Monday, April 3, 2017

दुष्यंत चौटाला ने पीले चावल देकर कार्यकर्ताओं को दिया शादी का न्यौता


सांसद दुष्यंत ने अपनी शादी का न्यौता देते हुए कहा कि दादा जी और पापा जी आपको शादी का न्यौता देने आना था पर वे नहीं आ सके, आप सब समय और हालात को अच्छी तरह समझते हो, इसलिए मैं स्वयं आपको अपनी शादी का न्यौता देने आया हूं। दादा जी ने अपनी तरफ से आप सबको 13 अप्रैल का सिरसा के जेसीडी विद्यापीठ में आयोजित प्रीतिभोज के लिए न्यौता भेजा है और पूरे हिसार लोकसभा क्षेत्र के लोगों को वहां पहुंचना है। यह आग्रह आज दुष्यंत चौटाला ने हिसार स्थित चौधरी देवीलाल सदन में पहुंचे कार्यकर्ताओं से किया। 
उन्होंने कहा कि हिसार लोकसभा क्षेत्र के लोग मेरे अपने परिवार के सदस्य की तरह हैं। दादा जी व पापा जी जेल में हैं। पापा जी को मिली पेरौल की रिहाई में तकनीकी अड़चन के कारण वे आज नहीं आ सके। दो-तीन दिन में पापा जेल से बाहर आए पाएंगे, दादा जी की पेरौल अभी मंजूर नहीं हुई है, ऐसे में शादी समारोह की जिम्मेवारी आप लोगों के कंधों पर ज्यादा है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि शादी समारोह के लिए आधुनिक युग में शादी का कार्ड देने का रिवाज है पर दादा जी की इच्छा है कि हमें अपने संस्कारों को निभाते हुए शादी का निमंत्रण पीले चावल के जरिए दिया जाए। उन्होंने स्वयं कार्यकर्ताओं को पीले चावल देकर उनकी शादी समारोह की शोभा बढ़ाने का आग्रह किया। इस दौरान जिला प्रधान राजेंद्र लितानी ने हिसार लोकसभा क्षेत्र की ओर से शादी के बाने का  निमंत्रण स्वीकार करने का आग्रह भी किया। इस अवसर पर इनेलो के अनेक विधायक व पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment