेवात, पलवल, फरीदाबाद जाऐंगे। इसी क्रम अनुसार 7 तारीख को रेवाड़ी, महेंद्रगढ़, दादरी और  8 को भिवानी, झज्जर व गुरूग्राम में धन्यवाद हेतु जिलास्तरीय बैठकों में हिस्सा लेंगे।
नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि रैली में जनता से किए गए हर वादे को पूरा करने के लिए इनेलो वचनबद्ध है। और पार्टी जनता व प्रदेशहित के लिए, हर संघर्ष को सदैव तैयार है। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा के राज में समाज का कोई भी वर्ग सुखी नहीं है। यह सरकार गरीब, मजदूर, किसान व व्यापारियों की दुश्मन है और जनता इनकी जनविरोधी नीतियों का जवाब, विधानसभा चुनावों में देगी।
अभय चौटाला 1 अक्टूबर को फतेहाबाद में

फतेहाबाद: नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला 1 अक्तूबर को फतेहाबाद में पहुंचेंगे। यह जानकारी देते हुए इनेलो के जिलाध्यक्ष बलविन्द्र सिंह कैरों ने बताया कि अभय चौटाला सुबह 11 बजे जाट धर्मशाला में आकर भिवानी में हुई विशाल रैली की सफलता को लेकर जिले के कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करने तथा उनकी पीठ थपथपाने व दशहरा पर्व की बधाई देने पहुंचेंगे। इसके साथ ही पार्टी की आगे की रणनीति पर विचार विमर्श किया जाएगा।
साईं बाबा के 182 वें जन्मोत्सव पर सांसद 
दुष्यंत ने किया दीप प्रज्वलित 


हिसार, 29 सितम्बर: साई बाबा के 182 वें जन्मोत्सव  के उपलक्ष्य में डोगराम में शिव साईं सेवा समिति द्वारा दूसरे जागरण का आयोजन किया गया। इनेलो संसदीय दल के नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला इस अवसर पर मुख्य अतिथि थे। दुष्यंत चौटाला ने इस अवसर पर दीप प्रज्वलित किया और पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों के लिए मंगल व समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक अनूप धानक, विधायक वेद नारंग, पंकज दीवान, विक्रांत बागड़ी, अक्षय मलिक, रवि भुटानी, गुलशन वधवा, तरूण चावला, नीलू आहुजा, शांतनु मलिक, ओमप्रकाश मल्होत्रा, तरूण शर्मा, पवन चावला, अतीत कुमार, मयंक गक्खड़, मुकेश चंचल, नवीन, नीतिन, धीरू शर्मा, मोनू, गुलशन, मोहित अरोड़ा आदि विशिष रूप से उपस्थित थे। 
  बिलों में की गयी वृद्धि को वापस ले सरकार- दुष्यंत चौटाला 


हिसार, 29 सिंतबर: मनोहर खट्टर सरकार ने गुपचुप तरीके से तरीके से न केवल बिजली के दामों में वृद्धि कर दी है बल्कि पेयजल आपूर्ति के रेट में भी कई गुना वृद्धि कर दी है। प्रदेश सरकार का यह फैसला न केवल आज जनता की जेब पर डाका डालने वाला है बल्कि मंहगाई के इस दौर में भाजपा सरकार ने आग में घी डालने का काम किया है। यह इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने कही। दुष्यंत चौटाला ने खट्टर सरकार से यह वृद्धि तुरंत वापस लेने की मांग की है। वे यहां तारा नगर में आयोजित में लोगों से रूबरू हो रहे थे। आज तारा नगर में अनेक लोगों ने अन्य दल छोड़ कर इनेलो ज्वाइन की। सांसद दुष्यंत चौटाला ने इन लोगों को पार्टी ज्वाइन करवाई। इनेलो में शामिल होने वालों में सेवा निवृत कनिष्क अभियंता, भागीरथ पचार, रामनिवास बूरा, सतीश चहल, कपूर सिंह ढांडा, सुरेंद्र कुंडू, उमेद लुभाया, कमलदीप पचार, रामबिलास गर्ग, मातुराम व रोहताश प्रमुख हैं। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार ने 20 जुलाई को एक पत्र जारी कर हर वर्ग के बिजली उपभोक्ता के लिए दामों में वृद्धि कर दी है। इस वृद्धि का असर सीधे रूप से आमजन पर पड़ेगा। उन्होंने बताया कि इस पत्र के अनुसार 151 से अधिक यूनिट उपभोग करने वालों के दाम 5 रूपये प्रति यूनिट से बढ़ा कर 5 रूपये 25 प्रति यूनिट कर दिए हैं। 251 यूनिट से अधिक प्रयोग करने वालों के बिजली के दाम 6.05 रूपये से बढ़ा कर 6.30 रूपये प्रति यूनिट और 501 यूनिट से अधिक उपभोक्ताओं के लिए प्रति यूनिट दाम 6.75 रूपये से बढ़ा कर 7.10 प्रति यूनिट कर दिए हैं। इसी प्रकार से लोगों के घरों में होने वाली पीने के पानी के दाम कई गुना बढ़ा दिए हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को न तो पीने का स्वच्छ जल मिल रहा है और न ही समुचित मात्रा में बिजली की आपूर्ति हो रही है और प्रदेश सरकार लगातार बिजली-पानी के दाम बढ़ाए जा रही है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि आम लोगों पर जीएसटी, पैट्रोल-डीजल का आर्थिक बोझ पहले से ही बढ़ा हुआ है और अब हरियाणा सरकार ने बिजली के दामों में वृद्धि कर मंहगाई की मार से आम आदमी की कमर तोडऩे जा रही है। कार्यक्रम में जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक वेद नारंग, विधायक अनूप धानक, युवा जिला प्रधान अमित बूरा, अमित ग्रोवर, हरजीत मलिक, हिमांशु पानू, सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।  
नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला रविवार को हिसार में देवीलाल सदन में जिला पदाधिकारियों से होंगे रूबरू


हिसार, 29 सितंबर: हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला रविवार को दोपहर दो बजे देवीलाल सदन में इनेलो के जिला कार्यकर्ताओं की मीटिंग लेंगे। इनेलो जिलाध्यक्ष राजेन्द्र लितानी ने यह जानकारी शुक्रवार को इनेलो कार्यकर्ताओ से भिवानी रैली की सफलता बारे चर्चा करते हुए दी। उन्होंने कहा कि रविवार को अभय चौटाला एक और जंहा भिवानी में चौधरी देवीलाल के 104 वें जन्म दिवस के मौके पर आयोजित सम्मान दिवस समारोह की अपार सफलता के लिए इनेलो कार्यकर्ताओ का आभार जताएंगे, वहीं उनसे विचार विमर्श करते हुए आगामी रणनीति की रूपरेखा तैयार की जाएगी। नेता प्रतिपक्ष के साथ इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा भी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। इनेलो जिला अध्यक्ष लितानी ने रविवार की मीटिंग के लिए कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी भी लगाई। इस मौके पर उकलाना के विधायक अनूप धानक, हलका प्रधान सजन लावट, ताराचंद बाजेकां और अमित ग्रोवर भी मौजूद थे। 

Thursday, September 28, 2017

दादुपुर-नलवी नहर सिंचाई योजना को रद्द करने के निर्णय की निंदा की 


चंडीगढ़, 28 सितम्बर: नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला और इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने संयुक्त बयान में भाजपा सरकार द्वारा दादूपुर-नलवी नहर सिंचाई योजना को रद्द कर अधिग्रहित जमीन को डी-नोटिफाई करने के पश्चात वापिस करने के निर्णय की निंदा करते हुए  यह घोषणा की है कि इनेलो 3 अक्तूबर से इसके विरुद्ध धरने एवं प्रदर्शन करेगी। 
अपने संयुक्त बयान में इनेलो नेताओं ने कहा कि जबसे भाजपा सरकार ने राज्य में सत्ता सम्भाली है तभी से किसान विरोधी नीतियों को लागू किया जा रहा है। राज्य सरकार द्वारा लिया गया इस सिंचाई योजना को रद्द करने का निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण होने के साथ उसकी कृषि विरोधी मानसिकता का भी प्रमाण है। 
दोनों नेताओं ने याद दिलाया कि इस नहर के निर्माण की योजना वर्ष 1985 में इसलिए बनाई गई थी ताकि न केवल किसानों के खेतों की सिंचाई हो सके बल्कि उस योजना से आसपास के क्षेत्र में भू-जल स्तर भी बना रह सके। इससे जहां एक तरफ किसानों की उत्पादकता बढ़ सकती थी, वहीं दूसरी तरफ बढ़ती आबादी के पेयजल की समस्या का भी समाधान किया जा सकता था। वर्तमान में यमुनानगर, अम्बाला और कुरुक्षेत्र में राज्य के अनेक भागों की तरह ही भू-जल स्तर तेजी के साथ नीचे गिर रहा है। जहां तक कुरुक्षेत्र का संबंध है तो वह पहले ही इस मामले में रेडजोन की श्रेणी में आता है जहां पानी का भारी संकट दस्तक दे रहा है।
अभय सिंह चौटाला और अशोक अरोड़ा ने याद दिलाया कि यदि भू-जल स्तर की चेतावनी को गम्भीरता से न लिया गया तो समूचा प्रदेश और विशेषकर यह दोनों जिले निकट भविष्य में संकट का सामना कर रहे होंगे। इस संकट से बचाने के लिए ही इस परियोजना को लागू करना सरकार के लिए हर कीमत पर अनिवार्य होना चाहिए। इनेलो पहले भी सरकार की हर किसान विरोधी नीति का विरोध करती रही है और इस मुद्दे को लेकर भी इनेलो संघर्ष के लिए तैयार है। 
बयान में यह भी कहा गया कि 3 अक्तूबर से इस संबंध में पहला प्रदर्शन शाहबाद में होगा जिसके पश्चात 4 अक्तूबर को प्रदर्शन के पश्चात राष्ट्रीय एवं राज्य कार्यकारिणी के सदस्य, सांसदों, पूर्व सांसदों, विधायकों, पूर्व विधायकों, ग्रामीण व शहरी हलका प्रधान, प्रदेश सैल के राज्य व जिलाध्यक्षों की बैठक इसी संबंध में यमुनानगर में होगी। 
भाजपा सरकार धुर किसान विरोधी हुई साबित-कैरों


फतेहाबाद:  भाजपा का किसान जमावड़ा मात्र एक वर्कर मीटिंग ही साबित होगी, क्योंकि किसानों का तो सरकार से पूरी तरह से मोह भंग हो चुका है। यह बात इनेलो के जिला प्रधान बलविन्द्र सिंह कैरों ने वीरवार को गांव भोडिय़ाखेड़ा में जिला पार्षद प्रतिनिधि जोगेन्द्र सिहाग के निवास पर किसानों से बातचीत करते हुए कही। इस दौरान उन्होंने किसानों की समस्याओं पर चर्चा भी की।
कैरों ने कहा कि आज नरमा की फसल बीमारी से खराब हो जाने के कारण औसत पैदावार से भी आधी रह गई है, वहीं दूसरी ओर मंडियों में सरकार किसानों को मात्र 4 हजार रुपए प्रति क्विंटल का भाव देकर लूटने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि बाजरे की सरकारी खरीद सरकार ने बंद कर दी है, जिसके चलते किसान अपना बाजरा व ग्वार औने पौने दाम पर बेचने को मजबूर है। उन्होंने कहा कि आज किसान के बिजली के बिलों में भारी बढ़ोतरी की जा रही है तो डीजल के भाव आसमान को छू रहे हैं। महंगाई की मार ने किसान की कमर तोड़ कर रख दी है। हर वर्ग आज महंगाई को लेकर त्राहि-त्राहि कर रहा है। कैरों ने कहा कि सरकार ने फसल बीमा के नाम पर जबरदस्ती किसानों के खातों में ऋण चढ़ा दिया है, वहीं मुआवजा देने के नाम पर कई प्रकार की शर्तें रख दी गई हैं। जो पूरी नहीं हो सकती। सरकार किसानों को परेशान करने में तो कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही और इस बीच किसान जमावड़ा के नाम पर सरकार द्वारा सभा करना हास्यास्पद लग रहा है। उन्होंने कहा कि किसान सरकार से नमरे व अन्य फसलों के भाव न देने का सवाल पूछ रहे हैं, जिसका सरकार के पास कोई जवाब नहीं है। सरकारी मशीनरी के नाम पर लोगों को इकठ्ठा कर सरकार अपनी झूठी वाहवाही लूटना चाहती है। इस अवसर पर राममूर्ति सिंह, अमर सिंह, ओमप्रकाश, गाफूल अली, नरसी राम, रवि कुमार, राकेश, हंसराज, हलका प्रधान भरत सिंह परिहार, चांदीराम कड़वासरा भी मौजूद थे। 

Wednesday, September 27, 2017

 बाजरे की फसल खरीदने में असमर्थ सरकार - अभय सिंह चौटाला 


चंडीगढ़, 27 सितम्बर: नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने भाजपा सरकार की किसान विरोधी नीतियों की आलोचना करते हुए कहा कि एक बार फिर इसका प्रमाण सरकार ने बाजरे की फसल की खरीद में अपनी असफलता से दिखाया है। उन्होंने आरोप लगाया कि पिछले वर्षों, और अन्य फसलों की तरह ही इस बार भी बाजरे की फसल की सरकारी एजेंसियों द्वारा खरीद से जानबूझकर हाथ खींचा जा रहा है ताकि आढ़ती और मुनाफाखोर लाभ उठा सकें।  
नेता विपक्ष ने कहा कि रेवाड़ी जिले में लगभग 70 प्रतिशत बाजरा मंडियों में आकर बिक भी चुका है किंतु सरकारी एजेंसियों द्वारा उसकी खरीद नहीं की गई। इसी प्रकार महेंद्रगढ़, फतेहाबाद, दादरी और हिसार में भी बाजरे की फसल आना प्रारंभ हो चुकी है परंतु सरकारी एजेंसियों के हाथ खींचने की वजह से किसान मजबूर होकर आढ़तियों को बेचकर लौट जाते हैं। इस प्रकार कहने के लिए भले ही सरकार ने बाजरे की फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1425 रुपए घोषित क्यों न किया हो परंतु वास्तव में इसे आढ़तियों द्वारा लगभग 1100 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से ही खरीदा जा रहा है।
चौधरी अभय सिंह चौटाला ने यह भी कहा कि एक बार फिर औने पौने दामों पर बिकी इस फसल को यही आढ़ती कुछ समय के पश्चात या तो मुनाफे पर बेचेंगे और या फिर इसे सरकार ही अपने घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदकर वह रकम जो किसानों के खाते में जानी चाहिए उसे इन आढ़तियों को देकर उन्हें लाभ पहुंचाएगी। जाहिर है कि किसानों को लेकर केंद्र और राज्य सरकार द्वारा ऐसी नीति अपनाई जा रही है जिसमें किसानों के नाम पर भी लाभ केवल निजी व्यापारियों को ही प्राप्त हो सके। 
उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा न केवल किसानों के कल्याण बारे गम्भीर नहीं है बल्कि उनके साथ किए गए सभी वायदे खोखले साबित हुए हैं। उन्होंने याद दिलाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का वायदा तो किया था परंतु अब उनके कृषि मंत्री ने स्पष्ट कर दिया है कि इस वायदे को पूरा करने का दायित्व राज्य सरकार पर है। इस प्रकार अपने दायित्व से हाथ झाड़ती हुई भाजपा सरकार से यह उम्मीद लगाना व्यर्थ कि वह ऐसी नीतियों को लागू करेगी जिससे किसानों को लाभ पहुंचे। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि राज्य में प्रतिवर्ष चाहे बाजरा हो या फिर धान, दोनों की फसल खरीद बारे भाजपा द्वारा ऐसी नीति अपनाई जा रही है जिसके द्वारा किसानों को जान बूझकर हानि पहुंचाकर व्यापारियों को लाभ पहुंचाया जा रहा है।
सोशल मीडिया पर 21 लाख 67 हजार लोगों ने देखी ताऊ की रैली

विदेशों में 49 हजार लोग शेयर कर चुके हैं ताऊ की रैली को


हिसार, 27 सितंबर: भिवानी में 25 सितबंर को हुई ताऊ की रैली को इस बार लाखों लोगों ने सोशल मीडिया के माध्यम से देश भर के विभिन्न कोनों में बैठ कर देखा तो इस रैली की पहुंच इस बार ट्विटर, फेसबुक व यू-टयूब के माध्यम से 49 हजार से अधिक लोगों ने देखा। प्रदेश की राजनीति के इतिहास में यह पहला मौका था जब कोई भी राजनैतिक रैली को इतने बड़े स्तर पर ट्विटर सहित सोशल मीडिया पर लाइव दिखाया गया। 
अधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक अब तक 21 लाख 67 हजार 328 लोग इस रैली को सोशल मीडिया पर देख और लाइक कर चुके। इन लोगों ने रैली को लेकर अपनी प्रतिक्रियाएं कमेंट्स के रूप में दी हैं और शेयर किया। यह आंकड़ा पिछली बार करनाल में हुई रैली से तीन गुना से अधिक है। करनाल रैली को पिछले वर्ष फेसबुक पर लाइव किया गया था। ट्विटर के माध्यम से विदेशों तक पहुंचाने का आइडिया युवा सांसद दुष्यंत चौटाला का था। इस आइडिया को धरातल पर उतारने के लिए दुष्यंत चौटाला की टीम पिछले एक माह से जुटी थी और रैली के आयोजन वाले दिन 28 लोगों की टीम को अत्याधुनिक कैमरों के साथ रैली स्थल पर लगाया गया था।  यह लाइव इस बार फुल एचडी था। सांसद दुष्यंत चौटाला ने बताया कि ट्विटर पर लाइव पेरिस्कोप के माध्यम से किया गया। दुष्यंत चौटाला का कहना है कि सोशल मीडया यूजर्स हमारे देश में लगातार बढ़ रहे हैं और अधिकांश घटनाओं, समाचारों और जानकारी लोगों तक पहुंचाने का एक प्रमुख स्त्रोत बन गया है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला वीरवार को हिसार में

मेडिकल केम्प व भाभड़ा बिरादरी  द्वारा आयोजित जागरण सहित कई कार्यक्रमों में करेंगे शिरकत

हिसार, 27 सितंबर: इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से युवा सांसद दुष्यंत चौटाला वीरवार को हिसार शहर में विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। इनेलो जिला प्रवक्ता एडवोकेट मनदीप बिश्नोई ने बताया कि  सांसद दुष्यंत चौटाला सुबह 11 बजे पंजाबी ग्लोबल एजुकेशन व सोशल वेलफेयर संस्था के तत्वावधान में  पटेल नगर की श्री राम पंचायती धर्मशाला में आयोजित निशुल्क मेडिकल कैम्प का उद्धघाटन करेंगे, वहीं रात को 8 बजे पूर्व पार्षद पंकज दिवान की अध्यक्षता में समस्त शिव साईं सेवा समिति द्वारा आयोजित माता के जागरण में बतौर मुख्यातिथि हाजिर होंगे। एडवोकेट बिश्नोई ने बताया कि सांसद दुष्यंत इसके अलावा भी शहर में कई अन्य कार्यक्रमों में भी हिस्सा लेंगे।
भिवानी रैली में उमड़ी भीड़ से प्रदेश में आएगा राजनीतिक बदलाव: इनेलो


फतेहाबाद: भिवानी में आयोजित ताऊ देवीलाल की जयंति पर लाखों लोगों की भीड़ नेे प्रदेश में एक नए राजनीतिक बदलाव का संकेत दे दिया है। इनेलो नेताओं ने आज जाट धर्मशाला में एक मीटिंग कर जिले के तीनों हलकों फतेहाबाद, रतिया व टोहाना से हजारों की संख्या में पहुंचे लोगों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि भारी संख्या में रैली में पहुंचकर जिले की जनता ने इनेलो के पक्ष में एकता का सबूत दिया है। इस अवसर पर इनेलो के जिला प्रभारी स.निशान सिंह, जिला प्रधान बलविन्द्र सिंह कैरों, विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया, रतिया विधायक रविन्द्र बलियाला, युद्धवीर सिंह आर्य,, कुलजीत कुलडिय़ा, आत्मप्रकाश बतरा, पवन चुघ, बीकर सिंह हड़ौली, हरिसिंह मेहरिया, युवा प्रधान विकास मैहता, युवा प्रदेश प्रचार सचिव विकास मैहता, राणा जोहल सहित अनेक इनेलो नेता मौजुद थे। इनेलो की रैली में पहुंचे भारी संख्या में महिला व पुरूषों ने अपने हरदिल अजीज नेता स्व. ताऊ देवीलाल को नमन किया व उनको श्रद्धासुमन अर्पित किए, इसके लिए सभी का धन्यवाद है। इनेलो नेताओं ने बताया कि भिवानी रैली के बाद प्रदेश में बदलाव की लहर चल निकली है। पहले प्रदेश की जनता ने कांग्रेस को बाहर का रास्ता दिखाया था और अबकी बार भाजपा को बाहर का रास्ता दिखाएगी। इस रैली में इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला के आदेशों पर नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने प्रदेश में इनेलो सरकार बनने पर गरीब घर में पैदा होने वाली बेटी को 5 लाख रुपए देने, बिजली के बिल 50 फीसदी तक कम करने, किसानों के बिजली बिल माफ करने जैसी घोषणाएं करके हर वर्ग को राहत पहुंचाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि अब निश्चित तौर पर प्रदेश में इनेलो की सरकार बनेगी और प्रदेश की जनता को भाजपा सरकार से राहत मिलेगी। 
भाजपा सरकार नौकरियों में आरक्षण को कर रही है विकृत- अशोक अरोड़ा 


चंडीगढ़, 27 सितम्बर: इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के प्रदेशाध्यक्ष श्री अशोक अरोड़ा ने भाजपा सरकार पर नौकरियों के मामले में संविधान द्वारा मान्य आरक्षण नीति को विकृत करने का आरोप लगाया है। उन्होंने
यह भी आरोप लगाया कि राज्य सरकार की नीतियां ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यार्थियों के हितों की विरोधी हैं। 
श्री अरोड़ा ने कहा कि पिछले तीन वर्षों से भाजपा सरकार द्वारा भर्तियों के लिए जो निर्धारित व्यवस्था थी, उसका पालन नहीं किया जा रहा और भर्तियों का दायित्व निजी कंपनियों के ठेकेदारों को दिया जा रहा है ताकि वही नई नौकरियों और रिक्त स्थानों की पूर्ति करें। मानव संसाधन उपलब्ध करवाने वाले यह ठेकेदार युवाओं को सरकारी दिहाड़ी के हिसाब से भर्ती कर उन्हें एक निर्धारित राशि ही देते हैं और शेष हिस्सा उनके अपने खातों में जाता है। यह मानव संसाधन के ठेकेदार अपनी मनमानी करते हुए केवल उन लोगों की भर्ती करते हैं जिनका संबंध संघ परिवार से होता है और जिनकी सिफारिश भाजपा के विधायकों द्वारा की जाती है। इस प्रकार की भर्ती के कारण अनुसूचित जाति और पिछड़े वर्ग के वह युवा लोग नौकरियों से वंचित रह जाते हैं जिन्हें सरकार द्वारा नियमित रूप से भर्ती किए जाने पर आरक्षण का लाभ मिलता। 
इनेलो नेता ने कहा कि यह एक सोची समझी साजिश के तहत हो रहा है ताकि अनुसूचित जातियों एवं पिछड़े वर्ग के लोगों को उनके अधिकार की नौकरियां उपलब्ध न हो सकें। यह स्पष्ट तौर पर भारतीय संविधान को विकृत करने का प्रयास है क्योंकि आरक्षण की नीति देश के संविधान के निर्माताओं द्वारा बहुत सोच समझकर और सामाजिक एवं आर्थिक न्याय दिलवाने के लिए बनाई गई थी। इस प्रकार सरकार की इस नीति से जहां एक तरफ सरकारी विभागों में कार्यरत होने के बावजूद युवाओं को डीसी रेट के आधार पर ही वेतन मिलता है वहीं जिन को आरक्षण का लाभ प्राप्त होना चाहिए था उन्हें उससे वंचित रखा जाता है। 
श्री अशोक अरोड़ा ने भाजपा सरकार पर ग्रामीण विरोधी होने का भी आरोप लगाया। उन्होंने याद दिलाया कि यह सर्वमान्य है कि शहरी एवं ग्रामीण स्कूलों के शैक्षणिक स्तर में जाहरी तौर पर अंतर है। इस अंतर में शहरों की सम्पन्नता और ग्रामीण क्षेत्रों की गरीबी भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इस कारण परिक्षाओं में जो अंक प्राप्त होते हैं उनमें भी ग्रामीण विद्याथियों एवं शहरी विद्यार्थियों में अंतर दिखाई देता है। इसके अतिरिक्त शहरी विद्यार्थियों को नित नए अवसर मिलने के कारण व्यक्तित्व विकास भी ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों से बेहतर होता है। इस अंतर के कारण जब बराबर की प्रतियोगिता दोनों वर्गों को करनी पड़ती हैं तो उसमें स्पष्ट तौर पर ग्रामीण विद्यार्थी अक्सर पिछड़ जाते हैं। नौकरियों के मामले में ऐसा अक्सर होता है और इसीलिए यदि नौकरी के लिए योग्यता को ही एकमात्र आधार बनाया जाए तो प्रतिस्पर्धा में ग्रामीण विद्यार्थी शहरी विद्यार्थियों से पिछड़ जाते हैं। 
इनेलो नेता ने मांग की कि इस वास्तविकता को स्वीकार किया जाए और चाहे उच्च शिक्षा में प्रवेश का मामला हो या फिर सरकारी नौकरियों में भर्ती होने का, ग्रामीण विद्यार्थियों की योग्यता संबंधी गुण में रियायत दी जानी चाहिए ताकि पृष्ठभूमि के अंतर से उपजी विषमता को समाप्त किया जा सके। यदि ऐसा नहीं किया जाता तो ग्रामीण विद्यार्थी कभी भी शहरी विद्यार्थियों  के मुकाबले में कुछ अतिश्योक्तियों को छोड़कर बराबरी नहीं कर सकते। ऐसे में वह नौकरियों से और उच्च शिक्षा दोनों से वंचित रह जाते हैं जो उनके प्रति एक अन्याय है।
भिवानी रैली ने हिलाई प्रदेश सरकार की चूलें- मेहता

युवा इनेलो प्रदेश प्रचार सचिव विकास मेहता ने भिवानी रैली पहुंचे कार्यकर्ताओं का जताया आभार


फतेहाबाद:  बीते दिन भिवानी रैली में उमड़े भारी जनसैलाब ने प्रदेश सरकार की चूलें हिला दी हैं। रैली में पहुंचे लाखों लोगों की भीड़ देखकर सत्ताधारी बीजेपी को अपना भविष्य साफ दिखने लगा है कि अगली बार उन्हें विपक्ष में बैठने लायक सीटें भी नहीं मिलेंगी। ये बात युवा इनेलो के प्रदेश प्रचार सचिव विकास मेहता ने भिवानी रैली में पहुंचे लाखों कार्यकर्ताओं का आभार जताते हुए बुधवार को जारी एक प्रैस बयान में कही। विकास मेहता ने कहा कि चौ. देवीलाल जयंति के मौके पर रखी गई भिवानी रैली में अजय चौटाला को देखने के लिए उमड़े लोगों के प्यार ने ये भी जता दिया है कि आने वाली सरकार इंडियन नेशनल लोकदल की होगी और इस सरकार में प्रत्येक इनेलो कार्यकर्ता का बराबर का सम्मान होगा। उन्होंने ये भी कहा कि आज समाज का एक भी वर्ग ऐसा नहीं है जो बीजेपी सरकार की नीतियों से प्रताड़ित ना हो। बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए युवा इनेलो प्रदेश प्रचार सचिव ने कहा कि किसान को बीमा योजना के जरिये मारने पर तुले हैं तो ऑनलाइन खरीद के साथ किसानों और आढतियों के बीच फूट डलवाने का काम भी बीजेपी सरकार ने किया है। इसके अलावा जीएसटी और नोटबंदी के साथ प्रदेश भर के व्यापारियों की कमर तोड़ दी लेकिन इतने पर भी सरकार को चैन नहीं आया तो अब त्यौहार से पहले छापेमारी करवाकर अधिकारी अपनी जेबें भरने का जुगाड़ कर रहे हैं। 
युवा इनेलो नेता विकास मेहता ने प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जनता और किसान भाइयों पर सरकार ने अत्याचार करने बंद नहीं किए तो इनेलो चुप नहीं बैठेगी और सड़क से लेकर संसद तक जनता के हितों की ना केवल आवाज उठाएगी बल्कि अगर संघर्ष करना पड़ा तो भी पीछे नहीं हटेगी। विकास मेहता ने जनता से भी आह्वान किया कि वो प्रदेश और केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों का जमकर विरोध करें और इंसाफ की इस लड़ाई में इनेलो के हाथ मजबूत करें। 

Tuesday, September 26, 2017

भिवानी की धरती से इनेलो ने किया भाजपा को उखाड़ फेंकने का शंखनाद

-लाखों की भीड़ उमड़ी, पंडाल पड़े छोटे


भिवानी : पूर्व उप प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी देवीलाल के जन्मदिवस पर भिवानी में आयोजित संघर्ष संकल्प दिवस पर इनेलो ने भिवानी की धरती से भाजपा को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया है। इनेलो नेताओं ने भाजपा को हर मोर्चे पर विफल बताते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि सभी मिलकर भाजपा को उखाड़ कर इनेलो की सरकार बनाएं। इनेलो नेताओं ने कहा कि खेत में किसान मर रहा है, सीमा पर जवान मर रहा है, लेकिन भाजपा के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही। नेताओं ने कहा कि व्यापारी जीएसटी के कारण बर्बादी के कगार पर है तो बेरोजगार युवा अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। भाजपा सरकार में आज न तो महिलाएं सुरक्षित हैं और न ही स्कूल जाने वाले छोटे छोटे बच्चे। जब भी भाजपा ने केंद्र व प्रदेश में सत्ता संभाली है, महंगाई, बेरोजगारी, आपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही है। भाजपा ने जिन नारों के साथ सत्ता संभाली थी, आज वे सभी वादे हवा हवाई साबित हुए हैं। किसान जहां फसलों के भाव को तरस रहा है, वहीं युवा वर्ग रोजगार व नौकरी के लिए लाठियां खा रहे हैं। माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा एसवाईएल को लेकर दिए गए निर्णय के बावजूद हरियाणा को उसके हक का पानी नहीं दिया जा रहा है। जिस कारण हरि की धरा सूखे की मार झेल रही है। एसवाईएल को लेकर इनेलो लंबे से से आंदोलनरत है, लेकिन भाजपा सरकार लोगों के हक का पानी अभी तक लाने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है। यही हाल स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करने का है। भाजपा सरकार यह रिपोर्ट लागू करना तो दूर, अभी तक इसपर कोई कार्रवाई ही शुरू नहीं हुई है। इनेलो नेताओं ने कहा कि सरकार केवल प्रदेश का भाईचारा खराब करते हुए लोगों का ध्यान असल मुद्दों से भटकाए रखना चाहती है। लेकिन भाजपा की इस नीति को अब प्रदेश का हर आम व खास आदमी समझ चुका है। इनेलो नेताओं ने उपस्थित जनसमूह से आह्वान किया कि इस कुशासन को खत्म करने के लिए अभी से एकजुट होकर तैयारी शुरू कर दे।


इससे पूर्व इनेलो नेताओं ने ताऊ देवीलाल की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। इनेलो नेताओं ने कहा कि वर्तमान हालात को देखते हुए चौधरी देवीलाल की जनकल्याणकारी नीतियां याद आ रही है। हम सभी को चौधरी देवीलाल द्वारा दिखाए मार्ग पर चलने का संकल्प लेना चाहिए। रैली को नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला, राज्यसभा सांसद केसी त्यागी, सांसद दुष्यंत चौटाला, प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, सांसद चरणजीत रोड़ी, सांसद रामकुमार कश्यप, डॉ. केसी बांगड़, रामपाल माजरा, सरदार जसविंद्र सिंधु, इनेलो महिला प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण, इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला, भिवानी जिला प्रधान सुनील लांबा सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया।
 भिवानी इनेलो नेताओं ने जताया आभार


भिवानी,26 सितम्बर:  डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि भिवानी में इनेलो द्वारा पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक चौधरी देवीलाल के 104वें जन्म दिवस पर उनके  सम्मान मेंं आयोजित सम्मान दिवस समारोह की सफल कामयाबी के लिए हरियाणा प्रदेश के कोने-कोने से आए लाखों लोगों का धन्यवाद किया। इनेलो जिला प्रधान सुनील लाम्बा ने कहा कि जिस तरह से रैली में लाखों की संख्या में भीड़ एकत्रित हुई उसके लिए सभी कार्यकर्ताओं का कोटि-कोटि धन्यवाद। 
इनेलो नेता प्रदेश सचिव बलदेव सिंह घणघस, कमला रानी, हलकाध्यक्ष कुलवंत कोटिया, युवा जिला अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा, सीमा लाम्बा, गुडडी लांज्यान, जगदीश धनाना, जगदीप ढाण्डा, अशोक ढाणीमाहू, डा. विनोद अंचल, विजय पंचगाव, पप्पल ठाकुर, उमेद गौरीपुर, उमेद पूनिया, सुनील सहरावत, प्रदीप खरकिया, पार्षद सुशीला पूनिया, सुधीर सरपंच, प्रो. जगबिंद्र सांगवान, पार्षद मनोज यादव, वजीर मान,सुनहरी देवी, सुरेंद्र राठी, होश्यार सिहं थानेदार, जिला  प्रवक्ता राजू मेहरा, शकुंतला स्यानी, मनोहर लाल सरदाना, भगवती जाटू लुहारी, राम कला सिहाग, ईश्वर पूनिया, मांगेराम तोंदवाल, राजेश भारद्वाज, प्रेम धनाना,  सुबेदार राजेंद्र ढाणा, अनिल काठपालिया, एडवोकेट राजेश पूनिया, दिनेश नम्बरदार, सुखबीर जैन, सतबीर ईश्वरवाल, सुमित श्योराण, विशाल गे्रवाल, अत्तर फौजी, मंदीप सुई,मदन जूसवाला,  सेठी धनाना, मीर सिंह  निमडीवाली, सचिन जताई, रोहित मोगली, अजय दलाल, राजबीर तालू, रवि आर्य, सुखबीर सण्डवा, गोलू मलिक, सुमित बिड़ोला, शंकर आहुजा, आशू वाल्मीकि, निरंजन वाल्मीकि, कुलदीप कोंट, बबलू कोंट, सुशील बामल, विवेक ख्यालिया, सतपाल सरपंच, रिसाला सरपंच, रामबीर झरवाई, दर्शन अरोड़ा, सुरजभान एसडीओ, प्रमोद जोगी, पवन पूनिया, कर्मबीर धनाना, मनीष छिल्लर, ईकबाल सिंह सेहरावत, हरजीत चाहर, सैंडी चौधरी, मंदीप तालू, विरेंद्र बापोड़ा, रमेश भौरिया, बिटटू शर्मा, भौम सिंह, पवन पानू, दीपक सिवाड़ा, दीपक राठोर, अशोक शर्मा, विवेक गुप्ता, संजय शर्मा, रमेश बूरा, सतपाल फौजी सहित अनेक लोगों ने आभार व्यक्त किया। 
भूपेेंद्र हुड्डा अब तो दिन में सपने देखना छोड़ दे- दिग्विजय चौटाला


भिवानी, 26 सितम्बर: जमीनी घोटालों की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के कारनामे जनता के सामने हैं। कांग्रेस सरकार के दौरान हुए जमीनी घोटालों के सीपेसलाहकार भूपेंद्र हुड्डा अब तो मुंगेरी लाल के सपने देखना छोड़ दे। यह बात इनेलो  पर दिए गए बयान पर कटाक्ष करते हुए इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने जारी बयान में कहे। दिग्विजय ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की हालत से सब वाकिफ है। डूबते जहाज में कोई सवार नहीं होता और अब तो स्वयं भूपेंद्र हुड्डा ही नई पार्टी तलाशनें में जुटे हुए हैं। 25 सितम्बर के बाद सत्ता परिवर्तन का बिगुल आने वाले समय में इनेलो के पक्ष में होगा। भूपेंद्र हुडा को दिग्विजय ने सलाह देते हुए कहा कि या तो नई पार्टी बना ले या फिर बीजेपी में चले जाए। तो उनकी जमानत बच सकती है। दिग्विजय ने कहा कि हरियाणा प्रदेश की सबसे बड़ी घोटालों की सरकार के मुख्यमंत्री का तबका भूपेंद्र हुडा के नाम है। इसलिए वे भूपेंद्र हुड्डा  सत्ता का सपना देखना छोड़ दे क्योंकि आने वाले समय में इनेलो 1987 का इतिहास दोहराने जा रही है।
दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला ने जताया आभार


भिवानी, 26 सितम्बर:  डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि भिवानी में इनेलो द्वारा पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक चौधरी देवीलाल के 104वें जन्म दिवस पर उनके  सम्मान मेंं आयोजित सम्मान दिवस समारोह की सफल कामयाबी के लिए हरियाणा प्रदेश के कोने-कोने से आए लाखों लोगों का धन्यवाद किया। दुष्यंत व दिग्विजय चौटाला ने आज यहां जारी बयान में बुजुर्गों, माताओं, युवा साथियों और छात्रों का आभार व्यक्त किया और कहा कि भिवानी रैली ने इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज करवा दिया है। निष्ठावान कार्यकर्ताओं के दम पर अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि पर लाखों की संख्या में लोगों का आना इस बात को दर्शाता है कि आगे आने वाली सरकार निश्चित तौर पर इनेलो की होगी। सांसद ने युवा साथियों के द्वारा निष्ठावान तरीके से अपनी ड्यूटी को निभाने पर उन्हें बधाई दी वहीं इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने छात्रों की भारी संख्या के लिए हरियाणा इनसो का धन्यवाद किया। इनेलो नेताओं ने भिवानी व दादरी जिले के इनेलो नेताओं द्वारा विशेष प्रबंध की सराहना की और गांव-गांव से लोगों को भीड़ तक लाने के लिए वाहनों के काफिलों की व्यवस्था की भी तारीफ की। बता दें कि दुष्यंत चौटाला खेती के प्रतीक ट्रैक्टर पर सवार होकर स्वयं ट्रैक्टर चलाते हुए 1004 विशाल ट्रैक्टरों के काफिले के साथ पहुंचे थे इस दौरान लगभग 208 जगहों पर दुष्यंत चौटाला का स्वागत किया गया और फूल मालायें डाली गई। वहीं इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला स्थानीय देवीलाल सदन से 1004 मोटरसाईकिलों के जत्थों के साथ छात्रों की आवाज को बुलंद करने के लिए रैली स्थल तक पहुंचे थे। दोनों इनेलो नेताओं ने हरी पगड़ी पहने बुजुर्गों व हरी चुनरी ओढ़े माताओं व बहनों का विशेषतौर पर आभार प्रकट किया। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि सत्ता परिवर्तन के इस आंदोलन की शुरूआत  डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि से हुई। यह हम सबके लिए गौरव की बात है। 
भिवानी रैली की अपार सफलता ने लगाए विरोधियों के मुंह पर ताले- लितानी

हिसार, 26 सितंबर: इनेलो की ओर से युगपुरुष ताऊ देवीलाल के 104वें जन्म दिवस पर भिवानी में आयोजित सम्मान दिवस में उमड़ी अपार भीड़ ने भाजपा व कांग्रेस के लोगों के मुंह पर ताले लगा दिए है। इनेलो जिला अध्यक्ष राजेंद्र लितानी कहा कि भिवानी में उमड़े लाखों के जनसैलाब ने यह बात साबित कर दी कि प्रदेश में राज चाहे बीजेपी का हो, परंतु प्रदेश की जनता के दिलों पर राज इंडियन नेशनल लोकदल का ही है। इनेलो नेता ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला की गैरमौजूदगी में प्रदेश की जनता ने भिवानी में हाजिर होकर बता दिया कि भले ही उनके शीर्ष नेता प्रत्यक्ष तौर पर उनके साथ नहीं है फिर भी पूरा प्रदेश उनके साथ है। रैली की सफलता ने नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला व युवा सांसद दुष्यंत चौटाला की कार्यकुशलता पर भी मोहर लगाने का काम किया है।
इनेलो जिला अध्यक्ष ने इसके लिए हिसार जिले के सभी कार्यकर्ताओं को रैली की सफलता की बधाई देते हुए इसमें भाग लेने के लिए धन्यवाद भी किया। उन्होंने कहा कि इस रैली में दलित, पिछड़े व पंजाबी बिरादरी सहित सभी 36 बिरादरी के लोगो ने उपस्थित होकर इनेलो की नीतियों में आस्था दिखाई है। इसके साथ ही व्यापारियों व किसानों ने भारी संख्या में भिवानी पहुंचकर सरकार की व्यापारी व किसान विरोधी नीतियों के प्रति अपना आक्रोश प्रकट किया है जो आने वाले दिनों में प्रदेश की सड़कों पर भी खुलकर नजर आएगा। उन्होंने रैली में महिलाओं की ऐतिहासिक हाजिरी के लिए महिलाओं का भी धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि हर बार की अपेक्षा हिसार शहर से भी काफी संख्या में लोगो ने भाग लिया, इसका श्रेय उन्होंने  कार्यकर्ताओ को दिया। इस बार रैली में व्यवस्था को बनाये रखने के लिए युवा सांसद दुष्यंत चौटाला ने हिसार जिले के युवाओं की जिम्मेदारी लगाई थी। जिसे युवाओं ने बखूबी निभाया। रैली की अपार सफलता ने प्रदेश की 36 बिरादरी में विश्वास पैदा किया है कि उनका भविष्य केवल इनेलो में ही सुरक्षित है।
भिवानी में रैली के लिए पहुंची रिकार्डतोड़ भीड़, सरकार की बढ़ी मुश्किलें- दौलतपुरिया

इनेलो विधायक ने रैली की सफलता पर जनता का जताया आभार बोले " राज्य में बदलाव का संकल्प लेने पहुंची लाखों की भीड़ "

फतेहाबाद: इनेलो विधायक बलवान दौलतपुरिया ने कहा कि जननायक स्व. ताऊ देवीलाल जयंती के अवसर पर भिवानी में आयोजित संघर्ष संकल्प सम्मान दिवस समारोह में पहुंची रिकार्डतोड़ भीड़ ने प्रदेश में सत्तासीन भाजपा सहित अन्य सभी विरोधी दलों की सांसे फुला दी है। उन्होंने कहा कि जिस उत्साह और आस्था के साथ लाखों की भीड़ स्व. ताऊ देवीलाल व इनेलो के प्रति अपनी आस्था प्रकट करने भिवानी पहुंची, उसके लिए जनता के हार्दिक आभारी हैं। 
इनेलो विधायक ने कहा कि इनेलो के भिवानी कार्यक्रम में हरियाणा भर से पहुंचे जन समूह में जिला फतेहाबाद की भागीदारी अग्रणी रही है। उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष एवं इनेलो शीर्ष नेता अभय चौटाला व राष्ट्रीय प्रधान महासचिव अजय चौटाला ने भी जनभावनाओं के अनुरूप सत्तासीन होने पर आमजन के लिए कल्याणकारी घोषणाओं का पिटारा खोला। इनमें किसानों के लिए बिजली बिल माफ, ट्यूबवेल बिजली के दाम आधे करने, बुढ़ापा पेंशन बढ़ाकर 25 सौ रुपये करने, घरेलू बिजली की दरें आधी करने व बेरोजगारी दूर करने के लिए हर घर को एक नौकरी देने जैसी कल्याणकारी घोषणाएं मुख्य रूप से शामिल हैं। दौलतपुरिया ने कहा कि सम्मान दिवस समारोह में आपार जनसमूह ने हरियाणा के राजनीतिक भविष्य के प्रति भी अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं। समारोह से पूर्व जो विरोधी दल इनेलो के बारे में तरह-तरह की अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे थे, रैली की एतिहासिक सफलता ने उनके मुंह पर भी ताला जड़ने का काम किया है। इनेलो विधायक ने जनता का आह्वान किया कि वे अपने स्नेह-समर्थन को इसी प्रकार बनाए रखें ताकि हर जनहित मुद्दे पर इनेलो कार्यकर्ता उनकी आवाज को आंदोलन, संघर्ष आदि तरीकों से सरकार तक पहुंंचाने का काम कर सकें। 
पदम जैन ने रैली में उमड़े जनसैलाब का किया आभार प्रकट 


सिरसा: इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन ने भिवानी में बीती 25 सितंबर को चौधरी देवीलाल जयंती में उमड़े जनसैलाब का आभार प्रकट किया है। मंगलवार को जारी बयान में इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन ने कहा कि इस सम्मान समारोह में उमड़ी चौधरी देवीलाल के प्रति श्रद्धांजलि देने वाले लाखों लोगों की भीड़ ने यह साबित कर दिया है आज भी चौधरी देवीलाल की नीतियों पर चल रही इनेलो के प्रति लोगों में जादू बरकरार है। उन्होंने कहा कि इस रैली में मजदूर, किसान, व्यापारी, कर्मचारी सभी शरीक हुए। उन्होंने कहा कि भाजपा की जनविरोधी नीतियों के कारण लोगों का मोह इस सरकार से भंग होता जा रहा है और इनेलो एक बार फिर सत्ता में आएगी तथा जनसेवा तथा विकास के कार्य फिर से आरंभ होंगे। उन्होंने कहा कि प्रतिपक्ष नेता चौधरी अभय सिंह चौटाला, सांसद दुष्यंत सिंह चौटाला, इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला सहित सभी पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं द्वारा इस सम्मान समारोह के लिए बहाया गया पसीना रंग लाया है। उन्होंने कहा कि सम्मान रैली में महिलाओं का भी काफी संख्या में आना इस बात को साबित करता है कि प्रदेश की बहन बेटियों को केवल इनेलो में ही अपना भविष्य सुरक्षित नजर आता है। उन्होंने कहा कि इनेलो सुप्रीमो चौधरी ओमप्रकाश चौटाला और पूर्व सांसद अजय सिंह चौटाला के जेल जाने के बाद से अनेकानेक विरोधी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने यह कहना आरंभ कर दिया था कि अब इनेलो का जनाधार समाप्त हो चुका है मगर इस संकल्प रैली ने यह दर्शा दिया कि आने वाली सरकार इनेलो की है और इस रैली की सफलता ने इनेलो विरोधी राजनीतिक दलों को उनका जवाब दे दिया है। 
रैली में स्पेस अस्पताल के चिकित्सकों ने अपनी सेवाएं दी 
   
भिवानी: पूर्व उपप्रधानमंत्री स्व.देवीलाल के जन्मदिन पर गांव निनाण में आयोजित संघर्ष संकल्प रैली में स्पेस अस्पताल के चिकित्सकों व उनकी टीम ने अपनी सेवाएं दी। इस दौरान रैली में शामिल होने आए एक युवक के सड़क हादसे में घायल होने पर उसे स्पेस अस्पताल लाया गया, जहां हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. दीपक पेसवानी ने घायल युवक का ऑपरेशन किया। अस्पताल के निदेशक मनजीत ढुल ने बताया कि चौधरी देवीलाल एक महान नेता थे, जिन्होंने अपने जनकल्याणकारी कार्यों के चलते प्रदेश की जनता के दिलों में अपनी अलग जगह बनाई। इसी को ध्यान में रखते हुए स्पेस अस्पताल एवं ट्रामा सैंटर की ओर से रैली स्थल पर चिकित्सकों व स्टाफ की नियुक्ति की गई। इस दौरान 120 लोगों को अस्पताल के चिकित्सकों की ओर से जांच की गई तथा उन्हें दवाईयां नि:शुल्क वितरित की गई। उन्होंने बताया कि रैली में शामिल होने आया एक युवक ट्रैक्टरों के बीच में फंसने से बुरी तरह से घायल हो गया। चिकित्सक उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे अस्पताल लेकर आए, जहां चिकित्सक दीपक पेसवानी ने घायल युवक के पैर का ऑपरेशन किया। 
......जब दुष्यंत निकला ट्रैक्टर पर, थम सा गया भिवानी


भिवानी: देश के सबसे युवा सांसद दुष्यंत चौटाला सोमवार को भिवानी में आयोजित ताऊ की रैली में जब एक हजार से भी ज्यादा ट्रैक्टरों के काफिले के साथ भिवानी शहर से निकले तो मानों पूरा भिवानी शहर थम सा गया हो। टै्रक्टर ट्रालियों में हजारों बुजुर्ग एवं महिलाएं सांसद दुष्यंत चौटाला के साथ थी। शहर में जब सांसद का टै्रक्टर काफिला पहुंचा तो भिवानी शहरवासियों ने फूल बरसाकर सांसद का स्वागत किया। 
सैकड़ों जगह सांसद को रूकवाकर महिलाओं ने आशीर्वाद दिया तो युवाओं की टोली भी साथ होती चली गई। एक मोटे अनुमान के अनुसार सांसद के इस ट्रैक्टर काफिले को भिवानी शहर में 208 जगहों पर रूकवाकर सांसद का अभिनंदन किया गया। हांसी गेट, महम गेट तथा रोहतक गेट पर महिलाओं ने सांसद को टै्रक्टर से उतार कर फूल बरसाते हुए मंगलगीत गाए। 


अपने पिता डॉ. अजय सिंह चौटला की कर्मभूमि पर इस तरह के अभूतपूर्व स्वागत को देखकर सांसद चौटाला की आंखें भी नम हो गई। भिवानी शहर में अब तक के सबसे बड़े काफिले को लेकर युवाओं व शहरवासियों में भी भारी जोश दिखाई दिया। आलम यह था कि अधिकतर लोग अपने मोबाइल पर इस पूरे दृश्य का वीडियो बनाते दिखाई दिए। पहले से ही हरी पट्टियों व हॉर्डिंग से भरा शहर इस काफिले के साथ पूरी तरह से इनेलोमय नजर आया। 


वहीं दूसरी तरफ जूनियर चौटाला दिग्विजय के मोटरसाइकिल जत्थे का भी अलग ही नजरा था। सैकड़ों की संख्या में युवा दिग्विजय की अगुवाई में मोटरसाइकिल जत्थे के साथ रैली स्थल पर पहुंचे। इनेलो नेत्री सीमा लांबा भी सैकडों ट्रैक्टरों के काफिले के साथ रैली में पहुंची। महिलाओं में रैली के प्रति इतना उत्साह था कि वे हरी चुनरियां ओढकर मंगल गीत गाते हुए रैली में पहुंची। 

रैली की झलकियां
  • शहर के सभी चौराहे व सड़कें इनेलो की हरी पट्टियों व खंबे बैनरों से ढके दिखाई दिए।
  • महिलाएं हरे रंग के सूट सलवार में रैली पहुंचीं, वहीं अधिकांश बुजुर्गो के सिर पर हरी पगड़ी शोभायमान थी।
  • शहर के सभी मुख्य द्वारों पर ताऊ देवीलाल को समर्पित तोरण द्वारा आने वाले हर आगंतुकों का स्वागत कर रहे थे।
  • भिवानी शहर के चारों तरफ से आने वाली सभी सड़कों पर इनेलो वोलेंटियरों की अनुशासित फौज व्यवस्था बना रही थी।
  • रैली स्थल पर छोटे छोटे बच्चे इनेलो नेताओं के मुखौटे के साथ अलग ही रंग में रंगे नजर आए।
  • जैसे ही इनेलो नेताओं को लाल चॉपर रैली स्थल के नजदीक पहुंचा, पूरा पंडाल ताऊ देवीलाल के जयकारे से गूंज उठा
  • इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला 12:30 बजे रैली स्थल पहुंचे।
  • हैलीकॉप्टर के साथ इनेलो कार्यकर्ताओं व छोटे बच्चों का सेल्फी लेने का क्रेज देखने को मिला।
  • भारी गर्मी व उमस के बावजूद इनेलो कार्यकर्ताओं का जोश व धैर्य देखते ही बनता था।
  • पूरी रैली फेसबुक व ट्वीटर पर लाइव हो रही थी
  • रैली स्थल पर बड़ी-बड़ी एलसीडी स्क्रीन होने के कारण लोग अपने नेताओं को बिलकुल नजदीक से सुन व देख रहे थे।
  • रैली स्थल पर कार्यकर्ताओं के लिए पीने के पानी का विशेष प्रबंध किया गया था।
  • रैली स्थल पर पहुंची सांस्कृतिक कलाकारों की टीम ने ताऊ देवीलाल पर रचित रागनियां गाकर कार्यकर्ताओं में जोश भरा
  • आधुनिकता के इस दौर में भी रैली स्थल पर बीन, बैंजो, घड़ा, ढपली, डैरू जैसे वाद्य यंत्र आकर्षण का केंद्र बने।
  • रैली स्थल पर ताऊ देवीलाल की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी।
  • कई इनेलो कार्यकर्ता हरे रंग की कावड़ लेकर रैली स्थान पर पहुंचे।
Loans of the farmers would be waived and domestic electricity bills too would be halved- Abhay Chautala 

Bhiwani: The massive gathering of masses from all classes of Haryana for the birthday celebration of late Chaudhary Devi Lal, turned into a call of change and a countdown for the next Lok Sabha and State assembly elections.


The highlight of the rally was the message of Chaudhary Om Prakash Chautala for the people of Haryana that was read out by Leader of the Opposition Shri Abhay Singh Chautala. In his message to the people of Haryana on the occasion of the 104th birthday celebration of Chaudhary Devi Lal, former Chief Minister Chaudhary Om Prakash Chautala assured the people that once the Indian Natioinal Lok Dal (INLD) is voted back to power it will rid the State of all ills that afflict it today.
He assured that on return to power, the loans of the farmers would be waived and the agriculture related electricity bills would not only also waived but their domestic bills too would be halved. Taking care of the senior citizens, who were first given old age pension by the late patriarch of Haryana that signaled the beginning of welfare oriented policies in the country, Chaudhary Om Prakash Chautala assured that their pension would be enhanced to Rs. 2500/- per month. Terming the promises to the youth by the BJP government as mockery and deception, he said that the INLD would provide employment to every household as well as unemployment allowance to the youth.
Chaudhary Om Prakash Chautala pointed out that during the last Lok Sabha and State Assembly elections, the BJP had made a solemn promise to implement the Swaminathan Commission Report but renegaded on it as soon as it was voted to power. However, he promised that the INLD would procure the agricultural produce of the farmers at a rate that was Rs. 100/- more than the MSP that would be announced by the Government.


He further added in his message that since females and weaker sections were always at the centre of late Chaudhary Devi Lal’s policies, on the occasion of his 104th birthday, the INLD assures the people that on the occasion of the marriage of girls from poor families, a grant of Rs. Five lakhs would be given by the government.
This message was read out by Leader of the Opposition Shri Abhay Singh Chautala after he had roundly castigated the all round failure of the BJP Government at the central and State level. He pointed out that the bumbling State government has been pushing the State from crisis to another. Each of these crises had resulted in death and destruction and loss of faith of the people in the administrative abilities of the Government.


Shri Abhay Singh said that on three occasions the whole country has witnessed the failure of the government to maintain peace resulting in violence, firing by the security forces and death and destruction of property. But if that was administrative failure then its policies regarding farmers and agriculture were decidedly anti-farmer and appeared vindictive. The manner in which the Dadupur-Nalvi canal has been scrapped demonstrated its inability to help the farmers to increase their productivity by bringing more land under assured irrigation.
An interesting feature of the rally was that this was the first time since such rallies have been taking place when, barring one, no other leader from any other political party was seen on dais. The only exception being JD(U) leader Shri K. C. Tyagi who was one of the many non-Congress leaders who were initiated into politics by Chaudhary Devi Lal. The message was clear that the INLD was perfectly capable of holding fort on its own.
Thus, the rally was addressed mainly by the INLD leaders, the leading among them being Member of Parliament, Shri Dushyant Chautala and the State INLD President Shri Ashok Arora. The young parliamentarian focused on serial failure of the BJP government in Haryana regarding the betrayal of the youth. From failure to fulfill its electoral promise of unemployment allowance to providing jobs, the government had failed in its ability to deliver, he alleged. He also pointed that all across the board the no regular government jobs were being provided and from College and University teachers to the police forces, the young were being provided jobs on contact basis.


Shri Dushyant Chautala also criticized the job scene in Gurugram, the millennium city whose foundation was laid by Chaudhary Devi Lal and given its present shape by Chaudhary Om Prakash Chautala. He lamented that though it was pride of the State and the country, yet the share of people of Haryana in its prosperity was minimal. He was also critical of the general situation of the State and called upon the people to uproot the BJP government during the next elections.
Shri Ashok Arora enumerated the fronts on which the BJP Government had either failed or been proven incompetent. Contrary to the perceived belief, the current BJP has been the fountainhead of repeated scams in the procurement of paddy and deliberated policies that have destroyed the cotton, maize and potato growers.
Shri K. C. Tyagi, the Janata Dal (U) leader, recalled his long association with Chaudhary Devi Lal and acknowledged the role of the late leader in the grooming of many young leaders during the decade of seventies. He pointed out the recent comment of veteran journalist and political commentator, Sir Mark Tully regarding his impressions of Indian leaders during his fifty years of reporting in India. He had said that along with Chaudhary Charan Singh, Chaudhary Devi Lal was the one he admired most.
......जब दुष्यंत, दिग्विजय ने युवाओं में भरा जोश

दुष्यंत 1004 ट्रेक्टर, दिग्विजय मोटरसाईकिल के जत्थे के साथ पहुंचे रैली स्थल


भिवानी : देश के सबसे युवा सांसद दुष्यंत चौटाला सोमवार को भिवानी में आयोजित ताऊ की रैली में जब एक हजार से भी ज्यादा ट्रैक्टरों के काफिले के साथ भिवानी शहर से निकले तो मानों पूरा भिवानी शहर थम सा गया हो। ट्रैक्टर ट्रालियों में हजारों बुजुर्ग एवं महिलाएं सांसद दुष्यंत चौटाला के साथ थी। शहर में जब सांसद का ट्रैक्टर काफिला पहुंचा तो भिवानी शहरवासियों ने फूल बरसाकर सांसद का स्वागत किया। 


सैंकड़ो जगह सांसद को रूकवाकर महिलाओं ने आशीर्वाद दिया तो युवाओं की टोली भी साथ होती चली गई। एक मोटे अनुमान के अनुसार सांसद के इस ट्रैक्टर काफिले को भिवानी शहर में 208 जगहों पर रूकवाकर सांसद का अभिनंदन किया गया। हांसी गेट, महम गेट तथा रोहतक गेट पर महिलाओं ने सांसद को ट्रैक्टर से उतार कर फूल बरसाते हुए मंगलगीत गाए। 


अपने पिता डॉ. अजय सिंह चौटला की कर्मभूमि पर इस तरह के अभूतपूर्व स्वागत को देखकर सांसद चौटाला की आंखें भी नम हो गई। भिवानी शहर में अब तक के सबसे बड़े काफिले को लेकर युवाओं व शहरवासियों में भी भारी जोश दिखाई दिया। आलम यह था कि अधिकतर लोग अपने मोबाइल पर इस पूरे दृश्य का वीडियो बनाते दिखाई दिए। पहले से ही हरी पट्टियों व हॉर्डिंग से भरा शहर इस काफिले के साथ पूरी तरह से इनेलोमय नजर आया। 


वहीं दूसरी तरफ जूनियर चौटाला इनसो के राष्ट्रीय अघ्यक्ष दिग्विजय के मोटरसाइकिल जत्थे का भी अलग ही नजारा था। सैंकड़ो की संख्या में युवा दिग्विजय की अगुवाई में मोटरसाइकिल जत्थे के साथ रैली स्थल पर पहुंचे। दिग्विजय चौटाला ने स्वंय मोटरसाईकिल चलाई आलम यह था कि दोनों युवा चौटाला के जत्थों से पूरे भिवानी का चक्का जाम हो गया, भीड़ के लिहाज से जहां रैली ने स्वयं के रिकार्ड तोड़ दिए, वही युवा चौटालाओं के जोश को देखकर वहां उपस्थित सभी युवा व छात्रो का जोश देखने लायक था, वही  इनेलो नेत्री सीमा लांबा ने महिलाओं में जोश भरते हुए किसानों के प्रति ट्रेक्टर चलाकर सैकडों ट्रेक्टरों के काफिले के साथ रैली में पहुंची। महिलाओं में रैली के प्रति इतना उत्साह था कि वे हरी चुनरियां ओढकर मंगल गीत गाते हुए रैली में पहुंची। 

किसानों के कर्जे माफ और घरेलु बिजली के सारे बिल हाफ: अभय सिंह चौटाला

इनेलो सरकार में लाखों रोजगार, देगे बेरोजगारी भत्ता-दुष्यंत चौटाला


भिवानी: जननायक चौ. देवीलाल के 104 वें जन्मोत्सव के अवसर पर इंडियन नैशनल लोकदल ने भिवानी के पास निनाण गांव में चुनावी बिगुल बजा दिया। रैली में नेेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने इनेलो सुप्रीमो चौ. ओमप्रकाश चौटाला का हरियाणा की जनता के नाम संदेश पढते हुए घोषणा की चौ. ओमप्रकाश चौटाला के वायदे के अनुसार अगले चुनाव के बाद सत्ता में आने पर इनेलो किसानों के कर्जे माफ और कृषि के लिए उपयोग की जाने वाले बिजली के बिल माफ और घरेलू बिजली के बिलों को हाफ कर दिया जाएगा। उन्होंने यह भी वादा किया की हर घर को सरकारी नौकरी या बेरोजगारी भत्ता देने, बुढ़ापा पेंशन और विधवा पेंशन को बढाकर 2500 रूपए मासिक करने के साथ फसल न्यूनतम समर्थन मूल्य से 100 रूपए अधिक की दरों पर खरीद का भी ऐलान किया।


चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने याद दिलाया कि चौ. देवीलाल देश में जनकल्याण नितियों के प्रणेता थे जिसमें महिलाओं एवं कमजोर वर्ग पर विशेष ध्यान दिया जाता था। उसी परम्परा का निर्वाह करते हुए सत्ता में आने पर इनेलो कन्या के विवाह के अवसर पर पांच लाख रुपये की राशि देगी।  अभय चौटाला ने कहा कि चौ. ओमप्रकाश चौटाला का संदेश हमारे लिए आदेश है और  सत्ता में आने पर इन सभी वायदों को इनेलो पूरा करेगी। एसवाईएल के मामले में बड़ा ऐलान करते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि अगर देश व प्रदेश की भाजपा सरकार फरवरी माह तक एसवाईएल का निर्माण शुरू नहीं करवा पाती है तो मार्च माह में होने वाले लोकसभा अधिवेशन के समय इनेलो दिल्ली कूच करेगी और प्रदेश की प्यासी जनता को हर हाल में एसवाईएल का पानी दिलवाया जाएगा। अभय चौटाला ने कहा कि हरियाणा में आज हर वर्ग परेशान है। उन्होंने कहा कि किसान की फसल नहीं बिक रही। लागत मूल्य बढ़ता जा रहा है। 


अभय चौटाला ने हरियाणा की वर्तमान सरकार को हर मोर्चे पर विफल करार देते हुए कहा   कि इस सरकार के कार्यकाल में हरियाणा बार-बार जल रहा है और सरकार इसके बावजूद अपनी पीठ थपथपा रही है, इससे ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण बात और क्या हो सकती है। अभय चौटाला ने कहा कि पहले रोहतक मेें रामपाल के डेरे और फिर जाट आरक्षण आन्दोलन में भडकी हिंसा और उसके दुखदाई परिणामों के बाद जिस प्रकार डेरा सच्चासौदा के मुखिया को दोषी करार दिए जाने के  बाद भडक़ी हिंसा सरकार की नाकामी का जीता-जागता सबूत है, उसे देखते हुए भाजपा के शासनकाल में भाजपा सरकार से किसी प्रकार की आशा नही रखी जा सकती है। 
उन्होंने कहा कि हरियाणा में आज सरकार नाम की कोई चीज नहीं है। किसान अपनी फसल को औने-पौने दामों पर बेचने को मजबूर हैं, व्यापारी जीएसटी की चुनौती में उलझने के कारण खाली बैठे है।  कर्मचारी तबादलों की अनिश्चितता की मार झेल रहे है, जिस कारण सरकार कि विश्वसनियता पर प्रश्र चिन्ह लग गया है। 


अभय चौटाला ने कहा कि चौ. देवीलाल ने हरियाणा में एसवाईएल के लिए न्याय युद्ध शुरू किया था। 32 साल बाद भी नहर नहीं बन सकी, हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने नहर बनाने के आदेश भी दे दिए है। उन्होंने चेतावनी दी की यदि अगले वर्ष फरवरी माह तक इसका निर्माण कार्य आरंभ नही करती तो मार्च महीने में हरियाणा के निवास दिल्ली कूच कर सरकार को विवश कर देगे। वर्तमान भाजपा सरकार की किसान विरोध निति का उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि दादूपुर-नलवी नहर का निर्माण कार्य इस सरकार द्वारा रुकवा दिया गया है, जिससे स्पष्ट हो जाता है कि वह ना तो उनकी उत्पादकता और ना ही उनकी खुशहाली की इच्छुक है। 
इस अवसर पर जेडीयू के महासचिव केसी त्यागी ने चौ. देवीलाल को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए याद दिलाया कि गत शताब्दी 70 के दशक में उन सहित अनेकों गैरकांग्रेसी युवाओं को राजनिति में कदम रखने के लिए उन्होंने ही प्रेरित किया था। रैली में आए अपार जनसमुह को देखकर उन्होंने विश्वास व्यक्त किया यह इस बात का इशारा है कि भाजपा को उखाड़ फेकने के लिये माहौल बना हुआ है। 
हिसार से युवा सांसद दुष्यंत चौटाला ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि उसने हरियाणावासियों, विशेषकर युवाओं के साथ विश्वासघात किया है। लोकसभा एंव राज्यविधानसभा के चुनावों में युवाओं से यह वायदा किया था कि उन्हें ना केवल योग्यता के अनुसार बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा, बल्कि उनके लिए सरकारी नौकरियों का भी प्रबंध किया जाएगा। इन दोनों वायदों को पूरा करने में असफल रही है। उन्होंने याद दिलाया कि गुरुग्राम की नीवं चौ. देवीलाल जी ने रखी थी, और उसे आधुनिक उघोग शहर बनाने में चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने मुख्य भूमिका निभाई। परंन्तु उस शहर में हरियाणा निवासियों को जो गिनती की नौकरियां मिली वह भी निचले स्तर की थी। 


सम्मान दिवस रैली को इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, राज्यसभा सांसद रामकुमार कश्यप, इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला, पार्टी के वरिष्ठ नेता रामपाल माजरा,  तेलूराम जोगी, सरदार जसविंद्र सिंह, पूर्व स्पीकर सतबीर कादयान, पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपी चंद गहलोत, पूर्व मंत्री सुभाष गोयल, पूर्व मंत्री मोहम्मद इलियास, बलदेव वाल्मीकि, डॉ. केसी बांगड़, विधायक रणबीर गंगवा, राजदीप फौगाट, अनूप धानक, औमप्रकाश गौरा, महिला विंग प्रदेशाध्यक्ष शीला भयाण, अशोक शेरवाल, युवा इनेलो प्रदेश प्रभारी प्रदीप गिल, युवा इनेलो प्रदेशाध्यक्ष सुमित राणा, पूर्व डीजीपी एमएस मलिक, इनसो प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप देशवाल, भिवानी जिला अध्यक्ष सुनील लाम्बा, दादरी जिला अध्यक्ष नरेश द्वारका, बलदेव घणघस, राजसिंह गागडवास, कुलवंत कोंटिया, कमला रानी, कर्नल रघबीर सिंह छिल्लर, सीमा लांबा, लक्ष्मी बलोदा, जगदीश धनाना, रविन्द्र पटौदी, रामनिवास मिर्च, गजेन्द्र मंढोली, गुडडी लाज्यान, इंदू परमार, जितेन्द्र शर्मा, वजीर मान, अशोक ढाणीमाहू, सरपंच सुधीर, विजय पंचगावा, आशीष निमडी, यशवीर घनघस, विशाल ग्रेवाल, उमेद पुनिया, प्रदीप खरकिया, सुनील सहरावत, प्रवक्ता राजू मेहरा, जगदीप ढांडा, शंकर आहूजा, आशु वाल्मीकि, बलवंत औरंगनगर, प्रदीप गोयल, होशियार सिंह थानेदार, उमेद गौरीपूर, सुखबीर जैन, सुबेदार राजेन्द्र, लीला बामला, अत्तर फौजी, सतबीर ईश्रवाल, बलबीर ग्रेवाल, मंदीप सुई, मदन जूसवाला, बलराज चौहान, आजाद गिल, राजबीर तालू, पार्षद संजय, अजित तिगड़ाना, दिलबाग चैयरमेन, रामकला सिंहाग, पवन पुनिया, मंदीप तालू, सुरभाजन, इकबाल सिंह, निरंजन बाल्मीकि, प्रवीन काद््यान, सचिन जताई, पवन पानू, सेठी धनाना, अशोक शर्मा, दीपक सिवाडा, दीपक राठौड, सुरज बैनीवाल, रविन्द्र फौगाट बब्लू चौधरी, सुरेन्द्र राठी, अनिल काठपालियां, राकेश कलकल, शशि चरखी,देवेन्द्र नकीपूर, विवेक गुप्ता, पूनम सांगवान, मनोहरलाल सरदाना, सुमित श्योराण, वेदपाल डिल्लो, नरेन्द्र गागड़वास, नरेन्द्र कांटीवाल, मांगेराम तोंदवाल, विजय प्रकाश चीफ, विरेन्द्र सिवाच, बीरसिंह निमड़ीवाली, विवेक ख्यालियां, प्रमोद जोगी, सेंडी चौधरी, सतबीर खानक, गोलू मलिक, रवि आर्य, सुखबीर संडवा, कमलजीत यादव, उमेद फौगाट, कमलजीत यादव, टौनी टिटानी,मेहरचंद सांगवान, अवतार सांगवान, ईश्वर फतेहगढ़, सूरज मलिक सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे। 

Saturday, September 23, 2017

दुष्यंत चौटाला 1004 ट्रैक्टरों के साथ पहुंचेंगे रैली में 


भिवानी, 22 सिंतबर :  पूर्व उप-प्रधानमंत्री जननायक स्व. चौ. देवीलाल के 104 वें जन्म दिवस समरोह में इनेलो संसदीय दल के नेता दुष्यंत चौटाला अपने लोकसभा क्षेत्र हिसार से 1004 ट्रैक्टर-ट्राली के साथ के काफिले के साथ रैली में पहुंगे और लोगों की ताऊ के जमाने की याद ताजा करेंगे। इसके लिए सांसद दुष्यंत चौटाला ने स्वयं ने रूचि लेकर कार्यकर्ताओं को भिवानी में आयोजित होने वाले सम्मान समरोह में ट्रैक्टर-ट्राली के साथ पहुंचने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि वह स्वयं ट्रैक्टर चला कर काफिले का नेतृत्व करेंगे। बेशक यह रैली ताऊ देवीलाल के जन्म दिवस पर आयोजित की जा रही हो परन्तु इसके राजनैतिक मायने भी हैं जो प्रदेश की राजनीति में हलचल पैदा कर सकते हैं। 
ताऊ के प्रति श्रद्धा और लगाव का आलम यह है कि एक ओर जहां देश भर के अनेक राजनीति दलों के बड़े नेता इस रैली में शिरकत कर पूर्व उपप्रधानमंत्री के प्रति श्रद्धाजंलि अर्पित करते हैं वहीं हरियाणा के साथ राजस्थान, पंजाब, दिल्ली व यूपी से भी लोग इस रैली में आते हैं। 
 सांसद दुष्यंत चौटाला का कहना है कि एक जमाना था कि स्व. ताऊ देवीलाल की रैलियों में लोग ट्रैक्टर-ट्रालियों में सवार होकर जाते थे। यहां तक दिल्ली व अन्य प्रदेशों में होने वाली ताऊ की बड़ी राजैनतिक  रैलियों में भी हरियाणा के लोग भारी संख्या ट्रैक्टरों पर सवार होकर पहुंचते थे। दुष्यंत ट्रैक्टर के काफिले को 80-90 के दशक के साथ जोड़ते हुए कहते हैं...ताऊ का जमाना, वापस है लाना। हालांकि ट्रैक्टर-टाली की रैलियों में इस परम्परा की शुरूआत दुष्यंत चौटाला ने पिछले वर्ष करनाल में आयोजित स्व. चौ. देवीलाल के 103 वें जन्म दिवस पर कर दी थी और वे 103 ट्रैक्टरों के साथ रैली में गए थे। इस बार ट्रैक्टर-टा्रलियों के काफिले के आकार दस गुना बढ़ा कर 1004 तक कर दिया है। ट्राली की सवारी कर महिलाएं भी गीत गाती हुई रैली में पहुंचेगी। 

Friday, September 22, 2017

दलित एवं पिछडे वर्ग के लोगों में रैली को लेकर दिखा गजब का उत्साह- हरिप्रकाश मण्डल


सोनीपत, 22 सितम्बर: 25 सितम्बर को भिवानी में  होने वाली जननायक चौ. देवीलाल की जयन्ती सम्मान दिवस के रूप में शामिल होने के लिए हरिजन के दलित एंव पिछड़ा वर्ग के लोगों में गजब का उत्साह है। क्योंकि जननायक देवीलाल ने विशेष रूप से दोनों समुदायों के लोगों के लिए जन कल्याणकरी योजनाओं का शुभारम्भ किया जो देश के सभी हिस्सों में लागू है। रैली के प्रचार के लिए सोनीपत जिले के प्रभारी पूर्व विधायक रामफल कुण्डू ने सुन्दर सावरी वार्ड में लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सम्मान दिवस रैली में पहुंचकर श्रद्धा सुमन श्रध्दांजलि अर्पित करे। इस मौके पर जिलाध्यक्ष चौ. पद्म दहिया ने कहा कि चौ. देवीलाल ने अनेक जनकल्याण योजनाओं का शुभारम्भ किया ओैर गरीब लोगों का उद्धार किया उनके द्वारा किये गए लोकहित कार्यों को लोग आज भी याद करते हैं ।गावों व शहरों में हरिजन चौपालों का बनवाना, गरीब लड़की की शादी पर 5100 रूपए कन्यादान के रूप में देना, साईकिल व रेडियो का टोकन माफ करना, गरीब समाज से नम्बरदार बनाना, बुजुर्गों की पेंशन बनवाना, गरीब किसानों के कर्जों को माफ करना, राजनीति को गांव की गलियों तक पहुँचाना चौ. देवीलाल की देन है। हल्काध्यक्ष सुरेन्द्र छिक्कारा ने भी इनेलो सरकार की नीतियों का उल्लेख किया। इस मौके पर  जयपाल मलिक, सन्दीप गहलावत, ओमप्रकाश फौजी, कुणाल गहलावत, सन्दीप राणा, रेखा बाल्याण, भीम सिंह मेहरा, मोन्टी मण्डल, विकास मण्डल, सोनू कूण्डू, आशीष सुहाग आदि मौजूद थे। 
चौ. देवीलाल जयंती को लेकर युवाओं में भारी उत्साह- राजदीप 


चरखी दादरी : 25 सितम्बर को भिवानी के निनाण गांव में आयोजित होने वाले चौ. देवीलाल जयंती समारोह को लेकर युवा वर्ग में खासा उत्साह है। इस मौके पर संघर्ष संकल्प दिवस रैली में दादरी हलके से सैकड़ों युवाओं का जत्था ढोल-नगाड़ों के साथ पहुंचेगा। यह बात विधायक राजदीप फौगाट ने बृहस्पतिवार को गांव रानीला में कही। वे यहां युवाओं से मुलाकात कर रैली का न्योता देने पहुंचे थे। विधायक ने कहा कि इनेलो ने युवाओं को सबसे ज्यादा रोजगार देने का काम किया है। इस बार रैली डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि भिवानी में है, डा. अजय ने इस लोकसभा क्षेत्र के युवाओं को ज्यादा से ज्यादा रोजगार दिया, इसलिए युवा वर्ग इस बार रैली को लेकर बड़ा उत्साहित है और भारी संख्या में पहुंच कर चौ. देवीलाल को श्रद्धांजलि देगा। राजदीप ने कहा कि कांग्रेस व भाजपा ने युवाओं के हितों से खिलवाड़ किया है। चुनाव के समय भाजपा ने युवा वर्ग से अनेक लोक लुभावने वायदे किए। सत्ता में आते ही रोजगार देने नहीं छीनने का काम जरूर किया है। जिससे कर्मचारी, युवा वर्ग में इस सरकार के खिलाफ भारी रोष है। प्रदेश के हर वर्ग का भला इनेलो ही कर सकती है। चौ. देवीलाल ने सभी वर्गों का ध्यान रखा और राहत दी। उन्हीं के पदचिह्नों पर आज इनेलो चल रही है। इनेलो में युवाओं की सशक्त फौज है। युवाओं को इनेलो में पूरा मान-सम्मान दिया जाता है। आने वाले समय में इनेलो की सरकार होगी तो हर वर्ग के हित में कार्य किया जाएगा। रैली की तैयारियों को लेकर युवा वर्ग पूरी लगन से जुटा हुआ है। इस अवसर पर करतार साहू, सेट्ठी, चांद, ख्याल चन्द, सुरेन्द्र प्रधान,  भवानी रानीला, देवेन्द्र, मंजीत साहू, दीपक साहू, मोहित इत्यादि सहित अनेक युवा उनके साथ थे 

Thursday, September 21, 2017

भाजपा के भ्रष्टाचारमुक्त शासन के दावे खोखला - अभय सिंह चौटाला 


चंडीगढ़, 21 सितंबर: इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) और विपक्ष के नेता चौधरी अभय सिंह चौटाला ने आरोप लगाया है कि खनन के जिस मामले में राज्य में सबसे बड़ा घोटाला हुआ है उसमें मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर की निजी तौर पर जिम्मेवारी है।
इस संदर्भ में उन्होंने भारत के सर्वोच्च न्यायालय के उस फैसले का हवाला दिया जो ‘स्पेशल लीव टू अपील (सी) नम्बर-19166 वर्ष 2017’ में दिया गया। उक्त मामले का संबंध भिवानी जिले की दादम खानों से है। इसमें खनन का अधिकार मैसर्ज सुुंदर मार्केटिंग एसोसिएट्स और कर्मजीत सिंह एंड कंपनी लिमिटेड (केजेएसएल) को दिया गया था जिसमें मुख्य भागीदारी केजेएसएल की थी। मैसर्ज सुंदर मार्केटिंग एसोसिएट्स, खनन विभाग के नियमों के अनुसार अपने आपमें स्वतंत्र रूप से खनन की नीलामी में भी हिस्सा लेने की योग्यता नहीं रखते थे। परंतु जब केजेएसएल ने उक्त  साझेदारी से हटने का निर्णय लिया तो सुुंदर मार्केटिंग एसोसिएट्स ने सीधे मुख्यमंत्री को 14 मई, 2015 को एक पत्र लिखकर अनुरोध किया कि केजेएसएल की 51 प्रतिशत साझेदारी का अधिकार भी उसी को दे दिया जाए। आश्चर्य की बात यह थी कि जो अनुरोध विभाग को किया जाना चाहिए था वह सुुंदर मार्केटिंग एसोसिएट्स ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री से किया। 
श्री अभय सिंह चौटाला ने कहा कि यह मामला कितना हैरानी वाला था, इसकी कल्पना इसी बात से की जा सकती है कि अपने निर्णय में सर्वोच्च न्यायालय ने भी यह टिप्पणी की, ‘यह स्पष्ट नहीं है कि याचिकाकर्ता ने सीधे मुख्यमंत्री को पत्र लिखा लेकिन सच्चाई यह है कि उसने ऐसा किया।’ इस प्रकार के अनुरोध पर विभाग केवल अपने नियमों के अनुसार ही कोई सिफारिश कर सकता था। परंतु इस बार मुख्यमंत्री से अनुरोध करने के कारण जब इस अनुरोध की फाइल विभाग तक पहुंची तो उसने राज्य के एडवोकेट जनरल से राय ली जिसके उपरांत ‘मुख्यमंत्री सहित उच्च पदासीन अधिकारियों ने अनुमति प्रदान कर दी।’ सर्वोच्च न्यायालय ने भी इस बात पर आश्चर्य व्यक्त किया कि सभी कायदे कानूनों को ताक पर रखकर उक्त कंपनी, जो कि नीलामी में भागीदारी की योग्यता भी नहीं रखती थी, उसे खनन के अधिकार किस प्रकार दे दिए गए?
विपक्ष के नेता ने भाजपा सरकार के उस दावे को भी खोखला बताया जिसके तहत यह दावा किया जाता है कि राज्य का प्रशासन भ्रष्टाचारमुक्त है। उन्होंने आरोप लगाया कि स्कूलों, चौपालों, श्मशानघाट, पार्कों एवं बस स्टॉप के निकट यात्रियों के विश्राम के लिए जो बैंच खरीदे जा रहे हैं और गलियों को पक्का करने के लिए जो इंटरलॉकिंग टाइल्स खरीदी जा रही हैं उनकी खरीद में भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार और बैंचों एवं इंटरलॉकिंग टाइल्स के निर्माताओं के बीच साठगांठ के कारण राज्य के खजाने से उनकी भारी कीमत दी जा रही है। उन्होंने दावा किया कि जिन टाइल्स की कीमत लगभग सात रुपए होती है उन्हें 13 से लेकर 14 रुपए प्रति टाइल के हिसाब से खरीदा गया है। जिन बैंचों की कीमत 1900 से लेकर 2200 रुपए तक की है उनकी खरीद 4800 रुपए से लेकर 5300 रुपए तक की गई है। इस प्रकार कुछ लोगों की मिलीभगत से ऐसे लोगों को तो मुनाफा दिलवाया जा रहा है परंतु राज्य सरकार को घाटा हो रहा है।
श्री अभय सिंह चौटाला ने राज्य विजिलेंस ब्यूरो की इस रिपोर्ट की ओर भी ध्यान दिलाया जो पंचकूला के दूसरे चरण के विकास में हुए घोटाले से संबंधित है। ब्यूरो की रिपोर्ट के अनुसार इस परियोजना के लिए 672 एकड़ भूमि के अधिग्रहण की प्रक्रिया प्रारंभ की गई थी। परंतु इसमें से 372 एकड़ भूमि को अधिग्रहण प्रक्रिया से बाहर कर दिया गया था क्योंकि उसकी खरीद दो प्रमुख बिल्डर कंपनियों द्वारा अपनी व्यावसायिक परियोजनाओं के लिए की जा चुकी थी। इस क्षेत्र के पास कौशल्या बांध के बनने की परियोजना भी थी जिसकी अनुमानित लागत राशि 51 करोड़ रुपए थी। परंतु इन दोनों कंपनियों को लाभ पहुंचाने के लिए कांग्रेस की हुड्डा सरकार द्वारा बांध की दीवार की चौड़ाई को बढ़ाने का फैसला किया ताकि उस पर से नेशनल हाईवे से सीधा रास्ता इनकी परियोजनाओं को पहुंच सके। इस बदलाव के कारण कौशल्या बांध की कीमत 51 करोड़ रुपए से बढक़र 118 करोड़ रुपए हो गई हालांकि इसका विरोध सिंचाई विभाग द्वारा भी किया गया था। 
विपक्ष के नेता ने आरोप लगाया कि खट्टर सरकार कांग्रेस के भ्रष्टाचार के प्रति नरम रवैया अपनाए हुए है क्योंकि विजिलेंस ब्यूरो की व्यापक जांच के बाद जब यह पता चल गया कि कौशल्या डैम के निर्माण में बदलाव के कारण दो निजी कंपनियों को लाभ पहुंचाने का मामला स्पष्ट तौर पर भ्रष्टाचार का है परंतु फिर भी अभी तक पूर्व मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के विरुध कोई एफआईआर नहीं कटवाई गई।
नेता विपक्ष ने सरकार पर कानून और व्यवस्था के मामले में दिशाहीनता और वोट बैंक की राजनीति करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार 25 अगस्त को डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों को पंचकूला में आमंत्रित कर उनकी आवाभगत की गई और फिर हालात बिगडऩे पर गोलीबारी में लोगों की जानें गई, उन्हें आपराधिक चालें ही कहा जाना चाहिए। इस प्रकार की वोट बैंक राजनीति के कारण समय-समय पर राज्य में कोई न कोई बड़ी घटना घटती है जिसमें जान और माल दोनों की हानि होती है। इसके अतिरिक्त राज्य में कानून व्यवस्था इतनी लचर है कि हर जिले में बलात्कार, हत्याएं, अपहरण और दलितों के विरुद्ध अपराध की घटनाएं बढ़ रही हैं। बेखौफ घूमते अपराधी दिनदहाड़े महिलाओं एवं पुरुषों की हत्या करते हैं जिससे जनता की आस्था भी सरकार से उठ गई है।
श्री अभय सिंह चौटाला ने नवरात्रों एवं त्यौहारों के मौसम के प्रारंभ होने की शुभकामनाएं देते हुए यह आवाहन किया कि सभी लोग 25 सितम्बर को भिवानी में जननायक चौधरी देवीलाल के जन्मदिन के आयोजन में सम्मिलित होने के लिए पधारें।

हलका भिवानी की रैली होगी रिकार्ड तोड़ - इनेलो

भिवानी, 21 सितंबर: पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक ताऊ देवीलाल के 104 वें जन्मोत्सव पर भिवानी हलके से लोगों की रिकार्ड तोड़ भागीदारी होगी। निनाण के पास होने वाला सम्मान समारोह सभी रिकार्डों को तोड़कर नया परचम लहराएगी। यह बात आज इनेलो नेता हल्का अध्यक्ष कुलवंत कोटिया, युवा जिला अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा, सुधीर सरपंच, विशाल ग्रेवाल, पार्षद मनोज यादव, सुबेदार राजेंद्र ढाणा, उमेद श्योराण, पूर्व हल्का अध्यक्ष उमेद गौरिपूर, सुखबीर जैन, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, प्रदीप खरकिया, पूर्व हल्का अध्यक्ष सुनील सहरावत, पूर्व हल्का अध्यक्ष सतप्रकाश नंबरदार ने आज हल्का भिवानी के विभिन्न गावों का दौरा करते हुए कहे। इनेलो नेताओं ने कहा कि 25 सितंबर के बाद प्रदेश के अंदर सत्ता परिवर्तन की जाग्रति होगी। आने वाला समय में इनेलो रिकार्ड जीत के साथ प्रदेश के अंदर सरकार बनाएगी और एक बार फिर से प्रदेश की बागडोर चौ. ओमप्रकाश चौटाला के हाथों में होगी। भिवानी डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि होने के नाते समस्त बुजुर्ग, महिलाऐं, युवा व छात्र रिकार्ड भागीदारी के साथ रैली में पहुंचेंगे। इस अवसर पर सुबेदार पृथ्वी सिंह, रामबीर झरवाई, रिसाला सरपंच, कमलजीत यादव, अत्तर फौजी, बलकेश नंदगांव, अत्तर झरवाई, शेरसिंह यादव, बलबीर ग्रेवाल, सदाराम यादव, विकास यादव, सतपाल सरपंच, मोहनलाल झरवाई, विकास नंदगांव, लीला सरपंच, मुकेश फुलपूरा व चंद्र नंबरदार समेत अनेक लोग मौजूद थे।

इनेलो नेताओं ने रैली का दिया न्योता 


भिवानी, 21 सितंबर: 25 सितंबर को भिवानी में होने वाले सम्मान दिवस समारोह के लिए आज शहर के अनेक वार्डों का दौरा कर लोगों को रैली का न्योता दिया। प्रदेश सचिव बलदेव घणघस, उमेद पूनिया, अनिल काठपालिया, डा. अंचल, पूर्व चेयरमैन विजय पंचगावा, पार्षद सुशीला पूनिया, इंदु परमार, एडवोकेट रजेश पूनिया, बृजलाल जोगी, पप्पल ठाकुर, अध्यक्ष प्रदीप गोयल, अत्तर फौजी, प्रो. जगबींद्र सांगवान, प्रदीप खरकिया, पूर्व हल्का अध्यक्ष सुनील सहरावत, शंकर आहुजा, मनदीप सुई, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, दर्शन अरोड़ा, आशु बाल्मीकि ने संयुक्त रूप से दौरा कर रैली का न्योता दिया। इनेलो नेताओं ने कहा कि भीड़ के लिहाज से यह रैली इतिहास लिखने जा रही है। आने वाला समय इनेलो का होगा। युवाओं को लाखों रोजगार देकर उनके भविष्य को फिर से अंधकार से उजाले की ओर ले जाया जाएगा। इस अवसर पर मुख्यरूप से महेंद्र यादव, विवेक ख्यालिया, अशोक शर्मा, बबलू कोंट, सुशील बामल, सुरेश झरवाई सहित अनेक लोग उपस्थित थे।