Monday, July 17, 2017

देश की सुरक्षा एजेंसियों पर नहीं है सरकार का नियंत्रण - दुष्यंत चौटाला


कुरुक्षेत्र 15 जुलाई : केंद्रीय सरकार देश की आंतरिक व बाहरी सुरक्षा के मोर्चे पर पूर्णतया विफल रही है और उत्तर प्रदेश की विधानसभा में विस्फोटक मिलना सुरक्षा एजेंसियों की बहुत बड़ी चूक नाकामी है। इससे स्पष्ट है कि सुरक्षा व्यवस्था कमजोर है और सरकार का सुरक्षा एजेंसियों पर नियंत्रण नहीं है। यह आरोप इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने कुरुक्षेत्र के सैक्टर-8 में राज्यसभा सांसद रामकुमार कश्यप के निवास स्थान पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए लगाया। यहां पहुंचने पर राज्यसभा सांसद रामकुमार कश्यप तथा पार्टी के पदाधिकारियों ने पुष्प गुच्छ भेंट करके दुष्यंत चौटाला का स्वागत किया और सांसद कश्यप ने दुष्यंत चौटाला को स मान स्वरूप शॉल भेंट की। इस अवसर पर पार्टी प्रदेशाध्यक्ष के सुपुत्र हिमांशु अरोड़ा, जिला इनेलो प्रधान कुलदीप सिंह मुलतानी, उप प्रधान सतबीर शर्मा, युवा इनेलो के जिला प्रधान सुनील राणा, इनसो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जसविंद्र खैरा, जगबीर मोहड़ी, राजू त्यौड़ा, युवा इनेलो के प्रदेश सचिव सुलतान ब्राह््मण माजरा, कुलदीप जखवाला, धर्म सिंह ढांडा एडवोकेट, इनेलो लीगल सैल के जिला प्रधान राहुल पूनिया एडवोकेट, डा जीत सिंह शेर, ओमप्रकाश कश्यप एडवोकेट तथा सतबीर ढांडा सहित अनेक पार्टी पदाधिकारी उपस्थित थे।
एक प्रश्न के उत्तर में सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उनकी पार्टी के सांसद एसवाईएल के मामले को लेकर नवनिर्वाचित राष्ट्रपति से भेंट करेंगे और संसद के मानसून सत्र में इनेलो एसवाईएल का मुद्दा प्रभावी ढंग से उठाएगी। उन्होंने कहा कि हरियाणा के सभी लिकेंज मेें पानी आना चाहिए। एसवाईएल की पंजाब में खोदाई करवाना सुप्रीम कोर्ट के फैसले के अनुसार केंद्रीय सरकार की जि मेवारी है। एसवाईएल हरियाणा के लोगों की जीवनरेखा है और इनेलो एसवाईएल में पानी लाने के लिए कोई भी कुर्बानी देने से पीछे नहीं हटेगी। 


युवा चौपाल के बारे में जानकारी देते हुए दुष्यंत चौटाला ने कहा कि युवा वर्ग के लिए रोजगार सबसे बड़ी समस्या है। वे युवा चौपाल आयोजित करके युवा वर्ग को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने में लगे हुए हैं। एक प्रश्र के उत्तर में दुष्यंत चौटाला ने बताया कि अभी तक 100 से अधिक युवा चौपाल कार्यक्रम आयोजित किए जा चुके हैं। प्रदेश के प्रत्येक जिले में 6 युवा चौपाल कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। युवा शक्ति को संगठित करना इस कार्यक्रम का उद्देश्य है।
भाजपा सांसद राजकुमार सैनी द्वारा राज्यसभा समाप्त करने की मांग के संबध में पूछे गए प्रश्न के उत्तर में दुष्यंत चौटाला ने कहा कि लोकतंत्र में लोकसभा में निर्वाचित सदस्य जाते हैं, जबकि राज्यसभा में देश के बुद्धिजीवी व अपने अपने क्षेत्र की प्रतिभावान हस्तियां मिल बैठकर देश की समस्याओं पर चिंतन करती हैं। इसलिए जो लोग राज्यसभा को समाप्त करने की मांग कर रहे हैं वे लोकतंत्र के विरोधी हैं। यदि ऐसे लोगों का वश चले तो वे लोकतंत्र को ही समाप्त कर दें।
इस अवसर पर राज्यसभा सांसद रामकुमार कश्यप ने कहा कि वे पार्टी के निर्देशानुसार एसवाईएल के मुद्दे को राज्यसभा में उठाएंगे। उन्होंने कहा कि वे पहली बार राष्ट्रपति तथा उप राष्ट्रपति के चुनाव में अपने वोट का प्रयोग करेंगे और पार्टी द्वारा लिए गए निर्णयानुसार राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी रामनाथ कोविंद के पक्ष में मतदान करेंगे।

No comments:

Post a Comment