Monday, October 31, 2016


बीजेपी सरकार ने किसानों, मजदूरों के हितों के साथ खिलवाड़ किया - अभय चौटाला 



सिरसा : हरियाणा चौधरी देवीलाल का बनाया हुआ प्रदेश है और यदि प्रधानमंत्री अथवा मुख्यमंत्री प्रदेश की स्वर्ण जयंती समारोह में प्रदेश के किसानों, मजदूरों के हितों से खिलवाड़ करेंगे तो इनेलो जनता के बीच जाकर अपनी कल्याणकारी नीतियों के माध्यम से अपने स्तर पर स्वर्ण जयंती समारोह मनाएगी। वे सोमवार देर शाम को डबवाली रोड स्थित अपने आवास पर पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का सोमवार को प्रेस वार्ता के दौरान यह कहना कि उनकी सरकार की ओर से चुनावों से पूर्व की गई तमाम घोषणाओं में से एक तिहाई पर काम पूरा किया जा चुका है, सफेद झूठ है। इनेलो नेता ने कहा कि आज प्रदेश में स्थिति इतनी गंभीर है कि कोई भी वर्ग इससे खुश नहीं है और इससे छुटकारा चाहता है। उन्होंने कहा कि जो किसान सारे देश का पेट भरता है, हरियाणा में उसकी दशा इतनी पतली है कि उसकी थाली से रोटी गायब हो चुकी है। कभी धान की पराली के रूप में, कभी धान के पर्याप्त भाव न देकर, कभी नरमा कपास में घोटाला करके, कभी बाजरे के रेट कम करके देना तो कभी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के माध्यम से किसानों से करोड़ों की लूट जैसे कार्य करके उनकी कमर तोड़ दी गई है। अभय चौटाला ने कहा कि आज हरियाणा की मौजूदा सरकार ने प्रदेश पर करीब 60 से 70 हजार करोड़ का कर्ज लाद दिया है जिससे हरियाणा उन्नति की बजाए विनाश की ओर बढ़ चुका है। उन्होंने कहा कि यदि राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना बंद नहीं की तो इनेलो न्यायालय में जनहित याचिका दायर करेगी। मंगलवार 1 नवंबर को गुडग़ांव में आयोजित होने वाले हरियाणा स्वर्ण जयंती समारोह में प्रधानमंत्री को हरियाणा के लिए चंडीगढ़ बतौर राजधानी एवं एसवाईएल के नाम पर सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों को अमलीजामा पहनाने की घोषणा करनी चाहिए क्योंकि इन्हीं दोनों प्रमुख घोषणाओं से हरियाणा के विकास के रास्ते खुलते हैं। उन्होंने भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि देश में संसदीय चुनावों से पूर्व भाजपा ने देश के किसानों के हित के लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करने का वायदा किया था मगर उस रिपोर्ट के बारे में भी न्यायालय में एक एफीडेविट देकर यह घोषित कर दिया कि वे इस रिपोर्ट को लागू नहीं कर सकते। इससे देश के लाखों किसानों पर कुठाराघात किया गया है। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि मुख्यमंत्री पिछले कुछ समय पूर्व कालांवाली, सिरसा व ऐलनाबाद आकर करोड़ों की घोषणाएं करके गए थे मगर हैरत की बात है कि एक भी घोषणा पर कार्य आरंभ नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के बाद भाजपा ने भी प्रदेश को न केवल लूटा है बल्कि प्रदेशवासियों से छलावा भी किया है। हरियाणा ओलंपिक संघ के संदर्भ में उन्होंने कहा कि प्रदेश में केवल उनकी एसोसिएशन ही भारतीय ओलंपिक संघ से अधिकृत है और यदि प्रदेश का खेल मंत्री उन्हें मंजूरी न देने का बयान देता है तो यह हास्यास्पद है। उन्होंने कहा कि यदि हरियाणा में जब भी नेशनल गेम्स करवाए जाएंगे तो निश्चित ही उनकी एसोसिएशन से स्वीकृति लेनी होगी। प्रदेश के खेल मंत्री अनिल विज की ओर से पंडित नेहरू पर की गई विपरीत टिप्पणी की सख्त आलोचना करते हुए कहा कि आजादी के संघर्ष में पंडित नेहरू का खासा योगदान रहा है। इस अवसर पर उनके साथ सिरसा के विधायक मक्खनलाल सिंगला, फतेहाबाद के विधायक बलवान दौलतपुरिया, इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, इनेलो के जिला प्रेस प्रवक्ता तरसेम मिढा, सहप्रवक्ता महावीर शर्मा व गंगाराम बजाज आदि पदाधिकारी मौजूद थे।
चौटाला में आज से होगी वालीबॉल खेल महोत्सव की शुरूआत
चंडीगढ़, 31 अक्तूबर: हरियाणा वालीबॉल एसोसिएशन द्वारा हरियाणा स्वर्ण जयंती अवसर  चौधरी देवीलाल स्वर्णिम हरियाणा वालीबॉल खेल महोत्सव के ग्रांड फिनाले का आयोजन 1 नंवबर से सिरसा जिला के गांव चौटाला में होगा। दो दिवसीय इस खेल महोत्सव में पूरे हरियाणा से आठ जोनों से चुनी हुई बेस्ट आठ टीमें भाग लेंगी। हरियाणा निर्माण की स्वर्णिम जयंती अवसर पर हरियाणा स्टेट वालीबॉल एसोसिएशन द्वारा चौधरी देवीलाल की याद में करवाए जा रहे महोत्सव में पूरे हरियाणा को आठ जोनो में बांटा गया है। जोन वाईज प्रतियोगिता सम्पन्न होने के बाद सभी जोनों से एक-एक टीम सिरसा के चौटाला गांव में एक नवंबर को होने वाली स्टेट खेल महोत्सव में भाग ले रही हैं। 
हरियाणा स्टेट वालीबॉल एसोसिएशन के महासचिव सूबे सिंह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि जोन एक में भिवानी, जोन दो सिरसा, फतेहाबाद व हिसार, जोन तीन में अंबाला, पंचकूला, यमुनानगर, जोन चार में रोहतक, झज्जर, सोनीपत, जोन पांच में कुरुक्षेत्र, जोन 6 में कैथल, जींद, जोन 7 में महेंद्रगढ, रेवाड़ी, मेवात, पलवल,गुरूग्राम व फरीदाबाद, जोन 8 में करनाल व पानीपत को शामिल किया गया है। सभी जोनों की प्रतियोगिताएं अक्तूबर माह में सम्पन्न हो चुकी हैं। हर जोन से एक टीम ग्रांड फिनाले में भाग ले रही है। हरियाणा वालीबॉल एसोसिएशन के महासचिव सूबे सिंह ने बताया कि हरियाणा निर्माण में चौ.देवीलाल का अहम योगदान रहा है। उनके योगदान को याद करने व खेलों को बढावा देने के लिए एसोसिएशन द्वारा पूरे अक्तूबर माह अलग-अलग जगहों पर वालीबॉल प्रतियोगिताएं करवाई गई। अब हरियाणा की स्वर्ण जयंती अवसर पर एक नवंबर को चौटाला गांव में ग्रांड फिनाले आयोजित होगा।। 
शहीद मंदीप की शहादत को सैल्यूट करते हुए इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अरोड़ा ने प्रधानमंत्री से पाक के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने की मांग की

कुरुक्षेत्र, 29 अक्तूबर : अंटहेड़ी गांव के सैनिक मंदीप की शहादत को सैल्यूट करते हुए इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि हमें अपने सैनिक के शहीद होने पर गर्व है। उन्होंने पाकिस्तान द्वारा की गई कायरतापूर्ण कार्रवाई की कड़ी निंदा करते हुए मंदीप के परिजनों को ढांढस बंधाया। अरोड़ा ने कहा कि जिस मां का लाल, बहन का भाई और पत्नी का पति शहीद होता है, यह दुख उस उन्हें ही झेलना पड़ता है। उन्होंने कहा कि हमें अपने सैनिकों पर गर्व है, जो देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए अपनी कुर्बानी दे रहे हैं। इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की कि अब समय आ गया है पाकिस्तान के विरुद्ध कड़ी और ठोस कार्रवाई की जाए। देश की जनता अब और अधिक अपने सैनिकों को शहीद होते देखना नहीं चाहेगी। पाकिस्तान के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करके इसका माकूल जवाब दिया जाना चाहिए। 


युवा इनेलो खोलेगी भाजपा नीतियों की पोल - दुष्यंत 


चरखी दादरी : इनेलो में युवाओं की सशक्त फौज है। भाजपा शासन में युवा वर्ग के साथ हो रही वादाखिलाफी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अब युवा इनेलो कार्यकर्ता गांव-गांव जाकर भाजपा के दो साल के जन विरोधी शासनकाल की पोल खोलने का काम करेंगे। सरकार स्वर्ण जयंती के नाम पर 1700 करोड़ खर्च कर रही है वहीं युवा वर्ग रोजगार के लिए भटक रहा है। यह बात हिसार लोकसभा क्षेत्र से इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने स्थानीय पंजाबी धर्मशाला में युवा इनेलो कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कही। इस दौरान बैठक की अध्यक्षता युवा जिला अध्यक्षता जितेंद्र शर्मा धारेडू ने की। मुख्य वक्ता सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि दो साल के शासन में भाजपा ने नए रोजगार तो दूर लोगों की नौकरियां छीनने का काम किया है। इस दौरान सांसद ने करनाल रैली की सफलता में सराहनीय भूमिका निभाने वाले युवाओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया। उन्होंने कहा कि निष्ठा से पार्टी संगठन को मजबूत बनाने का कार्य करने वाले युवाओं को सरकार आने पर विशेष सम्मान दिया जाएगा। 


सांसद ने कहा कि जहां विकास कार्यों के लिए पंचायतों को विकास राशि देनी चाहिए इसके उल्टा सरकार पंचायतों से जबरन एक एक लाख रुपये की उगाही कर रही है। भाजपा शासन में व्यापारी पलायन को मजबूर हैं। प्रदेश में अपराध का बोलबाला है। हर मोर्चे पर भाजपा विफल साबित हो रही है। उन्होंने कहा कि आने वाला समय इनेलो का है और प्रदेश को विकास के मामले में अग्रणी बनाया जाएगा। बैठक को युवा प्रदेश प्रभारी प्रदीप गिल, सुनील लांबा, विधायक राजदीप फौगाट, शशि शर्मा चरखी, बबलू श्योराण, सूरज बेनीवाल, नरवेंद्र धौलिया, नरेंद्रराज गागड़वास, राजेश आर्य, यशवीर घणघस, राहुल मुंढाल, राजेश भारद्वाज, आनंद बडराई, देवेंद्र नकीपुर, विशाल ग्रेवाल, गौरव चौधरी, राकेश कलकल, आशीष निमड़ी, बल्लू बामला, वजीर मान, योगेश इमलोटा, राजेश फौगाट, रामनिवास मिर्च सहित काफी संख्या में युवा मौजूद थे। 

6 नवम्बर से शुरू होगी इनेलो के विभिन्न प्रकोष्ठों की राज्यस्तरीय बैठकें

चंडीगढ़, 28 अक्तूबर: इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला और प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा इनेलो के विभिन्न प्रकोष्ठों की जिलास्तरीय बैठकें छह नवम्बर से प्रदेशभर में शुरू करेंगे ताकि पार्टी संगठन को और ज्यादा मजबूत व सक्रिय बनाया जा सके और भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियां जन-जन तक पहुंचाई जा सकें। इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने बताया कि रोजाना दो प्रकोष्ठों की बैठकें अलग-अलग जिलों में हुआ करेंगी और पहली बैठक सुबह 11 बजे और दूसरी बैठक शाम तीन बजे होगी। इनेलो नेता ने बताया कि पार्टी बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ की बैठक 6 नवम्बर को सुबह पानीपत में और पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ की बैठक शाम को झज्जर में आयोजित की जाएगी। इसके अलावा 9 नवम्बर को इनेलो युवा प्रकोष्ठ की बैठक रोहतक में और महिला प्रकोष्ठ की बैठक उसी दिन शाम को हिसार में आयोजित होगी।
इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष ने बताया कि पार्टी पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ की बैठक 10 नवम्बर को सुबह जींद में व पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ की बैठक उसी दिन शाम को कैथल में रखी गई है। उन्होंने बताया कि पार्टी श्रमिक प्रकोष्ठ की बैठक 17 नवम्बर को सुबह फरीदाबाद में और अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ की बैठक उसी दिन शाम को गुडग़ांव में होगी। उन्होंने बताया कि इनेलो कर्मचारी प्रकोष्ठ की बैठक 18 नवम्बर को सुबह सोनीपत में और किसान प्रकोष्ठ की बैठक उसी दिन शाम को भिवानी में रखी गई है। जबकि इनेलो व्यापारी प्रकोष्ठ की बैठक 20 नवम्बर को सिरसा में होगी। इनेलो नेता ने बताया कि इन बैठकों में संबंधित प्रकोष्ठों के प्रदेश जिला व हलकास्तरीय सभी पदाधिकारी व उन प्रकोष्ठों से जुड़े हुए पार्टी कार्यकर्ता भाग लेंगे और इन प्रकोष्ठों को और ज्यादा मजबूत व सुदृढ़ बनाने के लिए व्यापक विचारविमर्श कर आगामी रणनीति तय की जाएगी। इन बैठकों में अभय सिंह चौटाला व अशोक अरोड़ा के अलावा पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता, संबंधित जिलों के विधायक व सांसद और पूर्व विधायक व पूर्व सांसद भी भाग लेंगे।

Friday, October 28, 2016

किसानों की समस्याओं को लेकर इनेलो ने किया प्रदर्शन


जींद। किसानों की समस्याओं को लेकर इनेलो ने यहां जिला स्तरीय प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद इनेलो नेताओं ने मुख्यमंत्री के नाम उपायुक्त को मांगों का ज्ञापन भी सौंपा। इसमें ब्लैक हॉपर से नष्ट हुई फसल की तुरंत गिरदावरी करवाकर मुआवजा देने, पराली जलाने पर किसानों पर हो रहे मुकदमों को वापस लेने तथा पराली की सरकार द्वारा उचित व्यवस्था करने की मांग की गई।


यहां लघु सचिवालय परिसर में लोगों को संबोधित करते हुए इनेलो के जिला प्रधान कलीराम पटवारी ने कहा कि पिछले लगभग दो वर्ष से भी ज्यादा समय से प्रदेश सरकार का कृषि जगत को लेकर रवैया बेहद निराशाजनक और पूरी तरह से किसान विरोधी रहा है। इनेलो के शीर्ष नेतृत्व ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर धान में नमी के नाम पर सरकार द्वारा एमएसपी पर 75 रुपए प्रति क्विंटल तक कट लगाने के फैसले को तुरंत वापस लेने, बिना किसी कटौती मापदंडों में ढील देकर 22 प्रतिशत तक नमी वाला धान एमएसपी पर खरीदने, मंडियों में किसानों की हो रही लूट बंद करने, धान खरीद में बोगस बिलिंग व फर्जी गेटपास घोटाले की उच्चस्तरीय जांच करवाने और किसानों से काटी गर्ई रकम उन्हें वापस दिलवाने की मांग रखी थी। अभी सरकार की तरफ से इन विषयों पर कोई ठोस समाधान निकला नहीं था कि सरकारी लापरवाही व सुस्ती के कारण किसानों पर मुसीबत और भी ज्यादा बढ़ गयी हैं। विधायक परमेंद्र सिंह ढुल ने कहा कि धान की कटाई के बाद पराली को जलाने पर किसानों पर जुर्माना लगाया जा रहा है, जो बेहद निदंनीय है। सरकार इस समस्या का किसानों की मांग व जरूरत अनुसार सार्थक हल निकाले। पराली को दूसरे ऐसे राज्यों में जहां पर इसकी मांग रहती है वहां पहुंचाने व बेचने का बन्दोबस्त सरकार द्वारा किया जाना चाहिए। हालिया मौसम परिवर्तन से जिले के अधिकांश क्षेत्र में धान की फसल ब्लैक हॉपर बीमारी की चपेट में आ गयी है। लगभग 60 फीसद फसल इस बीमारी के कारण खराब हो गई, कुछ गांवों में तो ं 80 फीसद से भी ज्यादा खड़ी फसल बर्बाद हो चुकी है। ऐसी भयंकर बीमारी तक को भी हाल ही में किसानों पर जबरन थोपी हई फसल बीमा योजना में शामिल नहीं किया गया है। ऐसे में सरकार और बीमा कम्पनियों दोनों ने ही फसल में आयी बीमारी से नष्ट हुई पैदावार के मुआवज़े के आंकलन से हाथ खड़े कर लिए हैं। ऐसी नकारा व्यवस्था के चलते आहत किसान को कोई उम्मीद नजऱ नहीं आ रही है। प्रदेश सरकार तुरन्त इस विषय पर संज्ञान लेते हुए किसानों को क्लेम फॉर्म प्रदान कर तुरंत गिरदावरी के आदेश देते हुए उपयुक्त मुआवज़ा वितरण सुनिश्चित करे। इसके साथ ही फसल बिमा योजना में बदलाव लाते हुए क्लेम के आंकलन हेतु इस बीमारी को भी शामिल किया जाए। फसल बीमा योजना पहले से ही सरकारी कुनीतियों से आहत और कजऱ् में डूबे किसान के साथ एक भद्दा मज़ाक है। इस योजना के नाम पर किसानों के सहकारी समितियों में खातों से ज़बरन पैसे काटे जा रहे हैं ताकि बड़े-बड़े औद्योगिक घरानों को सीधे तौर पर फायदा पहुंचाया जा सके। किसान से बीमे के लिए प्रीमियम लेते वक्त तो प्रति एकड़ की दर से पैसे लिए जा रहे हैं और जबकि योजना के अनुसार फसल के मुआवज़े को देने के समय क्षतिपूर्ति के आंकलन के लिए पूरे गांव को इकाई माना जा रहा है। हमारी मांग है  कि किसानों की फसल का बीमे का प्रीमियम काटते समय किसानों की सहमति लेनी अनिवार्य होनी चाहिए। नीति में नुकसान के आंकलन लिए बीमा की हुई प्रति किसान की फसल को ही इकाई माना जाना चाहिए न की समूचे गांव को। इसके साथ-साथ योजना में आग, पशु आदि से नुकसान या फिर चोरी, मवेशियों द्वारा फसल को पहुंचाए गए नुकसान, ठेके पर खेती करने वाले किसान जिनका रिकोर्ड में नाम दर्ज न हो, विविध खेती, फसल की कटाई के बाद ढुलाई या फिर मण्डी में हो सकने वाले नुकसान, नहर या माइनर टूटने से या फिर जलभराव से हो सकने वाले नुकसान, आदि को बीमा योजना में शामिल किया जाना चाहिए। प्रदर्शनकारियों को विधायक पृथी नंबरदार, डॉ. हरिचंद मिढ़ा, बलदेव वाल्मीकि, भगवानदास, डॉ. रामचंद्र जांगड़ा, प्रताप लाठर, भूपेंद्र जुलानी, सुदेश चौपड़ा, सुभाष देशवाल, अशोक लीलू, ईश्वर कंडेला, कैप्टन रणधीर सिंह चहल, सूरजभान सिहाग, भलेराम श्योकंद, दरबारा देशवाल, अंग्रेज पीपलथा, मन्नु छाबड़ा, बिजेंद्र रेढू, आनंद लाठर, जगदीश जामनी, करनैल जुलानी, कुलदीप पिंडारा, सतबीर झांझ, बलवान सिंह, सुरेश नंबरदार, राकेश रोहिल्ला, राममेहर दनौदा, कुलबीर मलिक, जागेराम मलिक, बिट्टू नैन, पालाराम वाल्मीकि राजेंद्र खूंगा, रामसिंह ढांडा, धर्मेंद्र सिंहमार, हरिसिंह सैन, देवेंद्र ढांडा, सोनू गुलिया, भूवन गिरी, विक्की मडौतरा, कार्यालय सचिव गुरदीप सांगवान भी मौजूद थे। 

Thursday, October 27, 2016

सरकार हर मोर्चे पर विफल, भाजपा सरकार ने कोई भी चुनावी वायदा पूरा नहीं किया - इनेलो



चंडीगढ़, 27 अक्टूबर: इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला और प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने भाजपा सरकार के पिछले दो सालों के कार्यकाल को पूरी तरह विफल और हर मोर्चे पर सरकार को असफल बताते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने दो सालों के दौरान अपना कोई भी चुनावी वायदा पूरा नहीं किया। गुरुवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए इनेलो नेताओं ने कहा कि पहली नवम्बर को हरियाणा के स्वर्ण जयंती समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हरियाणा में आ रहे हैं। इस अवसर पर उन्हें एसवाईएल को लेकर सर्वोच्च न्यायालय का फैसला तुरंत लागू करवाने और हरियाणा को उसके हिस्से का पानी दिलवाए जाने की घोषणा करनी चाहिए। इनेलो नेताओं ने कहा कि एसवाईएल हरियाणा की जीवनरेखा है और सर्वोच्च न्यायालय का फैसला हरियाणा के पक्ष में आने के बाद अब इसके अधूरे निर्माण को पूरा करवाना केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है। आज केंद्र व हरियाणा में जहां भाजपा की सरकारें हैं वहीं पंजाब में भी भाजपा सरकार में हिस्सेदार है और प्रधानमंत्री हरियाणा को अपना दूसरा घर बताते रहे हैं इसलिए उन्हें तुरंत एसवाईएल के निर्माण को पूरा करवा हरियाणा को उसके हिस्से का पानी दिलवाना चाहिए। इनेलो नेताओं ने भाजपा सरकार के हर दावे को तथ्यों के साथ खोखला बताते हुए कहा कि हरियाणा में 31 बेकसूर मारे गए और लोगों की करोड़ों की सम्पत्ति बर्बाद हुई इसके बावजूद हरियाणा को अपना दूसरा घर बताने वाले प्रधानमंत्री ने एक शब्द तक नहीं बोला। नेता प्रतिपक्ष ने सरकार द्वारा किए जा रहे तमाम दावों झूठ का पुलिंदा बताते हुए पत्रकार सम्मेलन के आखिर में अपनी बात इन चार लाइनों के साथ पूरी की-
सजन से झूठ मत बोलो, खुदा के पास जाना है। न हाथी है न घोड़ा है वहां पैदल ही जाना है।।
इनेलो नेताओं ने कहा कि आज प्रदेश की आर्थिक स्थिति बेहद खराब है और कांग्रेस की तरह भाजपा सरकार ने भी प्रदेश को पूरी तरह कर्ज से डुबो दिया है। इनेलो नेताओं ने कहा कि हरियाणा अलग राज्य बनने के बाद 1966 से लेकर 2004 तक 38 सालों में प्रदेश पर मात्र 23400 करोड़ का कर्जा था जो कि औसतन 600 करोड़ रुपए प्रति वर्ष बैठता है। इनेलो की सरकार के समय केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदम्बरम ने इनेलो सरकार के वित्तीय प्रबंधन को सबसे सुदृढ़ बताते हुए देश के अन्य राज्यों से हरियाणा का अनुसरण करने को कहा था। कांग्रेस के दस साल के कार्यकाल में प्रदेश पर करीब 59 हजार करोड़ रुपए का कर्जा बढ़ा और मौजूदा सरकार के दो सालों के कार्यकाल में प्रदेश पर 59 हजार करोड़ का कर्जा और बढ़ गया है। इनेलो नेताओं ने कहा कि करनाल से भाजपा सांसद भी स्वीकार कर चुके हैं कि मुख्यमंत्री तो ईमानदार हैं लेकिन भाजपा विधायक व सांसद भ्रष्टाचार में डुबे हुए हैं। इन आरोपों की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए और यह बात पूरी तरह सही साबित हो गई है कि कांग्रेस की तरह भाजपा सरकार में भी भ्रष्टाचार निरंतर बढ़ रहा है। 
चौधरी अभय सिंह चौटाला व अशोक अरोड़ा ने कहा कि किसानों को उनके लागत मूल्य के साथ 50 फीसदी मुनाफा देने और स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने का वादा करके सत्ता में आई भाजपा सरकार के कार्यकाल में किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य भी नहीं मिल रहा और सरकार की मिलीभगत से धान की खरीद में किसानों के साथ करोड़ों रुपए की लूट की गई है। दूसरी तरफ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के नाम पर किसानों के खातों से जबर्र्दस्ती पैसे काटकर बड़े-बड़े औद्योगिक घरानों को दिए गए हैं। धान के साथ-साथ बाजरे की खरीद में भी किसानों को पूरी तरह से लूटा गया और अब पॉपलर की खेती करने वाले किसानों को जो पॉपलर की लकड़ी 1200 रुपए प्रति क्विंटल बिकती थी उसे आज 400 रुपए प्रति क्विंटल से भी कम पर बेचने को मजबूर होना पड़ रहा है। खाद के लिए किसानों के साथ-साथ महिलाओं को पुलिस थानों में लाइनें लगानी पड़ी और अभी तक सरकार ने प्रदेश शुगरकेन कंट्रोल बोर्ड की बैठक बुलाकर गन्ने का भाव तय नहीं किया है और न ही चीनी मिलों ने पिराई शुरू की है।
इनेलो ने गन्ने का भाव 400 रुपए प्रति क्विंटल घोषित किए जाने और शुगर मिलें तुरंत चालू करवाने की मांग करते हुए कहा कि अन्यथा गन्ने का वजन निरंतर घटता रहेगा और जिसका किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। इनेलो नेताओं ने कहा कि सरकार द्वारा किसानों की अधिग्रहण की गई जमीनों का मुआवजा उच्च न्यायालय व सर्वोच्च न्यायालय द्वारा बढ़ाए जाने के कारण करीब 2500 करोड़ रुपए के अतिरिक्त मुआवजे की अदायगी किसानों को की जानी है और अभी तक मौजूदा सरकार द्वारा अदायगी नहीं की गई। किसान हितैषी होने का दावा करने वाली भाजपा सरकार ने अभी तक किसान आयोग के चेयरमैन की नियुक्ति भी नहीं की। इनेलो नेताओं ने कहा कि आज पलवल जिले में सरकार द्वारा धान की खरीद पूरी तरह बंद कर दी गई है और वहां बम्बर फसल होने के बावजूद एक दाना भी धान का नहीं खरीदा जा रहा। उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने तुरंत खरीद शुरू नहीं की तो किसान पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगा।
इनेलो नेताओं ने प्रदेश में कानून व्यवस्था की निरंतर खराब होती स्थिति पर सरकार की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि अपराधियों को सरकारी संरक्षण मिल रहा है और प्रदेश में जहां हररोज तीन बलात्कार की घटनाएं घट रही हैं वहीं दलितों व महिलाओं पर अपराध की घटनाओं में सबसे ज्यादा इजाफा हुआ है। दलित महिलाओं पर अपराधों की संख्या में इनेलो सरकार के मुकाबले 82 प्रतिशत वृद्धि होने का आरोप लगाते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि मेवात के डिंगरहेड़ी गांव में पांच बदमाशों ने एक नाबालिग बच्ची सहित दो महिलाओं के साथ गैंगरेप किया और दो लोगों की हत्या की गई। मुख्यमंत्री द्वारा इस जघन्य घटनाओं को मामूली घटना बताए जाना और लोगों के दबाव के बाद मामले की जांच सीबीआई से करवाने का भरोसा दिलाए जाने के बावजूद अभी तक सीबीआई को जांच न सौंपे जाना यह दर्शाता है कि सरकार द्वारा किस तरह अपराधियों को संरक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को पक्का करने वाली सरकार ने अपना वादा पूरा करने की बजाय नर्सिंग छात्राओं, महिला गेस्ट अध्यापकों व कम्प्यूटर लैब सहायकों पर लाठीचार्ज करके अपनी महिला विरोधी सोच दर्शा दी है।
इनेलो नेताओं ने प्रदेश सरकार पर राज्य का आपसी भाईचारा तोडऩे के प्रयास करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार ने पहले जाटों सहित पांच जातियों को आरक्षण देने का वायदा किया लेकिन वादा करने की बजाय प्रदेश के भाईचारे को तोडऩे की साजिश रची गई जिससे 31 बेकसूरों की जान चली गई और हजारों करोड़ की सम्पत्ति नष्ट हो गई और सरकार पूरी तरह से मूकदर्शक बनकर बैठी रही। आरक्षण आंदोलन की जांच के लिए पहले प्रकाश सिंह कमेटी और फिर झा आयोग नियुक्त किया गया और फिर बाद में सरकार ने प्रकाश सिंह कमेटी रिपोर्ट को खुद ही खारिज कर दिया। उन्होंने सरकार पर हर बात को जातीय रंगत देने का आरोप लगाते हुए कहा कि आंदोलन के दौरान सरकार ने आंदोलनकारियों के प्रतिनिधियों को बुलाकर वादा किया था कि आंदोलन के दौरान मारे गए प्रत्येक व्यक्ति के परिवार के एक-एक सदस्य को सरकारी नौकरी, दस-दस लाख रुपए मुआवजा और जेलों में बंद युवाओं को रिहा किया जाएगा। आज फिर प्रदेश का आपसी भाईचारा बिगाडऩे के लिए 35 बनाम एक जाति की बात की जा रही है और समझौते के दौरान मानी गई बातों के किसी भी फैसले को आज तक लागू नहीं किया गया है। इनेलो नेताओं ने एसवाईएल के साथ-साथ हांसी-बुटाणा नहर को भी भाजपा सरकार से अपने चुनावी वायदे के अनुसार पूरा करने की मांग करते हुए कहा कि भाजपा ने इसे चालू करवाने का वायदा किया था। 
इनेलो नेताओं ने कहा कि भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को नियमित करके 15 हजार रुपए न्यूनतम वेतन देने, ठेका प्रथा बंद करने, अनुसूचित जातियों को दो लाख से 10 लाख के कर्जे बिना गारंटी देने और सफाई कर्मचारी आयोग का गठन करने का भी वायदा किया था और मुख्यमंत्री ने कैथल में आयोजित बाल्मीकि जयंती में भी ये वायदे दोहराए थे। आज इनमें से कोई भी वायदा पूरा नहीं किया गया। कर्मचारियों को आज तक पंजाब के समान वेतनमान और भत्ते नहीं दिए गए और गेस्ट टीचरों को पक्का करने की बजाय हजारों कर्मचारियों की छुट्टी कर दी गई। ठेका प्रथा बंद करने की बजाय आउटसोर्सिंग को बढ़ावा दिया जा रहा है। कर्मचारियों में असंतोष का माहौल है। नेशनल हेल्थ मिशन के हजारों कर्मचारी हड़ताल पर हैं, उनके नेताओं को बर्खास्त कर दिया गया है। इससे पहले बिजली कर्मचारियों की हड़ताल के दौरान एस्मा लगाया गया और रोड़वेज कर्मचारियों ने भी चक्का जाम कर अपना रोष जताया। हैपनिंग हरियाणा को लेकर सरकार ने बड़े-बड़े दावे किए और आरटीआई में जीरो निवेश की सूचना आने पर सरकार ने अपनी विफलता पर पर्दा डालने के लिए जानकारी देने वाली महिला अधीक्षक को ही निलम्बित कर दिया। 
उन्होंने कहा कि गोद लिए हुए गांवों की हालत बेहद खस्ता है। सरकार कभी जगमग हरियाणा, कभी स्वच्छता, कभी बेटी बचाओ तो कभी गीता औ गऊ के नाम पर आए दिन घोषणाएं कर रही है लेकिन उन पर काम नहीं हो रहा। इनेलो नेताओं ने कहा कि सरकार ने मात्र डीजल व पेट्रोल पर वैट बढ़ाने और बिजली की दरें बढ़ाने के अलावा और कोई काम नहीं किया। कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सपे्रस हाईवे का नाम बदल दिया लेकिन उसके आधे हिस्से का निर्माण कार्य ज्यों का त्यों अटका हुआ है और यह काम भाजपा समर्थित राज्यसभा सांसद सुभाष चंद्रा की कम्पनी के पास है और उस कंपनी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बजाय सरकार किसी न किसी तरह उसकी समयावधि बढ़ा रही है। इनेलो नेताओं ने प्रदेश के एक मंत्री पर अपनी कंपनी के जरिए खनन माफिया चलाने और रेता, रोड़ी और बजरी के काम को बंद करवा चहेतों से बिकवाने का आरोप लगाते हुए कहा कि आज प्रदेश के ज्यादातर भाजपा विधायकों ने इंटरलॉकिंग सीमेंट टाइलें बनाने की फैक्ट्रियां लगा ली हैं और बीडीओ व डीसी से ये हिदायतें दी जा रही हैं कि टाइलें इन्हीं फैक्ट्रियों से खरीदी जाएं। उन्होंने सीएम विंडो पर शिकायतों का उल्लेख करते हुए कहा कि दो लाख आठ हजार शिकायतों में से एक लाख 67 हजार शिकायतें तो रद्दी की टोकरी में फैंक दी गई। उन्होंने भाजपा सरकार पर छात्र संघ चुनाव की घोषणा पूरी न करने, शिक्षा के निरंतर गिरते स्तर, निरंतर बढ़ती महंगाई, टेलों तक पानी न पहुंचने, नौकरियों के नाम पर सिर्फ आरएसएस के लोगों को एडजस्ट करने और अम्बानी-अडाणी के साथ-साथ बाबा रामदेव की पूंजी बढऩे और किसान के कर्जदार होने का आरोप लगाते हुए सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताया। इस अवसर पर पूर्व कृषि मंत्री जसविंदर सिंह संधू, पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा, विधायक रणबीर गंगवा, पिरथी नम्बरदार, रामचंद कम्बोज, आरएस चौधरी, डॉ. केसी बांगड़, एमएस मलिक, बीडी ढालिया, प्रदीप चौधरी, राम सिंह बराड़, एनएस मल्हान, अश्विनी दत्ता, बनारसी दास, रामचंद्र जांगड़ा सहित अनेक प्रमुख इनेलो नेता मौजूद थे।
भारतीय ओलंपिक संघ के आब्जर्वर की देखरेख में हुए हैं हरियाणा ओलंपिक संघ के चुनाव - अभय चौटाला



चंडीगढ़, 27 अक्टूबर: इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने पिछले दिनों हुए हरियाणा ओलंपिक संघ के चुनाव को पूरी तरह से भारतीय ओलंपिक संघ के आब्जर्वर की देखरेख में हुआ चुनाव बताते हुए कहा कि इस चुनाव में प्रदेश ओलंपिक संघ के 53 में से 46 यूनिट शामिल हुए थे और चुनाव पूरी तरह से सही होने के साथ-साथ भारतीय ओलंपिक संघ के मापदंडों के अनुसार था। इस चुनाव में अभय सिंह चौटाला को फिर से हरियाणा ओलंपिक संघ का अध्यक्ष चुना गया था। गुरुवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब में नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि हरियाणा ओलंपिक संघ एक मान्यताप्राप्त भारतीय ओलंपिक संघ की इकाई है और इसका चुनाव ओलंपिक संघ के दिशा-निर्देश और नियम कायदे के अनुसार होता है। 
इनेलो नेता ने हरियाणा के खेल मंत्री अनिल विज द्वारा इन चुनावों पर उठाए गए सवालों पर कहा कि उन्हें अनिल विज से कोई प्रमाण पत्र नहीं चाहिए क्योंकि प्रदेश ओलंपिक संघ का चुनाव भारतीय ओलंपिक संघ की देखरेख में होता है। इनेलो नेता ने प्रदेश में खेल परिषद के गठन को प्रदेश के खेलों व खिलाडिय़ों के भविष्य के साथ खिलवाड़ बताते हुए कहा कि उन्होंने यह बात हरियाणा विधानसभा में भी उठाई थी और कहा था कि खेल परिषद का गठन गलत है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि हरियाणा में सरकार को अगर कोई राष्ट्रीय स्तर के खेलों का आयोजन करवाना होगा तो वह उनके नेतृत्व वाले हरियाणा ओलंपिंक संघ को विश्वास में लेकर ही करवाना होगा अन्यथा बिना हरियाणा ओलंपिंक संघ की सहमति के करवाए जाने वाले किसी भी राष्ट्रीय खेलों के आयोजन को भारतीय ओलंपिक संघ मान्यता प्रदान नहीं करेगा। इनेलो नेता ने कहा कि खेल परिषद के गठन को लेकर भारतीय ओलंपिक संघ ने भी प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर अपना विरोध जताया है और यह भी स्पष्ट कर दिया है कि राष्ट्रीय स्तर का कोई भी खेल आयोजन हरियाणा में भारतीय ओलंपिक संघ से मान्यता प्राप्त प्रदेश ओलंपिक संघ की सहमति से ही सम्भव हो सकता है।
इनेलो नेता ने कहा कि कांग्रेस व भाजपा दोनों ने प्रदेश को बर्बाद करने का काम किया है और राज्यसभा चुनाव में दोनों दलों की मिलीभुगत पूरी तरह सामने आ चुकी है। उन्होंने सरकार द्वारा कर्मचारियों के लिए सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों लागू किए जाने के ऐलान को मात्र घोषणा बताते हुए कहा कि सरकार ने पहली नवम्बर का कार्यक्रम ठीक से निपट जाए, इसलिए यह घोषणा की है ताकि कर्मचारी कहीं हड़ताल पर न चले जाएं। इनेलो नेता ने कहा कि सरकार को पहले पंजाब के समान वेतनमान भत्ते देने का अपना वादा पूरा करना चाहिए और उसके बाद उसी अनुसार सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू की जाएं अन्यथा कर्मचारियों को भारी नुकसान हो जाएगा। इनेलो नेता ने एससीएस भर्ती में सरकार के प्रतिनिधियों पर इंटरव्यू में भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए कहा कि चहेतों को एचसीएस बनवाने के लिए सरकार ने उनकी आयु सीमा बढ़ाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि इस सरकार में भ्रष्टाचार निरंतर बढ़ रहा है और आरएसएस के लोगों को छोडक़र किसी अन्य को कोई नौकरी नहीं दी जा रही।
चौधरी अभय सिंह चौटाला व अशोक अरोड़ा ने कहा कि सरकार हर जिले में मेडिकल कॉलेज की घोषणा करती है लेकिन प्रदेश की 75 डिस्पेंसरियों में डॉक्टर तक नहीं हैं। कर्मचारी हड़ताल पर हैं, प्रदेश में वायरन, डेंगू व चिकनगुनिया फैला हुआ है। सरकार कर्मचारियों से बातचीत कर मसले का हल करने की बजाय सभी को निलंबित करने की धोंस दिखाती है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज उनके अच्छे मित्र हैं लेकिन उन्हें उनसे ऐसी उम्मीद नहीं थी कि कर्मचारियों के प्रति उनका व्यवहार ऐसा होगा। उन्होंने प्रदेश के सभी बेरोजगारों को छह हजार व नौ हजार बेरोजगारी भत्ता देने की मांग करते हुए कहा कि सरकार कह रही है कि मात्र 1100 लोगों को नौ हजार रुपए मानदेय 100 घंटे काम के बदले दिया जाएगा जिससे लगता है कि ये शायद आरएसएस से जुड़े परिवारों के लोगों तक ही सीमित रहेगा। अन्यथा प्रदेश में तो लाखों की तादाद में बेरोजगारी युवक-युवतियां हैं जिन्हें सरकार द्वारा बेरोजगारी भत्ता दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में पंच के सैकड़ों पद शैक्षणिक योग्यता की कमी के चलते खाली पड़े हैं और अनेक पंचों-सरपंचों के खिलाफ फर्जी सर्टिफिकेट के नाम पर केस दर्ज हो गए हैं।  अब सरकार सरपंचों पर दबाव बना रही है कि पंचायतों का पैसा एक्सइएन व बीडीओ के मार्फत खर्च किया जाए और ऐसा करके सरकार पंचायतों के अधिकारों का हनन कर रही है।

Wednesday, October 26, 2016

इनेलो रोहतक महिला प्रकोष्ठ की कार्यकारिणी घोषित


रोहतक : इनेलो रोहतक महिला प्रकोष्ठ की जिला संयोजक उमेश देवी ने आज विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला, सांसद दुष्यंत चौटाला, प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा, इनेलो महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश संयोजक श्रीमती शीला भ्यान व रोहतक के जिलाध्यक्ष व प्रदेश प्रवक्ता सतीश नांदल से विचार विमर्श के बाद महिला कार्यकारिणी की घोषणा कर दी। महिला संयोजक उमेश देवी ने जानकारी देते हुए बताया की पार्टी में मेहनती कार्यकर्ताओं को तरजीह दी। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया की गढ़ी सांपला किलोई की महिला हलकाध्यक्ष सुनीता हुड्डा सांघी, कलानौर की महिला हलकाध्यक्ष की जिम्मेवारी राज कुमारी आंवल, महम की महिला हलकाध्यक्ष की जिम्मेवारी राजो राठी लाखनमाजरा, रोहतक की महिला हलकाध्यक्ष सरोज यादव तथा महम शहरी महिला अध्यक्ष मूर्ति देवी, कलानौर शहरी महिला अध्यक्ष नारायणी देवी व सांपला शहरी महिला अध्यक्ष कृष्णा को बनाया गया है।
उमेश देवी ने विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए बताया की जिला कार्यकारिणी में वरिष्ठ उप-प्रधान पद की जिम्मेवारी सन्तोष खरकड़ा को दी गयी है तो उप-प्रधान निर्मला देवी, सतवंती शर्मा, संतोष देवी, संतोष हुड्डा, साहब कौर को बनाया गया है। प्रधान महासचिव सुशिला राणा को बनाया गया है व महासचिव पद की जम्मेवारि आशा देवी खत्री, सुनीता, रोशनी, सीमा, जन्तर देवी को सौंपी गयी है। जबकि प्रोमिला, कृष्णा, गुड्डी, रानी सोलंकी, सुमन, गुड्डी को सचिव बनाया गया है। वहीं को सुदेश देवी को संगठन सचिव और धनपति को प्रचार सचिव जिम्मेवारी दी गई तो  कोषाध्यक्ष पद की जिम्मेवारी निर्मला शर्मा को दी गयी है।
जबकि कार्यकारिणी सदस्य के तौर पर होशियारी, सीमा, कामिनी, मुन्नी, कला, अनीता, किताबो, संतरा, पुष्पा, सुनीता, संतोष रेखा को शामिल किया गया है। महिला नेत्री उमेश देवी ने सभी नवनियुक्त महिला पदाधिकारियों को बधाई देते हए कहा की उन्हें उम्मीद है की सभी महिला कार्यकर्ता मिल कर कार्य करेंगी व पार्टी की जनकल्याणकारी नीतियों का खूब प्रचार प्रसार करेंगी।

Monday, October 24, 2016

 डी.पी.जी. कॉलेज गुड़गांव में ताऊ देवीलाल स्वर्णिम हरियाणा वालीबॉल महोत्सव का समापन


गुड़गांव 23 अक्टूबर : दक्षिण हरियाणा  गुड़गांव, रेवाड़ी, पलवल, फरीदाबाद, मेवात व महेन्द्रगढ जिलों की वालीबॉल टीमों की प्रतियोगिता का आयोजन गुड़गांव के सैक्टर 34 स्थित डी0पी0जी0 कॉलेज में किया गया जिसका समापन समारोह में आज मुख्य अतिथि नूहं विधायक चौ0 जाकिर हुसैन व पूर्व डिप्टी स्पीकर एंव हरियाणा वालीबॉल एशोसिशन के प्रदेश अध्यक्ष गोपीचन्द गहलोत ने विजेता टीम को पुरस्कार देकर सम्मानित किया। प्रतियोगिता के फाईनल मुकाबले में गुड़गांव बी टीम ने गुड़गांव ऐ टीम को दो सेटों में हराया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने हरियाणा प्रदेश के खिलाडि़यों द्वारा ओलम्पिक खेलों में किये गये शानदार प्रदर्शन की बधाई देते हुए कहा कि हरियाणा निर्माता व जननायक ताऊ देवीलाल व पूर्व मुख्यमंत्री चौ0 ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में खेलों व खिलाडि़यों को प्रोत्साहित करने के लिए अनेक नीति व योजनाओं का निर्माण किया गया जिसके कारण आज हरियाणा के खिलाडि़यों ने देश ही नहीं अपितु अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर देश व प्रदेश का नाम रोशन किया। प्रतियोगिता में निर्णायक की भूमिका ़ललित, रामसिंह, राकेश डबास, पवन राघव, रामवतार यादव, रविन्द्र शर्मा ने की। प्रतियोगिता की प्रायोजक रिपब्लिक ऑफ स्पोटर्स कम्पनी की ओर से आशीष कण्डवाल व राजीव चौधरी ने बताया कि रिपब्लिक ऑफ स्पोटर्स कम्पनी का उददेश्य वालीबॉल को बढावा देने के लिए शहर शहर व गांव गांव जाकर इस तरह की प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है जिससे खेलों की दुनियां में वालीबॉल भी अन्य खेलों की तरह ख्याति प्राप्त कर सके। आज की प्रतियोगिता में मार्केट एप्प, नाईस स्प्रे, स्पोटर्स लाईव आदि अन्य प्रायोजित कम्पनियों ने भी हिस्सा लिया। इस अवसर पर पूर्व विधायक गंगाराम, रिटायर्ड डी0ई0ओ0 विष्णुदत शर्मा, इनेलो के प्रधान महासचिव रमेश दहिया, राजेन्द्र गहलोत चौयरमैन, हरिचन्द बोकन यूथ कोरडिनेटर, द्रोणाचार्य अवार्डी सुनिल डबास, अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ी हनुमान सिंह, गुड़गांव बार एशोसियशन के प्रधान पर्वत सिंह ठाकराण, ऋषिपाल धनखड, शैलेश खटाणा चैयरमैन, दलबीर धनखड़, राव मानसिंह चैयरमैन, भूपेन्द्र सुखराली, दीपक गहलोत, गौरव छौक्कर, सुरेन्द्र गहलोत, राजबीर ठाकराण सरपंच, सुरेन्द्र तंवर, कपिल त्यागी, बल्ले चेयरमैन, जोगेन्द्र शोकीन सहित अनेक खेलप्रेमी व खिलाड़ी उपस्थित थे।
सांसद दुष्यंत चौटाला 28 को दादरी में करेंगे युवाओं को संबोधित : जितेंद्र


चरखी दादरी : युवाओंं के हित केवल इनेलो में ही सुरक्षित हैं। देश के युवा सांसद दुष्यंत सिंह चौटाला 28 अक्तूबर को दोपहर एक बजे दादरी की पंजाबी धर्मशाला में भिवानी जिला युवा इनेलो कार्यकारिणी एवं कार्यकर्ताओं की बैठक लेंगे। इस मौके पर सांसद पिछले दिनों करनाल में हुए सदभावना दिवस समारोह की सफलता में जिम्मेदारी निभाने वाले वालेंटियर को प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मानित भी करेंगे। यह जानकारी युवा इनेलो के जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा धारेडू ने युवा हलकाध्यक्ष शशि शर्मा के लोहारू चौक स्थित कार्यालय में युवा विंग की बैठक को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने सांसद के दादरी आगमन को लेकर कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारियां भी सौंपी। जितेंद्र शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार ने युवाओं के साथ छलावा किया है। चुनाव के समय किए गए वायदे पूरे न होने से युवा वर्ग में सरकार के खिलाफ भारी रोष है। इनेलो ने अपने शासनकाल में ज्यादा से ज्यादा रोजगार दिए और प्रदेश में विकास के आयाम स्थापित हुए। इनेलो में समर्पित, सशक्त युवा फौज है। इस अवसर पर बबलू श्योराण, नरेंद्र राज गागड़वास, देवेंद्र नकीपुर, शशि शर्मा, राहुल शर्मा मुंढाल, सूरज बेनीवाल, योगेश इमलोटा, आशीष निमड़ी, नवीन झिंझर, प्रदीप झिंझर, सिद्धार्थ सांगवान, यशवीर घणघस, अनिल सांवड़, आनंद बडराई इत्यादि भी उपस्थित थे। 
28 को इनेलो करेगी जिला स्तरीय प्रदर्शन : कलीराम पटवारी

जींद। इनेलो के जिला प्रधान कलीराम पटवारी ने कहा कि धान की फसल में ब्लैक हॉपर नामक बीमारी ने किसानों को बर्बाद कर दिया है। जबरदस्ती लागू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत अब सरकार किसानों को कोई मुआवजा नहीं दे रही है। इनेलो द्वारा 28 अक्तूबर को शहर में किसानों को मुआवजा दिलाने की मांग पर प्रदर्शन कर उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा जाएगा।
पटवारी ने यहां जारी एक बयान में कहा कि पिछले दो साल से लगातार किसानों की फसल बीमारी या अन्य कारणों से खराब हो रही है। इस कारण किसान आर्थिक रुप से कमजोर होते जा रहे हैं। सरकार किसानों की सुध लेने की बजाय उन पर अन्य प्रकार के कानून लगाकर उनको बर्बाद करने पर तुली हुई है। पटवारी ने कहा कि पराली जलाने पर किसानों के खिलाफ मामले दर्ज किए जा रहे हैं तथा जुर्माना लगाया जा रहा है। यदि सरकार को किसानों की चिंता होती है तो वह पराली के लिए कोई विकल्प तैयार करती। सरकार के पास किसानों के लिए कोई योजना नहीं है बल्कि उनको बर्बाद करने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। पटवारी ने कहा कि 28 अक्तूबर को शहर में प्रदर्शन करके उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा जाएगा। उन्होंने मांग की कि सरकार को स्पेशल गिरदावरी करवाकर किसानों की बर्बाद हुई फसल के लिए तुरंत मुआवजा देना चाहिए।

सरकार जल्द निकाने पराली मसले का समाधान: मक्खन लाल सिंगला


सिरसा 23 अक्टूबर: हरियाणा की भाजपा सरकार ने अब तक सभी कदम किसान विरोधी उठाये है। हरियाणा सरकार ने न तो अब तक चुनावी वायदे के अनुरूप किसानों की दशा सुधारने हेतु स्वामिनाथन आयोग की रिर्पोट लागू कि और न ही किसानों कि कोई सुध ली। इसके विपरीत धान की फसल में नमी बताकर किसान की फसल का समर्थन मुल्य से कम भुगतान कर किसानों के साथ ठगी क ी और दुसरी तरफ नरमें की मार्कि ट फीस बढ़ाकर कोटन जिनर्स मिलों के साथ भी धोखा धड़ी की। हरियाणा सरकार ने किसानों पर जुल्म ढहाने के लिए व बीमा कम्पनियों को फायदा पहुचाने के लिए जबरदस्ती प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लागू कर दी। जिसमें एक गांव को इकाई बनाया गया जिससे कि किसानों की फसल बर्वाद होने पर उनकों मुआवजा न मिल सकें। इसके साथ-साथ किसानों पर अत्याचार करने हेतु हरियाणा सरकार ने किसानों पर खेतों में धान की पराली जलाने पर जुर्मना लगाने व केस दर्ज करने की नई प्रणाली लागू कर दी। यह बात सिरसा के विधायक मक्खन लाल सिंगला ने प्रैस के नाम जारी एक ब्यान में कही। विधायक सिंगला ने कहा कि हरियाणा सरकार क ो चाहिये कि किसानों से जुर्मना वसुलने सेपहले पराली प्रबन्धन हेतु कोई ठोस योजना लेकर आये। जिससे कि किसानों को धान की पराली जलाने से राहत मिल सकें  और उन्हें अपने हक ों के लिए बार-बार धरने प्रर्दशन न करने पड़ेे।
गुडग़ांव में शुरू हुआ ताऊ देवीलाल स्वर्णिम हरियाणा वालीबॉल महोत्सव, इनेलो नेता गोपी चंद गहलोत ने किया शुभारंभ


गुडगाँव, 22 अक्टूबर: दक्षिण हरियाणा के गुडग़ांव, रेवाड़ी, पलवल, फरीदाबाद, मेवात व महेन्द्रगढ जिलों की वालीबॉल  टीमों की प्रतियोगिता का आयोजन गुडग़ांव के सैक्टर 34 स्थित डी0पी0जी0 कॉलेज में किया गया। जिसका शुभारंभ वरिष्ठ इनेलो नेता, पूर्व डिप्टी स्पीकर एंव हरियाणा वालीबॉल एशोसिशन के प्रदेश अध्यक्ष गोपीचन्द गहलोत द्वारा रिबन काटकर किया गया। इस अवसर पर श्री गहलोत ने हरियाणा प्रदेश के खिलाडिय़ों द्वारा ओलम्पिक खेलों में किये गये शानदार प्रदर्शन की बधाई देते हुए कहा कि हरियाणा निर्माता जननायक ताऊ देवीलाल व पूर्व मुख्यमंत्री चौ0 ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में खेलों व खिलाडिय़ों को प्रोत्साहित करने के लिए अनेक नीतियों व योजनाओं का निर्माण किया गया जिसके कारण आज हरियाणा के खिलाडिय़ों ने देश ही नहीं अपितु अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर देश व प्रदेश का नाम रोशन किया। 


प्रतियोगिता में पहला मैच गुडग़ांव व फरीदाबाद की टीम के बीच हुआ। प्रतियोगिता में निर्णायक की भूमिका ऋषिपाल धनखड़, रामसिंह, रमेश बूरा, रामवतार यादव ने निभाई। प्रतियोगिता की प्रायोजक रिपब्लिक ऑफ स्पोटर्स कम्पनी की ओर से आशीष कण्डवाल व राजीव चौधरी ने बताया कि कम्पनी का उददेश्य वालीबॉल को बढावा देने के लिए शहर शहर व गांव गांव जाकर इस तरह की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है जिससे खेलों की दुनियां में वालीबॉल भी अन्य खेलों की तरह ख्याति प्राप्त कर सके। आज की प्रतियोगिता में मार्केट एप्प, नाईस स्प्रे, स्पोटर्स लाईव आदि अन्य प्रायोजित कम्पनियों ने भी हिस्सा लिया। इस प्रतियोगिता का समापन 23 अक्टूबर को सायं 3 बजे फाईनल मैच के साथ होगा जिसमें मुख्यातिथी विधायक जाकिर हुसैन होंगे। इस अवसर पर विष्णुदत शर्मा, रमेश दहिया, राजेन्द्र गहलोत चेयरमैन, शमशेर कटारिया, भूपेन्द्र सुखराली, अटलबीर कटारिया, नरेश कटारिया, सतपाल गाड़ौली, कृष्ण गोपाल बन्धु, एस0एस0 बोकन प्रिंसिपल, अमरीक राठी, अनिल नम्बरदार, अजय शोकीन, दीपक गहलोत, सुनील ठाकराण, सुरेन्द्र गहलोत, राजेश त्यागी, राकेश डबास, पवन राघव, बिजेन्द्र गहलोत, ओमप्रकाश इण्डरी, पवन धनकोट व महेश सहित अनेक खेल प्रेमी व खिलाड़ी उपस्थित थे।
दुष्यंत ने दिए नरवाना के बीडीपीओ को चार्जशीट करने के निर्देश



जींद, 22 अक्टूबर : नरवाना हलके के गांव कर्मगढ़ में सांसद के आदेशों की अवहेलना कर बिना मंजूरशुदा सड़क बनाने के मामले में  डिस्ट्रिक्ट डवेलपमेंट कॉर्डिनेशन एंड मानिटरिंग कमेटी(दिशा) के को-चेयरमैन एवं हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने नरवाना के तात्कालिक बीडीपीओ को चार्जशीट करने के आदेश दिए हैं। इसके अलावा नगर पालिका उचाना के सचिव को भी स्वच्छ भारत मिशन की रिपोर्ट कमेटी में न सौंपने के कारण उनके खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी करने के भी आदेश दिए हैं। दिशा की मीटिंग से गैर हाजिर रहने वाले अधिकारियों के प्रति भी कड़ा रूख अपनाया गया और अगली बैठक में न आने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। दिशा की बैठक शनिवार को जिला परिषद परिसर में बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में दिशा के चेयरमैन व सोनीपत से सांसद रमेश कौशिक, सिरसा से सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी, इनेलो विधायक डा. हरिचंद मिढ़ा, विधायक परमिंद्र ढुल, जिला उपायुक्त विनय कुमार, एडीसी आमना तसनीम सहित जिले के अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 
बैठक में सिरसा के विधायक चरणजीत सिंह रोड़ी ने कर्मगढ़ गली बनाने की मंजूरी प्रदान की थी परन्तु नरवाना के बीडीपीओ व अन्यों ने मिलकर कोई ओर गली का निर्माण कर दिया। सांसद ने इस मामले में संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने का मुद्दा उठाया। को-चेयरमैन दुष्यंत चौटाला ने इस मामले में तात्कालिक बीडीपीओ सहित इस मामले के जिम्मेवार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। 
मीटिंग में को-चेयरमैन ने बताया कि उन्हें नगरपालिका उचाना के कुछ पार्षदों ने लिखित में शिकायत दी है कि उचाना नगर पालिका में करीब दो करोड़ रूपये का हेरफेर हुआ है। जिला उपायुक्त ने पार्षदों की शिकायत पर तुरंत कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। 
बैठक में उचाना मंडी में सार्वजनिक शौचालय बनाने का मामला भी उठा। सांसद दुष्यंत चौटाला ने निर्देश दिए कि अगली बैठक से पहले अनाजमंडी में स्वच्छ भारत मिशन के तहत सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण होना चाहिए। दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत किए जाने वाले बिजली निगम के कार्यो की विस्तृत रिपोर्ट दो दिन के भीतर जिला उपायुक्त कार्यालय को भेजने के निर्देश दिए। सांसद दुष्यंत चौटाला ने इस बात पर बड़ी हैरानी जताई कि राष्ट्रीय धरोहर योजना जींद जिले में लागू नहीं है। उन्होंने निर्देश दिए कि जींद जिले में रानी तालाब , पांडू पिंडारा, रामराय जैसे कई धरोहर हैं जिन्हें इस योजना में शामिल करने के लिए केंद्र एवं प्रदेश सरकार को तुरंत लिखा जाए। 
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को लेकर बैठक में काफी जवाबतलबी की गई। बीमा योजना को लेकर अधिकारी किसान के नुकसान के लिए अपनाए जाने वाले नियमों के बारे में कोई स्पष्ट जवाब नहीं दे पाए। सांसद दुष्यंत चौटाला ने संबंधित विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि दो दिन में फसल बीमा से जुड़ी तमाम जानकारी एडीसी कार्यालय की मार्फत उन तक पहुंचाएं। को-चेयरमैन दुष्यंत चौटाला द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में बताया गया कि जींद जिले में 50 हजार 265 किसानों की फसल का बीमा किया गया जिसमें से केवल 595 किसानों ने ही स्वेच्छा से बीमा करवाया। किसानों से अकेले जींद में 11 करोड़ 28 लाख रूपये से अधिक की राशि किसानों से वसूल कर बीमा कंपनी के खातों में डाली गई है। 
दिशा की बैठक में आज सांसद दुष्यंत चौटाला ने बीएसएनएल का एसएसए जींद से शिफ्ट न होने का मुद्दा उठाते हुए कहा कि यदि यहां से यह कार्यालय सोनीपत शिफ्ट हो गया तो जींद के लोगों को अपनी समस्याओं के समाधान के लिए सोनीपत जाना होगा। इसके लिए दिशा की बैठक में इस कार्यालय को सोनीपत शिफ्ट न करने का प्रस्ताव बना कर केंद्र सरकार के पास भेजने का निर्णय लिया गया। सांसद  दुष्यंत चौटाला ने बताया कि इस संबंध में उन्होंने हरियाणा बीएसएनएल के महाप्रबंधक के काफी समय पहले अंबाला में आयोजित बैठक में उठाया था।
सांसद आदर्श गांव के तहत मखंड गांव में जलापूर्ति के लिए बिछाई जा रही पाइप लाइनों को लेकर सांसद दुष्यंत ने अधिकारियों से जवाब तलब किया। उन्होंने पाइप लाइन बिछाने का जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए ताकि गांव की गलियों को पक्का किया जा सके। 
गांव छातर व आसपास के गांवों से जींद आने वाले विद्यार्थियों के लिए बस की सुविधा का मामला भी बैठक में सांसद दुष्यंत ने उठाया और उन्होंने इस रूट पर विशेष बस चलाने के निर्देश दिए। 


11 दिसंबर को कैथल में महर्षि बाल्मीकि जयंती के उपलक्ष्य में विशाल जनसभा आयोजित करेगा इनेलो एससी सैल- अशोक अरोड़ा



कुरुक्षेत्र, 22 अक्तूबर : इनेलो अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ की कुरुक्षेत्र में आयोजित प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में 11 दिसंबर को कैथल में महर्षि बाल्मीकि जयंती मनाने का निर्णय लिया गया। इसके अलावा फरवरी मास में गुरु रविदास जयंती और जून के मास में कबीर जयंती भी प्रकोष्ठ द्वारा मनाने का फैसला इस बैठक में लिया गया। 
बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी देते हुए इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा तथा अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ  के प्रदेश संयोजक बलदेव बाल्मीकि ने बताया कि महापुरुष किसी एक जाति विशेष के नहीं होते, इसलिए सबको मिलकर महापुरुषों की जयंती मनानी चाहिए। इनेलो ने डा. भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती भी पूरे प्रदेश के हलकों में सद्भावना स मेलन आयोजित करके मनाई और 25 सितंबर को करनाल में विशाल रैली आयोजित करके जननायक चौ देवीलाल व डा. भीमराव अंबेडकर की जयंती संयुक्त रूप से मनाई गई। पार्टी के इस प्रयास की पूरे प्रदेश में ही नहीं बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर भी सराहना की गई है। 


बैठक को संबोधित करते हुए पार्टी प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि सत्ता में जाने का रास्ता दलित और पिछड़े वर्ग के सहयोग से ही होकर जाता है। चौ देवीलाल और चौ ओमप्रकाश चौटाला ने दलित व पिछड़े वर्ग को पूरा मान स मान दिया। चौ. देवीलाल ने सबसे पहले दलित और पिछड़े वर्ग के लोगों को सत्ता में भागीदारी देकर विधानसभा और संसद का दरवाजा दिखाया था। अरोड़ा ने दलित व पिछड़े वर्ग की मुक्तकंठ  से सराहना करते हुए कहा कि 25 सितंबर को करनाल में आयोजित रैली को सफल करने में दलित व पिछड़े वर्ग का अभूतपूर्व योगदान रहा है और अब कैथल में भी अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के बैनर तले महर्षि बाल्मीकि जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित जनसभा में भारी जनसमूह उमड़ेगा। उन्होंने प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में उपस्थित सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिए कि वे हलका स्तर पर बैठकें आयोजित करके इस कार्यक्रम की तैयारी में जुट जाएं। अशोक अरोड़ा ने बढ़ती महंगाई पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि महंगाई की सबसे  अधिक मार गरीब आदमी पर पड़ रही है। महंगाई चरम सीमा पर है। दाल के भाव आसमान को छू रहे हैं। विपक्ष में रहकर महंगाई पर शोर मचाने वाली भाजपा के नेता अब महंगाई बढऩे पर चुप्पी साधे हुए हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा के राज में जहां पूंजीपतियों की पूंजी बढ़ रही है, वहीं दूसरी ओर गरीब आदमी का कर्ज बढ़ रहा है। भाजपा के राज में कोई भी वर्ग सुरक्षित नहीं है। इस बैठक को प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक बलदेव बाल्मीकि, प्रदेश प्रभारी एवं पूर्व विधायक मामू राम गोंदर, पूर्व विधायक रमेश खटक, ईश्वर पलाका, इनेलो जिला प्रधान कुलदीप मुलतानी, इनेलो हलका प्रधान रणबीर किरमिच, साधू राम, चंद्रभान बाल्मीकि, डा जीत सिंह शेर, सोनीपत के जिला प्रधान हरिप्रकाश मंडल, रमेश लाली रतिया, अंबाला के जिला प्रधान इकबाल सुहाता, संदीप अजराना, महेंद्र कैंथला, मांगे राम बाल्मीकि सहित अनेक नेताओं ने संबोधित करते हुए अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ को मजबूत करने पर बल दिया।




बीरेंद्र सिंंह के खिलाफ चुनाव लडऩे को तैयार - दुष्यंत चौटाला



जींद : इनेलो के हिसार से युवा सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चौ. बीरेंद्र सिंह के खिलाफ पहले भी इनेलो ने चुनाव लड़ा है और आगे भी लडऩे को तैयार हैं। उचाना की जनता इनेलो के साथ है। उन्होंने कहा कि किसान के पास पराली जलाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। इनेलो की सरकार बनने के बाद किसानों के लिए योजना बनाई जाएगी ताकि वे पराली का इस्तेमाल कर सकें।
दुष्यंत चौटाला यहां इनेलो कार्यालय में इनेलो कार्यकर्ताओं की समस्याएं सुनने के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत कर रहे थे। चौटाला ने केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के सामने एक बार चुनाव लडऩे की इच्छा पर कहा कि हम उनके सामने पहले भी चुनाव लड़ते रहे है और आगे भी लड़ते रहे और केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह इच्छा पर पूरी तरह से उतरेंगे। किसानों पर पराली जालने पर किए जा रहे जुर्माने व मामले दर्ज करने पर सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसानों को पराली जलाने के लिए अलावा कोई आप्सन नहीं है। सरकार अपने आप को गऊसेवक बताती है इसलिए सरकार चाहिए कि गऊशाला में पराली को किसानों से डलवाना चाहिए और किसानों को प्रति ट्राली के हिसाब से एक हजार रुपये दे। इसके बाद देखना खेत में कही भी पराली दिखाई नहीं देगी। इनेलो की सरकार आने के बाद किसानों के लिए इस तरीके की योजना बनाई जाएगी। कुरुक्षेत्र के सांसद राजकुमार सैनी पर स्याही फैंकने वाले युवकों पर धारा 307 लगाने के मामले पर सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि युवकों पर धारा 307 लगाने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों की जांच करवानी चाहिए और गृहमंत्रालय मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर पर है, इसलिए कुरुक्षेत्र के एसपी से इसके बारे में स्पष्टीकरण मांगना चाहिए। बिना एलएमआर देखे ही धारा 307 लगाने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को तुरंत प्रभाव से सस्पेंड किया जाए। युवकों पर धारा 307 लगाने के पीछे प्रदेश के आपसी भाईचारे को खत्म करना था। इस मौके पर इनेलो के जिला प्रधान कलीराम पटवारी, विधायक परमेंद्र सिंह ढुल, डॉ. हरिचंद मिढ़ा, हलका प्रधान सुदेश चौपड़ा, भूपेंद्र जुलानी, दयानंद कुंडू, अशोक गोयल, कृष्णा बधाना, कृष्ण राठी, जिला प्रेस प्रवक्ता कृष्ण ढांडा, कुलदीप पिंडारा, युवा जिला अध्यक्ष विश्ववीर नंबरदार, हर्ष मित्तल, मौजी खान, बिजेंद्र रेढू, जिला पार्षद दिनेश डाहौला, नफे सिंह पूनिया, छबीलदास पातलान, जगबीर जांगड़ा, ईश्वर उझानिया, बलबीर राणा, प्रवीण बैनिवाल, देवेंद्र लोहान, ईश्वर कंडेला, सोनू गुलिया, कृष्ण सिहाग, भवन गिरी, जिला इनेलो कार्यालय सचिव गुरदीप सांगवान भी मौजूद थे। 

Saturday, October 22, 2016

सांसद दुष्यंत चौटाला ने की पांच ई-रिक्शा देने की घोषणा 

हिसार, 22 अक्टूबर : गुरू जम्भेश्वर विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय में बाहर से पढऩे आने वाले विद्यार्थियों को अब अपनी कक्षाओं में पैदल चल कर नहीं जाना पड़ेगा। छात्राओं को अब गेट से कक्षाओं तक जाने के लिए सांसद दुष्यंत चौटाला ई-रिक्शा उपलब्ध करवाएंगे। दुष्यंत के इस कदम से न केवल विद्यार्थियों को आवागमन की सुविधा मिलेगी बल्कि विश्वविद्यालय कैंपस को भी प्रदूषण रहित वातावरण की मुहिम को बल मिलेगा। सांसद दुष्यंत चौटाला ने इस महत्वाकांक्षी कदम के लिए अतिरिक्त उपायुक्त हिसार को पांच ई-रिक्शा उपलब्ध करवाने की प्रक्रिया शुरू करने के लिए पत्र लिख दिया है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने यह कदम उस समय उठाया जब पिछले दिनों गुजवि में गए और उन्होंने विद्यार्थियों को कई किलोमीटर दूर पैदल चलकर कक्षाओं में जाते देखा। उन्होंने वहां विद्यार्थियों से बातचीत की और उनकी इस समस्या के बारे में पूछा। इसके बाद सांसद ने गुजवि कैंपस में विद्यार्थियों के आवागमन के लिए ई-रिक्शा उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया। सांसद दुष्यंत चौटाला का कहना है कि सैंकड़ों विद्यार्थी दूर-दराज से क्षेत्रों से चल कर गुजवि में अध्ययन के लिए पहुंचते हैं और मुख्य द्वार से अपने विभागों तक पैदल चल कर पहुंचना पड़ता है। इससे न केवल विद्यार्थियों को परेशानी झेलनी पड़ती है बल्कि कई बार कक्षाओं में पहुंचने में देरी भी हो जाती है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने बताया कि इस संबंध में गुजवि कुलपति डा. टंकेश्वर से भी चर्चा हुई और उन्होंने भी माना कि गुजवि में छात्र-छात्राओं के लिए ई रिक्शा की जरूरत है। 
विदित रहे कि सांसद दुष्यंत चौटाला ने इससे पहले भी हिसार के सुंदर नगर वासियों की मांग पर एक ई-रिक्शा दे चुके हैं और वह पांच छह माह से सुचारू रूप से चल रही है और इससे सुदंर नगरवासियों वर्षाे पुरानी समस्या का समाधान हुआ था क्योंकि सुंदर नगर में आटो नहीं चलते थे जिसके कारण वहां के आम लोगों के साथ साथ बुजूर्गों व महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ता था। 

Friday, October 21, 2016

इनेलो ने शहर में किया रोष प्रदर्शन 


चरखी दादरी : शहर में बिगड़ी कानून व्यवस्था व व्याप्त अन्य दर्जनों जन समस्याओं को लेकर इनेलो की शहरी इकाई ने शुक्रवार को सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। दादरी हलके से इनेलो विधायक राजदीप फौगाट की अगुवाई में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने शहर में प्रदर्शन करते हुए सरकार का पुतला फूंका और स्थानीय एसडीएम को सीएम के नाम ज्ञापन सौंप। ज्ञापन के माध्यम से सरकार को अवगत कराया गया कि सभी समस्याओं का जल्द समाधान नहीं हुआ तो इनेलो जनता को साथ लेकर और आक्रामक आंदोलन को मजबूर होगी। प्रदर्शन से पूर्व शहर की मंगल मार्केट में इनेलो कार्यकर्ताओं ने रोष सभा की। सभा को संबोधित करते हुए विधायक राजदीप फौगाट ने कहा कि जब से भाजपा ने सत्ता संभाली है, विकास तो दूर शहर के जन समस्याओं से जूझ रहे हैं। इन दिनों विशेषकर कानून व्यवस्था का दिवाला पिटा हुआ है। दादरी शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में आए दिन लूटपाट, हत्या, मारपीट, चोरी, डकैती की घटनाएं हो रही हैं। स्थानीय प्रशासन मूकदर्शक बना है। आपराधिक घटनाओं में पीडि़त पुलिस न्याय के लिए थानों के चक्कर लगा रहे हैं और आरोपी सरेआम घूमते हैं।
ऐसे में सुशासन स्थापित करने के सरकारी दावे साफ झूठे दिखाई दे रहे हैं। सरकार एवं प्रशासन की नाकामी से आम जन में भारी रोष है। विधायक ने कहा कि इनेलो सरकार, प्रशासन की बेरुखी कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। जनहित की लड़ाई के लिए किसी भी आंदोलन से पीछे नहीं हटेगी। विधायक राजदीप ने कहा कि शहर व ग्रामीण आंचल के लोग असुरक्षा के माहौल में जी रहे हैं। आपराधिक तत्वों के हौसले बुलंद हैं। भाजपा सरकार लोगों को बिजली, पानी तक मुहैया करवाने में असफल रही है। दादरी शहर में पिल्लर बॉक्स लगाने के नाम पर पूरा-पूरा दिन बिजली गुल रहती है, जिससे जीवन कठिन हो गया है। शहर में मुश्किल से 10 और गांव में 5 घंटे ही बिजली मिलती है। कटों से पूर्व विभाग की ओर से कोई सूचना भी नहीं दी जाती। 
विधायक राजदीप ने कहा कि दो महीने बाद भी खेतों से बरसात का पानी नहीं निकाला गया है, जिससे खरीफ की फसलें पूरी तरह बर्बाद हो चुकी है और रबी फसलों की बुआई, बिजाई भी मुश्किल है। जिस कारण किसान दोहरी मार झेलने को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा किसान हितैषी होने का ढोंग करती है हकीकत ये है कि किसानों पर फसल बीमा योजना जबरन थोपी गई, आज बर्बाद फसलों का मुआवजा तो दूर गिरदावरी भी नहीं की जा रही। 
इनेलो कार्यकर्ताओं ने शहर के लाला लाजपतराय चौक, अनाज मंडी, रेलवे स्टेशन रोड, पुरानी अनाज मंडी रोड से होते हुए अंबेडकर चौक पर सरकार का पुतला फूंका। रोष जुलूस के रूप में कार्यकर्ताओं ने तहसील रोड होते हुए एसडीएम कार्यालय पहुंच कर नायब तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। कार्यकर्ताओं ने कानून व्यवस्था दुरुस्त करने, बर्बाद फसलों का मुआवजा देने, बिजली-पानी आपूर्ति सुचारु करने के साथ ही घुमंतू पशुओं से निजात दिलाने की मांग रखी। 
विधायक ने कहा कि सरकार आनन-फानन में आए दिन जन विरोधी फैसले ले रही हैं जो उस पर भारी पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि डेवलेपमेंट चार्ज के रूप में सरकार ने जनता पर अतिरिक्त आर्थिक बोझ डालने की योजना बनाई। सरकार की मंशा के खिलाफ और जनता के हित में केवल इनेलो ने ही सबसे पहले सरकार के फैसले का विरोध किया, मजबूरन सरकार को पीछे हटना पड़ा। विधायक ने कहा कि सरकार के किसी भी जन विरोधी फैसले को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। 
रोष प्रदर्शन में रामनिवास मिर्च, छतर सिंह ढाणी, नितिन जांघु, राजेश फौगाट, मनोज वर्मा, आनंद कुमार, बबलू श्योराण, जयसिंह लांबा, राजेश पूर्व पार्षद, शशि शर्मा, सुभाष डावरा, रामोतार सोनी, कुलदीप चरखी, राकेश कलकल, नंदकिशोर बेरीवाला, सुरेश बहुवाला, रमेश वर्मा, मनफूल शर्मा, सत्यवान फौजी, नवल सैनी, राजेंद्र सैनी, आशीष सैनी, संजय साहू, शकुंतला श्योराण, राजेश खन्ना, ऋषिपाल आचार्य, सचिन फौगाट, साहिल फौगाट, देवेंद्र बिगोवा, अमरजीत सोनी, सुरेंद्र पैंतावास, रामोतार मिर्च, रणबीर रावलधी, प्रवीन रावलधी, भूपेंद्र सनवाल, सुरेंद्र कालूवाला, राजेश सरपंच, हरिसिंह साहब, आशीष निमड़ी, ईश्वर खटक, बबलू चौधरी, विष्णु वाल्मीकी, सतपाल वर्मा, नवीन झींझर, सतबीर लखेरा, अजीत मैनेजर, सतबीर फौगाट, अनूप कमोद, डा. विजय, बाबूलाल अचीना, अनूप डूडी, राजमल भागवी, कश्मीर सरपंच, प्रकाश सरूपगढ़, राकेश बौंद, वीरेंद्र बौंद, पंकज गुर्जर, लाला रणकौली, पवन शर्मा सांवड़, सुखबीर मिर्च, रजनीश नंबरदार, राकेश डोहकी, रणबीर अटेला, रवींद्र तक्षक इत्यादि शामिल थे। 

सरकार खुद मानती है कि फसलों पर किसान का लागत मूल्य एमएसपी से कहीं ज्यादा है: नेता प्रतिपक्ष
 


चंडीगढ़, 21 अक्टूबर: इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला और प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने प्रदेश सरकार द्वारा धान की पराली जलाने पर किसानों को तीन हजार रुपए प्रति एकड़ जुर्माना लगाए जाने के फैसले को किसान विरोधी बताते हुए सरकार से तुरंत ये फैसला वापिस लिए जाने और जिन किसानों से अब तक जुर्माना वसूला गया है उन्हें उनकी रकम वापिस लौटाए जाने की मांग की है। नेता प्रतिपक्ष ने शुक्रवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि उनकी पार्टी हालांकि पराली जलाए जाने की पक्षधर नहीं है क्योंकि इससे प्रदूषण होता है लेकिन सरकार जब तक किसानों को पराली काटने के लिए कोई सस्ता व वैकल्पिक प्रबंध मुहैया नहीं करवाती तब तक किसानों पर किसी प्रकार का जुर्माना नहीं लगना चाहिए। इनेलो नेताओं ने कहा कि एक तरफ तो किसानों को उनकी फसल का लागत मूल्य तो दूर न्यूनतम समर्थन मूल्य भी नहीं मिल रहा और दूसरी तरफ सरकार कोई किसानों को पराली कटाई की वैकल्पिक व्यवस्था उपलब्ध नहीं करवा रही और किसान की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि वे दस हजार रुपए प्रति एकड़ अपनी जेब से पराली कटाई पर खर्च करे। पत्रकार सम्मेलन में विधायक जाकिर हुसैन, पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी, आरएस चौधरी, एमएस मलिक, बीडी ढालिया, राम सिंह बराड़, एनएस मल्हान, अशोक शेरवाल व प्रवीन आत्रेय भी मौजूद थे। 
इनेलो नेताओं ने कहा कि विश्व के अनेक देशों में गेहूं व धान की पराली कटाई व उन्हें बांधकर गोदामों तक पहुंचाने के लिए अनेक प्रकार के आधुनिक मशीनें इस्तेमाल हो रही हैं लेकिन हरियाणा सरकार के पास ऐसी तीन मशीनों होने के बावजूद इनका कहीं इस्तेमाल नहीं हो रहा और बताया जा रहा है कि तीनों ही खराब चल रही हैं। इनेलो नेताओं ने कुरुक्षेत्र की डीसी द्वारा मुर्तजापुर की महिला सरपंच गुरप्रीत कौर को मात्र इसलिए निलम्बित कर दिया गया कि उसने गांव के किसी किसान द्वारा जलाई गई पराली की शिकायत पुलिस व प्रशासन के पास नहीं की। उन्होंने इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि गांव की महिला सरपंच का यह काम नहीं है कि वह खेत-खेत घुमकर यह देखे कि किसके खेत में पराली जलाई गई है और फिर उस मामले को लेकर पुलिस के पास चक्कर काटती रहे। उन्होंने उपायुक्त के आदेशों को निर्वाचित प्रतिनिधियों के लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन बताते हुए कहा कि सरकार आए दिन बे सिर-पैर के फरमान जारी करती रहती है जिससे लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ती है। 
इनेलो नेताओं ने कहा कि पिछले चुनाव के समय भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने तीन दर्जन सभाओं में कहा था कि भाजपा की सरकार बनते ही स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू कर किसानों को उनकी लागत के साथ 50 प्रतिशत मुनाफा दिया जाएगा। हरियाणा के मौजूदा कृषि मंत्री व उस समय के भाजपा किसान प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ स्वामी नाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने की मांगों को लेकर कभी नंगे बदन प्रदर्शन करते थे और कभी साइकल यात्रा निकालते थे। उन्होंने केंद्रीय कृषि मंत्री के उस बयान की कड़े शब्दों में निदंा की जिसमें उन्होंने स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लेकर यह कहा था कि इस तरह के आयोग तो वैसे भी बनाए जाते हैं। इनेलो नेता ने कहा कि सरकारी एजेंसियां खुद मानती हैं कि आज गेहूं की फसल का लागत मूल्य 1974 रुपए है जबकि न्यूनतम समर्थन मूल्य मात्र1525 तय किया गया है। इसी तरह धान का लागत मूल्य सरकारी एजेंसियां 2074 रुपए मानती हैं लेकिन एमएसपी 1510 रुपए तय की गई है। सरसों का लागत मूल्य 4220 और एमएसपी मात्र 3350 रुपए है। बाजरा का लागत मूल्य 1530 और एमएसपी मात्र 1330 है। इसी तरह चने का लागत मूल्य 4698 रुपए और एमएसपी मात्र 3425 रुपए है। यानि किसान को उसकी किसी भी फसल का लागत मूल्य नहीं मिल पा रहा और किसानों का हमदर्द होने का ढोंग करने वाले लोग आज चुप्पी साधे हुए हैं। 
अभय चौटाला व अशोक अरोड़ा ने कहा कि प्रदेश सरकार के मंत्री नायब सिंह सैनी कहते हैं कि प्रदेश में छह स्थानों पर ऐसी कंटीन बनाई जाएगी जहां लोगों को 10 रुपए में पेटभर पौष्टिक आहार मिलेगा। इनेलो नेता ने कहा कि अब पूरे प्रदेश के लोग मात्र छह कंटीनों से कैसे काम चला पाएंगे, अगर सरकार इस मामले में गम्भीर है तो उन्हें हर गांव, कस्बे व वार्ड में ऐसी कंटीनें खोलनी चाहिए। इनेलो नेताओं ने भाजपा सरकार को किसान, मजदूर, कर्मचारी व व्यापारी विरोधी बताते हुए कहा कि सरकार डवलपमेंट चार्ज में की गई बेतहाशा वृद्धि को तुरंत वापिस ले और किसानों से लूटा गया पैसा उन्हें वापिस लौटाया जाए अन्यथा इनेलो प्रदेश के लोगों को साथ लेकर आंदोलन करने के लिए मजबूर हो जाएगी। हरियाणा सरकार द्वारा तीन नवम्बर को सेमिनार बुलाए जाने और चार नवम्बर को हरियाणा विधानसभा का विशेष सत्र बुलाए जाने संबंधी सवालों के जवाब में इनेलो नेताओं ने कहा कि उनकी पार्टी प्रदेश व किसानों से जुड़े हुए सभी मुद्दों को विस में प्रमुखता से उठाएगी। सवालों के जवाब में नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि कुरुक्षेत्र के भाजपा सांसद सहित सभी भाजपा नेताओं को हर समय इनेलो ही नजर आती है क्योंकि उन्होंने मान लिया है कि आने वाला समय इनेलो का है। उन्होंने कहा कि सांसद पर स्याही फैंकने वाले किसी व्यक्ति का इनेलो व इनके छात्र संगठन इनसो से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी का कानूनी प्रकोष्ठ इस मामले में मान हानि केस करने पर विचार कर रहा है। उन्होंने स्याही फैंकने वाले युवकों को मां-बहन की गालियां देने व पिटाई करने वालों के खिलाफ भी मामला दर्ज किए जाने की मांग करते हुए कहा कि इस मामले में किसी भी तरह से 307 का मामला नहीं बनता। उन्होंने कहा कि राजकुमार सैनी को भाजपा व आरएसएस की शह है और आरएसएस के एजेंडे पर भाजपा सरकार प्रदेश के भाईचारे को तोडऩे और आपसी सद्भाव को बिगाडऩे में लगी हुई है।
इनेलो नेताओं ने नमी को लेकर किसानों को आ रही दिक्कतों पर कहा कि सरकार बिना कोई कटौती नमी की मात्रा बढ़ाकर 22 प्रतिशत करे और शैलरों से लिए जाने वाले चावल की मात्रा 67 किलो से घटाकर 64 किलो की जाए जिससे किसानों की परेशानियां अपने आप दूर हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि आज पड़ौसी प्रदेश पंजाब सहित अनेक राज्यों में कृषि आयोग बने हुए हैं और दो साल पहले तक हरियाणा में भी डॉ. परोदा कृषि आयोग के अध्यक्ष थे। पिछले दो सालों से आयोग का पद मात्र इसलिए खाली है क्योंकि सरकार ने बाकी सब जगह तो आरएसएस के लोग बिठा दिए लेकिन कृषि आयोग में आरएसएस का एजेंडा लागू करने वाला उन्हें अभी कोई तथाकथित किसान नहीं मिल रहा। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि हरियाणा में भाजपा सरकार बनने के बाद प्रदेश में लावारिश पशुओं की संख्या बढ़ी है और रात को होने वाली दुर्घटनाओं को रोकने के लिए लोगों ने इन पशुओं के गले में रिफलेक्टर लगाने शुरू कर दिए हैं। दूसरी तरफ इस दौरान हरियाणा में बाहरी लोगों का दखल भी निरंतर बढ़ रहा है और बाहरी लोगों के दखल से प्रदेश को नुकसान हो रहा है। इनेलो नेताओं ने कहा कि हरियाणा के किसानों के खेत पंजाब के किसानों के साथ लगते हैं लेकिन पंजाब में नमी के नाम पर कोई कटौती नहीं हो रही जबकि हरियाणा में हर किसान की फसल को कटौती करके ही खरीदा जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री प्रदेश के निर्वाचित प्रतिनिधि की तरह नहीं बल्कि शैलर मालिकों के प्रवक्ता की तरह बात करते हैं और उन्हें लोगों के दुख-दर्द से कोई लेना देना नहीं है।

Thursday, October 20, 2016

भिवानी के गांव अटेला में ताऊ देवीलाल स्वर्णिम हरियाणा वालीवाल प्रतियोगिता का दुष्यंत ने किया उद्घाटन


भिवानी, 20 अक्तूबर: इनेलो सांसद ने इस के अलावा भिवानी जिले के गांव अटेला में बालीबाल प्रतियोगिता का उदघाटन किया और खेलों व खिलाडिय़ों को देश व प्रदेश का नाम रौशन करने और नशों से दूर रहने का आह्वान किया। भिवानी जिले के गांव अटेला में ताऊ देवीलाल स्वर्णिम हरियाणा बॉलीवाल महोत्सव का आयोजिन किया गया है जिस पर इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला मुख्यातिथि थे। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हरियाणा के खिलाडिय़ों द्वारा किए गए शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि जननायक चौधरी देवीलाल व इनेलो प्रमुख चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में खेलों व खिलाडिय़ों को प्रोत्साहित करने के लिए बनाई गई खेल नीति के कारण ही आज हरियाणा ने देश ही नहीं बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश व राष्ट्र का नाम ऊंचा किया है। इस अवसर पर अनेक प्रमुख खिलाड़ी व इनेलो नेता मौजूद थे।


इसके अलावा इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला वीरवार को भिवानी एससी शहरी प्रधान रमेश भोरिया की माता के निधन पर शोक व्यक्त करने अंबेडकर कालोनी स्थित उनके निवास स्थान पर पहुंचे। रमेश भोरिया की माता जी गिंदोड़ी देवी का लंबी बिमारी के चलते सोमवार को 55 वर्ष की आयु में निधन हो गया। इनेलो सांसद ने पीडि़त परिवार को सांत्वना देते हुए ढांडस बंधाते हुए कहा कि गिंदोड़ी देवी सामाजिक, धार्मिक व मिलनसार प्रवृत्ति की महिला थी। उनके आकस्मिक निधन पर समस्त इनेलो गहरा दुख प्रकट करती है। शोक व्यक्त करने वालों में उनके साथ जिला प्रधान सुनील लांबा, जितेंद्र शर्मा, बलदेव सिंह घणघस, कुलवंत कोटिया, सुधीर सरपंच, राजू मैहरा, बल्लू बामला, अशोक सिहाग, प्रदीप खरकिया, होशियार सिंह थानेदार, मा. रणधीर सिवाड़ा, अनील काठपालिया, प्रदीप गोयल, सुंदर मोडा, मनोज ठाकुर, जगदीश धनाना, प्रेम धनाना, राजबीर तालू, फोरड़ धनाना, मनमोहन भूरटाना व विशाल बामला आदि ने शोक व्यक्त किया।
कीर्ति दहिया व अन्जू कश्यप ने जिले का नाम किया रोशन


सोनीपत 20 अक्तूबर: थर्ड इण्डो भूटान ग्रामीण खेल प्रतियोगिता में सोनीपत जिले की कीर्ति दहिया व अन्जू कश्यप ने गोल्ड जीत कर जिले का नाम रोशन किया। 15 से 17 अक्तूबर तक चली अन्डर 17 प्रतियोगिता में भूटान स्थित फलसीग शहर में 400 मीटर रेस में खाण्डा निवासी आठवी कक्षा की छात्रा कीर्ति दहिया ने गोल्ड व दसवीं कक्षा की छात्रा अन्जू कश्यप ने 200 मीटर में गोल्ड जीता। विजेता खिलाडियों का सोनीपत रेलवे स्टेशन पर सैकड़ो ग्रामीणों ने भव्य स्वागत किया। इस मौके  पर इनेला  पार्टी के जिलाध्यक्ष एवं रोहट हल्का से पूर्व  विधायक पदम सिंह दहिया ने विजेता खिलाडियों को बधाई दी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। दहिया ने कहा ईमानदारी और मेहनत से जो खिलाडी आगे बड़ता है उसे कामयाबी जरूर मिलती है। दहिया ने कोच राजेश जाहरी को भी बधाई दी।
इस मौके पर अशोक राणा, फुलकुवार चौहान, रोहताश दहिया, बाहरे का प्रधान मा. राजेन्द्र, सैक्टरी प्रदीप कटारिया, कृष्ण पहलवान खाण्डा, सरपंच अतर सिंह, रणबीर सिंह, लख्मीचंद, रामकुमार खांडा, रमेश मलिक, विशाल सचदेवा, सुरजीत कादियान, अमित सहरावत, नरेन्द्र सिंह, रणधीर सिंह, बलवान सिंह, कैप्टन गहलावत, रामकुमार देशवाल आदि मोजूद थे। 
डेवलपमेंट चार्जिज की दरों में बेहताशा वृद्धि ने तोड़ी गरीब की कमर - गोपीचंद गहलोत 


गुड़गांव 20 अक्तूबर।इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत ने वीरवार को गुडगाँव में एक पत्रकार सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा की पहले ही ईंट,पत्थर,रोड़ी,सरिया,लकड़ी तथा अन्य भवन निर्माण सामग्री की कीमते आसमान को छू रही है और वर्तमान में बेहताशा डेवेलपमेंट चार्जिज लगाकर शहरी आर्थिक रूप से कमजोर तथा मध्यवर्गीय परिवारों के लिए मकान बनाना एक सपना बन कर के ही रह गया।जहां सम्पति कर समाप्त करना तो दूर,सरकार के शहरी स्थानीय निकाय विभाग ने दिनाक 04 अक्तूबर 2016 को आदेश जारी करके रिहायशी मकानों तथा प्लाटो पर डेवलपमेंट चार्जिज की दरे 120 रुपए प्रति गज से बढाकर 1000 /1250 रूपए और व्यवसायिक भवनों एवम प्लाटो पर 1000 प्रति गज से 2000 /2500 रूपए प्रति गज कर दिए है।उन्होंने कहा कांग्रेस के पिछले दस वर्षो के शासन काल में नगरपालिका,नगरपरिषद व् नगरनिगम के क्षेत्र में रहने वालो निवासियों को नागरिक सुविधाए देना तो दूर ए करो का बोझा लादने में कोई कसर नही छोड़ी।भाजपा के सत्ता में आने पर प्रदेश के शहरी निवासी यह उम्मीद कर रहे थे की कांग्रेस कांग्रेस द्वारा लगाए गए सम्पति कर को समाप्त कर देगी परंतु भाजपा और कांग्रेस दोनों मौसरे भाई निकले।हाउस टैक्स में  हुई अत्यधिक वृद्धि के बारे में उन्होंने बताया की साल 13 .14  को 162 करोड़  टैक्सए14-15 को 54 करोड़ और 15-16 में 385 करोड़ टैक्स अकेले गुडगाँव से वसूलने का काम मौजूदा सरकार ने किया।उन्होंने कहा की इनेलो पार्टी के साथ साथ भाजपा ने कांग्रेस द्वारा लगाईं जाने वाली सम्पति कर का विरोध किया था आज भाजपा सत्ता में आते ही डेवलपमेंट चार्जिज दस गुना बढ़ा दिया इस बड़े टैक्स से भाजपा का जनविरोधी चहरा उजागर हो गया। श्री गहलोत ने बताया की  हरियाणा स्वर्ण जयंती के अवसर पर हरियाणा के निर्माता जननायक ताऊ देवीलाल को समर्पित प्रदेश स्तरीय वालीबॉल प्रतियोगिता का आयोजन आज 20 अक्टूबर 2016 किया जा रहा।जिन ज़िलों में यह आयोजन हो रहे है उनमे भिवानी, हिसार, पंचकूला,रोहतक,कैथल,करनाल, गुडगाँव और करुक्षेत्र है।वही दक्षिण हरियाणा के  ज़िलों के  गेम जैसे फरीदाबाद,पलवल,मेवात,रेवाड़ी,महेंद्रगढ़ आदि 22 और 23 अक्तूबर को गुडगाँव के डीपीजी कॉलेज में आयोजित किये जा रहे है।इस अवसर पर विष्णुदत्त शर्माए राम सिंहएहरीश मालिकए ज़िला प्रवक्ता कपिल त्यागी,ऋषिपाल धनकड़,जितेंद्र पुवार,पवन धनकोट,विजय कार्टरपुरी,अजय पंडित आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।
सामाजिक भाईचारा सर्वोपरी, इसे बनाये रखना हमारा पहला फर्ज- दुष्यंत चौटाला


हिसार, 20 अक्टूबर : सभ्य समाज, देश व प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिए सामाजिक भाईचारा बेहद जरूरी है और इसे बनाये रखना बेहद जरूरी है। इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने इनेलो के वरिष्ठ नेता व ओड सभा के प्रदेश अध्यक्ष तारा चन्द हंसु के आवास पर ओड समाज के गणमान्य लोगो से बातचीत करते हुए यह बात कही। सांसद दुष्यंत तारा चन्द ओड की पत्नी शीला देवी का कुशल अक्षेम पूछने के लिए आये थे जिन्हें पिछले दिनों ह्रदयाघात हुआ था। इस मौके पर सांसद चौटाला ने कहा कि मौजूदा प्रदेश भाजपा सरकार अपने चुनावी वायदों को एक तरफ रखकर केवल अपने राजनैतिक स्वार्थ पूर्ति के लिये समाज के आपसी भाईचारे के ताने बाने को तार तार करने में लगी है। बीजेपी का मकसद समाज को बाँटने का है ताकि लोग इसमें उलझे रहे और विकास के मुद्दों से उनका ध्यान भटकता रहे। समाज के गणमान्य व बुद्धिजीवी लोगो को आगे आकर बीजेपी की इन ओछी चालो के बारे में आम लोगो को जागरूक करना होगा। अगर ऐसा नही किया गया तो 36 बिरादरी का यह सामजिक भाईचारे का ताना बाना टूट कर तार तार हो जायेगा।
लोकतंत्र में जनता के द्वारा चुनी हुई सरकार का काम लोगो के विकास के लिए कार्य करना होता है, परन्तु बीजेपी सरकार ने अपने दो वर्ष के कार्यकाल के दौरान शहरों व गाँवों में भाई को भाई से लड़वाने की योजना बनाने के अलावा कुछ नही कर रही। उन्होंने सरकार के नारे सबका साथ, सबका विकास व हरियाणा एक हरियाणवी एक पर सवालिया निशान उठाते हुए कहा कि अगर बीजेपी की मंशा इन नारो को किर्यान्वित करने की होती तो दो साल के सरकार के कार्यकाल में समाज का प्रत्येक वर्ग खुशहाल होता। जबकि आज प्रदेश का हर वर्ग सरकार की उदासीनता का शिकार है। इस मौके पर  इनेलो जिला अध्यक्ष राजेंद्र लितानी, विधायक रणवीर गंगवा, अनूप धानक, शहरी अध्यक्ष सजन लावट, जिला प्रवक्ता एडवोकेट मनदीप बिश्नोई, युवा जिला अध्यक्ष अमित बुरा, ओड सभा के सचिव सीता राम, सह सचिव राम कुमार हाड़ा, बीमा कम्पनी के सेवानिवृत्त चीफ राम सिंह हंस, चरण दास तंवर, विजय मुंढई, राम लाल कुदावला, पूर्ण चंद, सोहन लाल, शेर सिंह ओड, देवेंद्र नलवा, पवन, संजय सुलखनी सहित  काफी संख्या में ओड समाज के गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Wednesday, October 19, 2016

इनेलो स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने के पक्ष में- दुष्यंत चौटाला


भिवानी, 19 अक्तूबर : पहले तो देश को गोरे अंग्रेजों ने लूटा और अब भाजपा के ये काले अंग्रेज देश की शक्ति किसान को आए दिन प्रताडि़त कर उनसे लगान वसूल कर रहे हैं। इनेलो धरती पुत्र किसान के पक्ष में हमेशा से रही है और स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करवाने के लिए इनेलो ने ही सबसे पहले पहल की थी। यह बात इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने भिवानी में किसानों के धरने को समर्थन देते हुए कही। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि आज 59 वें दिन तक पहुंचा यह किसानों का धरना एक इतिहास लिख रहा है। पहले 21 दिन बाढड़ा और अब 59 दिन भिवानी में धरने पर बैठे किसानों की आवाज को वह आगामी लोकसभा सत्र में संसद के अंदर फिर से उठाएंगे। इनेलो पहले भी विस से लेकर संसद तक किसानों की मांग को उठाती रही है, लेकिन दुख की बात है कि सत्ता में आने से पहले अर्धनग्र होकर घूमने वाले भाजपाई आज किसानों की सुध तक नहीं ले रहे हैं। स्वयं पीएम नरेंद्र मोदी ने हरियाणा की सभाओं में कहा था कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू किया जाएगा। लेकिन रिपोर्ट को लागू करने की बात तो दूर इन लोगों ने फसल बीमा योजना के रूप में काला कानून किसानों के ऊपर थोंप दिया। 
इनेलो सांसद ने कहा कि मंूग की फसल को बाड़ी की फसल दिखाकर फसल बीमा योजना में शामिल किया गया जोकि इन लोगों की पोल खोलती है। उन्होंने धरने पर बैठे हुए किसानों से हस्ताक्षर युक्त एक मांग पत्र भी देने को कहा। दुष्यंत ने कहा कि पीएम  मोदी जीओ की सीम पर विज्ञापन करते हुए तो नजर आते हैं लेकिन कभी उन्होंने धरतीपुत्र किसान के खाद बीज पर कभी प्रचार नहीं किया। व्यापारीकरण को बढ़ावा देने वाली यह सरकार कभी भी गरीब, दलित व किसान की नहीं हो सकती। 
इसी बीच दुष्यंत चौटाला ने हल्क ा बवानीखेड़ा के अनेक गांवों में कहा कि जननायक ताऊ देवीलाल ने अपने समय में चौ. चांदराम, रावविरेंद्र सिंह, पं. भगवत दयाल शर्मा जैसे लोगों को साथ लेकर स्वच्छ व आदर्श समाज की नींव रखी थी वहीं आज की भाजपा सरकार जात-पात, धर्म-मजहब, हिंदु-मुस्लिम को लड़वाकर समाज को बांटनें का काम कर रही है। इनेलो सांसद ने आज गांव निनाण, सरसा घोघड़ा, चांग, कालुवास व नाथुवास के ग्रामीणों को किया। इनेलो सांसद ने गांव निनाण की जोगी धर्मशाला के निर्माण के लिए 2 लाख रूपये, सिरसा घोघड़ा की पंचायती चौपाल के लिए 3 लाख रूपये के साथ चार दिवारी के निर्माण को मंजूरी दी वहीं गांव नाथूवास के शमशान घाट के लिए 5 लाख रूपये, कब्रिस्तान के लिए 2 लाख रूपये, गांव कालुवास की चौपाल के निर्माण की बात कही वहीं गांव चांग में साढे 5 लाख रूपये का बड़ा आर ओ देने की घोषणा की जिससे की ग्रामीण स्वच्छ पानी पी सके। इस दौरान सरकार पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि आज की भाजपा सरकार गोरे अंग्रेजों की तरह लगान वसुलती है जिसका उदाहरण प्रत्येक गांव से एक-एक लाख रूपये वसूलना है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि ग्रामीण आंचल का विकास और उनका दर्द इनेलो ही समझ सकती है। गांव देहात के लोगों का रहन सहन भाजपा सरकार को रास नहीं आता। इसलिए जब गांव डूब रहे थे तो सरकार के नुमायंदे यह कह कर पल्ला झाड़ गए की 51 प्रतिशत से उपर गांव डूबे हैं तो वे सर्वे करवाएंगे। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जब केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश नड्डा व दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल पर स्याही फैकी जाती है तो उन पर केवल 107-51 का मुकदमा दर्ज कर छोड़ दिया जाता है लेकिन भाजपा सांसद पर स्याही फैकने वाले युवाओं को धारा 307 लगवा कर सरकार ने उन्हें अपराधियों की श्रेणी में जोड़ दिया है जो की गलत है। इनेलो सांसद ने राजकुमार सैनी द्वारा इनसो के पदाधिकारी का नाम लेने पर उन्हें आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा सरकार को इस विषय में सीबीआई जांच करवानी चाहिए क्योंकि ये लोग केवल बेतुकी बातें करते हैं। इससे पहले भी प्रकाश कमेटी की रिपोर्ट में स्वयं उनका नाम झुठा दर्ज किया गया था जिसके लिए बाद में सरकार को माफी भी मांगनी पड़ी थी। 
दुष्यंत चौटाला ने उपस्थित ग्रामीणों को करनाल रैली को सफल बनाने के लिए बधाई भी दी।
पक्षपात का रवैया अपना कर किसानों का आर्थिक शोषण कर रही है सरकार- दुष्यंत चौटाला


हांसी, 19 अक्टूबर: प्रदेश की जिन अनाज मंडियों में अधिकांश दुकाने भाजपा कार्यकर्ताओं की है, वहां सरकारी एजेंसियंा धान की खरीद फरोख्त कर रही है। जहां पर भाजपा कार्यकर्ताओं की दुकानें नाममात्र है, वहां धान खरीद में सरकारी एजेंसियंा कोताही बरत रही है। यह आरोप सांसद दुष्यंत चौटाला ने हांसी अनाज मंडी के दौरे के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए लगाए। उन्होंने कहा कि सरकार की इस कार्यप्रणाली से सिद्ध होता है कि वह पक्षपात का रवैया अपना कर किसानों का आर्थिक शोषण कर रही है। उन्होंने भाजपा सांसद पर स्याही डालने वाले लोगों पर धारा 307 लगाने की कार्रवाइ पर कहा कि यह धारा लगाना किसी भी दृष्टि से उचित नहीं है। अगर इन आरोपियों पर यह धारा लगती है तो इससे पूर्व जिन आरोपियों ने अन्य नेताओं पर स्याही उड़ेली है, उन पर भी धारा 307 लगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा आरएसएस से मिल कर भाईचारे को बिगाडऩे का कार्य कर रही है। इस दौरान उन्होंने धान की खरीद न होने के विरोध में भूख हड़ताल पर बैठे किसानों का हालचाल जाना। इस दौरान विरेन्द्र आर्य ने इनेलो सांसद को बताया कि आढ़ती मनमानी करके किसानों की मांगों को पूरा नहीं कर रहे। सांसद ने तुरंत उपायुक्त को फोन कर धान की सरकारी खरीद शुरू करवाने को कहा। 
इसी दौरान हिसार में सांसद दुष्यंत चौटाला ने विभिन्न गांवों की समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए संबंधित विभागों के अधिकारियों को इन समस्याओं को जल्द से जल्द हल करने के निर्देश दिए हैं। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अनेक गांवों में लोग मूलभूत समस्याओं से जूझ रहे और आए दिन उनके पास लोग अपनी शिकायतें लेकर पहुंच रहे हैं। इनेलो सांसद ने समस्याओं को हल करने के लिए उपायुक्त के माध्यम से संबंधित अधिकारियों को लिखित में भेजी हैं। हिसार आवास पर आज अनेक लोग अपनी समस्याओं को लेकर दुष्यंत चौटाला से मिले। गांव आलमपुर नियाणा की पंचायत की ओर से गांव में बालसमंद ब्रांच नहर से जलघर तक पक्का रास्ता बनाने की मांग की गई। गांववासियों का कहना है कि रास्ते का निर्माण होने से लोगों को तीन किलोमीटर अधिक नहीं चलना पड़ेगा। गांव बुगाणा प्रथम बस अड्डे से द्वितीय बस अड्डे तक सडक़ का निर्माण करवाने के लिए लोक निमार्ण विभाग को भी पत्र लिखा। पटेल नगर में रेलवे लाइनों के साथ वाली बस्ती के करीबन एक दर्जन घरों में शौचालय नहीं है। पटेल नगरवासियों ने इन घरों में शोचालयों का निर्माण करवाने की मांग की। 
दुष्यंत चौटाला ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत इन घरों में शौचालय बनाने को कहा है। इसके अलावा पटेल नगर की मुख्य बाजार की सडक़ बनाने व वाल्मीकि बस्ती में पानी व बिजली की भी मांग की गई। मॉडल टाउन स्थित राम समर्पण पार्क में फुटपाथ की मांग की गई। गांव राजली वासियों ने छात्राओं के लिए विशेष बस चलाने की मांग को महिला शिक्षा को बढ़ावा देने की दिशा में एक अच्छा कदम बताते हुए सांसद ने अधिकारियों के पास इस मांग को जल्द पूरा करने के लिए भिजवा दिया। राजली में बारिश के पानी भराव की गंभीर समस्या है। सांसद ने राजली में जल निकास का प्रबंध करने के निर्देश दिए। इसके अलावा मिर्जापुर के सरकारी स्कूलों में रंग-रोगन करवाने, सरसौद गांव में बिजली की नंगी तारों को हटवाने, गढ़ी गांव के  स्टेडियम की स्थिति सुधारने, भाटोल जाटान के शामलाती तालाब की चारदीवारी बनवाने व भीमराव अंबेडकर भवन का निर्माण करवाने, जीतपुरा में हरिजन बस्ती की गली बनवाने सहित अन्य मांगों को पूरा करने के लिए विभागों को भिजवा दिया।