Sunday, May 28, 2017

पुलिस प्रशासन की निष्क्रियता से बढ़ रहा अपराधियों का हौंसला - लितानी

हिसार, 28 मई : इनेलो जिला अध्यक्ष राजेंद्र लितानी ने गत दिवस हांसी में रविंद्र सैनी के शोरूम पर की गई तोड़ फोड़ की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन की निष्क्रियता की वजह से अपराधियों के हौंसले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। तभी दिन ब दिन अपराधी इस प्रकार की घटनाओं को सरे आम बिना किसी भय के अंजाम दे रहे है। इनेलो नेता लितानी ने कहा कि आज शहर का व्यापारी बुरी तरह खौफज़दा है। अगर कोई अपराधी किस्म का व्यक्ति उनकी दुकान पर आकर धमकी दे जाता है तो उसके सामने या तो अपनी दुकान बंद करने या उस अपराधी की मनमानी को पूरा करने के अलावा कोई चारा नहीं बचता।  इसके लिए उन्होंने पुलिस प्रशासन की कमजोरी बताते हुए कहा कि पुलिस की इस लापरवाही व कमजोर मानसिकता के चलते व्यापारियों के मन में असुरक्षा की भावना घर कर गयी है। देश व प्रदेश की अर्थ व्यवस्था में व्यापारी वर्ग का बड़ा योगदान है  इसलिए उन्हें उनकी सुरक्षा को लेकर पूर्णतया आश्वस्त करना चाहिए। आज व्यापारी के साथ साथ आम नागरिक व महिलाओ की सुरक्षा को लेकर विशेष प्रबन्ध किये जाने की जरूरत पर बल देते हुए इनेलो नेता ने पुलिस के आला अधिकारियों से आम नागरिक की सुरक्षा सुनिश्चित किये जाने की मांग की है।

इनेलो का लघु सचिवालय पर धरना 2 जून को, धरने का नेतृत्व करेंगे इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा


कुरुक्षेत्र, 28 मई : थानेसर हलके के इनेलो कार्यकर्ताओं द्वारा एसवाईएल में पानी लाने, स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने तथा थानेसर शहर की स्थानीय समस्याओं को लेकर दो जून को प्रात 10 बजे पार्टी प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा के नेतृत्व मेें लघु सचिवालय पर धरना दिया जाएगा। इस धरने की तैयारियों को लेकर पंजाबी धर्मशाला में आयोजित थानेसर हलके के कार्यकर्ताओं की बैठक को अशोक अरोड़ा ने संबोधित किया। इस अवसर पर हलका प्रधान रणबीर सिंह किरमिच, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मायाराम चंद्रभानपुरा,पार्षद नितिन भारद्वाज लाली, पूर्व पार्षद मनु जैन, युवा इनेलो के जिला प्रचार सचिव मोहित सैनी, जिला उपाध्यक्ष सतबीर शर्मा, जिला उप प्रधान सुभाष मिर्जापुर, नरेंद्र घराड़सी, नरेश मित्तल, इनेलो पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ की प्रदेश महासचिव कलावती सहित अनेक इनेलो कार्यकर्ता उपस्थित थे।
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि एसवाईएल के मुद्दे पर प्रदेश व केंद्र सरकार गंभीर नहीं है। आज हरियाणा पानी के लिए तरस रहा है, लेकिन एसवाईएल में पानी लाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया जा रहा। इसी प्रकार स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू न करके भाजपा ने किसानों के साथ धोखा किया है। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में सभी 90 हलकों में इनेलो द्वारा उपरोक्त मांगों को लेकर धरने आयोजित किए जा रहे हैं। अरोड़ा ने कहा कि दो जून को उपरोक्त मांगों के साथ साथ थानेसर शहर की समस्याओं को लेकर भी जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा जाएगा। अरोड़ा ने कहा कि आज अधिकतर जनता बिजली और पानी के संकट से त्रस्त है। शहर के कई इलाकों में पीने के लिए पानी भी नहीं पहुंच रहा। इन सारी समस्याओं से भी प्रशासन को अवगत कराया जाएगा। उन्होंने प्रदेश सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताते हुए कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था का दिवाला पिट चुका है, सरकार से हर वर्ग नाराज है और आने वाले चुनाव में भाजपा का सफाया होना निश्चित है।
अशोक अरोड़ा ने कहा कि आज शहर में बनी बनाई सड़कें कभी पेयजल सप्लाई के नाम पर तो कभी सीवरेज लाइन डालने के नाम पर उखाड़ दी गई हैं। लंबे समय से आधे शहर की सड़कें और गलियां उखड़ी हुई पड़ी हैं। सारा थानेसर शहर मिट्टी  और धूल से अंटा पड़ा है। इस मिट््टी और धूल के कारण शहर की अधिकतर जनसं या के श्वांस और दमा रोग से पीडि़त होने की संभावना बनी हुई है। उन्होंने कहा कि पहले तो गली और सड़कें बनाई जाती हैं, फिर नई बनी हुई इन सड़कों को पानी की पाइप लाइन डालने के नाम पर उखाड़ दिया जाता है। फिर बना दिया जाता है और उसके बाद फिर सीवरेज पाइप लाइन डालने के नाम पर उखाड़ा जा रहा है। सड़कों को बार बार उखाड़ तो दिया गया है ,लेकिन इनको बनाने में काफी विलंब हो रहा है, जिस कारण शहर की जनता काफी परेशान है।
पूर्व मंत्री और थानेसर हलके से चार बार विधायक रह चुके अशोक अरोड़ा ने कहा कि ठेकेदारों और सरकारी अधिकारियों की मिलीभगत से नई बनी हुई सड़कें बार बार उखाड़ कर जनता के पैसे को बर्बाद किया जा रहा है। यह एक बहुत बड़ स्कैंडल है और इस स्कैंडल में सत्तारूढ़ दल के नेताओं की मिलीभगत है। उन्होंने कहा कि दो जून को जिला प्रशासन को ज्ञापन देकर मांग की जाएगी कि ऐसे अधिकारियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए, जो जनता के पैसे को लूटने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ दल के कई नेताओं ने इंटरलॉकिंग टाइलों की फैक्टरी लगा रखी हैं। उनकी टाइलें लगाने के लिए ही बार बार नई बनाई गई सड़क और गलियां उखाड़ी जा रही हैं। 


कांग्रेस व भाजपा नेता कर रहे नकारात्मक राजनीति, हमारी सोच सकारात्मक - दिग्विजय 


डबवाली, 27 मई : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने कहा है कि भाजपा की सरकार में विकास कार्य के नाम पर कोई काम नहीं हो रहा है और आए दिन झूठे वायदे किए जा रहे है। उन्होंने डबवाली हलका का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा की सरकार के कार्यकाल को 3 साल होने वाले हैं लेकिन डबवाली में विकास के मामले में लगातार पिछड़ता जा रहा है। यहां तक कि मुख्यमंत्री स्वयं भी डबवाली आए और बिना कोई बड़ी घोषणाएं किए चले गए जिससे लोगों में निराशा का माहौल है। उन्होंने कहा कि पहले 10 साल हुड्डा की कांग्रेस सरकार ने इस क्षेत्र के साथ सौतेला व्यवहार करते हुए कोई काम नहीं करवाया अब उसी रास्ते पर भाजपा की सरकार चल रही है। उन्होंने कहा कि डा. अजय सिंह चौटाला व विधायक नैना सिंह चौटाला डबवाली को विकास के मामले में अग्रणी बनाने की सोच रखते हंै। उनका लगातार प्रयास रहता है कि यहां कि समस्याएं हल हों। लेकिन डबवाली में ओर सुविधाएं व काम तो क्या करवाने हैं यहां पहले से मिल रही सुविधाओं को कम किया जा रहा है।
इनेलो नेता ने चौटाला-चंडीगढ व डबवाली-हरिद्वार बस सेवा का मुद्दा उठाते हुए कहा कि चंडीगढ़ के लिए सीधी बस सेवा तो कांग्रेस ने बंद की थी अब भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष डबवाली-हरिद्वार बस सेवा के परमिट को यहां से अपने हलके में ले गए जिसकी विधायक नैना चौटाला ने विधानसभा में आवाज भी उठाई गई है। जबकि भाजपा के नेता मूकदर्शक बने देख रहे हंै। उन्होंने कहा कि भाजपा व कांगेस नताओं का चौटाला परिवार पर झूठे आरोप लगाना ही काम रह गया है विकास की उनकी सोच ही नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस व भाजपा नेता नकारात्मक राजनीति कर रहे हैं और झूठा प्रचार कर ड्रामे कर रहे है जबकि इनेलो ने सकारात्मक और विकास की राजनीति की है। इसलिए सभी संगठित होकर इनेलो को मजबूत बनाएं। दिग्विजय चौटाला आज डबवाली शहर के सभी 21 वार्डो में कार्यकत्र्ता संवाद बैठक कार्यक्रम के दौरान जोन वाइज कार्यकत्र्ताओं से मिल रहे थे। 
डबवाली शहर में 4 जगहों पर हुई कार्यकत्र्ता बैठकों में शहर की अनेक समस्याएं कार्यकत्र्ताओं ने दिग्विजय चौटाला के सामने रखी जिस पर दिग्विजय चौटाला ने कहा कि शहर की सभी समस्याओं को  जल्द ही उच्चाधिकारियों से मिलकर उनके सामने रखा जाएगा व उनका समाधान करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि डबवाली नगरपालिका व अन्य प्रशासन व सरकार के लोगों ने भ्रष्टाचार फैला रखा है। जिस दिन नगर पालिका इनेलो की बनेगी सारी कमीशनखोरी को बंद करके पारदर्शिता से सारे काम करवाए जाएंगे। 
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि वर्तमान समय में नशा एक बहुत बड़ी समस्या बन गया है। उन्होंने कहा कि डबवाली शहर में सरेआम नशा बिक रहा है जिस कारण आपराधिक घटनाएं दिन प्रतिदिन बढ़ रही हंै। युवा वर्ग नशे की गर्त में डूब चुका है। डबवाली शहर व इसके आस पास गांवों में फायरिंग जैसी घटनाएं घटित हो चुकी हैं और आरोपी खुलेआम घूम रहे हंै जिससे लोगों में भय का माहौल है। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन को चाहिए कि आपराधिक तत्वों व नशा बेचने वालों पर सख्ती से लगाम लगाए ताकि शहर के लोग अमन व शांति के वातावरण में रह सकें। इस मौके पर इनेलो नेता जगरूप सिंह सकताखेड़ा, हलका प्रधान सर्वजीत मसीतां, पूर्व नपा चेयरमैन टेकचंद छाबड़ा, रणवीर राणा, एसजीपीसी मैम्बर जगसीर मांगेआना सहित पार्टी के अनेकनेता मौजूद थे।
हैपनिंग हरियाणा ग्लोबल समिट का नहीं दिखा कोई असर - अभय सिंह चौटाला 


चंडीगढ़, 27 मई: नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर के राज्य में विदेशी पूंजीनिवेश बारे दावों को खोखला बताया है। उन्होंने याद दिलाया कि गत वर्ष गुडग़ांव में राज्य सरकार द्वारा हैपनिंग हरियाणा ग्लोबल समिट का आयोजन किया गया था। उसके बाद राज्य सरकार ने दावा किया था कि 359 कम्पनियों ने यहां पूंजीनिवेश बारे ममोरंडम ऑफ अंडरस्टेंडिंग (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए थे जिनसे राज्य में 5,86,862 करोड़ रुपयों का पूंजीनिवेश और  पांच लाख युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। अभी तक न तो उस पूंजीनिवेश के आने के कोई आसार दिखाई दे रहे हैं और न ही रोजगार के अवसर बनते दिखाई दे रहे हैं। 
सरकारी सूत्रों से प्राप्त समाचारों के अनुसार भले ही 359 कम्पनियों ने एमओयू  पर हस्ताक्षर किए थे परंतु एक वर्ष बीत जाने के बाद भी अभी तक उनमें से एक भी साकार रूप लेता दिखाई नहीं दे रहा। इस प्रकार वास्तविकता यह है कि राज्य में एक धेले का भी पूंजीनिवेश अभी तक नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को पहले तो उन्हीं एमओयू को लागू करने बारे कार्य करना चाहिए था परंतु वह सिंगापुर और हांगकांग के एक और दौरे पर ऐसे निकल पड़े मानो  5,86,862 करोड़ रुपए का निवेश काफी नहीं था।
इनेलो नेता ने कहा कि इससे आम आदमी को यह शक है कि गत वर्ष गुडग़ांव में जिन एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए थे वह केवल एक छलावा थे। आम आदमी द्वारा सरकार बारे इस प्रकार की राय होने के कारण लागों में आशंका  है कि अभी भी मुख्यमंत्री सिंगापुर और हांगकांग दौरे के दौरान जिन एमओयू के बारे में दावा कर रहे हैं वह भी एक भ्रामक प्रचार है। 
इनेलो नेता ने आगे कहा कि विशेषज्ञों द्वारा सिंगापुर और हांगकांग को हरियाणा जैसे राज्य के विकास के लिए मॉडल मानना अनुचित है। सिंगापुर और हांगकांग दोनों ही अपनी विशेष भौगोलिक स्थिति और परिस्थितियों का लाभ उठाते हुए अपने क्षेत्र में एक विशिष्ट प्रकार के समाज का गठन करने में सफल रहे हैं। परंतु हरियाणा मुख्यत: एक कृषि प्रधान राज्य है जहां पर इस प्रकार के विकास मॉडल को लागू नहीं किया जा सकता। यदि ऐसा किया भी जाता है तो उससे हरियाणा के किसान तो विकास के नाम पर अपनी भूमि से वंचित हो सकते हैं परंतु रोजगार के नाम पर ग्रामीण क्षेत्रों से पढ़े-लिखे युवाओं को नौकरियां प्राप्त नहीं होंगी।
श्री अभय सिंह चौटाला ने कहा कि यदि गत वर्ष जाट आरक्षण आंदोलन के तुरंत बाद आयोजित हैपनिंग हरियाणा पूरी तरह से असफल प्रयास था तो मुख्यमंत्री का अभी हाल का दौरा केवलमात्र राज्य के खजाने से सैरसपाटा करने का साधन मात्र था।
दलित समाज के हित केवल इनेलो में सुरक्षित - शेरवाल



फरीदाबाद, 27 मई : अगर प्रदेश में दलित समाज की सुध अगर किसी ने सबसे पहले ली तो वे देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री चौ. देवी लाल थे। जब वे उप प्रधानमंत्री थे उन्होंने सबसे पहले 1990 में डा. भीमराव अंबेडकर को भारत रत्न दिलवाया था और  डा. भीमराव अंबेडकर की मूर्ति संसद भवन में लगवाने का कार्य भी उन्होंने ही किया था। जब वे इस प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने गाँवों में हरिजन चौपालें बनवाई। आज भी  दलित समाज के हित इनेलो में ही सुरक्षित है। यह बात इनेलो के अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अशोक शेरवाल ने कही। वे शनिवार को इनैलो कार्यालय सैक्टर 11 फरीदाबाद में अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ की  जिला कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व प्रकोष्ठ के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अशोक शेरवाल का इनैलो कार्यालय सैक्टर 11 में पहुंचने पर जिला अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह चौहान, राजेन्द्र सिंह बीसला, हनुमान सिंह खींची (जिला संयोजक - अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ), पवन रावत, प्रेम सिंह धनखड़ ने स्वागत किया और आशा व्यक्त कि उनके नेतृत्व में दलित समाज के ज्यादा से ज्यादा लोग इनेलो से जुड़ेंगे। इस मौके पर अशोक शेरवाल ने कार्यकारिणी सदस्यो को संबोधित करते हुए कहा कि जिस प्रकार जननायक चौ. देवीलाल दलित समाज का पूरा ख्याल रखते थे उसी प्रकार पूर्व मुख्यमंत्री चौ. औम प्रकाश चौटाला भी इस समाज को पूरा मान सम्मान देते आ रहे है। कांग्रेस के दस सालों में दलितों का बेहद उत्पीड़न हुआ और अब भाजपा सरकार में भी बदस्तूर जारी है।
सरकार की गलत नीतियों की वजह से दलित समाज अपने हको से वंचित रह रहा है। शेरवाल ने कहा कि आज हमें संगठित होकर अपने हको के लिए संघर्ष करना होगा और अपने हितैषी पार्टी को पहचानना होगा। हमारे समाज ने कांग्रेस और भाजपा को देख लिया है इसलिए अब दलित समाज को आशा की किरण इनेलो में नजर आ रही है। उन्होंने पदाधिकारियों से आह्वान किया कि वे गाँव व शहर के प्रत्येक वार्ड में जाकर दलित भाइयो को इस बारे में जागरूक करे और पार्टी के साथ जोड़े ताकि आने वाले समय में हम प्रदेश में अपने हितों की रक्षक पार्टी इनेलो की पूर्ण बहुमत की सरकार बना सके।
इस मौके पर सुरेश मोर, रामशरण रौतेला, अमर सिंह दलाल, देवेन्द्र सिंह मान, सतीश टिकानिया, धर्मेन्द्र सिंह, लाला, लालचंद, मनीष तंवर, तेजपाल, ईश्वर, राकेश, सतीश, सन्नी, टीकाराम, दलीप कुमार, किशन चंद, इतवारी लाल, रामदत्त, टिंकू, जयराम नम्बरदार सहित पार्टी के अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के बहुत से सदस्य मौजूद थे।⁠⁠⁠⁠

तपती गर्मी में सरकार नहीं खोज पा रही बिजली-पानी संकट का हल - बलवान दौलतपुरिया


फतेहाबाद : इनेलो विधायक बलवान दौलतपुरिया ने लगातार बढ़ती गर्मी के साथ क्षेत्र में गहराते बिजली-पानी संकट के लिए प्रदेश की भाजपा सरकार की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगाया है। अनाज मंडी स्थित अपने कार्यालय में लोगों की शिकायतें सुनने के दौरान इनेलो विधायक ने कहा कि इस भीष्ण गर्मी में जिस प्रकार से सरकार आमजन को राहत पहुंचाने के लिए बिजली-पानी संकट का हल नहीं खोज पा रही है, वह इस बात को प्रमाणित करता है कि सरकार जनता की मूल जरूरतें पूरी करने तक को लेकर गंभीर नहीं है।
बलवान दौलतपुरिया ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पूर्व क्षेत्र की ग्रामीण जनता से उन्होंने वायदा किया था कि यदि वे जनसमर्थन से विधानसभा पहुंचे तो हर ढाणी को बिजली-पानी सुविधा मुहैया करवाने का काम करेंगे। जननायक स्व. ताऊ देवीलाल के आदर्शों की पार्टी इनेलो का सजग सिपाही होने के नाते वे अपने इस वायदे पर खरा भी उतरे और क्षेत्र की ऐसी ढाणियों तक को भी बिजली-पानी से जोडऩे का काम किया, जो बीते दो दशकों से इस सुविधा से महरूम थी। इसके विपरित अच्छे दिनों के सब्जबाग दिखलाकर सत्तासीन हुई भाजपा सरकार ने अपने अब तक के कार्यकाल में जनता को बिजली-पानी जैसी मूलभूत जरूरतों के लिए भी सड़कों पर उतर आंदोलन करने को मजबूर कर दिया। उन्होंने कहा कि भूना के ऊंचाई वाले पिछड़ा क्षेत्र, फतेहाबाद के अशोक नगर, भाटिया कालोनी, शक्ति नगर जैसे इलाकों में जल संकट गंभीर हुआ है, उसने सरकार के तमाम दावों की पोल खोल कर रख दी है। कुछ इसी तरह के हालात बिजली सुविधा के मामले में दिखाई दे रहे हैं। जनता को भाजपा सरकार के अच्छे दिनों में पीने को पानी नहीं मिल पा रहा तो गर्मी से निजात पाने के लिए बिजली व्यवस्था सुचारु न होने की समस्या उनके लिए सिरदर्द बनी हुई है। उन्होंने भाजपा पर कटाक्ष किया कि अपने अब तक के कार्यकाल में जन सुविधाओं का हल करवाने की बजाय केवल मात्र कागजी अभियानों से जनता को बरगलाने का काम ही किया है। उन्होंने दावा किया कि सरकार की इस तरह की गलत नीतियां ही अब उसके पतन का कारण बनेंगी और आगामी चुनावों में उसे देश-प्रदेश में करारी हार का सामना करना पड़ेगा।

Friday, May 26, 2017

एसवाईएल को लेकर पहली जून से हल्का स्तरीय प्रदर्शन  

चंडीगढ़, 26 मई: नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला और प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने बताया कि पहली जून से 15 जून तक हलका व शहरी प्रधान, पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं द्वारा सरकार के खिलाफ एसवाईएल के अधूरे निर्माण को पूरा करवाए जाने बारे हलका स्तर पर प्रदर्शन किया जाएगा। इनेलो नेताओं ने बताया कि पहली जून को हलका पानीपत ग्रामीण व शहरी के पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा पानीपत में, 2 जून को जिला कुरुक्षेत्र में हलका थानेसर व लाडवा के कार्यकर्ता, 5 जून को जिला करनाल में हलका करनाल व इंद्र के कार्यकर्ता, 6 जून को जिला कैथल में हलका कैथल व पुण्डरी, 7 जून को जींद में हलका जींद व सफीदों के पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता सरकार के ढुलमुल रवैये के विरोध में प्रदर्शन करके एसवाईएल का निर्माण कार्य पूरा करवाने बारे प्रदर्शन कर रोष जताएंगे।
इनेलो नेताओं ने बताया कि 8 जून को हलका पेहवा, 12 जून को हलका झज्जर व बादली के कार्यकर्ता जिला झज्जर और जिला पानीपत के हलका समालखा में, 13 जून को हलका नांगलचौधरी व महेंद्रगढ़ के कार्यकर्ता नारनौल और हलका बेरी में पार्टी भाजपा सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। इसके अलावा 14 जून को हलका सांपला किलोई में और गुडग़ांव व बादशाहपुर हलकों के कार्यकर्ता गुडग़ांव में, 15 जून को फतेहाबाद और कलायत हलकों के कार्यकर्ता प्रदेशवासियों को साथ लेकर एसवाईएल का निर्माण न करवाए जाने बाबत प्रदेश सरकार के खिलाफ पुरजोर प्रदर्शन करेंगे।
इनेलो ही दलित समाज की सच्ची हितैषी - अशोक शेरवाल


सोनीपत, 26 मई : आज जिला इनेलो पार्टी कार्यालय में हरिजन प्रकोष्ठ की बैठक हुई, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में हरिजन सेल के प्रदेश सयोंजक श्री अशोक शेरवाल ने शिरकत की। बैठक में दलित समाज के लोगो को पार्टी की सदस्यता ग्रहण करवाकर दलित समाज के लोगों को इनेलो पार्टी में जोडने का अभियान की शुरूवात की गई और दलित समाज दरा पार्टी का ग्राफ बढाने पर विचार-विमर्श किया, क्योकि इनेलों की सरकार में दलित समाज के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाए बनाई गई, जैसे कि प्रत्येक गांव में हरिजन चौपाल का निर्माण कराना, हरिजन व पिछडा वर्ग के लोगों को काम बदले अनाज देना। बैठक की अध्यक्षता हरिजन सेल की जिला सयोंजक हरिप्रकाश मण्डल ने की।
अशोक शेरवाल ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि दलित समाज का अगर भला किया है, तो चौ0 देवीलाल तथा चौ0 ओमप्रकाश चौटाला ने ही किया है। डा0 अम्बेडकर दरा बनाए गए सविधान को ठीक प्रकार से दलितों के क्रियावन्त किया गया है, तो वे चौ0 देवीलाल ही थे। डा0 भीमीराव अम्बेडकर को भारत रत्न से सम्मानित किया गया तो उसमें चौ0 देवीलाल का बहुत बडा योगदान था। शेरवाल ने कहा कि इनेलो के शासनकाल में हरियाणा में अपराध व अपराधी पर जो अंकुश था वह जगजाहिर है लेकिन आज के मौजूदा समय में अपराध क्षेत्र में हरियाणा प्रदेश देशभर में प्रथम स्थान पर आ गया है। व्यापारी और महिलाओं का सड़कों से गुजरना मुश्किल हो गया है। आए दिन दुष्कर्म की घटनाओं से प्रदेश की जनता का सिर शर्म से झुक रहा है। जिसका ताजा उदाहरण सोनीपत के कालूपुर में दलित महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म व हत्या की गई।   सरकारी नौकरियों में बार-बार अड़चन पैदा कर प्रदेश के युवाओं को बेरोजगारी की गर्त में धकेला जा रहा है। मौजूदा समय में बिजली-पानी संकट, कानून व्यवस्था तथा युवाओं के हितों के लिए केवल इनेलो ही सड़क व संसद तक संघर्ष कर रही है। 
प्रदेश की सत्तासीन भाजपा सरकार से जनता का तो पहले ही, पर अब उनके विधायकों का भी विश्वास उठ गया है और दूसरी तरफ हुड्डा व गैर हुड्डा में कांग्रेस पार्टी पर कब्जा करने की चालें चल रही हैं इसीलिए अब इनेलो ही एकमात्र जनहितों के लिए संघर्षरत है। उन्होंने कहा कि केन्द्र में मोदी सरकार देश की सुरक्षा करने में असफल रही है। सीमा व नक्सलवाद क्षेत्र में हमारे जवानों पर हमले हो रहे हैं। पीएम मोदी पाक पर कार्यवाही करने की बजाए हर बार झूठा राग अलाप रहे हैं।
जिलाध्यक्ष पद्म सिंह दहिया ने कहा कि विकास के नाम पर जनता को बरगलाया जा रहा है। बिजली को सरप्लस घोषित कर सीएम अपने चहेते उद्योगपतियों को लाभ पहुंचा रहे हैं वहीं जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। शिक्षा बोर्ड के परीक्षा परिणामों में पचास फीसदी ही बच्चे उतीर्ण हो पाए हैं और लड़कियों को शिक्षकों के लिए भरी दोपहरी में आंदोलन के लिए सड़कों पर बैठना पड़ रहा है। 
इस मौके पर पिछडे वर्ग के प्रदेश अध्यक्ष तेलुराम जोगी, पूर्व विधायक रमेश खटक, प्रोमिला मलिक, प्रेस प्रवक्ता फूलकूवारं चौहान, कुणाल गहलावत, रामकिशन तषीर, सुरेश त्यागी, संजय मलिक, अनिता खाण्डा, अन्जू बाला खटक, विनोद चौहान, जयनारयण, सतबीर काद्यान, सतपाल, बिजेन्द्र सौलकी, भीम मेहरा, सरोज बाला, रमेश लाठ, शाबर अली, रामकरण, रवि बाल्मिकी आदि मौजूद थे।
सांसद चरणजीत सिंह ने सिरसा में निरतंर बढ़ती अपराधिक घटनाओं पर जताई चिंता  

सिरसा, 26 मई: इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन व सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी एंव सिरसा विधायक मक्खल लाल सिंगला ने एक सयुक्त ब्यान जारी करते हुए शहर में बिगड़ती कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया है। उन्होंनेे पिछले दिनों शहर में दो अलग-अलग लुटमार चोरी व अपराधिक घटनाओं पर चिंता जताते हुए कहा कि भाजपा नेताओं की आपसी गुटबंदी के चलते प्रशासन पर पकड़ ढीली होने के क ारण इस तरह की घटनाएं घट रही है। क्योंकि भाजपा नेता आपसी खींचातानी करते रहते है जिसके कारण प्रशासन व पुलिस प्रशासन पर इन लोगों का कोई ध्यान नही है। इनेलो नेताओं ने कहा कि इन चोरी व डकेती क ी घटनाओं से सिरसा शहर की जनता मे भय पाया जा रहा है। महिलाओं की इज्जत सुरक्षित नही है,तथा आम आदमी सेहमा हुआ है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हो रही है। उन्होंने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि अतीत में भी ऐसी घटनाएं घटित हो चुकी हैं लेकिन पुलिस अभी तक अपराधियों से दूर है। सिरसा सहित प्रदेश की पुलिस चोक-चोराहों पर चालान काटने में व्यस्त है तथा आम-आदमी को परेशान करने मे लगी हुई है। इनेलो नेताओं ने कहा कि भाजपा शासन में सिरसा सहित प्रदेश में लुटमार चोरी की घटनाओं में अप्रत्यााशित वृद्धि हुई है जिससे पता चलता है कि सरकार कानून व्यवस्था बनाए रखने में पूरी तरह नाकाम सिद्ध हो चुकी है। उन्होंने प्रशासन से अपराधियों को शिघ्र पकडऩे की मांग की ताकि शहर वासियों के मन से भय समाप्त हो सकें। यदि अपराधी नही पकड़े गए तो इनेलो सड़कों पर उतरेगी।


Thursday, May 25, 2017

सांसद की पहल पर 10 गांवों में बनेंगे किसान समूह

हिसार,25 मई : सांसद दुष्यंत चौटाला की अनुशंसा पर हिसार लोकसभा के 10 गांवों में किसानों के समूह बनाए जाएंगे । ये समूह अपने गांव के अन्य किसानों को खेती की पैदावार बढ़ाने के तौर तरीके बताएंगे।किसानों के इस समूह को फार्मर इंटरेस्ट ग्रुप का नाम दिया गया है।
सांसद चौटाला ने बताया कि हिसार लोकसभा ही नहीं बल्कि पूरे हरियाणा प्रदेश में आजीविका का मुख्य साधन कृषि ही है । जब तक किसान को सुदृढ़ नहीं किया जाएगा तब तक न तो गांव और ना ही शहर विकास कर पाएंगे । सांसद ने बताया कि पिछले दिनों उन्होंने स्माल फार्मर एसोसिएसन कांसोर्टियम के  अधिकारियों से चर्चा की थी और उन्हें पत्र लिखकर 10 गांव चुनने का अनुरोध किया था। अब उनकी अनुशंसा पर बिठमड़ा,बुड़ाक ,बड़ छप्पर ,भिवानी रोहिल्ला ,कोथ खुर्द, चुली कला, राजली, मदन हेड़ी तथा मोहला गांव को चुना गया है। इन गांवों में फार्मर इंटरेस्ट ग्रुप बनाया जाएगा। इन ग्रुपों को गांव की चौपाल पर ही अधिकारी पहुंचकर कृषि के बारे में मोटिवेट करेंगे तथा किसानों को बताएंगे कि किस तरह से और बेहतर पैदावार फसल से ली जाए। इसके अतिरिक्त भविष्य में इस ग्रुप में से जुड़े किसानों को दिल्ली की मंडी का भाव उनके गांव में ही दिलाने का प्रयास किया जाएगा । इस अभियान की शुरुआत कल आदमपुर हल्के के गाँव बुड़ाक से की जायेगी। सांसद चौटाला ने इन 10 गांवों के किसानों से अनुरोध किया है कि वे फार्मर इंटरेस्ट ग्रुप से जुड़कर सरकार की योजनाओं का लाभ ले और बेहतर पैदावार करके अच्छी आमदनी लें।
एसवाईएल व बिजली-पानी संकट को लेकर अम्बाला शहर व दादरी हलके में इनेलो का धरना-प्रदर्शन


अम्बाला/दादरी, 25 मई : एसवाईएल के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने और प्रदेश में बिजली-पानी संकट को लेकर इनेलो कार्यकर्ताओं द्वारा वीरवार को अम्बाला व बौंद खंड (चरखी दादरी) में सरकार के खिलाफ धरना-प्रदर्शन किया गया। अम्बाला जिला के प्रभारी व पेहवा से विधायक जसविन्द्र सिह संधू व जिला प्रधान शीशपाल जन्धेडी के नेतृत्व में अम्बाला शहर व कैंट विस क्षेत्र के इनेलो कार्यकर्ताओं ने धरना दिया वहीं दादरी हलके के विधायक राजदीप फौगाट के बौंद खंड में जनसमस्याओं को लेकर सरकार से बिजली-पानी व कानून व्यवस्था में सुधार सहित अन्य जनसमस्याओं का जल्द समाधान करने की मांग को लेकर नायब तहसीलदार को ज्ञापन भी सौंपा। 
इनेलो नेताओं ने कहा कि एसवाईएल पर सर्वोच्च न्यायालय का फैसला हरियाणा के पक्ष में आने के बावजूद अभी तक नहर का निर्माण कार्य न होना प्रदेश के साथ भारी अन्याय होने के साथ-साथ बल्कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले की भी अवमानना है। उन्होंने कहा कि हरियाणा अपने हिस्से का पानी लेने के लिए पिछले 50 सालों से निरंतर संघर्षरत है और स्व. जननायक चौ.देवीलाल ने ही एसवाईएल का निर्माण कार्य शुरू करवाया था और इस नहर की पंजाब क्षेत्र में जमीन अधिग्रहण करने बारे सरकारी खजाने से पैसा भी उन्होंने जारी किया था। यह बात स्व. पूर्व मुख्यमंत्री बंसीलाल ने भी विधानसभा में स्वीकार की थी कि एसवाईएल का सबसे ज्यादा निर्माण कार्य चौ. देवीलाल के समय हुआ है उन्होंने कहा कि इनेलो प्रमुख चौ. ओमप्रकाश चौटाला की जोरदार पैरवी के चलते 2002 में सर्वोच्च न्यायालय का फैसला एसवाईएल को लेकर हरियाणा पक्ष मे आया इसके बाद निरंतर इसके निर्माण में कांग्रेस अड़ंगे लगाती रही और ऐसे प्रयास करती रही ताकि प्रदेश को उसके हिस्से का पानी न मिल पाए।


इनेलो नेताओं ने कांग्रेस व भाजपा को आडे हाथों लेते हुए कहा कि दस साल प्रदेश व केंद्र में कांग्रेस की सरकार रही लेकिन इस नहर के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने में कांग्रेस ने कोई दिलचस्पी नहीं ली बल्कि समय-समय पर इसक निर्माण में अड़चनें पैदा करने के प्रयास किए। उन्होंने कहा कि अब पिछले अढाई सालों से हरियाणा व केंद्र में भाजपा की सरकार है और सर्वोच्च न्यायालय के फैसले अनुसार नहर के अधुरे निर्माण को पूरा करवाने की जिम्मेवारी केंद्र सरकार पर है। इसके बावजूद भी भाजपा सरकार नहर  का निर्माण शुरू करवाने की बजाय मामले में टालमटोल का रवैया अपना रही है। उन्होंने कहा कि एसवाईएल पर कांग्रेस व भाजपा दोनो ही दोहरी भाषा बोल रहे है और अपने आपको राष्ट्रीय दल कहलाने वाली दोनों पार्टियो आज तक इस मामले पर अपना राष्ट्रीय स्तर पर स्टैड स्पष्ट नही कर पाए है। इनेलो नेता ने कहा कि पंजाब में कांग्रेस व भाजपा के नेता अलग भाषा बोलते है और हरियाणा के लोगों को बहकाने के लिए अलग भाषा बोली जाती है। उन्होंने कहा कि एसवाईएल हरियाणा की जीवनरेखा है और इस नहर के माध्यम से हरियाणा अलग प्रदेश बनने पर उसके हिस्से का पानी प्रदेश में लाना चाहता है। 


इनेलो नेताओं ने कहा कि बिजली पानी संंकट से परेशान प्रदेश की जनता आए दिन सडक़ो पर धरने लगाकर रोष प्रर्दशन कर रही है लेकिन सरकार पर इनका कोई असर नही हो रहा बल्कि सरकार लोगों को बहकाने के लिए आए दिन कभी गीता जंयती तो कभी स्र्वण जयंती के नाम पर और कभी अप्रवासी सम्मेलन तो कभी सरस्वती जंयती के नाम पर प्रदेश के लोगों की खून-सीने की कमाई को पानी की तरह बहा रही है। उन्होंने कहा कि आज भाजपा सरकार पूरी तरह से हर मोर्चे पर फेल हो गई है और समाज का हर वर्ग सरकार से बेहद दुखी और परेशान है इस धरने को पार्टी के अन्य नेताओं ने भी सम्बोधित किया और भाजपा सरकार पर तीखे प्रहार किए। इनेलो नेताओं ने कहा कि अगर एसवाईएल का पानी प्रदेश में आ जाता है तो न सिर्फ किसानों के खेतों को पानी मिल पाएगा बल्कि लोगों के पीने के पानी की समस्या भी स्थायी तौर पर हल को जाएगी। 
अम्बाला के धरने में श्री संधू के अलावा जिला प्रधान शीशपाल जन्धेडी, जगमाल सिह रौंलो, सुरजीत सौडा, शम्मी सौडा, कृपाल अरोडा, हलका प्रधान जसविन्द्र सकरोहो, सरवण सिह, अवतार शेरगिल,राजेश सैनी, जिला प्रैस प्रवक्ता रामकुमार बटरोहन, लाली भानोखेडी, युवा जिला प्रधान अमरेन्द्र सौटा व महिला जिला प्रधान सर्वजीत कौर और बौंद खंड में विधायक फौगाट के अलावा हलकाध्यक्ष रामनिवास मिर्च, पं. मनफूल शर्मा रावलधिया, नितिन जांघु, राकेश कलकल, रमेश वर्मा, विनोद मौड़ी, पार्षद आनंद कुमार, नप वाइस चेयरमैन बबलू श्योराण, जसवंत, राजेश, राजकुमार रानीला, लाला रणकौली व बबलू चौधरी सहित सैकड़ों इनेलो कार्यकर्ता मौजूद थे।
28 मई से शुरू होंगे चौधरी अभय चौटाला के हलकास्तरीय कार्यक्रम
चंडीगढ़, 25 मई : इनेलो की ओर से 28 मई से शुरू किए जा रहे हलकास्तरीय व प्रदेश के बड़े-बड़े गांवों में एसवाईएल के अधूरे निर्माण सहित बिजली-पानी संकट को भी प्रमुखता से उठाया जाएगा। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने बताया कि 28 मई से 18 जून तक दिए जाने वाले कार्यक्रम को अंतिम रूप भी दे दिया गया है। उन्होंने बताया कि इन धरनों में पार्टी कार्यकर्ता एसवाईएल का निर्माण जल्द पूरा करने और बिजली-पानी संकट जैसी मूलभूत समस्याओं से प्रदेशवासियों को अवगत कराया जाएगा। 
इनेलो नेता ने बताया कि 28 मई को जिला पानीपत के हलका पानीपत ग्रामीण, 29 मई को जिला कुरुक्षेत्र के हलका लाडवा, 30 मई को जिला करनाल के हलका असंध व इन हलकों के छह-छह बड़े गांवों में लोगों को सम्बोधित किया जाएगा। इनेलो नेता ने बताया कि पहली जून को युवा प्रकोष्ठ की राज्य कार्यकारिणी एवं जिला प्रधानों की बैठक चंडीगढ़ में ली जाएगी।
नेता प्रतिपक्ष ने बताया कि 8 जून को जिला हिसार के हलका बरवाला, 9 जून को जिला गुरुग्राम के हलका बादशाहपुर, 10 जून को पलवल, 11 जून को जिला रोहतक के सांपला-किलोई, 12 जून को जिला सोनीपत के हलका बरोदा, 15 जून को जिला जींद के हलका उचाना व 16 जून को हलका नरवाना और 17 व 18 जून को जिला हिसार के हलका उकलाना व नलवा सहित इन्हीं हलकों के छह-छह बड़े गांवों में हरियाणा की जीवनरेखा एसवाईएल के अधूरे निर्माण पर सरकार की अनदेखी करने बारे लोगों को जागरूक करवाया जाएगा।
अनुसूचित वर्ग के पांच लाख से अधिक लोगों को जोड़ा जाएगा इनेलो के साथ - अशोक शेरवाल


कुरुक्षेत्र, 25 मई : अनुसूचित जाति के लोगों को इनेलो के साथ जोडऩे के लिए एक विशेष सदस्यता अभियान चलाया जाएगा और पूरे प्रदेश में पांच लाख से अधिक अनुसूचित जाति के लोगों को इनेलो का सदस्य बनाया जाएगा। यह जानकारी इनेलो अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के नवनियुक्त प्रदेश संयोजक अशोक शेरवाल ने स्थानीय पंजाबी धर्मशाला में अपने स मान में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए दी। स मान समारोह का आयोजन इनेलो अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के जिला संयोजक चंद्रभान बाल्मीकि के नेतृ़त्व में प्रकोष्ठ कार्यकर्ताओं ने किया था। स मेलन को इनेलो के राष्ट्रीय सचिव बलदेव बाल्मीकि, अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के प्रदेश प्रभारी एवं पूर्व विधायक मामूराम गोंदर, जिला इनेलो प्रधान कुलदीप सिंह मुलतानी, अनुसूचित प्रकोष्ठ के जिला संयोजक चंद्रभान बाल्मीकि, जिला महासचिव एवं अजराना कलां गांव के सरपंच संदीप बाल्मीकि,  शाहाबाद से गत विधानसभा चुनाव में इनेलो प्रत्याशी रह चुके रामकरण काला, इनेलो हलका पिहोवा के प्रवक्ता महेंद्र कैंथला सहित अनेक नेताओं ने संबोधित किया। कार्यकर्ताओं ने अशोक शेरवाल व अन्य नेताओं का फूलमाला डालकर भव्य स्वागत किया।


शेरवाल ने अपने संबोधन में कहा कि कांग्रेस ने कभी भी बाबा साहेब अंबेडकर को स मान नहीं दिया। अनुसूचित जाति के लोगों को कांग्रेस ने केवलमात्र वोट बैंक के रूप में प्रयोग किया। उन्होंने भाजपा पर कड़े प्रहार करते हुए कहा कि भाजपा का बाबा साहेब से कभी कोई वास्ता नहीं रहा। भाजपा की नीति अनुसूचित जाति का आरक्षण खत्म करने की है। उन्होंने संभावना जताई कि मौका लगते ही भाजपा अनुसूचित जाति का आरक्षण खत्म कर सकती है। शेरवाल ने कहा कि भाजपा केवल वोट बटोरने के लिए बाबा साहेब के नाम का प्रयोग कर रही है। भाजपा ने भी कभी बाबा साहेब अंबेडकर को स मान नहीं दिया।  प्रदेश में कांग्रेस और भाजपा ने जहां आपसी भाईचारा खत्म करने का प्रयास किया, वहीं इनेलो ने पूरा वर्ष बाबा साहेब के नाम पर सद्भावना स मेलन आयोजित करके प्रदेश की जनता का आपसी भाईचारा जोडऩे का काम किया। 
अशोक शेरवाल ने इनेलो को अनुसूचित जाति वर्ग का सच्चा हितैषी बताते हुए कहा कि जननायक चौ देवीलाल की नीतियां गरीब और दलित लोगों के लिए थी। आज दलित लोगों के लिए देश भर में जो योजनाएं चलाई जा रही हैं, वे सब चौ. देवीलाल की देन हैं। उन्होंने कहा कि चौ देवी लाल और चौ ओमप्रकाश चौटाला ने दलित व गरीब लोगों को विधानसभा व लोकसभा का दरवाजा दिखाया और राजनीति को पूंजीपतियों के चुंगल से निकालकर गरीब के देहरी तक पहुंचाया। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे अनुसूचित जाति के लोगों को पार्टी के साथ जोडऩे के लिए कड़ी मेहनत करें और विशेष सदस्यता अभियान चलाकर दलित व गरीब लोगों को इनेलो के साथ जोड़ें। इस अवसर पर इनेलो अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ शाहाबाद हलका प्रधान रविंद्र चनारथल, पिहोवा हलका प्रधान सुरेंद्र, लाडवा हलका प्रधान सूरजाराम, इनेलो पिहोवा हलका प्रवक्ता महेंद्र कैंथला, थानेसर हलका प्रवक्ता सुरेंद्र सैनी, जिप के पूर्व वाईस चेयरमैन सुभाष बटेड़ी, युवा इनेलो के प्रचार सचिव मोहित सैनी सहित भारी सं या में कार्यकर्ता उपस्थित थे। 


इनेलो ने बौंद में किया रोष मार्च, जन समस्याओं के समाधान की मांग की


बौंदकलां : बौंद खंड में जनसमस्याओं को लेकर इनेलो ने बृहस्पतिवार को भाजपा सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। इनेलो कार्यकर्ताओं ने दादरी हलके के विधायक राजदीप फौगाट के नेतृत्व में सरकार से बिजली, पानी व कानून व्यवस्था में सुधार सहित अन्य जन समस्याओं का जल्द समाधान करने की मांग को लेकर नायब तहसीलदार को ज्ञापन भी सौंपा। इसके अलावा खंड की आधा दर्जन मुख्य मांग संबंधी पत्र भी प्रशासन को दिया। विधायक राजदीप व मौजूद सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने चेतावनी दी कि जल्द मांगें पूरी नहीं हुई तो कड़े आंदोलन से पीछे नहीं हटेंगे। 


विधायक राजदीप फौगाट ने कहा कि भीषण गर्मी में लोग बिजली, पानी के संकट से जूझ रहे हैं। बार-बार लिखित, मौखिक शिकायतों पर भी अधिकारी कोई गौर नहीं कर रहे, आखिरकार लोगों को धरना, प्रदर्शन करना पड़ रहा है। लोगों की समस्याएं जानना और तत्परता से समाधान करना विभागीय अधिकारियों की डयूटी है, लेकिन  देखने में आ रहा है कि अफसरशाही बेलगाम है और लोग परेशान। इनेलो इन हालातों को कतई सहन नहीं करेगी। इस दौरान विधायक राजदीप व अन्य कार्यकर्ताओं ने खंड बौंदकलां की मुख्य मांगों से संबंधित पत्र सीएम के नाम नायब तहसीलदार महावीर प्रसाद को सौंपा। जिसमें राजकीय कॉलेज में साइंस की कक्षाएं शुरू करवाना, खेल स्टेडियम का निर्माण, तहसील भवन बनवाना, स्थायी अनाज मंडी स्थापित करना, सरकारी अस्पताल में स्टाफ व अन्य सुविधाएं मुहैया करवाना, नहरों में पानी आने की सीमा कम करना, गांव सांकरोड़ में कन्या स्कूल का निर्माण करना तथा रानीला में सालों पुरानी पेयजल समस्या का स्थायी समाधान करना शामिल है। इनेलो ने पत्र सौंप  सरकार से जन हित में ये सभी मांगें जल्द पूरी करने की मांग की। 
इस मौके पर विधायक राजदीप फौगाट, हलकाध्यक्ष रामनिवास मिर्च, पं. मनफूल शर्मा रावलधिया, नितिन जांघु, राकेश कलकल, रमेश वर्मा, विनोद मौड़ी, पार्षद आनंद कुमार , नप वाइस चेयरमैन बबलू श्योराण, आशीष निमड़ी, पवन सांवड़, शशि शर्मा चरखी, जयसिंह लांबा, रणबीर, प्यारेलाल लांबा, वेदपाल कादियान, बाबूलाल यादव, मा. वीरेंद्र, दलजीत फौगाट, सूरज बेनीवाल, अनूप डूडी, टिंकू ऊण, कुलदीप निमड़ी, संदीप सिहाग, उमेद मालपोष, ओमबीर, प्रवीन रावलधी, विष्णु वाल्मीकी, रामोतार मिर्च, मोहित साहू, श्रीपाल परमार, वीरेंद्र बौंद खुर्द, अजय कुमार, अभिलाष आर्य, सुरेश, भोली, सुनील सैन, बंटू फौगाट, जसवंत, राजेश, राजकुमार रानीला, लाला रणकौली, बबलू चौधरी सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे। 

Wednesday, May 24, 2017

एसवाईएल, बिजली पानी व बिगड़ती कानून व्यवस्था के खिलाफ सडक़ों पर उतरी इनेलो


बाढ़ड़ा, 24 मई: प्रदेश में एसवाईएल का पानी लाने, बिगड़ती कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने व बिजली-पानी की कमी को दुरुस्त करने की मांग को लेकर इनेलो कार्यकर्ताओं ने आज बाढड़ा कस्बे में एकदिवसीय धरना देकर सडक़ों पर रोष मार्च निकाला और तहसीलदार के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजा। कस्बे के जुई रोड स्थित तहसील मुख्यालय पर इनेलो हलकाध्यक्ष महेन्द्र शास्त्री की अध्यक्षता में धरना प्रदर्शन किया तथा हलका प्रभारी व इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने कस्बे के मुख्य क्रांतिकारी चौक से तहसील मुख्यालय तक रोष मार्च निकाल कर सरकार विरोधी नारेबाजी भी की पीएम को मांगों का ज्ञापन भेजा। 
इनेलो नेता अशोक अरोड़ा ने कहा कि एसवाईएल के पानी पर हरियाणा का हक है और हमें अपनी जायज मांग के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार का दबाव सहने की बजाए अपनी आवाज बुलंद करनी चाहिए। इनेलो पार्टी ही गरीब, किसान, मजदूर व कमेरे वर्ग की हितैषी है। एसवाईएल के पानी के लिए पूर्व उपप्रधानमंत्री पद पर रहते हुए चौधरी देवीलाल व 2002 में चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के मुख्यमंत्री रहते एसवाईएल के पानी को प्रदेश के खेतों में लाने के लिए अथक प्रयास किया और इनेलो प्रमुख ने एसवाईएल का पानी प्रदेश में लाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय तक जोरदार पैरवी की। मौजूदा समय में सुप्रीम कोर्ट का फैसला प्रदेश के हक में आ चुका है पर केन्द्र व प्रदेश में भाजपा सरकार होने के बावजूद हमारे हक को लेने की बजाए इस पर ढील बरती जा रही है। इस बाबत इनेलो ने सबसे पहले मुख्यमंत्री, राष्ट्रपति व गृहमंत्री के अलावा कई बार राज्यपाल को भी सारे मामले से अवगत करवाया लेकिन केन्द्र व प्रदेश दोनों जगह नकारा सरकारों के कारण हमें सरकार से भरोसा उठ गया है। प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि एसवाईएल मुद्दे पर जीत हरियाणा की जनता की होगी। 



इनेलो विधायक राजदीप फौगाट व इनेलो जिलाध्यक्ष नरेश द्वारका ने कहा कि लोकसभा व विधानसभा चुनावों में जनता को हर तरह की सुविधा देने, भ्रष्टाचार मुक्त पारदर्शी शासन देने का दम भरने वाली केन्द्र व प्रदेश की भाजपा सरकार कृषि, किसान व नौजवान की दुश्मन बनी हुई है। कृषिक्षेत्र में डा. स्वामीनाथन आयोग की रिपेार्ट लागू करने की बजाए बीमा कंपनियों को खुली लूट की छूट दी जा रही है। पूर्व विधायक कर्नल रघबीर छिल्लर ने कहा कि एसवाईएल, बिगड़ी कानून व्यवस्था व बिजली-पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं के लिए कार्यकर्ताओं ने सरकार को जो चुनौती दी है उस पर सरकार ने जल्द ही संज्ञान नहीं लिया तो जुलाई माह से भाजपा सरकार के खिलाफ असहयोग आंदोलन चलाया जाएगा। विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम में इनेलो जिलाध्यक्ष नरेश द्वारका, पूर्व विधायक कर्नल रघबीर छिल्लर, पूर्व विधायक रणबीर मंदौला, पूर्व जिलाध्यक्ष सज्जन बलाली, महिला सैल जिलाध्यक्ष लक्ष्मी बलौदा, डा. विजय सांगवान, शशीप्रभा नांधा, एडवोकेट दरियाव सिंह, ओमधारा, रामौतार बाढड़ा,  प्रेस प्रवक्ता राजेन्द्र हुई, डा. ओमप्रकाश, बबलु चेयरमैन, ऋषिपाल उमरवास, राजेश झोझू, कांता, विरेन्द्र पहलवान, रामफल कादमा, वजीर मान, डा. ओमप्रकाश, तेजवीर श्योराण, ऋषिपाल आचार्य, युवा हलकाध्यक्ष आनंद बडराई, राकेश कलकल, योगेश नांधा, डा. संदीप सिरसली, नरेश गोपालवास व पूर्व सरपंच रमेश इत्यादि मौजूद थे।
पत्रकारों से बातचीत करते हुए इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश के सभी विभागों में पर्दे के पीछे आरएसएस से जुड़े युवाओं को नियुक्ति देकर ग्रामीण क्षेत्र के हरियाणवी युवाओं के भविष्य से सरेआम खिलवाड़ किया जा रहा है जो प्रदेश के युवाओं के भविष्य लिए घातक साबित होगा। प्रदेश की सत्तासीन भाजपा सरकार से जनता का तो पहले ही पर अब उनके विधायकों का भी विश्वास उठ गया है और दूसरी तरफ हुड्डा व गैर हुड्डा में कांग्रेस पार्टी पर कब्जा करने की चालें चल रही हैं इसीलिए अब इनेलो ही एकमात्र जनहितों के लिए संघर्षरत है। उन्होंने कहा कि केन्द्र में शासित मोदी सरकार देश की सुरक्षा करने में असफल नजर आ रही है। सीमा व नक्सलवाद क्षेत्र में हमारे जवानों पर हमले हो रहे हैं। पीएम मोदी पाक पर कार्यवाही करने की बजाए हर बार झूठा राग अलाप रहे हैं।


इनेलो नेता ने कहा कि इनेलो के शासनकाल में हरियाणा में अपराध व अपराधी पर जो अंकुश था वह जगजाहिर है लेकिन आज के मौजूदा समय में अपराध क्षेत्र में हरियाणा प्रदेश देशभर में प्रथम स्थान पर आ गया है। व्यापारी और महिलाओं का सडक़ों से गुजरना मुश्किल हो गया है। आए दिन दुष्कर्म की घटनाओं से प्रदेश की बहादुर जनता का सिर शर्म से झुक रहा है। सरकारी नौकरियों में बार-बार अड़चन पैदा कर प्रदेश के युवाओं को बेरोजगारी की गर्त में धकेला जा रहा है। मौजूदा समय में चाहे एसवाईएल हो या बिजली-पानी संकट व कानून व्यवस्था तथा युवाओं के हितों के लिए केवल इनेलो ही सडक़ व संसद तक संघर्ष कर रही है। उन्होंने कहा कि विकास के नाम पर जनता को बरगलाया जा रहा है। बिजली को सरप्लस घोषित कर सीएम अपने चहेते उद्योगपतियों को लाभ पहुंचा रहे हैं वहीं जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। शिक्षा बोर्ड के परीक्षा परिणामों में पचास फीसदी ही बच्चे उतीर्ण हो पाए हैं और लड़कियों को शिक्षकों के लिए भरी दोपहरी में आंदोलन के लिए सडक़ों पर बैठना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि एसवाईएल की मांग के लिए अभी हलकास्तर पर धरने होने के बाद जुलाई में पंजाब के सरकारी वाहनों को राष्ट्रीय मार्ग पर रोककर सांकेतिक विरोध जताएगी।
भाजपा सरकार में सविधान निर्माता भी सुरक्षित नहीं - दिग्विजय चौटाला

भिवानी, 24 मई : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने भिवानी के सैक्टर 13 स्थित बाबा साहेब अंबेडकर के साईन बोर्ड पर कालिख पोतने की घटना को औच्छी मानसिकता करार देते हुए प्रशासन से जल्द से जल्द दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग की। चौटाला ने यहां जारी ब्यान में कहा कि आज देश व प्रदेश के हालात खराब हैं जिसकी जिम्मेदार भाजपा सरकार है। सहारनपुर में जिस तरह से दलितों को निशाना बनाकर उनके घर जलाए गए यह दलितों के प्रति अभद्रता है। प्रशासन कार्यवाही के नाम पर लिपापोती करती नजर आ रही है। दिग्विजय ने कहा कि अब तो सविधान निर्माता भारत रत्न डा. भीमराव अंबेडकर भी सुरक्षित नहीं है। फरवरी 2016 में रोहतक के अंदर बाबा साहेब की प्रतिमां को खंडित किया गया, भिवानी के निंगाणा कलां गांव में बाबा साहेब की प्रतिमां पर जूतों की माला डाली गई वहीं सफिदो के अंदर भी बाबा साहेब की प्रतिमां के साथ अभद्रता की गई तथा आज भिवानी के सैक्टर 13 में साई बोर्ड पर कालिख पोतना ये दर्शाता है की आज हालात इस कदर खराब हो चुके हैं की देश की शान, संत माहात्मा की प्रतिमां भी सुरक्षित नहीं है। उन्होंने भाजपा सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि दंगा फसाद करवाना भाजपा की फितरत है। जहां-जहां भाजपा सरकार है वहां पर आए दिन धर्म-मजहब, जाति-पाति के नाम पर दंगे होना आम है। भिवानी सहित अन्य मामलों में इनसो जल्द से जल्द कार्यवाही की मांग करती है ताकि दलित समाज की भावनाओं को ठेस न पहुंचे। 
एबीवीपी छोड़ इनसो में शामिल हुए युवा


सोनीपत, 24 मई: इण्डियन नैशनल लोकदल पार्टी की छात्र ईकाई इनसो में छात्रों का रूझान बढ़ता जा रहा है, यह बात आज बैंयापुर स्थित इनेलो कार्यालय में इनसो के वरिष्ठ नेता आशीष सुहाग ने छात्रों को इनसो में शामिल करते हुए कही। सुहाग ने अंकित कुमार बैंयापुर, अरूण कादियान बैंयापुर, सचिन कुमासपुर को इनसो की सदस्यता ग्रहण करवाई। सुहाग ने कहा मौजूदा सरकार ने छात्रों को ठगने का काम किया है। छात्र संघ के चुनाव पर सरकार तीन साल से चुप है। सरकार को पता है अगर छात्र संघ के चुनाव हुए तो बीजेपी मुह की खाएगी। 
इस मौके पर युवा उपाध्यक्ष रविन्द्र मंडौरा ने कहा आज बेरोजगारी चरम सीमा पर पंहुच गई है। सरकार दोनो हाथो से लूटने का काम कर रही है। युवा जात-पात, गाय-गीता, धर्म से पहले रोजगार, विकास, शिक्षा के बारे में सोचता है। रविन्द्र ने कहा अब युवा मुर्ख नहीं बनेगें। 
इस मौके पर इनसो नेता कुणाल सरोहा, विशाल सरोहा,  मोटिं  मंडल, दीपक सरोहा,पंकज गुहणा, मीनू तोमर, प्रिंस सरोहा, प्रदीप सैनी, अंकित आंतिल आदि छात्र उपस्थित रहे।  

Tuesday, May 23, 2017

बौंद क्षेत्र की जनसमस्याओं को लेकर इनेलो का प्रदर्शन कल


चरखी दादरी : दादरी विधानसभा के बौंद क्षेत्र की विभिन्न जनसमस्याओं को लेकर इनेलो द्वारा 25 मई को बौंद कलां में विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। प्रदर्शन को लेकर इनेलो के दादरी से विधायक राजदीप फौगाट ने जनसंपर्क चलाया और जिम्मेदारियां भी लगाई। 
विधायक राजदीप फौगाट ने बौंद खुर्द में युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि इनेलो पार्टी द्वारा लगातार आमजन की समस्याओं को उठाया जा रहा है। इसी कड़ी में इनेलो पार्टी द्वारा 25 मई को सुबह 9 बजे विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। प्रदर्शन के दौरान बौंद सहित आसपास के दर्जनभर गांवो में पर्याप्त मात्रा बिजली-पानी की आपूर्ति की मांग, बिगड़ी कानून व्यवस्था, बौंद के राजकीय कालेज में साइंस की कक्षाएं इसी सत्र से शुरू करने, खेल स्टेडियम, पक्की अनाज मंडी, तहसील भवन का निर्माण, गाँव साकरोड़ मे कन्या स्कूल का निर्माण व गांव रानीला मे वर्षों पुरानी पेयजल समस्या का स्थाई समाधान इत्यादि प्रमुख मांगों को उठाया जाएगा। 25 मई वीरवार को बौंद कलां में होने वाले प्रदर्शन को लेकर विधायक राजदीप फौगाट ने युवाओं और ग्रामीण से मुलाकात कर जिम्मेवारियां भी सौंपी। इस दौरान विधायक ने ग्रामीणों से उनकी समस्याओ के बारे  में जानकारी ली और प्रदर्शन मे बड़ी संख्या में भाग लेने की अपील की। इस अवसर पर हल्काध्यक्ष रामनिवास मिर्च, रमेश वर्मा फतेहगढ़, विनोद मौडी, कैप्टन अमीलाल, सरपंच राधेश्याम शर्मा, अजित बौंद खुर्द,  महाबीर शर्मा, देवन नम्बरदार, लाला रणकौली, विरेन्द्र शर्मा, अजय सिंह, राकेश, पप्पू, अभिलाष आर्य, डा. पवन, जैना सोनी, नरेश , विनोद , मुन्ना, सुनिल, अभिषेक तंवर, प्रमोद तंवर, केशव, धर्मेन्द्र, नवीन, विकास शर्मा इत्यादि उपस्थित थे ।
नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने अनीता कुंडू को बधाई दी 

चंडीगढ़, 23 मई : नेता प्रतिपक्ष, चौधरी अभय सिंह चौटाला ने इनेलो और प्रदेश की जनता की तरफ से कुमारी अनीता कुंडू, सब-इंस्पेक्टर हरियाणा पुलिस को संसार की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढऩे पर बधाई दी है। इनेलो नेता ने  माउंट एवरेस्ट फतेह करने वाली जिला कैथल की ममता सौदा की तरह अनीता कुंडू को भी हरियाणा सरकार द्वारा डीएसपी बनाए जाने की मांग की।
उन्होंने कहा कि उनकी यह उपलब्धि इस कारण भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इस बार की सफलता के बाद वह पहली ऐसी भारतीय महिला बनी हैं जिन्होंने एवरेस्ट पर चीन और नेपाल, दोनों तरफ से चढक़र उस पर विजय पाई है।
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि अनीता कुंडू हरियाणा और देश का गौरव है और सभी के लिए रोल मॉडल भी। उन्होंने सरकार से अनुरोध किया है कि उन्हें यथेष्ट तरीके से सार्वजनिक कार्यक्रम में सम्मानित करें और उनकी उपलब्धि के महत्व के अनुसार पुरस्कृत करे।

Monday, May 22, 2017

आरटीआई से खोलेंगे सरकार की पोल - जसवीर ढिल्लो


भिवानी, 22 मई : स्थानीय देवीलाल सदन में सोमवार को इनेलो लीगल सैल की बैठक आयोजित की गई। बैठक में प्रदेश की बिगड़ती कानुन व्यवस्था पर चिंता जताते हुए प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष जसबीर ढिल्लो ने कहा कि भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल सरकार करार हुई है। जल्द ही प्रकोष्ठ के द्वारा आरटीआई लगाकर भाजपा सरकार की कारगुजारियों को उज्जागर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आज हालात ये हैं की न्यायपालिका भी सुरक्षित नहीं है। वकिलों पर आए दिन हमले होते हैं सरेआम गोलियां चलती हैं लेकिन सरकार की तरफ से कोई ठोस कदम नहीं उठाए जाते। 


ढिल्लो ने कहा कि जल्द ही नई कार्यकारिणी की घोषणा करके मेहनती कार्यकत्र्ताओं को जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। वहीं प्रकोष्ठ के प्रभारी एडवोकेट सतबीर सिंह ने कहा कि आज आम जन अपने आपको भय के माहोल में जीवन व्यापन करने में विवस है। स्वयं डीजीपी ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर चिंता व्यक्त की है। इस अवसर पर एडवोकेट पूनम सांगवान, एडवोकेट दिलबाग सिंह, एडवोकेट सावित्री, एडवोकेट मनोहरलाल सरदाना, एडवोकेट मांगेराम तोंदवाल, एडवोकेट विजय प्रकाश चीफ, एडवोकेट मनमोहन भूरटाना, एडवोकेट नरेंद्र कांटिवाल, एडवोकेट ईश्वर पूनिया, नरेंद्र राजगागड़वास, रविंद्र सरोहा, कर्ण सिंह महरा, सुमित श्योराण, परमजीत छौक्कर, कमलदिप संभ्रवाल व जिला प्रवक्ता राजू मेहरा उपस्थित थे। 
क्षेत्र की प्रमुख मांगो को लेकर इनेलो का प्रदर्शन 25 को

बौंद कलां : बौंद सहित आसपास के दर्जनभर गांवो में पर्याप्त मात्रा बिजली-पानी की आपूर्ति की मांग, बिगड़ी कानून व्यवस्था और क्षेत्र की अन्य आवश्यक मांगो को लेकर इनेलो कार्यकर्ता 25 मई वीरवार को कस्बा बौंद कलां मे प्रदर्शन कर तहसीलदार को ज्ञापन सौंपेगे। यह जानकारी देते  हुए इनेलो हलकाध्यक्ष रामनिवास मिर्च, वरिष्ठ नेता भूपेन्द्र बौंद व युवा अध्यक्ष शशि शर्मा ने बताया कि इनेलो विधायक राजदीप फौगाट के नेतृत्व में वीरवार सुबह 9 बजे इनेलो  कार्यकर्ता व क्षेत्र के ग्रामीण कस्बे के कच्चा थाना में इकट्ठे होंगे। इसके बाद  प्रदर्शन करते हुए तहसीलदार को ज्ञापन सौपेंगे। उन्होंने कहा कि बढ़ती गर्मी के साथ ही  बिजली-पानी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। आए दिन लोग धरना, प्रदर्शन करने को मजबूर है। लेकिन सरकार का इन समस्याओं की ओर कोई ध्यान नहीं है। इसलिए मजबूर होकर इनेलो कार्यकर्ता तहसीलदार  को ज्ञापन देकर सरकार को जगाने का काम करेंगे। उन्होंने बौंद क्षेत्र के सभी इनेलो कार्यकर्ताओं के साथ साथ आमजन से भी प्रदर्शन में भाग लेने की अपील की।

इनेलो एस.सी सैल की बैठक 25 को 

पानीपत 22 मई : इनैलो एस.सी. सैल के कार्यकर्ताओ की एक मीटिंग दिनांक 25 मई को सनौली रोड, स्थित पार्टी कार्यालय में होगी। यह जानकारी इनैलो जिला प्रैस संयोजक शेर सिंह खर्ब ने प्रैस के नाम जारी विज्ञप्ति में दी। श्री खर्ब ने बताया कि दिनांक 25 मई को इनैलो एस.सी. सैल के कार्यकर्ताओ की एक मीटिंग सनौली रोड स्थित पार्टी कार्यालय में दोपहर 3 बजे होगी। जिसमें एस.सी. सैल के प्रदेशाध्यक्ष श्री अशोक शेरवाल जी मीटिंग की अध्यक्षता करेंगें। श्री खर्ब ने इनैलो जिला पानीपत के एस.सी सैल के कार्यकर्ताओ से अपील की है कि वह समयानुसार मीटिंग में पहुॅंचकर अपने प्रिय नेता के विचार सुनें। 


Sunday, May 21, 2017

पीड़ित दुकानदारों से मिले विधायक राजदीप


बौंद कलां : रविवार को दादरी हलके के विधायक राजदीप फौगाट कस्बा बौंदकलां के दुकानदारों से मिले।विधायक ने दुकानदारों की समस्याएं सुनीं और एक रोज पूर्व तीन दुकानों में हुई चोरी की घटनाओं को लेकर 
बौंद कलां थाना प्रभारी को तत्परता से कार्रवाई करते हुए चोरीशुदा सामान, नकदी बरामद करने के आदेश दिए। राजदीप फौगाट ने पीड़ित दुकानदारों को आश्वस्त किया कि चोरों का जल्द सुराग लगाते हुए उनका सामान बरामद कराया जाएगा। राजदीप ने चिंता जताई कि वर्तमान सरकार सुरक्षा मामलों में नाकाम साबित हो रही है। कोई भी वर्ग चाहे वह दुकानदार, किसान हो या फिर अन्य, अपनी जानमाल की सुरक्षा को लेकर चिंतित है। आए दिन आपराधिक घटनाएं बढ़ रही हैं। व्यापारी वर्ग निश्चिंत रूप से अपना व्यवसाय कर सके इसके लिए सरकार को सुरक्षा इंतजामात करने चाहिएं। असामाजिक, आपराधिक किस्म के लोग बेखौफ वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।


विधायक ने कहा कि पीड़ित दुकानदारों की हर संभव मदद के लिए वे तत्पर हैं। पुलिस को चोरों का जल्द से जल्द पता लगाने व चोरीशुदा सामान बरामद करने के लिए सख्ती से कहा गया है। गौरतलब है कि कस्बा बौंदकलां में चोरों ने तीन दुकानों के शटर उखाड़कर हजारों रुपये की नकदी व सामान चोरी कर लिया था। कस्बा निवासी राजपाल के राशन डिपो से 12 हजार रुपये की नकदी व 18 थैली कपास का बीज चुरा लिया था। इसके अलावा शरद कुमार के किरयाणा स्टोर से चोर 50 हजार की नकदी व अन्य कीमती सामान उड़ाया। चोरों ने करण सिंह की दुकान को निशाना बनाते हुए वहां से भी करीब एक हजार रुपये व सामान पर हाथ साफ कर लिया था। इस अवसर पर हल्काध्यक्ष रामनिवास मिर्च, रमेश वर्मा फतेहगढ़, विनोद मौडी, अजय, विरेंद्र, राकेश, पप्पू, अभिलाष आर्य, डा. पवन, जैना सोनी, नरेश व विनोद सहित अनेक दुकानदार उपस्थित थे।

डा. अंबेडकर व जननायक से जूड़ेंगे लाखों लोग - इनेलो


भिवानी, 21 मई : स्थानीय देवीलाल सदन में रविवार को इनेलो अनुसूचित प्रकोष्ठ के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष अशोक शेरवाल व युवा इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष सचिन राणा, प्रभारी प्रदीप गिल का सैकड़ों कार्यकत्र्ताओं के द्वारा स्वागत किया गया। इस अवसर पर अशोक शेरवाल ने कहा कि इनेलो की सोच डा. भीमराव अंबेडकर व जननायक ताऊ देवीलाल की सोच है। जिन्होंने हमेशा दबेकुचलों को उपर उठाने के लिए संघर्ष किया था। अगले एक वर्ष में दलित समाज को उनका हक दिलाने के लिए इनेलो अनुसूचित प्रकोष्ठ पांच लाख लोगों को संगठन से जोड़ेगा वहीं युवा इनेलो के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष सचिन राणा ने कहा कि आज का युवा भाजपा के निरासा जनक कार्यकाल से दु:खी है। प्रदेश के अंदर लाखों रोजगार का नारा देकर सत्ता में आई भाजपा ने रोजगार छिनने का काम किया है। युवा इनेलो सदस्यता अभियान चलाकर वार्ड स्तर पर 5 लाख युवाओं को संगठन से जोड़ेगा। युवा इनेलो प्रदेश प्रभारी प्रदीप गिल ने उपस्थित हल्का अध्यक्षों को शख्त दिशा निर्देश देते हुए कहा कि इनेलो का लक्ष्य आगामी सरकार बनाना है। दुष्यंत सिंह चौटाला के दिशा निर्देश पर युवा इनेलो ने लाखों युवाओं को संगठन से जोडऩे का कार्य शुरू किया है। प्रदीप गिल ने कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि आज बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का झुठा नारा देने वाली भाजपा सरकार बेटियों की सुरक्षा तक नहीं कर पा रही। निर्भया गैंग रैप में प्रदेश सरकार की पोल खोलकर रखदी है। कार्यक्रम की अध्यक्षता मनमोहन भूरटाना व जितेंद्र शर्मा धारेड़ू ने संयूक्त रूप से की। इस अवसर पर नरेंद्र राजगागड़वास, मनोज पार्षद, राजेश पार्षद, नरेंद्र धोलिया, सुभाष बाल्मीकि, कपूर निंगाना, मनफूल आर्य, मा. रोशनलाल, वजीरमान, गौरव चौधरी, यशवीर घणघस, राजेश भारद्वाज, आशीष नीमड़ी, देवेंद्र नक्किपुर, रामसिंह वैद, रामकिशन काजल, प्रवक्ता राजू मेहरा, मनदीप सुई, संजय कारखल, चंद्रभान मुंढाड़ा, प्यारेलाल लांबा, राहुल
मुंढाल, विशाल ग्रेवाल, शशि चरखी, आनंद बढऱाई, शंकर आहुजा, मनजीत शाहु, संदीप थीलौड़, राजेश कलकल, सेंढी चौधरी, विजेंद्र पार्षद, दिनेश नंबरदार, रवि आर्य, दिनेश भूक्कल, नवीन चौधरी, अंकित मुंढाल, पवन गौकूलपुरा, काला पंच, राकेश दुधवा, सुभाष रंगा, अजीत कन्हेटी, विक्रम बड़ेसरा, रूपेश धानक, जशवंत चांग, हरिश तौशाम, कुलदीप कोंट, आशु बाल्मीकि, मनीष छिल्लर, सुखबीर संडवा, सुनील बिडोला, आजाद गिल, नरेश रापडिय़ा, राजेंद्र कशवा, कृष्ण फौगाट, राहूल खुंडीया, राजकुमार रतेरा, सचिन जताई, प्रमोद गुलिया, कप्तान निनाण, संत श्यामकलां, बंटी मानहेरू सहित अनेक लोग उपस्थित थे।
दलित समाज के हित केवल इनेलो में सुरक्षित - शेरवाल



हिसार, 20 मई : अगर प्रदेश में दलित समाज की सुध अगर किसी ने सबसे पहले ली तो वे देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री देवी लाल थे। जब वे इस प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने गाँवों में हरिजन चौपालें बनवाई। आज भी  दलित समाज के हित इनेलो में ही सुरक्षित है। यह बात इनेलो के अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अशोक शेरवाल ने कही। वे शनिवार को सिरसा रोड स्थित  देवीलाल सदन में अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ की  जिला कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व प्रकोष्ठ के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अशोक शेरवाल का देवीलाल सदन में पहुंचने पर जिला अध्यक्ष राजेंद्र लितानी, विधायक अनूप धानक व इनेलो अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष डॉ सत्य नारायण ने स्वागत किया और आशा व्यक्त कि उनके नेतृत्व में दलित समाज के ज्यादा से ज्यादा लोग इनेलो से जुड़ेंगे। बैठक की अध्यक्षता डॉ सत्यनारायण मंगाली ने की। इस मौके पर अशोक शेरवाल ने कार्यकारिणी सदस्यो को संबोधित करते हुए कहा कि जिस प्रकार जननायक देवीलाल दलित समाज का पूरा ख्याल रखते थे उसी प्रकार पूर्व मुख्यमंत्री औम प्रकाश चौटाला भी इस समाज को पूरा मान सम्मान देते आ रहे है। कांग्रेस के दस सालों में दलितों का बेहद उत्पीडऩ हुआ और अब भाजपा सरकार में भी बदस्तूर जारी है।
सरकार की गलत नीतियों की वजह से दलित समाज अपने हको से वंचित रह रहा है। शेरवाल ने कहा कि आज हमें संगठित होकर अपने हको के लिए संघर्ष करना होगा और अपने हितैषी पार्टी को पहचानना होगा। हमारे समाज ने कांग्रेस और भाजपा को देख लिया है इसलिए अब दलित समाज को आशा की किरण इनेलो में नजर आ रही है। उन्होंने पदाधिकारियों से आह्वान किया कि वे गाँव व शहर के प्रत्येक वार्ड में जाकर दलित भाइयो को इस बारे में जागरूक करे और पार्टी के साथ जोड़े ताकि आने वाले समय में हम प्रदेश में अपने हितों की रक्षक पार्टी इनेलो की पूर्ण बहुमत की सरकार बना सके।
इस मौके पर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य बहादुर सिंह नायक, विक्रांत बागड़ी, डॉ उमेद खन्ना, सतबीर मुंगेरिया, शंकर गहलोत, मुकेश दुलगच, पोटु राम बाल्मिकी, जगदीश आदमपुर, कृष्ण खरकड़ी, प्रेम भाटला, शमशेर, राजा राम, दलबीर भोला, नफे सिंह देवां सहित पार्टी के अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के बहुत से सदस्य मौजूद थे।
कांग्रेस को झटका, दर्जनों ने जताई इनेलो में आस्था


रोहतक, 20 मई : टिटौली गांव में कांग्रेस पार्टी को उस वक्त जबरदस्त झटका लगा जब कांग्रेस पार्टी से जुड़े हुए दर्जनों लोगों ने इनेलो में अपना विश्वास जताते हुए कांग्रेस को छोड़ इनेलो का दामन थाम लिया।
कांग्रेस को छोड़ इनेलो में आस्था जताने वालों में मुख्य रूप से गांव वासी महेंद्र ने अपने पूरे परिवार सहित इनेलो का दामन थामा। इनेलो के जिलाध्यक्ष व प्रदेश प्रवक्ता सतीश नांदल ने इनेलो में विश्वास जताने वाले सभी लोगों का स्वागत करते हुए उन्हें पार्टी में विधिवत रूप से जोड़ने का काम किया।

इनेलो नेता सतीश नांदल ने इनेलो ज्वाइन करने वाले नीरज, विशाल, मोहित, कृष्ण, अमित, नवीन, संजय, संदीप, सुभाष, मोहित, जगदीश, सतबीर, रामबीर, रणधीर, मंदीप व राजबीर को संबोधित करते हुए कहा कि आज गांव हो या शहर, किसान हो या कर्मचारी वर्ग, मजदूर वर्ग, छात्र वर्ग गरीब व मजदुर तबका पूर्ण रूप से बीजेपी की दमनकारी नीतियों का शिकार हो रहे हैं। सबका साथ-सबका विकास का नारा देने वाली बीजेपी सरकार अपने सभी वायदों को भुला चुकी है। प्रदेश की जनता सरकार के काम-काज व ढुलमुल रवैये से त्रस्त है। सरकार के मौजूदा विधायक और मंत्रीगण ही बीजेपी सरकार से असन्तुष्ट नजर आते हैं। प्रदेश के अंदर कानून व्यवस्था की धज्जियाँ उड़ रही हैं। आयेदिन महिलाओं से छेड़छाड़, बलात्कार, मर्डर, लूटपाट, डकैती जैसी संगीन वारदात हो रही हैं लेकिन बीजेपी सरकार चैन की नींद सो रही है।
प्रदेश में सत्ता पर काबिज रही पिछली हुड्डा सरकार ने जिस तरह से बड़े बड़े जमीनी घौटाले किये थे उनके पर्दाफाश करने का श्रेय इनेलो को जाता है भूपेंद्र हुड्डा के खिलाफ इनेलो ने न केवल दस्तावेज अपितु अहम सबूत, साक्ष्य भी जुटा कर महामहिम राज्यपाल को सौंपने का काम किया था लेकिन अब जिस तरह से प्रदेश की मौजूदा सरकार काम कर रही है उससे साबित होता है कि दाल में काला है और भूपेंद्र हुड्डा अपनी गिरफ़्तारी से बचने के लिए बैक डोर से बीजेपी से सांठ गाँठ करने में लगे हैं। इनेलो नेता सतीश नांदल ने कहा कि आने वाला समय इनेलो का है और सरकार बनते ही प्रदेश में रामराज की स्थापना की जायेगी।
इस दौरान उनके साथ मुख्यरूप से सत्यप्रकाश बिसला, डॉ संदीप हुड्डा, सुरेंद्र बल्हारा, जयपाल सिसरौली, संजय कुंडू, सुरेश, नरेश व ऋषि इत्यादि मौजूद थे।

Friday, May 19, 2017


निकम्मी भाजपा सरकार महिलाओं की सुरक्षा करो या दो त्यागपत्र - इनसो



भिवानी, 19 मई हरियाणा प्रदेश में हर रोज कोई न कोई बलात्कार की घटनाऐं घट रही है। प्रदेश के डीजीपी ने तो इस बात को स्वीकार भी कर लिया है की महिलाऐं सुरक्षित नहीं हैं। इसलिए मुख्यमंत्री को अपने पद से तुरंत त्यागपत्र दे देना चाहिए। यह बात सोनीपत की बेटी के साथ रोहतक में गैंग रेप के विरोध स्वरूप व मृतका की आत्मिक शांति के लिए इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला के दिशा निर्देश पर भिवानी इनसो द्वारा कैंडल मार्च के दौरान इनसो के प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप देशवाल व जिला अध्यक्ष मनदीप सुई ने संयुक्त रूप से कहे। इनसो नेताओं ने कहा कि स्वयं मुख्यमंत्री के गृह जिले रोहतक के हालात तो और भी बदतर हैं जहां पिछले 12 से 13 वर्षों के दौरान लुट-डकैती, अपहरण, हत्या के मामले सामने आए थे उनमें लगातार इजाफा होता जा रहा है। वहीं इनेलो के प्रदेश प्रवक्ता सतीश नांदल व जिला अध्यक्ष सुनील लांबा, महिला अध्यक्ष इंदु परमार ने कहा कि हरियाणा में बेटियों का अपमान हो रहा है और भाजपा सरकार झुठा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा दे रही है। हालात आज ये हैं कि शाम होते ही घर से निकलना दुर्भर हो गया है। हरियाणा प्रदेश में अपराध के मामले में यूपी को भी पिछे छोड़ दिया है। यहां के मुख्यमंत्री को तो प्रदेश को अपराध में न. वन बनाने पर अवार्ड देना चाहिए। विकास की राह छोड़ हरियाणा प्रदेश विनाश की ओर जा रहा है। 



कैंडल मार्च नेहरू पार्क से प्रारंभ कर हांसी गेट होते हुए महम गेट पर सम्पन्न हुई। इस अवसर पर विशाल कैंडल मार्च को देखकर आम जन मानस ने भी इनसो का सहयोग दिया और भाजपा सरकार को कोषा। कैंडल
मार्च में मुख्यरूप से प्रदेश के प्रवक्ता सतीश नांदल, प्रदीप देशवाल, सुनील लांबा, इनसो जिला अध्यक्ष मनदीप सुई, टोनी टिटानी, मनीष छिल्लर, इंदु परमार, कुलवंत कोटिया, जितेंद्र शर्मा, प्रवक्ता राजू मेहरा, सेठी धनाना, अमीत परमार, मनमोहन भूरटाना, होशियार सिंह थानेदार, दीपक राठौर, दीपक सिवाड़ा, नरेंद्र राज गागड़वास, प्रदीप गोयल, अनील काटपालिया, आशु बाल्मीकि, अमन सोनी, मनदीप घणघस, विकास राव, यशवीर घणघस, राजेश पुनिया, सुखबीर संडवा, सुरेंद्र राठी अमित सिधनवा, आशीष निमड़ी, अत्तर फौजी, सतपाल फौजी, नवीन चौधरी, प्रमोद गुलिया, सैंडी चौधरी, योगेश मतानी, नितिन भोलू, अमन भम्भक, संजय सैन, रजत शर्मा, दीपक धायल, अवतार, सुशील ढिल्लौ, जतीन यादव, देवेंद्र छिल्लर, नीत नेहरा, अमित घणघस, चारली, सचिन जताई, सचिन बामबल, रींकू श्योराण, शेरा, अशोक सिहाग, कुलदीप कोट, ईश्वर फतेगढ, भोमसिंह आदि उपस्थित थे।
बेटी बचाओं बेटी पढाओ, बीजेपी सरकार के अभियान खुली पोल - नैना चौटाला


सोनीपत, 19 मई: विधायक, श्रीमती नैना चौटाला के नेतृत्व में आज सोनीपत में इनेलो के महिला प्रकोष्ठ के तत्वावधान में राज्य से पहुंची हजारों महिलाओं द्वारा महिलाओं के विरुद्ध बढ़ते अपराधों के विरोध में प्रदर्षन करते हुए जिलाधीष के माध्यम से मान्यवर राज्यपाल को एक ज्ञापन देते हुए मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल को बर्खास्त करने की मांग की। ज्ञापन देने से पूर्व श्रीमति नैना चौटाला नें विषाल जन-समूह को संबोधित करते हुए सरकार के ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान को खोखला नारा बताया।
ज्ञापन में कहा गया कि अभी हाल में रोहतक में घटी बलात्कार की घटना के बाद पीडिता की बर्बरतापूर्ण हत्या, और रिवाडी जिले में स्कूली छात्रांओं द्वारा अपने स्कूल को प्लस 2 की मांग को लेकर आंदोलन वास्तव में एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। दोनो का संबंध प्रदेष में बिगडी हुई कानून व्यवस्था और उससे उपजी असुरक्षा की भावना से है। स्कूली छात्राओं के आंदोलन का कारण भी उन द्वारा अपने घर से लेकर दूसरे गांव में स्थित स्कूल में जाते हुए मार्ग में अनुभव होने वाली नित-दिन के उत्पीडऩ के कारण होने वाली असुरक्षा की भावना है। स्कूल जाने और वहां से आते समय भी यदि ग्रामीण क्षेत्रों में भी छात्राएं असुरक्षित अनुभव करती हैं तो कल्पना की जा सकती है कि किस सीमा तक राज्य में कानून-व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है।
इन दो घटनाओं के अतिरिक्त, इस सरकार के कार्यकाल में प्रारम्भ से ही महिलाओं के विरुद्ध अपराधों में निरंतर बढोत्तरी होने के साथ अपराधियों का हौसला बढ़ रहा है। इसका प्रमाण उस घटना से मिलता है जिसमें बलात्कार की एक पीडि़ता से आरोपियों नें अपनी जमानत पर रिहाई के दौरान एक बार फिर उसे बलात्कार का शिकार बनाया। जाहिर है कि इस दुस्साहसी कृत्य से आरोपी अपनी शक्ति का प्रदर्शन करते हुए पीडि़ता और उसके परिवार को आतंकित और भयभीत करना चाहते थे। यह भी स्पष्ट है कि वह अपने आप को कानून-व्यवस्था और पुलिस के दायरे से बाहर मानते थे, जो अपने आप में सरकार पर टिप्पणी है।
दु:साहस की एक अन्य घटना में, जब गुरुग्राम में रहने वाली सिक्किम की एक महिला टैक्सी में अपने घर लौट रही थी तो वह अपने घर के निकट अपराधियों का शिकार बनी। उन्हें बलपूर्वक पकडक़र एक अन्य कार में बिठा कर नजफगढ़ की ओर ले जाते हुए तीन लोगों ने बलात्कार कर 20 किलामीटर दूर गाडी से बाहर फैंक दिया। सोनीपत में मानसिक रूप से कमजोर एक नेपाली महिला के साथ सामूहिक बलात्कार के बाद उसकी नृशंसतापूर्वक हत्या कर दी गई। राज्य की राजधानी से सटते पंचकुला में एक सेक्टर की मार्केट से कार में बैठी एक इंजीनियरिंग की छात्रा को अपराधी कार सहित भगाकर ले गया और बलात्कार किया। इन घटनाओं के अतिरिक्त, ज्ञापन में अपराध की अनेक अन्य घटनाओं का भी उल्लेख किया गया जो व्याप्त अराजकता और सरकार की असफलता का प्रमाण हैं।
ज्ञापन में मोग की गई कि अपने प्राथमिक कर्तव्य में असफल होने के कारण, यह सरकार सत्ता में बने रहने के अपने औचित्य को खो चुकी है जिस कारण मान्यवर राज्यपाल महोदय से आग्रह है कि तुरंत प्रभाव से मुख्यमंत्री को बर्खास्त करे ताकि राज्य में कानून-व्यवस्था को सुधारा जा सके। जन-समूह को सम्बोधित करने वालों में प्रदेश महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती शीला भ्यान और जिला महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती प्रोमिला मलिक भी थी। इस मौके पर जिलाध्यक्ष पद्म सिंह दहिया, डा. केसी बांगड़, ब्रिगेडियर ओपी चौधरी, तेलूराम जोगी, महिला प्रदेश उपाध्यक्ष बबीता दहिया व निर्मल चौधरी सहित प्रदेश की अनेक महिला कार्यकर्ता मौजूद थी।
प्रदेश के हितों की लड़ाई के लिए पीछे नहीं हटेगी इनेलो


नारनौंद, 19 मई: इनेलो जिलाध्यक्ष राजेद्र लितानी ने कहा कि कांग्रेस व भाजपा दोनों दल नहीं चाहते कि एसवाईएल के माध्यम से हरियाणा को अपने हिस्से का पानी मिले। लेकिन इनेलो प्रदेश के हितों के लिए न सिर्फ बड़ी से बड़ी कुर्बानी देने के लिए तैयार है बल्कि संघर्ष के मामले में भी पीछे नहीं हटेगी। लितानी शुक्रवार को नारनौंद तहसील पर एसवाईएल को लेकर दिए गए धरने को संबोधित कर रहे थे। धरने की अध्यक्षता हलका प्रधान सतबीर सिसाय ने की और उनके साथ विधायक रणबीर गंगवा, अनूप धानक व राजसिंह मोर सहित अन्य वरिष्ठ इनेलो नेता इस दौरान विशेष तौर पर उपस्थित रहे। धरने के उपरांत प्रदर्शन करते हुए एसवाईएल के अधूरे निर्माण को जल्द से जल्द पूरा करने और प्रदेश में व्यापक बिजली-पानी संकट का समाधान किए जाने की मांग को लेकर एसडीएम राजीव अहलावल के माध्यम से ज्ञापन सौंपा।
धरने को संबोधित करते हुए इनेलो नेताओं ने कहा कि एसवाईएल का पानी हरियाणा में आने पर प्रदेश को खुशहाल बनाने का काम करेगा और खेतों के साथ-साथ आम लोगों के पीने की प्यास भी बुझ पाएगी। उन्होंने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और केंद्र व प्रदेश की सरकार पर हरियाणा विरोधी रवैया अपनाने और प्रदेश के हितों की अनदेखी करने का आरोप लगाया। इनेलो नेताओं ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय का फैसला हरियाणा के पक्ष में आने के बावजूद नहर का निर्माण कार्य पूरा न होना प्रदेश के साथ भारी अन्याय होने के साथ-साथ संविधान व सर्वोच्च न्यायालय की भी अवमानना है। उन्होंने कहा कि हरियाणा अपने हिस्से का पानी लेने के लिए पिछले 50 सालों से निरंतर संघर्षरत है और स्व. जननायक चौधरी देवीलाल ने ही एसवाईएल का निर्माण कार्य शुरू करवाया था और इस नहर की पंजाब क्षेत्र में जमीन अधिग्रहण करने बारे सरकारी खजाने से पैसा भी उन्होंने जारी किया था। यह बात स्व. पूर्व मुख्यमंत्री बंसीलाल ने भी विधानसभा में स्वीकार की थी कि एसवाईएल का सबसे ज्यादा निर्माण कार्य चौधरी देवीलाल के समय में हुआ। 


इनेलो नेता ने कहा कि इनेलो प्रमुख चौधरी ओमप्रकाश चौटाला की जोरदार पैरवी के चलते 2002 में सर्वोच्च न्यायालय का फैसला एसवाईएल को लेकर हरियाणा के पक्ष में आया। इसके बाद कांग्रेस निरंतर इसके निर्माण में अडग़े लगाती रही और ऐसे प्रयास करती रही ताकि प्रदेश को उसके हिस्से का पानी न मिल पाए। इनेलो नेताओं ने कहा कि अब एसवाईएल के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने की मांग को लेकर इनेलो ने आंदोलन छेड़ रखा है और एसवाईएल का कार्य शुरू होने तक यह आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के अनुसार एसवाईएल के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की है और केंद्र सरकार ने अपनी किसी एजेंसी से एसवाईएल का निर्माण पूरा करवाना है। इनेलो नेताओं ने कहा कि आज केंद्र व हरियाणा दोनों जगह भाजपा की सरकार है और अदालत के फैसले को तुरंत लागू करवाया जाना चाहिए। इस मौके पर युवा जिला प्रधान अमित बूरा, धर्मवीर सिहाग, प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य राजपाल डेविड, जसी पेटवाड, राजेश मौर, योगेश गौतम, बाली भाटौल, नरेन्द्र भकलाना, याज्ञवेंद्र खरब, महिला जिला प्रधान छन्नों देवी, पूर्व नारनौंद नगरपालिका चेयरमैन काँता देवी, हलका प्रेस प्रवक्ता राजेश उर्फ बिल्लू, करण सिंह, सुनील दलाल, संता खान व हलका नारनौंद के अन्य गणमान्य व्यक्ति तहसील परिसर में धरने पर मौजूद रहे।
बीजेपी सरकार में महिलाए नही सुरक्षित - नैना चौटाला


सोनीपत, 19 मई : इनेलों पार्टी की महिलाए भारी संख्या में पी डब्लु डी रेस्ट हाऊस रेलवे रोड सोनीपत इक्ठका हुई और कालुपूर के संत कबीर नगर की निर्भया कांड के विरोध में जोरदार प्रर्दशन किया। इस प्रर्दशन का नेतृत्व डबवाली से विधायक श्रीमति नैना चौटाला ने किया।  उनके साथ महिला प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्यान व सोनीपत की महिला जिलाध्यक्ष प्रोमिला मलिक मौजूद रही। सभी महिलाए रेस्ट हाऊस से गीता भवन चौक तक सरकार के खिलाफ नारे लगाते हुए पहुंची। महिलाओं की भारी संख्या होने के कारण प्रशासन के हाथ-पैर फु ल गए। चारों तरफ शहर में जाम लग गया। प्रदर्शनकारी महिलाओं में सरकार के विरोध में भारी रोष देखने को मिला। प्रर्दशन की अध्यक्षता महिला जिलाध्यक्ष प्रोमिला मलिक ने की।
प्रर्दशन का नेतृत्व कर रही श्रीमति नैना चौटाला ने कहा कि कालुपूर के संत कबीर नगर की निर्भया कांड एक शर्मनाक घटना है। अपराधियों ने जिस प्रकार कानून को ठेगां दिखाकर लडकी का सोनीपत से अपरहण किया। सामूहिक बलात्कार के बाद रोहतक में बर्बरता पूर्ण हत्या कर दी गई। वर्ष 2012 दिल्ली में निर्भया हत्या कांड ने जिस तरह सारे देश को झकझोर करके रख दिया था। उसी प्रकार इस घटना ने राज्य की अन्र्त-आत्मा को झंझोड कर रख दिया है। यदि अपरहण से लेकर बलत्कार और हत्या तक की घटना को लेकर पुलिस समय पर आरोपियों के विरूद्ध कार्यवाही करती, तो इस घटना को समय से पहले ही रोका जा सकता था। लेकिन प्रदेश में आज महिलाओं में सुरक्षा का अभाव है। सरकार 1600 करोड़ रूपये बेटी बचाओ बेटी पढ़ओ के विज्ञापन में खर्च करने का काम करती है, सरकार महिलाओं की थोड़ी सी भी हितेषी होती तो महिलाओं के सुरक्षा में यह राशी लगाई जाती। मुख्मंत्री को अपनी कुर्सी की चिंता हैं। लोग अपनी बहु-बेटियों को बाहर भेजने में कतराने लगे है। वैसे भी बेटी बचाओं, बेटी पढाओं, का नारा देकर, सत्ता पाने वाली  बीजेपी सरकार का यह अभियान प्रदेश की जनता के लिए, खोखला एंव भ्रामक नारा बन कर  रह गया है। 


महिलाध्यक्ष श्रीमती शीला भ्यान ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार की वास्तविकता यह है कि इसके कार्यकाल में सामान्य तौर पर बिगडती  कानून व्यस्था और विशेष रूप से महिलाओं के विरूद्ध बढते अपराधों की घटनाए, आज चरम सीमा पर है। महिलाओं की जान-माल की सुरक्षा करने में असफल रही है। 
इस मौके पर जिलाध्यक्ष पद्म सिंह दहिया, डा. के. सी. बांगड़, ब्रिगेडियर ओ. पी. चौधरी, तेलूराम जोगी, महिला प्रदेश उपाध्यक्ष बबीता दहिया, निर्मल चौधरी, अनीता खांडा, मंजू जाखड़, उमेश देवी, संतरा मलिक, विद्या मोर, अंजू आंतिल, गायत्री गहलावत, बबली मलिक, रेखा बाल्याण, अंजू बाला खटक, सुमन मलिक, अनीता कुराड़, सुनीता दहिया, सरोज शामड़ी, कमलेश मलिक, ईशवंती, सरोज गन्नौर, राजेश देवी, मनीषा गुलिया, दीपा गुलिया, ओमी देवी, सरोज चौधरी आदि महिला कार्यकर्ता मोजूद रही।