Tuesday, May 16, 2017

संघर्ष के रास्ते पर चलने से ही मिलेगा इस वाई ऐल का पानी - अभय चौटाला


नारनौंद, 16 मई : जिस तरह कोई भी मुकाम बिना संघर्ष के हासिल नहीं हो सकता, उसी प्रकार एसवाईएल के पानी भी संघर्ष के रास्ते पर चलने से ही मिलेगा और इनेलो प्रदेश के किसानों की जीवन रेखा मानी जाने वाली एसवाईएल के लिए अपना संघर्ष तब तक जारी रखेगी, जब तक प्रदेश को उसके हक का पानी नहीं मिल जाता। यह बात इनेलो के ऐलनाबाद से विधायक व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ने मंगलवार को नारनौंद हल्के के ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही।
गौरतलब है सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद से ही इनेलो एस वाई एल को लेकर संघर्षरत है। पंजाब बॉर्डर व जंतर मंतर दिल्ली में धरने के बाद अब प्रत्येक हल्के में हर रोज क्रमवार धरना दिया जा रहा है। इसी कड़ी में आगामी शुक्रवार को नारनौंद उपमण्डल कार्यालय पर धरना दिया जायेगा। इसी को लेकर मंगलवार को अभय चौटाला ने नारनौंद हल्के के गाँवो का दौरा किया । नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने हलके के गांव मसूदपुर, मदनहेड़ी, भकलाना, राखीगढ़ी, कापड़ो व नारनौंद में लोगो से एसवाईएल के लिए किये जा रहे संघर्ष में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने का आह्वान किया।


चौटाला ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट से फाइनल फैसला आने के बाद भी बीजेपी सरकार इस मामले को लटकाना चाहती है। केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह के उस बयान पर जिसमे उन्होंने पंजाब व हरियाणा के मुख्यमंत्रियों से इस मामले को बैठकर निपटाने की सलाह दी है, प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए अभय चौटाला ने कहा कि अगर बातचीत से मामला हल होता तो अदालतों में इतना समय नहीं लगता। अब जब प्रदेश की जनता को सुप्रीम कोर्ट से न्याय मिल चुका है तो फिर केंद्र सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि वह नहर बनाकर हरियाणा को उसके हक का पानी दे। परन्तु न तो हरियाणा भाजपा सरकार और न ही केंद्र सरकार इसे लेकर गम्भीर है। दोनों ही सरकारें इस मामले को लम्बित रखना चाहती है क्यों कि ये लोग किसान हितैषी नही है। उन्होंने ग्रामीणों से शुक्रवार को लगने वाले धरने में ज्यादा से ज्यादा संख्या में पहुंचने का आह्वान किया ताकि इस गूंगी बहरी सरकार को  किसानों को उनका हक देने के लिए मजबूर किया जा सके। इस मौके पर जिला अध्यक्ष राजेंद्र लितानी, विधायक रणवीर गंगवा, वेद नारंग, अनूप धानक, पूर्व विधायक पूर्ण सिंह डाबड़ा, महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्षा शीला भ्याण,   हल्का अध्यक्ष सतबीर सिसाय, पूर्व आई पी एस राज सिंह मोर, युवा जिला अध्यक्ष अमित बूरा, शन्नो देवी, कांता देवी, जिला पार्षद जस्सी पेटवाड़, प्रताप मलिक, विजेंद्र लोहान, महेंद्र शर्मा सहित बहुत से ग्रामीण व इनेलो कार्यकर्ता उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment