Friday, January 29, 2016


बिजली बिलों की बढ़ोत्तरी के विरोध में उकलाना हल्के के कार्यकर्ताओं ने धरना दिया 


पंचकूला, 29 जनवरी : इंडियन नैशनल लोकदल के उकलाना हलका कार्यकत्र्ताओं ने मौजूदा विधायक अनूप धानक के नेतृत्व में बिजली के बिलों की वृद्धि को लेकर शक्ति भवन के सामने पूरा दिन धरना दिया और सत्ताधारी सरकार के खिलाफ अपना रोष प्रकट किया। इस मौके पर पूर्व विधायक जिलाध्यक्ष पंचकूला प्रदीप चौधरी, कुलभुषण गोयल, इनैलो के शासनकाल के योजनाओं की जमकर सराहना की।
इनैलो नेता अनूप धानक ने संबोधित करते हुए कहा कि अगस्त 2015 में भाजपा सरकार ने टयूब्वैल कनैक्षन के लिए नई तत्काल पोलिसी घोषित की, जिसके अनुसार जो भी किसान वेटिंग लिस्ट को नजरअंदाज करते हुए तत्काल कनैक्शन लेना चाहता है तो उसको अपनी तत्काल पोलिसी के साथ 1 लाख रूपया जमा करवाना पड़ेगा। परंतु एक लाख रूपये के अलावा उसको सरकार के सर्कूलर नंबर डी-12/2012 एवं सेलज सर्कूलर नंबर डी-16/2015 के अनुसार अन्य खर्चे भी जमा करवाने होगें, जिसका विवरण इसमें दर्ज नही किया गया है।


धानक ने धान खरीद के घोटाले बारे बोलते हुए कहा कि धान घोटाला 24 हजार करोड़ रूपये से ज्यादा का है और किसानों को इस वर्ष धान के लिए सरकार द्धारा न्यनत्तम समर्थन मुल्य 1450 रूपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया था, परंतु नमी के नाम का बहाना बनाकर 100-200 रूपये प्रति क्विंटल कम राशी का भुगतान किया गया, जो सरासर किसानों के साथ धोखा है। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त खरीददारों द्धारा धान के सरकारी खरीद एजेंसियों के नाम बनामी फर्मो से लाखों क्विंटल के बोगस बिल फर्म का स्टॉक पूरा करने के लिए प्राप्त किए है, जबकि हीककत में उनके व्यवसायिक स्थानों पर धान का स्टॉक उपलब्ध नही है। इस प्रक्रिया द्धारा एजेंसियों से राईस मिलर ने धान की खरीद की राशाी प्राप्त कर ली, जबकि घटिया किस्म का चावल किसी अन्य राज्य से प्राप्त करके सरकार को कुछ समय के बाद दिया जाएगा। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि 25 सित बर 2015 को बासमती धान की 1509 किस्म की खरी के समय खाद्य एवं पूर्ति निदेशालय द्धारा अपने सभी जिला अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि धान खरीद का रिकार्ड अलग रखा जाए परंतु 4 दिन बाद ही यादि कि 29 सित बर 2015 को पुन: यह निर्देश जारी कर किए कि इस धान की खरीद का रिकार्ड अलग रखने की आवश्यकता नही है। ये दोनों पत्र सरकार द्धारा राईस मिलर के बीच मिलीभगत को दर्शाते है। इनैलो प्रवक्ता ने बताया कि 30 जनवरी को भवानी खेड़ा हलका के कार्यकत्र्ता धरना देगें।

भाजपा ने की लोकतंत्र की हत्या , न्याय के लिए जनआंदोलन से लेकर कोर्ट तक जाएगी इनेलो



भिवानी 29 जनवरी : सुशासन की बात करने वाली बीजेपी ने स्वयं भ्रष्टाचार की एक जीतीजागती एक मिसाल जिला परिषद चुनाव के दौरान वार्ड 3 से धांधली करवाकर प्रस्तुत की है। मंत्री से लेकर संतरी तक इनेलो के उम्मीदवार के खिलाफ एकजुट हो गये तथा भारी धांधली करवाकर वार्ड 3 से गुज्डी लांज्यान को हरवाने का षडयंत्र रचा। इनेलो इस फैसले के  खिलाफ जनआंदोलन से लेकर कोर्ट तक जाएगी। यह बात स्थानीय देवीलाल सदन में इनेलो नेताओं द्वारा जिला परिषद प्रत्याशी गुडडी लांज्यान के समर्थन में प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए कहे। 
  इनेलो जिला अध्यक्ष सुनील लाम्बा, प्रदेश सचिव बलदेव सिंह घनघस, युवा जिला अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा, हलका अध्यक्ष कुलवंत कोटिया ने प्रैस कान्फ्रेंस को सम्बोधित करते हुए कहा कि समस्त इनेलो  गुडडी लांज्यान  के साथ है। उन्होंने कहा कि जब लगभग साढे 12 बजे बीएलओ द्वारा 99 वोटों से विजेता घोषित कर दिया गया था, लेकिन इसके बाद  लगभग 6 घण्टे बाद दोबारा से गलत आंकड़ों का हवाला देते हुए इनेलो की गुडडी लांज्यान के 95 मतों से हराना प्रशासन के उपर बीजेपी के मंत्रियों का दबाव साफ दिखाई दे रहा है। प्रत्याशी गुडडी लांज्यान ने कहा कि बीजेपी के स्थानीय विधायक बिशम्बर वाल्मीकि, शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा, मंत्री घनश्याम सर्राफ ने उन्हेंं बीजेपी समर्थित उम्मीदवार के खिलाफ हरवाने का षडयंत्र रचा है क्योंकि 6 घण्टे के बाद दोबारा से आंकड़ों का हवाला देना धांधली को साफ दर्शाता है।उन्होंने कहा कि जब वह विजयी घोषित की गई थी तो उन्होंने एसडीएम से  विजेता प्रमाणपत्र देने की बात कही तो उन्होंने कहा कि दो घण्टे बाद ऑनलाईन विजेता प्रमाण पत्र दे दिये जाऐंगे। गुडडी लांज्यान ने बताया कि जीतने के बाद उन्हें बीजेपी में शामिल होने का न्यौता भी दिया गया था लेकिन उन्होंने नकार दिया। परिणाम स्वरूप बीजेपी  सरकार व प्रशासन ने उन्हें हरवाने का काम किया है। 
जिला परिषद के वार्ड 3 के प्रत्याशी अर्चना, पूजा, मालती, रिंकी चांग, शर्मिला चांग, संगीता देवी, सुलेखा, सुरजमुखी आदि ने बताया कि पहले तो गुडडी लांज्यान को ही विजेता घोषित किया गया था लेकिन बाद में उन्हें अंदर भी नहीं घुसने दिया। सभी प्रत्याशियों ने दोबारा से चुनाव क रवाने की अपील प्रशासन से की वहीं उन्हेांने गुडडी लांज्यान को समर्थन देते हुए कहा कि यदि समय रहते हुए इस पर विचार नहीं किया गया तो जनआंदोलन किया जाएगा। जिसकी जवाबदेही स्वयं सरकार की होगी। 
इस अवसर पर उनके  साथ प्रदेश सचिव बलदेव सिंह घनघस, नवनिर्वाचित पार्षद नरेंद्र राज गागड़वास, जितेंद्र शर्मा, कुलवंत क ोटिया, भूपेंद्र बौंद, भूपेंद्र गोदारा, बिटटू खरक, विनय केलगां, तेजपाल सोलंकी, इंदू परमार, प्रेम महता चांग, बब्लू केलगां, सुंदर केलगां, अशोक केलगां, अशोक सिहाग, राजबीर सैन, बलबीर सैन सहित अनेक इनेलो कार्यकर्ता मौजूद थे। 
इनेलो समर्थित बनेगा जिला परिषद चेयरमैन

जींद :  इनेलो के जिला प्रधान एवं पूर्व विधायक कलीराम पटवारी ने कहा कि इस बार जिला परिषद चेयरमैन इनेलो समर्थित महिला बनेगी क्योंकि 26 में से 12 नवनिर्वाचित पार्षद इनेलो समर्थित चुनकर आए हैं।
कलीराम पटवारी ने कहा कि नरवाना से तीन, उचाना से चार, जींद से एक, जुलाना से दो तथा सफीदों हलके से दो उम्मीदवार इनेलो समर्थित हैं। कुल 26 में से 12 पार्षद इनेलो के हैं। चार-पांच और अन्य जिला पार्षद इनेलो के सम्पर्क हैं। इसलिए इस बार जिला परिषद चेयरमैन इनेलो का ही बनेगा। पटवारी ने कहा कि भाजपा की नीतियों से लोग पूरी तरह से तंग आ चुके हैं, इसलिए इनेलो समर्थित उम्मीदवारों को जनता ने जितने का काम किया है। पटवारी ने कहा कि इनेलो का मुख्य एजेंडा गांवों का विकास करवाना है और इसी कारण इनेलो समर्थित लोग चुनकर आए हैं। भाजपा के शासनकाल में अभी तक एक भी विकास कार्य नहीं हुआ है। इनेलो चेयरमैनी पद लेकर गांवों में विकास कार्य करवाएगी तथा भाजपा की जनविरोधी नीतियों को करारा जवाब देगी। 
रजबाहा नंबर तीन व चार की कैपेसिटी बढ़वाने को लेकर विधायक ढुल ने उपायुक्त को सौंपा मांगपत्र



जीन्द, 29 जनवरी : जुलाना से इनैलो विधायक परमेन्द्र सिंह ढुल ने हल्के के अंतर्गत आने वाले रजबाहा नंबर तीन व चार के नवीकरण को लेकर आज जिला उपायुक्त विनय सिंह से मुलाक़ात की। जिस बीच उन्होंने स्वयं तथा ग्रामवासियों की तरफ से जिला उपायुक्त के माध्यम से प्रदेश सरकार को नवीकरण से जुड़े सुझाव तथा मांगपत्र प्रस्तुत किया। जिला उपायुक्त के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमन्त्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए उन्होंने इस विषय पर और अधिक ढील न करते हुए शीघ्रतम उचित व्यवस्था तथा रजबाहों की टेल पर पानी पहुंचाए जाने की माँग की।
गौरतलब है की गत विधानसभा सत्र में बहस के दौरान सरकार ने जुलाना में सिंचाई व्यवस्था में सुधारीकरण की यथाशीघ्र जरूरत को स्वीकारा था तथा 40 करोड़ की राशि भी स्वीकृत की थी। जिसके फलस्वरूप रजबाहा नंबर तीन व चार का नवीनीकरण का कार्य शुरू होने की योजना बनाई जा रही है। इस विषय पर और अधिक जानकारी देते हुए विधायक ढुल ने कहा की उन्होंने मांग की है की रजबाहा नंबर तीन के दोनों किनारों को तीन-तीन फुट उपर उठाकर नवीकरण किया जाना चाहिए जिससे बढ़ायी जाने वाली क्षमता का भरपूर लाभ टेल पर लगने वाले गाँवों को मिल सके।  ऐसा हो सकने से शामलोकलां, शामलोखुर्द, पड़ाना, निडानी, रधाना, सिन्धवीखेड़ा, खरकरामजी, बहबलपुर, घिमाणा, बिशनपुरा, अनूपगढ़ आदि गाँवों को फायदा मिल सकेगा।
इसी के साथ साथ उन्होंने मांग की है की रजबाहा नंबर चार की क्षमता बढ़ाते हुए दोनों किनारों को या तो चार-चार फुट ऊंचा किया जाना चाहिए अन्यथा दोनों किनारों को एक-एक फुट और अधिक चौड़ा किए जाने की आवश्यकता है। ऐसा हो सकने से लखमीरवाला, पिण्डारा, रधाना, अशरफगढ़, किशनपूरा, बिरोली, बिशनपुरा आदि गाँवों को फायदा मिल सकेगा। उन्होंने जिला प्रशासन से क्षेत्र में सिंचाई व्यवस्था सुधारने तथा पानी की क्षमता को बढ़ाने के लिए हर सम्भव प्रयास किये जाने की मांग की। विधायक ढुल ने कहा की क्षेत्र का अधिकांश हिस्सा पानी की भयंकर कमी से झूझ रहा है। इस संदर्भ में पार्टी विधानसभा सत्र के माध्यम से क्षेत्र की जरूरतों को लेकर निरंतर प्रयासरत हैं तथा भविष्य में भी पूरी मज़बूती के साथ इन विषयों को प्रमुखता के साथ उठाती रहेगी।
इस अवसर पर उनके साथ कैप्टेन रणधीर चहल, गुरदीप सांगवान, देवेन्द्र मलिक आदि उपस्थित रहे।

Thursday, January 28, 2016

जिला परिषद व पंचायत समिति के चुनावों में इनेलो समर्थित उम्मीदवारों का बहुमत- लितानी

हिसार, 28 जनवरी : जिला परिषद व ब्लॉक समिति के चुनाव परिणामों में इनेलो उम्मीदवारों को मिली जीत ने यह सिद्ध कर दिया कि आज भी जनता का इनेलो की नीतियों में विश्वास कायम है। इनेलो ही जननायक चौधरी देवी लाल की नीतियों को सही मायने में लागु कर सकती है। इनेलो जिला अध्यक्ष राजेन्द्र लितानी ने जिला परिषद चुनाव परिणामों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि जिला परिषद हिसार के सभी 30 वार्डो में अधिकतर वार्डो में इनेलो समर्थित उम्मीदवारों की जीत हुई है। उन्होंने विजयी जिला पार्षदों को बधाई देते हुए कहा कि हिसार जिला परिषद में चेयरमैन निश्चित रूप से इनेलो का ही बनेगा। उन्होनें कहा कि इन चुनाव परिणामों ने बीजेपी को आइना दिखा दिया है। बीजेपी के वरिष्ठ मंत्री कैप्टेन अभिमन्यु के हलके में सभी जिला पार्षद इनेलो समर्थित विजयी हुए है। यहां तक की जिस वार्ड में मंत्री जी का पैतृक गांव खांडाखेड़ी है, उस वार्ड से भी युवा इनेलो नेता जस्सी पेटवाड़ लगभग 2300 वोटो से विजयी हुए है। वहीं बीजेपी के प्रदेश स्तरीय बड़े पदाधिकारी पवन खारिया को भी इनेलो उम्मीदवार के हाथों बुरी हार का सामना करना पड़ा। इसके अलावा पूर्व मंत्री व बीजेपी के हांसी विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार रहे प्रोफेसर छत्रपाल की धर्मपत्नी की उनके अपने गृह वार्ड से हुई 2800 से ज्यादा वोटों की हार ने भी बीजेपी को उसके धरातल से अवगत करा दिया है।
इनेलो नेता लितानी ने सरकार को चेताते हुए कहा कि बीजेपी ने जनता से जो वायदे किये थे, वे पूरा करे अन्यथा अब तक तो अब तक शांत जनता के सब्र का बांध टूटने लगा है। अगर अब भी सरकार ने जन समस्याओं की तरफ ध्यान नही दिया तो इनेलो जन सहयोग से एक बहुत बड़ा आंदोलन खड़ा करके सरकार को जनता से वायदे पुरे करने को मजबूर कर देगी।
सचिवालय के समक्ष आत्महत्या करने के मामले की हो न्यायिक जांच: अशोक अरोड़ा 

इनेलो ने प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति पर चिंता जताते हुए सरकार से इस ओर तुरंत ध्यान देने और लोगों की जानमाल की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कदम उठाए जाने की मांग की। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री अशोक अरोड़ा ने हरियाणा सचिवालय की पार्किंग में सोनीपत निवासी एक पूर्व सैनिक द्वारा जहर खाकर आत्महत्या किए जाने और पुलिस कर्मियों पर उसकी बेटी के साथ दुष्कर्म किए जाने के आरोपों को बेहद गम्भीर बताते हुए कहा कि सरकार को तुरंत इस पूरे मामले की उच्चस्तरीय न्यायिक जांच करवानी चाहिए और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने कुरुक्षेत्र में एक साधु व उसकी मुंहबोली बेटी की बीती रात हत्या किए जाने को भी एक बेहद गम्भीर मामला बताते हुए कहा कि प्रदेश में आए दिन हो रही हत्याएं, अपहरण व बलात्कार की निरंतर बढ़ रही घटनाएं न सिर्फ चिंताजनक हैं बल्कि प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति का भी मुंह बोलता प्रमाण है। उन्होंने इन घटनाओं की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि प्रदेश की पुलिस राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति को सम्भालने में पूरी तरह से विफल साबित हो रही है। 
इनेलो धरने का फरवरी महीने का कार्यक्रम भी घोषित: इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा बिजली के बिलों में की गई बेतहाशा वृद्धि के खिलाफ इनेलो की ओर से पिछले 66 दिनों से बिजली बोर्ड मुख्यालय के समक्ष क्रमिक धरना निरंतर जारी है और इसी कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए पार्टी ने फरवरी महीने में विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के इनेलो कार्यकर्ताओं द्वारा दिए जाने वाले धरने के कार्यक्रम को भी अंतिम रूप दे दिया गया है।
श्री अरोड़ा ने बताया कि पहली फरवरी को बवानीखेड़ा, 2 फरवरी को महम, 3 फरवरी बादली, 4 फरवरी कालांवाली और 5 फरवरी को बाढड़ा हलके के कार्यकर्ता बिजली बोर्ड मुख्यालय पर धरना देंगे। उन्होंने कहा कि 8 फरवरी को इसराना, 9 फरवरी नारनौल, 10 फरवरी तोशाम, 11 फरवरी रानियां, 15 फरवरी खरखौदा, 16 फरवरी फतेहाबाद, 17 फरवरी उचाना, 18 फरवरी बरवाला, 19 फरवरी ऐलनाबाद, 23 फरवरी आदमपुर, 24 फरवरी डबवाली, 25 फरवरी लोहारू और 26 फरवरी को नलवा विधानसभा क्षेत्र के इनेलो कार्यकर्ता बिजली दरों में की गई बढ़ौतरी वापिस लिए जाने की मांग को लेकर पंचकूला स्थित बिजली बोर्ड मुख्यालय शक्ति भवन के समक्ष धरना देंगे। इस धरने में पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता, कार्यकर्ता व स्थानीय नेता भी निरंतर शामिल होंगे।
भाजपा सरकार की नीति और नीयत में फर्क : माजरा, 66वें दिन जुलाना के कार्यकर्ताओं ने दिया धरना



भाजपा सरकार की नीति और नीयत में फर्क है, जिसके चलते आज प्रदेश का हर वर्ग भाजपा की केन्द्र और राज्य में सरकार बनाने के बाद पछतावा महसूस कर रहा है। उक्त बात इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सी.पी.एस रामपाल माजरा ने जुलाना हलका के कार्यकत्र्ताओं को शक्ति भवन के सामने धरनास्थल पर संबोधित करते हुए कहीं। जुलाना हलका का नेतृत्व मौजूदा विधायक परमिन्द्र सिंह ढुल्ल ने किया। इनेलो ने पंचकूला के शक्ति भवन के सामने आज 66वें दिन धरना दिया। धरने के माध्यम से हलका जुलाना की इनेलो इकाई ने आवाज बुलंद करते हुए बढ़ाए गए बिजली के रेटों को वापस लेने की मांग की। धरने को संबोधित करते हुए जुलाना से इनेलो विधायक परमेंद्र सिंह ढुल ने कहा कि भाजपा सरकार जनता की उम्मीदों पर खरा नहीं उतरी है। यह सरकार अब तक की सबसे कम समय में फेल होने वाली सरकार है। ढुल ने कहा कि भाजपा ने लोगों को चुनावों में गुमराह किया था। तब भाजपा बोलती थी कि 100 दिन के अंदर विदेशों में जमा काला धन वापिस लाया जाएगा और हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपए आएगा। आज 15 लाख तो दूर की बात बुजुर्गों को मिलने वाली बुढ़ापा पैंशन भी नहीं आ रही, जो जननायक चौधरी देवीलाल ने बुजुर्गों को सम्मान के लिए शुरू की थी। 
विधायक ने कहा कि भाजपा ने चार बार बिजली के दामों में वृद्धि करके लोगों की कमर तोडऩे का काम किया है। लोगों को बिना बताए अंदरखाते बिजली के दामों में वृद्धि की है। यह जनता के साथ घोर अन्याय है। उन्होंने कहा कि इनेलो पिछले 66 दिन से लगातार पंचकूला में बिजली निगम के कार्यालय के बाहर धरना दे रही है। यह धरना उस समय तक जारी रहेगा जब तक भाजपा बिजली के दामों में कटौती नहीं कर देगी। ढुल ने कहा कि आज किसान की हालत बहुत ही दयनीय हो चुकी है। एक तो मौसम की मार तथा दूसरे किसानों को अभी तक खराब हुई फसलों का मुआवजा भी नहीं मिला है। इस मौके पर विधायक रणबीर गंगवा, विधायक हरिचन्द मिड्ढा, पूर्व डीजीपी एमएस मलिक, पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी, कुलभूषण गोयल ने भी संबोधित किया और बिजली की कीमतें बढ़ाकर उन्हें अब वापिस न करने पर भाजपा सरकार की तीखी आलोचना की।


श्री माजरा ने कहा कि भाजपा सरकार जीरो-टोलरेस की चुनावों के वक्त बातें करती थी और आज खुद ही भ्रष्टाचार के जाल में फंसती जा रही है। उन्होंने कहा कि किसान के साथ सबसे ज्यादा भाजपा ज्यादत्ती कर रही है। किसानों के उत्थान के लिए ऐसी कोई योजना भाजपा नही बना पाई जिसका किसानों को फायदा पहुंच पाए, बल्कि किसान के साथ लूट की गई और किसानों और बिजली उपभोक्ताओं के हितों की लड़ाई के लिए दो महीने से ज्यादा समय  बीत गया और लगातार शक्ति भवन के सामने इनैलो अनिश्चितकालीन धरना देकर लगातार अपना विरोध जता रही है और धरना तब तक जारी रहेगा, जब तक भाजपा सरकार तीन गुणा बढ़ाए गए बिल वापिस लेकर बिजली उपभोक्ताओं को राहत देने काम नही करती।
श्री माजरा ने कहा कि जिस प्रकार से दिल्ली और बिहार में बीजेपी की बड़ी हार हुई है, उससे एक बात तो साफ है कि अब भाजपा अपना जनाधार खो चूकी है, झूठ और फरेब के नाम पर सत्ता हथियाने वाली भाजपा की अगले चुनावों में बड़ी हार होगी और आज हरियाणा प्रदेश में जनता के दिलों चौधरी ओमप्रकाश चौटाला पूरी तरह से अगली सरकार के मुख्यमंत्री के रूप में दिख रहे है। जुलाना के विधायक परमिन्द्र ढुल्ल ने भी कहा कि आज पूरे हरियाणा में विकास की हालत बहुत ही कमजोर हो चुकी है। भाजपा सरकार को सवा साल से ज्यादा हो गया, लेकिन न तो आज तक युवाओं को नौकरी देने का काम किया और न ही भाजपा अपने चुनावी वायदों पर खरी उतर सकी है। 
धरने को  विधायक हरिचन्द मिड्ढा, पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा, विधायक रणबीर गंगवा, राष्ट्रपति अवार्डी डॉ. संतोष दहिया, पूर्व विधायक सूरजभान काजल, प्रदेश कार्यालय सचिव सरदार नक्षत्र सिंह मलहान, पूर्व डीजीपी महेंद्र सिंह मलिक, धर्मबीर सिहाग, हलका प्रधान प्रताप लाठर, शहरी प्रधान पंडित विश्वनाथ शर्मा, कैप्टन रणधीर सिंह चहल, प्रेस प्रवक्ता आनंद लाठर, रणबीर पूनिया, महेंद्र सिंगला, नरेश भनवाला, राजेंद्र शास्त्री, जगबीर मलिक, मदन लाल धानक, रवि सरदार, सतीश नैन, कपिल पाथरी, जयपाल लौहान, देवेंद्र उर्फ डीके मलिक, सतबीर पाथरी, सुरेश बहबलपुर, रविंद्र ढुल, नरेश मलिक, रोहताश, संजीव बहबलपुर, राजू ढुल, रामकुमार मेहरड़ा, ओमप्रकाश ढांडा, मुकेश ढुल, बलवान बराह, अनिल पाथरी, सोनू गुलिया, जिला कार्यालय सचिव गुरदीप सांगवान ने भी संबोधित किया। इस दौरान पंचकूला जिला महासचिव जरनैल सिंह, पार्षद विनोद कुमार, जसबीर सिंह, नीरज भल्ला, बिटू रैली, कृष्ण अली सहित काफी संख्या में पदाधिकारी मौजूद थे।
जिला परिषद चुनावों में अधिकांश इनेलो व निर्दलीय प्रत्याशी विजयी हुए: अशोक अरोड़ा

 इनेलो ने दावा किया है कि जिला परिषद व ब्लॉक समिति चुनावों में ज्यादातर इनेलो समर्थित अथवा निर्दलीय प्रत्याशी चुनावों में विजयी हुए हैं और इनेलो समर्थित उम्मीदवारों का इन चुनावों में प्रदर्शन बेहद शानदार रहा है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने जिला परिषद व ब्लॉक समिति चुनावों में विजयी हुए इनेलो समर्थित व निर्दलीय प्रत्याशियों को जीत के लिए बधाई देते हुए कहा कि इन चुनावों में जहां कांग्रेस का सुपड़ा पूरी तरह साफ हो गया वहीं भाजपा के भी इक्के-दुक्के उम्मीदवारों को छोडक़र ज्यादातर भाजपा के कथित प्रत्याशी चुनाव हार गए हैं। उन्होंने भाजपा के दावों को पूरी तरह निराधार व खोखला बताते हुए उन दावों को पूरी तरह से खारिज कर दिया।
श्री अरोड़ा ने कहा कि सिरसा, हिसार, कैथल, पानीपत, सोनीपत, जींद, करनाल, पलवल, मेवात, भिवानी, कुरुक्षेत्र, गुडग़ांव, फतेहाबाद, रोहतक, झज्जर, यमुनानगर, अम्बाला व रेवाड़ी सहित प्रदेश के ज्यादातर जिलों से जिला परिषद चुनावों में सबसे ज्यादा इनेलो समर्थित प्रत्याशी विजयी हुए हैं और प्रदेश के ज्यादातर जिलों में जिला परिषद चुनावों में इनेलो अपने चेयरमैन बनाने का हर सम्भव प्रयास करेगी। इनेलो नेता ने कहा कि आज भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला किस मुंह से भाजपा उम्मीदवारों के चुनाव जीतने की बात करते हैं क्योंकि भाजपा तो चुनाव से पहले ही मैदान छोडक़र भाग खड़ी हुई थी। उन्होंने कहा कि इनेलो ने भाजपा व कांग्रेस को चुनौती दी थी कि वे जिला परिषद व ब्लॉक समिति चुनाव में अपने चुनाव चिह्न पर प्रत्याशी खड़े करे ताकि कांग्रेस व भाजपा को उसकी लोकप्रियता का वहम दूर हो सके। उन्होंने कहा कि उस समय तो भाजपा ने यह कहते हुए पंचायत चुनाव अपने चुनाव चिह्न पर लडऩे से और प्रत्याशी उतारने से इनकार कर दिया था कि ये चुनाव तो भाईचारा के चुनाव हैं। अब वे किस मुंह से भाजपा प्रत्याशियों के जीत का दावा करते हैं। 
इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार के बलबूते पर अपने चेयरमैन बनाने के ख्वाब देख रही है जो कि शायद ही कभी पूरे हो पाएं। उन्होंने कहा कि भाजपा अगर अपने प्रत्याशियों की जीत का दावा करती है तो उन्हें यह भी बताना चाहिए कि जीतने वाले उम्मीदवार भाजपा के कौन-कौन से पदाधिकारी हैं और भाजपा ने इन्हें कब चुनाव मैदान में उतारा था? उन्होंने कहा कि निर्दलीय प्रत्याशियों को सरकार के बलबूते भाजपा अपने प्रत्याशी दिखाने का मात्र दिखावा कर रही है। श्री अरोड़ा ने कहा कि इनेलो समर्थित जो प्रत्याशी भारी बहुमत से जिला परिषद चुनाव में विजयी हुए हैं वे ज्यादातर इनेलो के पदाधिकारी हैं और पार्टी में अहम पदों पर कई-कई सालों से तैनात हैं।

Wednesday, January 27, 2016

भाजपा की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ इनेलो ने की आवाज बुलंद


जींद : इनेलो ने पंचकूला के शक्ति भवन के सामने आज 66वें दिन धरना दिया। धरने के माध्यम से हलका जुलाना की इनेलो इकाई ने आवाज बुलंद करते हुए बढ़ाए गए बिजली के रेटों को वापस लेने की मांग की।
धरने को संबोधित करते हुए जुलाना से इनेलो विधायक परमेंद्र सिंह ढुल ने कहा कि भाजपा सरकार जनता की उम्मीदों पर खरा नहीं उतरी है। यह सरकार अब तक की सबसे कम समय में फेल होने वाली सरकार है। ढुल ने कहा कि भाजपा ने लोगों को चुनावों में गुमराह किया था। तब भाजपा बोलती थी कि 100 दिन के अंदर विदेशों में जमा काला धन वापिस लाया जाएगा और हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपए आएगा। आज 15 लाख तो दूर की बात बुजुर्गों को मिलने वाली बुढ़ापा पैंशन भी नहीं आ रही, जो जननायक चौधरी देवीलाल ने बुजुर्गों को सम्मान के लिए शुरू की थी। विधायक ने कहा कि भाजपा ने चार बार बिजली के दामों में वृद्धि करके लोगों की कमर तोडऩे का काम किया है। लोगों को बिना बताए अंदरखाते बिजली के दामों में वृद्धि की है। यह जनता के साथ घोर अन्याय है। उन्होंने कहा कि इनेलो पिछले 66 दिन से लगातार पंचकूला में बिजली निगम के कार्यालय के बाहर धरना दे रही है। यह धरना उस समय तक जारी रहेगा जब तक भाजपा बिजली के दामों में कटौती नहीं कर देगी। ढुल ने कहा कि आज किसान की हालत बहुत ही दयनीय हो चुकी है। एक तो मौसम की मार तथा दूसरे किसानों को अभी तक खराब हुई फसलों का मुआवजा भी नहीं मिला है। धरने को पूर्व विधायक सूरजभान काजल, प्रदेश कार्यालय सचिव सरदार नक्षत्र सिंह मलहान, पूर्व डीजीपी महेंद्र सिंह मलिक, धर्मबीर सिहाग, हलका प्रधान प्रताप लाठर, शहरी प्रधान पंडित विश्वनाथ शर्मा, डॉ. हरिचंद मिढ़ा, पूर्व मंत्री रामपाल माजरा, विधायक रणबीर गंगवा, राष्ट्रपति अवार्डी डॉ. संतोष दहिया, कैप्टन रणधीर सिंह चहल, प्रेस प्रवक्ता आनंद लाठर, रणबीर पूनिया, महेंद्र सिंगला, नरेश भनवाला, राजेंद्र शास्त्री, जगबीर मलिक, मदन लाल धानक, रवि सरदार, सतीश नैन, कपिल पाथरी, जयपाल लौहान, देवेंद्र उर्फ डीके मलिक, सतबीर पाथरी, सुरेश बहबलपुर, रविंद्र ढुल, नरेश मलिक, रोहताश, संजीव बहबलपुर, राजू ढुल, रामकुमार मेहरड़ा, ओमप्रकाश ढांडा, मुकेश ढुल, बलवान बराह, अनिल पाथरी, सोनू गुलिया, जिला कार्यालय सचिव गुरदीप सांगवान ने भी संबोधित किया।


Monday, January 25, 2016

इनेलो नेताओं ने दी गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं


चंडीगढ़, 25 जनवरी: इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला और प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस के शुभावसर पर हार्दिक बधाई एवं शुभ कामनाएं देते हुए उनसे गणतंत्र दिवस का यह पर्व जात-पात व धर्म-मजहब से ऊपर उठकर आपसी पे्रम-प्यार और भाईचारे से मनाने व सम्प्रदायिक सदभाव बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने प्रदेशवासियों से महान देशभक्तों व स्वतंत्रता सेनानियों के दिखाए रास्ते पर चलने और देश में लोकतंत्र को मजबूत बनाने व मिलजुलकर रहने का भी आह्वान किया।
पंचकुला धरने को लेकर इनेलो की बैठक आयोजित


उकलाना: इनेलो पार्टी के पंचकुला में चल रहे धरने की तैयारी के लिए उकलाना खंड के गांवों के इनेलो कार्यकर्ताओं की एक बैठक इनेलो जिलाध्यक्ष राजेंद्र लितानी व विधायक अनूप धानक की संयुक्त अध्यक्षता में उकलाना हलका विधायक अनूप धानक के आवास पर हुई। जिसमें पंचकुला में चल रहे धरने में उकलाना हलके के कार्यकर्ताओं द्वारा 29 जनवरी दिए जाने वाले धरने को लेकर विचार-विमर्श किया गया। जिलाध्यक्ष राजेंद्र लितानी ने कहा कि इनेलो पार्टी द्वारा किसानों को खराब हुई फसल का मुआवजा देने, बिजली के बढ़ाए गए दामों को वापस लेने सहित अन्य मांगों को लेकर पिछले कई दिनों से धरना दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 29 जनवरी को उकलाना हलके की ओर से पंचकुला में धरना दिया जाएगा। जिसमें उकलाना हलके से भारी संख्या में लोग पहुंचेंगे। विधायक अनूप धानक ने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे उकलाना हलके द्वारा 29 जनवरी को पंचकुला में दिए जाने वाले धरने में बढ़चढ़ कर भाग लें। इस मौके पर सुंदर बंसल, महेंद्र सोनी, कै. छज्जु राम, डा. होशियार ङ्क्षसह बिठमड़ा, डा. इकबाल, रणबीर ठेकेदार, विरेंद्र, मा. ठाकर चंद सहित अनेक इनेलो कार्यकर्ता मौजूद थे।


 ढाणियों के जगमग के लिए हिसार को मिले 20 करोड़ , सांसद दुष्यंत चौटाला ने लोकसभा में उठाया था मुद्दा


हिसार, 25 जनवरी :  हिसार लोकसभा क्षेत्र की ढाणियों को जगमग करने के लिए सांसद दुष्यंत चौटाला द्वारा किए जा रहे प्रयास रंग लाए हैं। केंद्र सरकार ने हिसार लोकसभा क्षेत्र के लिए 20 करोड़ 83 लाख रूपये की राशि मंजूर की है। यह राशि दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत आवंटित की है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने हिसार लोकसभा की हर ढाणी में लाईट पहुंचाने के लिए लोकसभा सत्र में मुद्दा उठाया था। इसके जवाब में केंद्रीय विद्युत मंत्री पीयूष गोयल ने सांसद दुष्यंत चौटाला को पत्र लिख कर सूचित किया है। 
दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के बतौर चेयरमैन के तहत सांसद दुष्यंत चौटाला ने हिसार लोकसभा के लिए करीब 190 करोड़ से अधिक की राशि का प्रस्ताव बना कर भेजा था। इसके बाद में 4 दिसंबर 2015 को सांसद दुष्यंत चौटाला ने लोकसभा में शून्यकाल के दौरान हिसार लोकसभा की ढाणियों में लाईट पहुंचाने का मुद्दा उठाया था। 
केंद्रीय विद्युत राज्यमंत्री ने सांसद दुष्यंत चौटाला को भेजे पत्र में कहा है कि भारत सरकार ने विभिन्न ग्रामीण विद्युतीकरण कार्यों के लिए 316 करोड़ 38 लाख रूपये की कुल परियोजना लागत से हरियाण में 21 परियोजनाएं स्वीकृत की हैं। इस स्वीकृत राशि में 20 करोड़ 83 लाख रूपये की राशि हिसार जिले के लिए स्वीकृत हैं। 
यहां बता दें कि सांसद दुष्यंत चौटाला हिसार लोकसभा की सभी ढाणियों में लाईट पहुंचाने के लिए काफी संजीदा हैं और उन्होंने सांसद निधि कोष से करोड़ों रूपये से ढाणियों में बिजली लगवाई है। ढाणियों में लाईट के लिए मंजूर किए कामों के एस्टीमेट जल्द से जल्द बनाने के लिए भी विद्युत निगम के अधिकारियों के साथ बैठक कर इनमें तेजी लाने को कहा था ताकि जरूरतमंद लोगों को जल्द से जल्द लाईट की सुविधा मिल सके। 
बीजेपी के सभी बड़े पदाधिकारियों को जनता ने पंचायत चुनाव में नकारा- लितानी

हिसार, 25 जनवरी : पंचायत चुनावों के तीसरे व अंतिम चरण में भी पहले दो चरणों की भांति जनता ने भाजपा के सभी पदाधिकारियों को नकार दिया। गांव के जागरूक लोगों ने भाजपा प्रतिनिधियों के अप्रत्यक्ष रूप से किये जा रहे लोक लुभावने वायदों की तरफ कोई ध्यान न देकर शांति बनाये रखने के साथ साथ अपने विवेक से अपने अपने गांव की सरकार को चुना। इसके लिए गांव की जनता बधाई की पात्र है। ये बात इनेलो जिला अध्यक्ष राजेन्द्र लितानी ने कही। आज यहां जारी एक बयान में इनेलो नेता ने कहा कि भाजपा के पदाधिकारियों ने जहां जहां भी प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से चुनाव लड़ा, वहीं उनको मुंह की खानी पड़ी। यहां तक की जिले के गांव कुलेरी में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के सगे साले की धर्मपत्नी चुनाव लड़ी और उसके लिए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वयं व उनका पूरा परिवार एड़ी चोटी का जोर लगा रखा था फिर भी उन्हें लगभग 450 वोटों से हार का सामना करना पड़ा। वहीं मंडी आदमपुर में भी मुख्य संसदीय सचिव व हिसार से भाजपा विधायक डॉ कमल गुप्ता की ममेरी बहन सरपंच का चुनाव लड़ रही थी, जिसको जिताने के लिए पुरजोर कोशिश की थी, परन्तु उन्हें भी बहुत बड़े अंतर से हार का मुंह देखना पड़ा। इससे पहले के चरणों में भी भाजपा के बड़े पदाधिकारी चुनाव हार चुके है। इनेलो जिला अध्यक्ष लितानी ने कहा कि अब जब भाजपा का कोई पदाधिकारी सरपंची का चुनाव नही जीत पाये तो भाजपा नेता नवनिर्वाचित सरपंचो को उनके गांव की विकास राशि रोकने का धमकी देकर अपने पास बुला रहे है या उनसे अपना सम्मान करवा रहे है। भाजपा की नियत तो शुरू से ही पंचायती राज व्यवस्था को तहस नहस करने की रही है, अब भाजपा नेताओ को पता है कि वे जनता का विश्वास खो चुके है तो वे इस तरह के ओछे हथकण्डे अपना रहे है। लितानी ने भाजपा सरकार को चेताते हुए कहा कि अगर भाजपा सच में प्रदेश का विकास चाहती है तो किसानों के हित के लिए स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करे तथा पिछले दिनों सफेद मक्खी से खराब फसलो का मुवावजा दे ताकि किसानों की दिन ब दिन बिगड़ रही आर्थिक हालत में सुधार हो सके। साथ ही साथ भाजपा ने युवा बेरोजगारों से जो 6000 व 9000 रुपए प्रति महीना बेरोजगारी भत्ता देने का वायदा किया था, उसे भी जिस दिन से भाजपा सरकार बनी उसी दिन से दे ताकि युवाओं को दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर न होना पड़े। सरकार के द्वारा अपने आप को जनहितैषी बताये जाने पर सवालिया निशान उठाते हुए लितानी ने कहा अगर सरकार को जनता की चिंता होती तो अब तक बढे हुए बिजली के रेट को वापस ले लेती तथा किसान को उसकी फसल का पूरी कीमत व खराब होने पर उसके नुक्सान की भरपाई भी करती।

Saturday, January 23, 2016

पंचकुला धरने को लेकर इनैलो की बैठक आयोजित



उकलाना: इनैलो पार्टी के पंचकुला में चल रहे धरने की तैयारी के लिए उकलाना हलके बरवाला खंड के गांवों की एक बैठक इनैलो जिलाध्यक्ष राजेंद्र लितानी व विधायक अनूप धानक की अध्यक्षता में उकलाना हलकाध्यक्ष रणधीर पूनिया के आवास पर हुई। जिसमें पंचकुला में चल रहे धरने में उकलाना हलके के कार्यकर्ताओं द्वारा 29 जनवरी दिए जाने वाले धरने को लेकर विचार-विमर्श किया गया। राजेंद्र लितानी ने कहा कि इनैलो पार्टी द्वारा किसानों को खराब हुई फसल का मुआवजा देने, बिजली के बढ़ाए गए दामों को वापस लेने सहित अन्य मांगों को लेकर पिछले कई दिनों से पंचकुला में धरना दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 29 जनवरी को उकलाना हलके की ओर से पंचकुला में धरना दिया जाएगा। जिसमें उकलाना हलके से भारी संख्या में लोग पहुंचेंगे।

इनैलो के हलका प्रवक्ता होशियार बिठमड़ा ने बताया कि पंचकुला में उकलाना हलका की ओर से 29 जनवरी को दिए जाने वाले धरने की तैयारियों के लिए 25 जनवरी को अग्रोहा ब्लाक के इनैलो कार्यकर्ताओं की बैठक सुबह 11 बजे अग्रोहा में तथा उकलाना ब्लाक के कार्यकर्ताओं की बैठक उकलाना में दोपहर 1 बजे होगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे बैठक में बढ़चढ़ कर भाग लें तथा 29 जनवरी को पंचकुला धरने में भाग लें।


ट्रैफिक व्यवस्था परिवर्तन में हुए घपले  की आशंका से भाजपा सरकार के सुशासन के नारे की खुली पोल- तरुण जैन

हिसार, 23 जनवरी : पारिजात चौक से नागोरी गेट की बजाय ग्रोवर मार्केट की तरफ ट्रैफिक डायवर्ट में जिस घपले व लेनदेन की बात सुनने में आ रही है, उससे भाजपा के सुशासन के नारे की पोल खुल कर सामने आ गयी है। यह बात युवा इनेलो के प्रदेश कोषाध्यक्ष तरुण जैन ने प्रेस को जारी एक बयान में कही। उन्होंने कहा कि अगर कंही धुआं उठता है, तो वहांआग अवश्य लगी होती है। जब इस ट्रैफिक व्यवस्था परिवर्तन में पैसे के लेनदेन की बात की जा रही है तो कुछ न कुछ बात तो जरूर है। इस सारे मामले की निष्पक्ष जांच के साथ साथ दोषी व्यक्ति के खिलाफ कार्यवाही भी की जानी चाहिए। इनेलो नेता ने बताया कि इस ट्रैफिक व्यवस्था परिवर्तन से बस स्टैंड से पारिजात चौक तक जाने वाले वाहनों को तो राहत मिली है, परन्तु पारिजात चौक से बस स्टैंड जाने वाले वाहनों को तो रेंग रेंग कर जाना पड़ता है। प्रशासन को बार बार परिवर्तन करने की बजाए कोई ठोस हल निकलना चाहिए, जिससे दोनों तरफ आने जाने वाले वाहनों को जाम से मुक्ति मिल सके तथा व्यापारियों को भी आगे आकर अपनी दुकानों के आगे से अतिक्रमण खुद हटवा लेना चाहिए। इनेलो नेता जैन ने कहा कि स्थानीय भाजपा विधायक व मुख्य संसदीय सचिव भी अब तक इस सारे मामले में चुप्पी साधे हुए है। उनकी चुप्पी भी कई सवालो को जन्म दे रही है। वे भी जनता से किये गए वायदे भूल चुके है, पिछले दिनों इसी ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर कुछ व्यापारी प्रशासन से व्यवस्था को और दुरुस्त करने की मांग कर रहे थे तो वे उसी रास्ते से उस वकत गुजर रहे थे, परन्तु उन्होंने उनकी बात को सुनना भी उचित नही समझा जो कि एक जनप्रतिनिधि के लिए बड़े शर्म की बात है। विधायक गुप्ता को इस सारे मामले की सच्चाई जनता के सामने लानी चाहिए।
पत्रकार को धमकाना भाजपा नेताओ की बौखलाहट का परिचायक- बिश्नोई

हिसार, 23 जनवरी : इनेलो जिला प्रवक्ता एडवोकेट मनदीप बिश्नोई ने उकलाना के पत्रकार राजेश कुंडू को भाजपा नेताओं द्वारा दी गयी धमकी की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होंने इस भाजपा की पंचायत चुनावों में हो रही संभावित हार से हुई बौखलाहट करार दिया है। उन्होंने कहा कि पंचायत का चुनाव आपसी भाईचारे का होता है, परंतु भाजपा के एक वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री के द्वारा मतदाताओ पर अनैतिक दबाव बनाने की कोशिश की ही जा रही है, परंतु अब तो उन्होंने सच्चाई को दबाने के लिए लोकतंत्र के सबसे मजबूत स्तंभ को भी धमकियों के द्वारा दबाना शुरू कर दिया है। इससे साफ जाहिर है कि उक्त भाजपा नेता को अपनी हार साफ साफ दिखाई दे गयी है। इनेलो प्रवक्ता एडवोकेट बिश्नोई ने कहा कि इस प्रकरण के लिए भाजपा नेताओं को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए क्योंकि एक सभ्य समाज में इस तरह की हरकत कतई बर्दाश्त नहीं की जा सकती। बिश्नोई ने आगे कहा कि अगर भाजपा ने पिछले 15 महीनों के शासन काल के दौरान जनता से चुनावों में किये गए वायदों को पूरा करना चाहिए था, अगर इन वायदों की तरफ ध्यान दिया जाता तो जनता का भी फायदा होता और भाजपा नेताओं की हालत पंचायत चुनावों में इतनी खराब न होती।
सही मायने में आज़ादी के महानायक थे नेता जी सुभाष बोस: लावट

हिसार, 23 जनवरी : जो आजादी देश को 15 अगस्त 1947 को हमें मिली थी, उसके महानायक सही मायने में सुभास चन्द्र बोस थे। इनेलो हलका अध्यक्ष सजन लावट ने उनकी 119 वीं जयंती पर उन्हें श्रदांजली अर्पित करते हुए कहा कि सुभाष चन्द्र बोस ने अंग्रेजों से आर पार की लड़ाई लडऩे की हिम्मत दिखाते हुए देश के नौजवानों में आज़ादी की भूख जगाकर आजाद हिन्द फौज की स्थापना की। सजन लावट ने बताया कि नेता जी ने उस फौज में भर्ती हुए जवानों को संबोधित करते हुए कहा था कि 'सोने के लिए जमीन, ओढऩे के लिए आसमान, खाने के लिए गोलियां और वेतन के तौर पर आज़ादी मिलेगी... तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आज़ादी दूंगाÓ।  नेता जी के द्वारा दिया गया जय हिन्द का नारा देश का राष्ट्र्रीय नारा बन गया। इनेलो नेता लावट ने नेता जी की जयंती के अवसर पर उन बुजुर्गों और जवानों को भी श्रद्धा और सत्कार के साथ नमन किया, जिन्होंने नेता जी के कहने पर उनका साथ दिया, और हंसते हंसते देश की आज़ादी के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए। उन्होंने कहा कि उनकी वजह से ही आज हम आज़ादी की खुली हवा में सांसे ले रहे है। नेता जी सुभाष बोस ने जिस गति से अंग्रेजों को विरोध किया और द्वितीय विश्व युद्ध में अंग्रेजो से लडऩे का निर्णय लिया तथा उसके बाद संपूर्ण देश के युवाओं में आजादी की ललक जाग उठी। हालांकि भारत मां के इस सपूत का देहांत दुर्भाग्य वश 1945 में ही हो गया, परन्तु जो अलख नेता जी जला कर गए उसे देखते हुए  अंग्रेजो की हुकुमत ज्यादा दिन नही टिक सकी। अगर देश की आजादी के बाद भी नेता जी जीवित रहते तो निश्चित रूप से आज हमारे देश की तस्वीर अलग तरह की होती। आज नेता जी हमारे बीच नही है पर हम उनके कर्म, विचार व आदर्श अपनाकर अपने राष्ट्र को प्रगति के पथ पर ले जा सकते है।

Friday, January 22, 2016

जींद के इनेलो कार्यकर्ताओं ने दिया बिजली बोर्ड मुख्यालय पर धरना


चंडीगढ़, 22 जनवरी: पंचकूला में बिजली निगम के मुख्यालय शक्ति भवन पर शुक्रवार को जींद इनेलो कार्यकर्ताओं ने विधायक पुत्र एवं इनेलो जिला उप प्रधान डा. कृष्ण मिढ़ा के नेतृत्व में धरना दिया। इनेलो लगातार बिजली बिलों की दरों में सरकार द्वारा की गई बढ़ोत्तरी को वापस लेने की मांग कर रही है। धरने का नेतृत्व कर रहे डा. कृष्ण मिढ़ा ने कहा कि भाजपा झूठे आंकड़े दिखा कर जनता को गुमराह करने का काम कर रही है। भाजपा सरकार बनने के बाद बिजली की दरों व फ्यूल सरचार्ज के नाम पर चार बार दरें बढ़ाई जा चुकी हैं और आज लोगों को बेसिक रेट, फ्यूल सरचार्ज व अन्य शुल्क और विभिन्न प्रकार के चार्ज लगाकर औसतन नौ रुपये से 11 रुपये प्रति यूनिट बिजली दी जा रही है। 
इनेलो नेता ने कहा कि हरियाणा के बिजली उपभोक्ताओं को जो बिजली दी जा रही है वह अडानी की कंपनी से करीब सवा तीन रुपये प्रति यूनिट खरीद कर सप्लाई की जा रही है और जब जिस रेट पर पिछले साल अडानी से बिजली खरीदी जा रही थी आज भी जब बिजली उसी रेट पर मिल रही है तो फिर बार-बार बिजली उपभोक्ताओं पर बेवजह का अतिरिक्त बोझ क्यों डाला जा रहा है। मिढ़ा ने कहा कि बिजली के नाम पर सरकार लोगों को लूटने का काम कर रही है। सरकार लोगों को भ्रमित करने के लिए बिजली के बेसिक रेट तो बताती है लेकिन यह नहीं बताती कि उस पर एफएसए सहित अन्य कितने और चार्ज लिए जा रहे हैं और आम उपभोक्ता को बिजली सभी शुल्क व सरचार्ज मिला कर प्रति यूनिट किस रेट पर मिल रही है। उन्होंने कहा कि एफएसए एक निश्चित अवधि के लिए लगाया जाता था और उस अवधि के बाद वह बंद हो जाता है लेकिन पहले कांग्रेस सरकार ने और अब भाजपा सरकार ने एफएसए को बिजली बिल का स्थाई हिस्सा बना दिया और पांच-पांच एफएसए भी एक साथ जोडक़र वसूल किए जाने लगे हैं जो कि पूरे देश में सबसे ज्यादा हैं।
उन्होंने कहा कि एफएसए व अन्य शुल्क मिला कर आज हरियाणा के उपभोक्ता को प्रति यूनिट बिजली पूरे देश में सबसे महंगे दामों पर मिल रही है। असल में बिजली निगमों का घाटा विभाग में व्यापक भ्रष्टाचार, समान खरीद में मोटा कमीशन व घोटाले, बिजली चोरी व सरकार व निगमों के कु-प्रबंधन का कारण है। उन्होंने कहा कि सरकार जानबूझकर उन लोगों को भी बिजली बिल न भरने के लिए मजबूर कर रही है जो अब तक ईमानदारी से बिल अदा करते थे। उन्होंने सरकार से लोगों को गुमराह करने व फर्जी आंकड़ों से भ्रमित करने की बजाय बढ़ाई गई बिजली दरें व एफएसए बढ़ौतरी को तुरंत वापिस लेने और लोगों को राहत देने की मांग की ताकि प्रदेश का आम ईमानदार बिजली उपभोक्ता समय पर बिल चुका सके। इस मौके पर  इस मौक पर पूर्व विधायक व जिलाध्यक्ष पंचकूला प्रदीप चौधरी, प्रदेश कार्यालय सचिव नछत्तर मल्हान व कुलभूषण गोयल, जिलाध्यक्ष जींद व पूर्व विधायक कलीराम पटवारी, भूपेंद्र जुलानी, जयनारायण, राजेंद्र फौजी, प्रेम पंजेठा, दलबीर सिंह, ईश्वर रेढू, धर्मबीर नंबरदार, अजमेर रेढू, ठंडी खोखरी आदि भी मौजूद थे।
भाजपा सरकार ने विकास का कोई भी नारा पूरा नही किया  - अभय चौटाला 


सिरसा 22 जनवरी: भाजपा का सब का साथ सब का विकास का नारा खोखला सिद्ध हुआ है,क्यों की मैनें दर्जनों गांवों का दौरा करने पर पाया कि किसी भी गांव में कोई भी विकास का काम नही चल रहा है। उक्त बात नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कही। चौटाला ने आज जिला परिषद प्रत्याशी कर्ण चौटाला व मेघना बेनीवाल के पक्ष में वोटो की अपील करने हेतु गांव नेजिया,अलीमोहम्मद,चाडीवाल,दड़बा,कैरावाली,माखोसरानी,नहराना सहित 18 गांवों में नुक्कड़ सभाओं को सम्बोधित किया। चौटाला ने कहा कि विकास करना भाजपा के बस की बात नही है,भाजपा के नेता केवल भाषण दे सकते है। उन्होंंने कहा कि इनेलो भाषण में कम विकास करवाने में ज्यादा ध्यान देती है। नेता प्रतिपक्ष ने उपस्थित जनता को याद दिलाया कि इनेलो शासन के दौरान हलका सिरसा के अनेक गावों में स्कूल ,अस्पताल बनवाए वही नहरों व सड़कों का जाल बिछाया। इस मौके पर उन्होने दड़बा में 12वी क्लास तक स्कूल बनवाने की घोषणा की। इनेलो नेता ने कहा कि झुठे व अवसरवाद की राजनीति करने वालों को चुनाव मैदान से खदेड़ दें। इस दौरे के दौरान उनके साथ विधायक मक्खन लाल सिंगला,जिलाध्यक्ष पदम जैन,इनेलो नेता वीरभान मैहता,संदीप चौयल,विनोद बेनीवाल,देवराज मौयल,सुरेन्द्र मेहरिया,सहित बड़ी सख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

सांसद दुष्यंत चौटाला ने कर्ण चौटाला के पक्ष में चुनाव प्रचार किया 



सिरसा 22 जनवरी : इनेलो समर्थित प्रत्याशी कर्ण चौटाला एक युवा व उर्जावान उम्मीदवार है जो विजय होने के बाद आपके जोन न:12 का चहुुंमुखी विकास करवाएगा। यह बात हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने कर्ण चौटाला के पक्ष में विभिन्न गावों में नुक्कड़ सभाओं को संबोधित करते हुए कही। सांसद ने कहा कि कर्ण एक होनहार व विकास करवाने में रूचि रखने वाला उम्मीदवार है जो आपके सुख दुख: में हमेशा आगे रहेगा।



उन्होने भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि भाजपा विकास नही अपितु विनाश कर रही है। उन्होने भाजपा को किसान विरोधी करार देते हुए कहा कि जो सरकार अभी तक किसानों को उनकी खराब फसल का मुआवजा नही दे सकी उस सरकार से क्या उम्मीद की जा सकती है। चौटाला ने कहा कि भाजपा को युवाओं को झूठे सपने दिखाते हुए उन्हे 6000रू से 9000रू तक बरोजगारी भत्ता देने का वायदा किया था। किसानों को फसलों के उचित भाव दिलवाने के वायदे का क्या हुआ सब जानते है। कुछ लोग मुखोटा लगाकर आपके वोट हथियाने आयेगें ऐसे लोगों को मुंह लगाने की जरूरत नही है भारी भीड़ की और इशारा करते हुए उन्होने कहा कि उन लोगों को समझ जाना चाहिए जो जनता को गुमराह करने में लगे हुए है कि जनता ने कर्ण चौटाला के पक्ष मे फटवा दे दिया है। दुष्यंत चौटाला ने आज गांव जमाल,कु ताना,जोड़किया,बरासरी,रूपावास आदि गांवों मे कर्ण चौटाला के पक्ष मे ग्रामीणो से वोट डालने की अपील की।



Thursday, January 21, 2016

सिरसा में चुनाव प्रचार चरम पर पहुंचा

चंडीगढ़, 21 जनवरी: सिरसा जिला परिषद जोन न० 12 का चुनाव प्रचार पूरे चरम पर है। नेता प्रतिपक्ष एवं ऐलनाबाद के विधायक चौधरी अभय सिह चौटाला के ज्येष्ठ पुत्र कर्ण चौटाला अपना भाग्य आजमा रहे है। कर्ण चौटाला जोन 12 के प्रत्येक गांव के घर-घर जाकर मतदाताओं से सीधा सम्पर्क साध रहे है। थोड़े समय मे ही उन्होंने मतदाताओं पर अपनी पकड़ मजबूत बना ली है क्योंकि कर्ण चौटाला शीघ्र ही मतदाताओं में घुल-मिल जाते हैं तथा उनके सुख दुख को सांझा करते है। जिससे मतदाता उनके व्यवहार से बेहद प्रभावित है। 
उन्होंने बताया कि उनके दादा तत्कालीन मुख्यमंत्री चौ० ओ३म प्रकाश चौटाला ने अपने शासनकाल में इन गांवो में काफी विकास के काम करवाएं जिसका फायदा उन्हें यानि कर्ण चौटाला को मिल रहा है। कर्ण चौटाला कहते है कि आज ग्रामीण आंचल में बसने वाले लोग भाजपा शासन से पूरी तरह दुखी व त्रस्त है। जो निश्चित रुप से भाजपा को हराने मे सहायक होगा। उन्होंने कहा कि नरमा-कपास खराब हुई फसल का मुआवजा अभी तक ना देने के कारण किसानों में भाजपा सरकार के विरुद्ध गहरा रोष पाया जा रहा है। आज के इस अभियान में उनके साथ सैकड़ों कार्यकर्ता भी मौजूद थे।
सफीदों के कार्यकर्ताओं ने दिया बिजली मुख्यालय पर धरना


चंडीगढ़, 21 जनवरी: इनेलो के अनिश्चितकालीन धरने में वीरवार को जींद जिला क सफीदों हलका क कार्यकत्र्ताओं ने बिजली दरों की बढ़ाई गई कीमतों का विरोध जताते हुए पूरा दिन शक्ति भवन के सामने धरना दिया और भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। धरने का नेतृत्व पूर्व विधायक व जिलाध्यक्ष कलीराम पटवारी ने किया। इस मौक पर पूर्व विधायक व जिलाध्यक्ष पंचकूला प्रदीप चौधरी, पूर्व विधायक रामफूल कुंडू, प्रदेश कार्यालय सचिव नछत्तर मल्हान व कुलभूषण गोयल मौजूद रहे।
पूर्व विधायक कलीराम पटवारी ने कहा कि भाजपा सरकार सत्ता के नशे में इतनी चूर हो चुकी है कि उसे जनता की भलाई समझ नही आ रही है, यही कारण रहे है कि बिजली के तीन गुणा बिल बढ़ाकर प्रदेश के बिजली उपभोक्ता को लूटने का भाजपा ने खुला काम शुरू कर दिया। पूर्व विधायक ने कहा कि भाजपा चुनावों से पहले जीरों-टोलरेस की बात करती थी, आज जब सत्ता का सवा वर्ष भी नहीें हुआ तो भ्रष्टाचार के जाल में फंसती जा रही है। पहले धान घोटाला करने में भाजपा से कांग्रेस के भी रिकार्ड तोड़ दिए और अब हाल ही में आरटीआई से खुलासा हुआ कि 700-900 किमी प्रतिदिन गाड़ी में चलकर भाजपा के मंत्री फर्जी बिलों के सहारे अपनी जेबें भरने का काम कर रहे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश क विकास की सोच तो कवल चौधरी ओमप्रकाश चौटाला रखते थे जिन्होंने हमेशा प्रदेश के विकास के लिए बिना भेदभाव के विकास कार्य करवाने का काम किया।
पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी ने संबोधित करते हुए कहा कि सरकार के साथ चलकर ग्राम पंचायतों के विकास का दबाव बनाकर यदि भाजपा पंचायती चुनावों में अपनी जीत का दावा कर रही है तो यह मात्र उसका वहम है और इनेलो की सिंबल पर चुनाव लडऩे की चुनौती से कांग्रेस-भाजपा क्यों भागे। उन्होंने कहा कि पंचकूला जिला में इनेलो समर्थित पंचायती नुमाईंदों की जीत हुई है जिसमें पदाधिकारी सरपंच का चुनाव जीते है। हलका प्रधान जितेन्द्र सैणी की पत्नि, जिला प्रधान महासचिव विजेन्द्र कामी, युवा जिलाध्यक्ष स्वर्ण सिंह हरयौली, प्रदेश युवा महासचिव राजकुमार खोखरा की धर्मपत्नि, जिला महासचिव शरणजीत फिरोजपुर, विरेन्द्र राजीटिक्करी, जगमाल नटवाल की धर्मपत्नि सहित सैकड़ों इनेलो समर्थित चहेते चुनाव जीते हैं। भाजपा और कांग्रेस बताए कि उसका कौन सा पदाधिकारी चुनाव जीता है।
भाजपा सरकार के मंत्री आचार संहिता का कर रहे हैं खुला उल्लंघन: अभय चौटाला



चंडीगढ़, 21 जनवरी: हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष एवं ऐलनाबाद के विधायक चौधरी अभय सिंह चौटाला ने भाजपा सरकार के मंत्रियों पर पंचायत चुनावों में आदर्श चुनाव आचार संहिता का खुला उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इन मंत्रियों के खिलाफ अभी तक चुनाव आयोग ने भी कोई कार्रवाई नहीं की है। इनेलो नेता ने कहा कि कहीं भाजपा के राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी न सिर्फ अपनी मंत्री वाली सरकारी लालबत्ती गाड़ी पर जाकर वोट मांगते हैं बल्कि गांव को अपना रिश्तेदार जिताने के नाम पर 22 लाख रुपए देने की घोषणा करते हैं तो कहीं हरियाणा के कृषि मंत्री मतदाताओं को यह लालच व प्रलोभन दे रहे हैं कि उनके उम्मीदवारों को जिताओगे तो दादरी को जिला बना दिया जाएगा। इनेलो नेता ने कहा कि मौजूदा प्रदेश सरकार पंूजीपतियों की सरकार है और इस सरकार द्वारा जो भी नीति बनाई जाती है वह केवल पूंजीपतियों के हितों को ध्यान में ही रखकर बनाई जाती है। उन्होंने यह बात गुरुवार को गांव निर्बाण में पंचायती चुनावों के दौरान इनेलो समर्थित प्रत्याशियों के समर्थन में ग्रामीण जनसभा को संबोधित करते हुए कही।
इनेलो नेता ने कहा कि केवल इनेलो शासन को छोडक़र किसी अन्य राजनीतिक दल ने कभी भी सिरसा के विकास के लिए कार्य नहीं किया। इनेलो शासन के दौरान तत्कालीन मुख्यमंत्री चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने जिले में अस्पताल, किसानों की मदद के लिए नहरों का जाल बिछाना, सडक़ों का निर्माण करना सहित तमाम विकासपरक कार्य किए। उन्होंने कहा कि आज हालत ये है कि भाजपा भी कांग्रेस की तर्ज पर चलकर सिरसा जिले से पूरी तरह भेदभाव कर रही है। उन्होंने भाजपा की नीयत में खोट बताते हुए कहा कि पंचायती चुनाव कराने में एक वक्त तो भाजपा के मंत्री व पदाधिकारी डरते थे, मगर अब मैदान में उतरकर भाजपा नेता प्रदेशवासियों को गुमराह करने पर तुले हैं।


प्रतिपक्ष नेता अभय सिंह चौटाला ने कहा कि प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के कारण आज प्रदेश की जनता को बिजली बिल के रूप में आर्थिक समस्या का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि वे स्वयं इस मामले में अन्य इनेलो नेताओं के साथ बिजली बिलों में बढ़ौतरी को कम करने के लिए मिले थे, मगर मुख्यमंत्री ने कहा कि ये बिल तो भरने ही पड़ेंगे। उनका यह बयान जाहिर करता है कि यह सरकार किस तरीके से आमजन को आर्थिक तौर पर परेशान करने पर आमादा है। उन्होंने कहा कि भेदभाव में विश्वास रखने वाली इस सरकार का ही यह कार्य है कि ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को आज तक उचित मुआवजा नहीं दिया गया। उन्होंने ग्रामीणों से इन पंचायती चुनावों में इनेलो समर्थित उम्मीदवारों को विजयी बनाने का आह्वान किया ताकि भविष्य में ग्रामीण विकास की योजनाओं को गति प्रदान की जा सके। बाद में उन्होंने गांव माधोसिंघाना, बरुवाली, गुडियाखेड़ा, ढूकड़ा, रायपुरिया, अरनियांवाली, तरकांवाली व शाहपुरिया सहित करीब डेढ़ दर्जन गांवों में भी जनसभाओं को संबोधित किया।

Wednesday, January 20, 2016

गांवों के विकास में नही आने दूंगा कोई कमी - कर्ण चौटाला 

चंडीगढ़, 20 जनवरी: सिरसा जिला परिषद के जोन नम्बर-12 की इनेलो प्रत्याशी कर्ण चौटाला को कई गांव के गाम्रीणों ने खुलकर अपना समर्थन दिया। अपने स्वागत तथा समर्थन से उत्साहित कर्ण चौटाला ने गाम्रीणों से कहा कि जितने के पश्चात वह इन गावों की काया पलट देंगे। युवा इनेलो नेता ने कहा कि आपने हमेशा ही चौटाला परिवार की शान को बढ़ाया है और मुझे भरोसा है कि इन चुनावों मे भी आप सभी का सहयोग एवं समर्थन मुझे जीत के मुकाम पर पहुंचाएगा।
कर्ण चौटाला ने आज गांव जमाल में घर घर जाकर मतदाताओं से जाकर अपने लिए वोट मांगे और चुनाव जिताने की अपील की। युवा प्रत्याशी कर्ण चौटाला के पक्ष में जबरदस्त लहर चल रही है क्योंकि  ग्रामीण आंचल की जनता उनके मृदुल स्वभाव और व्यवहार से कायल हो चुके है और उन्हें जिताने का मन बना चुकी है। इस मौके पर काफी संख्या में इनेलो कार्यकर्ता व ग्रामवासी उपस्थित थे। 
गोहाना हल्के के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने शक्ति भवन के सामने धरना दिया 

चंडीगढ़, 20 जनवरी:इनेलो के गोहाना हलका के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को शक्ति भवन पंचकूला के सामने बिजली दरों में की बढ़ोत्तरी वापिस लेने की मांग करते हुए सरकार के विरोध में धरना दिया। धरने का नेतृत्व इनेलो नेता केसी बांगड़ व पूर्व विधायक व जिलाध्यक्ष सोनीपत पदम दहिया ने किया। इस मौके पर पूर्व विधायक व पंचकूला जिलाध्यक्ष प्रदीप चौधरी, कुलभूषण गोयल, प्रदेश कार्यालय सचिव नछत्तर मल्हान भी इस मौके पर उपस्थिति  थे। इनेलो नेता नेे कहा कि आज भाजपा सरकार के प्रदेश का हर वर्ग दुखी और परेशान है क्योंकि भाजपा सरकार जनविरोधी फैसले लेकर जनता को लगातार प्रताडि़त करने का काम कर रही है।
इनेलो नेता ने कहा कि बिजली की कीमतों में तीन गुणा इजाफा करके बिजली उपभोक्ताओं पर आर्थिक बोझ डालने का काम किया है। भाजपा सरकार यह सब अडानी को खुश करने के लिए कर रही है। श्री बांगड़ ने कहा कि आज प्रदेश में कानून-व्यवस्था का बुरा हाल है जिसके चलते प्रदेश के लोग असुरक्षित महसूस कर रहे है। क्योंकि महिलाओं के प्रति भी लगातार अपराध बढ़ता जा रहा है और महिलाओं का घर से बाहर निकला तक मुश्किल हो गया है।
उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने सरकार आपके द्वार कार्यक्रमों के तहत लोगों की समस्याओं का मौके पर ही निपटारा करने का काम किया, ऐसी भावना से काम किया जाता है। आज भाजपा सरकार द्धारा लोगों की समस्याओं के लिए चलाई गई सीएम विंडो उल्टा लोगों को समस्या में डाल रही है क्योंकि सीएम खिडक़ी में शिकायत देने के बाद भी कोई हल नहीं होता है। इस मौके पर सैकड़ों की संख्या में गोहाना हलका से लोगों ने पहुंचकर भाजपा सरकार के खिलाफ बिजली की कीमतों को लेकर धरने में नारेबाजी करते हुए सरकार को दिशाहीन बताया।
विधायक परमेन्द्र ढुल ने अमेरिकन दूतावास के अधिकारीयों से की मुलाक़ात 





जीन्द, 20 जनवरी : जुलाना से विधायक परमेन्द्र सिंह ढुल ने आज अमेरिकी दूतावास के अधिकारीयों से अपने निवास स्थान पर मुलाक़ात की। जिस बीच उन्होंने दूतावास के राजनीतिक अफ़सर मिशेल जेंजेन से जीन्द जिले के साथ-साथ प्रदेशभर में विदेशी निवेश की संभावनाओं को लेकर चर्चा की। उन्होंने कहा कि भले ही जीन्द को लगातार विभिन्न सरकारों द्वारा राजनीतिक द्वेष का शिकार बनाया गया हो मगर क्षेत्र का माहौल किसी भी उद्योग की स्थापना के लिए बिल्कुल पर्याप्त है।
उन्होंने कहा कि जीन्द जिले में तथा विशेषकर जुलाना हल्के में शिक्षा, स्वास्थ्य, खेल के साथ-साथ औद्योगिक विस्तारीकरण की दिशा में दोनों देशों में आपसी परस्पर सहयोग बढ़ाये जाने को लेकर चर्चा हुई तथा उन्हें विश्वास है की प्रदेश तथा केन्द्र सरकार का रवैया भी सकारात्मक ही रहेगा। जुलाना में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। हमारे यहां युवावर्ग जागरूक होने के साथ साथ शिक्षा, खेल तथा समाज में विशेष रुचि रखता है। बेटी बचाओ कार्यक्रम भले ही सरकार द्वारा अब शुरू किया गया हो मगर हल्के के अधिकतर गाँवों में लिंगानुपात प्रदेश के अन्य क्षेत्रों के मुकाबले कहीं ज्यादा है। यदि कोई अमेरिकी कम्पनी क्षेत्र में उद्योग या फिर कोई प्रोजेक्ट लगाना चाहे तो क्षेत्रवासी दिल खोल कर स्वागत करेंगे। ऐसा हो सकने से क्षेत्र में सकारात्मक आधारभूत विकास हो सकेगा।
बैठक के दौरान उन्होंने क्षेत्र से दोनों देशों में स्टूडेंट एक्सचेंज प्रोग्राम की संभावनाओं पर बल दिया। प्राइमरी के बाद अब वोकेशनल शिक्षा में विशेषकर कन्याओं की बढ़ती रुचि और दिलचस्पी इस बात का संकेत हैं की समाज जागरूक हो रहा है। किसान की खेती और उपज खराब न हो इस बारे में भी अमेरिकी प्रौद्योगिकी का अनुभव हमारे किसानों को मिल सके जिससे खेती घाटे का सौदा न रह कर मुनाफे में तब्दील हो सके। युवाओं को बेहतर रोज़गार तथा संसाधन उपलब्ध करवाकर उनके जीवनस्तर को सुधारने को लेकर संभावनाओं पर चर्चा हुई। संस्थागत पूंजीनिवेश कर जीन्द जिले तथा क्षेत्र का विकास हो सके पर चर्चा हुई।
 बैठक को लेकर और अधिक जानकारी देते हुए विधायक ढुल ने कहा कि बैठक में प्रदेश के वर्तमान सामाजिक तथा राजनीतिक परिवेश पर भी चर्चा हुई। हरियाणा एक कृषि प्रधान राज्य है तथा देश में अन्न के भण्डार भरने से लेकर सीमाओं पर देश की रक्षा करने तक हर क्षेत्र में प्रदेश का अग्रणी योगदान रहा है। सेनाबल, बिज़नेस, कॉरपोरेट, सिनेमा जगत के साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धाओं और खेलों में भी प्रदेश का योगदान अहम है। प्रदेश का युवा वर्ग अपने दम पर पढ़ाई तथा खेलों के साथ-साथ राजनीति में भी अपनी रुचि दिखा रहा है।
 उन्होंने अमेरिकी दूतावास को अपने विचार रखने तथा क्षेत्र के बुद्धिजीवियों के विचार सुनने के लिए जीन्द बार कॉउंसिल में आने का न्यौता भी दिया।  इस दौरान वेदपाल भनवाला, रिटायर्ड प्रिंसिपल, कप्तान रणधीर चहल और सत्येन्द्र सिंह ढुल उपस्थित रहे।

Tuesday, January 19, 2016

पंचकूला धरने में कार्यकर्ताओं ने की आवाज बुलंद : राजदीप


चरखी दादरी : सरकार द्वारा बिजली दरों की गई बेतहाशा वृद्धि के खिलाफ पंचकूला में जारी इनेलो के धरना प्रदर्शन में मंगलवार को दादरी हलके के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। हलका विधायक राजदीप फौगाट के नेतृत्व में दादरी क्षेत्र से सैकड़ों कार्यकर्ता सुबह 10 बजे से पहले ही पंचकूला शक्ति सदन सेक्टर 6 में धरना स्थल पर पहुंचे। यहां कार्यकर्ताओं ने आम जन के हितों से खिलवाड़ करने वाली भाजपा सरकार के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की। राजदीप फौगाट ने कहा कि भाजपा की जन विरोधी नीतियों विशेष कर बिजली की बढ़ी दरों ने आम जन की कमर तोडऩे का काम किया है। जब तक बढ़ी दरें सरकार वापिस नहीं लेती इनेलो का आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि धरना प्रदर्शन से सरकार अपनी जन विरोधी नीतियों को वापिस नहीं लेती है तो इनेलो आक्रामक आंदोलन से भी पीछे नहीं हटेगी। उन्होंने कहा कि इनेलो के धरने को आम जन का भारी समर्थन मिल रहा है। राजदीप फौगाट ने कहा कि धरने पर दादरी हलके के कार्यकर्ताओं को पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, वरिष्ठ नेता रामपाल माजरा सहित अन्य कई नेताओं ने संबोधित किया और जन हित में आवाज बुलंद करने का आहवान किया। राजदीप ने कहा कि भाजपा अपने हर चुनावी वायदे से मुकर रही है, जिसे सहन नहीं किया जाएगा। राजदीप ने हलके से भारी तादात में कड़ी ठंड के बीच पंचकूला पहुंचे सभी कार्यकर्ताओं का आभार भी जताया। उन्होंने कहा कि इनेलो का पंचकूला में धरना कई दिनों से जारी है। प्रदेश के कोने-कोने से कार्यकर्ता यहां पहुंच कर समर्थन दे रहे हैं। आखिर सरकार को झुकना पड़ेगा। उनके साथ इनेलो हलकाध्यक्ष रामनिवास मिर्च, राजेश फौगाट, संजय रानीला, नवीन कुमार, योगेश इमलोटा, आशीष निमड़ी, बाबूलाल यादव, मा. वीरेंद्र, जगदीश, ईश्वर खटक, भूपेंद्र, बलजीत, राकेश कलकल विनोद मोड़ी, रमेश वर्मा, शशि शर्मा चरखी, कृष्ण रेडिय़ो, नरेश बिगोवा सहित सैकडों कार्यकर्ता थे। 
लक्कड़पुर रेलवे लाईन पर फुटओवर ब्रिज बनने की मांग को लेकर रेलमंत्री के नाम जिला उपायुक्त को सौंपा ज्ञापन : अजय भड़ाना


फरीदाबाद :  लक्कडपुर रेलवे फाटक पर होने वाले रेल हादसों को रोकने के लिए फुटओवर ब्रिज बनाने की मांग को लेकर आज युवा इनेलो के प्रदेश महासचिव अजय भड़ाना ने केंद्रीय रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु के नाम जिला उपायुक्त चंद्रशेखर के माध्यम से एक ज्ञापन व उसके समर्थन में करीब हजारों लोगों का हस्ताक्षरयुक्त पत्र सौंपा। इस मौके पर अजय भड़ाना ने जिला उपायुक्त को बताया कि लक्कडपुर रेलवे फाटक और उसके आसपास से रेलवे लाईन पार करते समय वर्ष 2010 से लेकर 2015 के दौरान करीब 50 से अधिक हादसे का शिकार होकर अपनी जान गंवा चुके है, जिस पर स्थानीय लोगों ने रेलवे फाटक पर ब्रिज बनाने की मांग रखी थी, इस फाटक पर ब्रिज के निर्माण के बारे में पीडब्ल्यूडी विभाग ने फिजिबिलिटी रिपोर्ट में कहा है कि यहां ओवरब्रिज को बनाना संभव नहीं है। अजय भड़ाना ने बताया कि शिवदुर्गा विहार कालोनी एवं दयालबाग और गांव लक्कडपुर के लोगों को मथुरा रोड व दिल्ली की ओर जाने के लिए इसी रास्ते का जो रेलवे लाईन से होकर जाता है, का इस्तेमाल करना पड़ता है और यहां पर रेलवे लाईन को पार करते वक्त लगातार हो रही मौतों को रोकने के लिए एक फुट ओवरब्रिज बनाए जाना बेहद आवश्यक है, जिससे उपरोक्त सारे क्षेत्रों के लोग आसानी से पार कर सके और कोई हादसा न हो। श्री भड़ाना ने बताया कि स्थानीय लोगों की इस समस्या के मद्देनजर इनेलो पार्टी ने हस्ताक्षर अभियान चलाकर हजारों लोगों के हस्ताक्षर करवाए, जिसमें लोगों ने फुटओवर ब्रिज बनाने का समर्थन करते हुए हस्ताक्षर किए। अजय भड़ाना ने कहा कि इस रेलवे लाईन पर फुटओवर ब्रिज बनने तक हमारा यह संघर्ष जारी रहेगा। इस अवसर पर जिला उपायुक्त चंद्रशेखर ने श्री भड़ाना व अन्य लोगों को आश्वासन दिया कि उनकी मांग जायज है और उनके इस ज्ञापन को वह रेलवे मंत्री तक पहुंचा देंगे और जल्द ही लोगों की इस समस्या को हल करवाने का प्रयास किया जाएगा। इस मौके पर अजय भड़ाना के साथ सतपाल शर्मा, सतेंद्र भड़ाना, माता प्रसाद पाठक, रामसुमेर तिवारी, महावीर सिंह प्रधान, बिमल मिश्रा, ओमप्रकाश शर्मा, प्रेम सिंह राणा, वाल्मीकि पौद्धार, सरदार गुरदीप सिंह, दिनेश गविता, सोनू चौहान, विक्की भड़ाना, नीरज भड़ाना, लल्लू सिंह, ताराचंद, भूरे सिंह, चंद्रमोहन सिंह, आलम सिंह चौहान, धर्मबीर सिंह, विजय श्रीवास्तव सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे। 

बिजली बिलों में तीन गुणा बढ़ोत्तरी के विरोध में दादरी हल्के के कार्यकर्ताओं ने धरना दिया 


पंचकूला, 19 जनवरी : जब-जब कांग्रेस सत्ता में आई, उसने प्रदेश के विकास के पैसे को भ्रष्टाचार के माध्यम से अपनी जेबों में भरने का काम किया और प्रदेश की जनता कांग्रेस की इसी आदत से इतनी परेशान थी कि भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने समेत करीब 154 वायदें करने वाली भाजपा ने भी भ्रष्टचार का स्वाद चखना शुरू कर दिया और आज हरियाणा प्रदेश की जनता की भ्रष्टाचारियों को सजा मिलने की उम्मीदें टूटने के साथ ही प्रदेश के विकास की उम्मीदें भी धराशायी होती नजर आ रही है। यह आरोप मंगलवार को इनैलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने शक्ति भवन के सामने जारी अनिश्ििचतकालीन धरने में दादरी विधानसभा क्षेत्र के लोगों को संबोधित करते हुए कहीं। इस मौके पर पूर्व सी.पी.एस रामपाल माजरा, विधायक राजदीप फोगाट, पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी, कार्यालय प्रदेश सचिव नछत्तर मल्हान, नारायाणगढ़ से डा. सतबीर चौधरी, धर्मवीर सिहाग, पंचकूला जिला उपप्रधान रमेश मांधना, रायसिंह प्यारेवाला, जितेन्द्र संधू, यज्ञपाल मलिक, बनारसी
दास, नीरज भल्ला, पूर्व सरपंच सुच्चा, जसबीर सिंह इत्यादि पंचकूला के पदाधिकारी भी मौजूद थे। इनैलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने आर.टी.आई में हुए मंत्रियों की गाडिय़ों के प्रतिदिन 900 किमी चलने की बातों पर चुटकी लेते हुए कहा कि हर कोई इस बात से भलि भांति परिचित है कि एक दिन में इतने किमी सफर करने में कितना समय लगता है, ऐसे में ये भी सवाल उठना है कि मंत्री गाड़ी से ही सरकार चला रहे है या फिर गाड़ी से ही पैसा कमा रहे है। अरोड़ा ने कहा कि आज इनैलो दो महीने बीतने को है कि बिजली बिलों में तीन गुणा बढ़ोत्तरी को लेकर धरना दे रही है। हमारा शांतिपूर्ण रवैया लगता है सरकार को रास नही आ रहा है, जिसके चलते इतनी देरी हो गई कि बिजली उपभोक्ताओं पर बढ़ाया महंगाई का बोझ कम करने का नाम नही ले रही है। उन्होंने कहा कि अभी तो हम शांतिपूर्ण तरीके से अपना विरोध जता रहे है और बढ़ाई बिजली की कीमतें सरकार को हर सूरत में वापिस लेनी होगी। इसके लिए आमरण अनशन से लेकर जेल भरो आंदोलनों के अलावा और भी कड़े रास्तें अपनाएं जा सकते है, क्योंकि प्रदेश की जनता से लूट का मामला है, जो इनैलो कतई बर्दास्त नही करेगी। ऐसे यदि भाजपा अपनी मनमर्जी से जनता पर अपने फैसले थोपती रहेगी तो फिर
जनता की परेशानियां बढ़ती जाएगी और जनता परेशान हो, ऐसा इनैलो नही होने देगी और भाजपा की हर उस जनविरोध नीति का डटकर विरोध जताएगी।



Monday, January 18, 2016

भाजपा सरकार ने बिजली की तीन गुणा कीमतें बढ़ाकर तानाशाही रवैया अपनाया - स.निशान सिंह 



पंचकूला, 18 जनवरी : इंडियन नैशनल लोकदल के टोहाना विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों ने सोमवार को शक्ति भवन के सामने बिजली बिलों की वृद्धि को लेकर पूरा दिन धरना दिया और मौजूदा भाजपा सरकार की तीखे शब्दों में कड़ी आलोचना करते हुए जनता क दुख-दर्द न समझने वाली सरकार बताया। धरने का नेतृत्व पूर्व विधायक व प्रदेश प्रवक्त सरदार निशान सिंह ने किया और मौके पर जुलाना से विधायक परमिन्द्र ढुल, पूर्व विधायक व पंचकूला जिला प्रधान प्रदीप चौधरी व टोहाना के पदाधिकारी मौजूद थे। पूर्व विधायक निशान सिंह ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि बिजली की तीन गुणा वृद्धि को लेकर भाजपा का तानाशाही रवैया इस बात के सकेंत दे रहा है कि भाजपा सरकार को जनता के हितों से कोई सरोकार नही है। आज बिजली उपभोक्ताओं की पीड़ा को लेकर इनैलो लगातार दो महीने होने को है, शक्ति भवन के सामने धरना देकर सरकार को जगाने का काम कर रही है। ताकि बिजली उपभोक्ताओं पर पड़े करीब साड़े 24 सौ करोड़ के बोझ से सरकार राहत देने का काम करें। उन्होंने कहा कि किसान के साथ भाजपा ने डबल ठगी करने का काम किया। पहले उसकी बासमती धान की कीमत को सामान्य श्रेणी की धान के बराबर कर दिया और फिर जब किसान धान बेचने मंडी में गया तो वहां किसान से जे-फार्म के नाम पर लूट की गई। पूर्व विधायक ने कहा कि कांग्रेस के 10 सालों से जनता इस कदर दुखी और परेशान हो चुकी थी कि भाजपा के झुठे वायदों के जाल में फंस गई और केन्द्र और राज्य की सत्ता भाजपा का थमा बैठी, आज भाजपा अपनी मनमर्जी के फैसले लेकर जनता को लगातार प्रताडि़त करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का हर वर्ग आज समस्याओं से जुझ रहा है और सरकार के सवा एक वर्ष के कार्यकाल में सरकार जनता की समस्याओं को लेकर थोड़ा भी गंभीर नजर नही आ रही है। सरकार को गहरी नींद से जागना होगा और जनता के हितों के लिए काम करना होगा, ताकि प्रदेश तरक्की की ओर बढ़ सके, आज प्रदेश देश के अन्य राज्यों के मुकाबले हर क्षेत्र में लगातार पिछड़ता जा रहा है। धरनास्थल पर पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी ने संबोधित करते हुए कहा कि सरकार के बुरे दिन आ चुके है, पंचायती चुनावों में उसकी बड़ी हार हुई है और पंचायती चुनावों में इनैलो के प्रति जनता ने भारी मतदान किया है। चौधरी ने कहा कि लोक-लुभावने वायदों से जनता का ध्यान भटकाने वाली भाजपा की पंचायती चुनावों में एक नही चली । इस मौके पर प्रदेश कार्यालय सचिव नछत्तर मल्हान, बनारसी दास, आजाद मलिक, बलवंत ढुल, नीरज भल्ला, जसबीर सिंह, हर्ष गुजराल इत्यादि मौजूद थे।

पंचायत चुनावों में जनता ने भाजपा को नकारा- बिश्नोई

हिसार, 18 जनवरी : भाजपा सरकार से आज समाज का हर वर्ग खफा है। इसीलिए पंचायत चुनावों में बीजेपी को बिलकुल नकार दिया है। जहां जहां बीजेपी के नेताओं ने किसी प्रत्याशी को अपना समर्थन दिया, वहीं जनता ने उनको जमीनी हकीकत से अवगत करवा दिया। ये बात इनेलो जिला प्रवक्ता एडवोकेट मनदीप बिश्नोई ने प्रेस को जारी एक बयान में कही। उन्होंने कहा कि परिवहन मंत्री कृष्ण पंवार ने अपने क्षेत्र में पंचायत उमीदवारों को सीधा समर्थन दे रखा था, उन सबको हार का सामना करना पड़ा। वहीं हिसार जिले में भी बीजेपी के कई  वरिष्ठ पदाधिकारियों ने जिनमे से कुछ ने तो विधानसभा का चुनाव भी लड़ा था, उन्होंने भी अप्रत्यक्ष रूप से अपने उमीदवार चुनाव में खड़े किये थे, परन्तु ऐसे पदाधिकारियों को अपने गांव में ही बुरी तरह पराजित होना पड़ा। यंहा तक कि बीजेपी के जिला महा मंत्री जिन्होंने बरवाला हल्के से विधानसभा चुनाव भी लड़ा था तथा अपने पिता को अपने गांव खरक पूनिया से सरपंच का चुनाव लड़वाना चाहते थे, इसके लिए उन्होंने गांव के लोगो को लुभाने के लिए डी प्लान की अधिकतर अपने गांव में लगवाई थी। परन्तु बाद में सम्भावित हार को देखते हुए उन्होंने अपने पिता की जगह अन्य को खड़ा करके उसका पूरा समर्थन दिया। परन्तु फिर भी गांव के जागरूक लोगो ने उसे नकार दिया व इनेलो के हलका प्रधान रणधीर पूनिया के बेटे संदीप पूनिया को सरपंच चुन लिया।  एडवोकेट बिश्नोई ने कहा कि पंचायत का चुनाव आपसी भाई चारे का होता है, फिर भी बीजेपी ने चुनावो में अप्रत्यक्ष रूप से हिस्सा लेकर इस भाईचारे को बिगाडऩे की कोशिश की। परन्तु गांव की जागरूक जनता इनके बहकावे में नही आई और आपसी भाईचारे को बनाये रखा। इसके लिए गांव के लोग बधाई के पात्र है। अब जब बीजेपी को पंचायत चुनावों से कुछ हासिल नहीं हुआ तो दबाव की रण नीति अपनाकर चुने हुए प्रतिनिधियो को जबरदस्ती अपने पास बुलाकर झूठी वाह वाही लूट रहे है। अगर बीजेपी को गांवो में अपनी सरकार बनानी ही थी तो पंचायत चुनाव पार्टी चुनाव चिन्ह पर लड़ते ताकि जो तस्वीर आज अप्रत्यक्ष रूप से दिखाई बीजेपी के खिलाफ दिखाई दी हैं वह प्रत्यक्ष रूप से सामने आ जाती। एडवोकेट बिश्नोई ने आगे कहा कि बीजेपी को इन चुनाव परिणामों से सबक लेकर विधानसभा चुनावो में जनता से किये गए वायदों को पूरा करने चाहिए, नहीं तो आगे आने वाले चुनावो के समय बीजेपी के उम्मीदवारों को लोग  वोट देना तो दूर बल्कि उन्हें अपने क्षेत्रो में घुसने भी नही देंगे।

ग्रामीणों का अभूतपूर्व प्यार और सम्मान कभी नही भूल पाऊंगा - कर्ण चौटाला

 
सिरसा 18 जनवरी:इनेलो समर्थित प्रत्याशी एंव ऐलनाबाद के विधायक चौ०अभय सिंह चौटाला के ज्येष्ठ पुत्र युवा नेता कर्ण चौटाला जिला परिषद के जोन न:12 से अन्य प्रत्याशियों से आगे चल रहे है। चौटाला का विनम्र स्वभाव और बात चीत की शैली मतदाताओं को खुब भा रही है। गांव बारासरी में उन्हें केलों से तोला वही गांव के निवासियों ने फूल मालांए डालकर उन्हें विजयीश्री का आशीर्वाद दिया। अपने स्वागत से अभिभूत कर्ण चौटाला ने कहा कि  वह ग्रामवासियों के हमेशा श्रृणी रहेगें तथा चुनाव जीतने के पश्चात जोन न:12 के प्रत्येक गांव में विकास करवाने मेें कोईकसर नही छोडग़ें। उन्होनें कहा कि  भाजपा के नेता ग्रामीण संस्कृति और गांव की समस्याओं के बारे में नही जानते। भाजपा पर प्रहार करते हुए उन्होनें कहा कि भाजपा ने अभी तक बर्बाद नरमा कपास व ग्वार की फसलों का मुआवजा नही दिया है और ना ही अपना एक भी चुनावी वायदा पूरा नही किया जो भाजपा नेताओं की नीयत को दर्शाता है। मूलभूत सुविधाओं से कोस रहे है,जिन्होने पंचायत व जिला परिषद चुनावों में भाजपा को बाहर का रास्ता दिखाने की ठान रखी है। अभियान के दौरान सुरेश गरवा के  निवास पर उन्होनें दोपहर का भोजन लिया। इस मौके पर रतन लाठर,रोहताश जाखड़,रवि शर्मा,भागी राम कस्वां,राजेन्द्र बेनीवाल,आन्न्द बेनीवाल,अमर सिंह धानक,मदन बरोड़,हनुमान बाजीया,हरजीत चौयल,शुशील चौयल,भजन लाल भुक्कल,खिराज सिंह,हरि राम मोहटसरा आदि सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे।



Friday, January 15, 2016

मतदाताओं की कसौटी पर खरा उतरुंगा: कर्ण चौटाला


चंडीगढ़, 15 जनवरी: इनेलो समर्थित प्रत्याशी युवा नेता कर्ण चौटाला का चुनाव अभियान धीरे-धीरे गति पकड़ रहा है। कर्ण चौटाला अपना चुनावी अभियान एक विशेष रणनीति के तहत जारी रखे हुऐ है। कर्ण चौटाला ने आज अपना चुनाव अभियान हंजीरा गांव से आरम्भ किया और घर-घर जाकर बुजर्गाे से अपनी जीत के लिए आशीर्वाद लिया। जबकि महिलाओं ने कर्ण चौटाला क ो आर्शिवाद देते हुए उनके पक्ष में मतदान करने का विश्वास दिलाया। इस मौके पर एकत्रित भीड़ को सम्बोधित करते हुए कर्ण चौटाला ने कहा कि वह मतदाताओं की कसोटी पर खरा उतरेंगे और जोन न०12 के विकास के प्रति जीतोड़ मेहनत करेंगे तथा प्रत्येक गांव मे मूलभूत सुविधाओं को उपलब्ध करवाने का पुरजोर प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि मेरे दादा-परदादा ने इस गांवों में सत्ता में रहते हुए चहुंमुखी विकास कि या है तथा वह भी अपने पूर्वजों की नीति पर चलते हुऐ गांवों मे विकास की झड़ी लगा देंगे। इस मौके पर नगर पार्षद व युवा प्रदेश उपाध्यक्ष रोहित गनेरीवाला,जयसंत पुनिया,रतन बाजीया, अर्जुन पुनिया, सतवीर बाजीया,देवी लाल जांगड़ा, यशवीर गांठ,रामेश्वर पुनिया,सुभाष बैनीवाल, प्रदीप बैनीवाल, सुनील, रवि,सुभाष गांठ,विनोद गांठ, कृ ष्ण पुुनिया,अशोक पुनिया आदि लोग उपस्थित थे।
देश में सबसे महंगी बिजली देने वाला राज्य बना हरियाणा: दुष्यंत चौटाला


चंडीगढ़, 15 जनवरी: इनेलो के हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने शुक्रवार को पंचकूला शक्ति भवन के सामने बिजली बिलों की दरों में बढ़ौतरी को वापिस लेने बारे पानीपत शहरी हलके के धरने में शामिल होकर सरकार के खिलाफ विरोध जताया और बिजली विभाग के एमडी से शक्तिभवन में मिलकर मामले को लेकर बातचीत भी की। इस मौके पर उनके साथ पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी, प्रदेश प्रवक्ता अशोक शेरवाल, नछत्तर मल्हान, कुलभूषण गोयल सहित पानीपत शहरी हलका से आए पदाधिकारी व कार्यकत्र्ता भी मौजूद थे। इनेलो युवा नेता ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि करीब साढे 56 करोड़ बिजली उपभोक्ताओं पर साढे 24 सौ करोड़ का भार डाला गया, उससे बिजली उपभोक्ताओं को राहत दिलाने के लिए इनेलो लगातार दो माह से अनिश्चितकालीन धरना दे रही है। 



सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अडानी को फायदा पहुंचाने की नीयत से राज्य सरकार ने तीन गुणा अचानक से बिल बढ़ा दिए और आज हरियाणा पूरे देश में सबसे महंगी बिजली देने वाला राज्य बन गया है। सरकार सरप्लस की बात करती है जबकि गांवों में लोगों को उनकी जरूरत के मुताबिक बिजली नहीं मिल पा रही है। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार के साथ हमारी पार्टी नरमी से पेश आ रही है, विरोध के और भी रास्ते है, क्योंकि यहां प्रदेश के लोगों के हितों की लड़ाई हो रही है। उन्होंने कहा कि शक्ति भवन में एमडी को बिजली बढ़ोत्तरी को लेकर बात करने का निमंत्रण दिया गया था, उनके कार्यालय में जाकर बिजली बढ़ोत्तरी को लेकर बातचीत हुई। उन्होंने कहा कि सरकार की नीयत में फर्क के चलते आज प्रदेश की जनता महंगाई की मार झेल रही है। चुनावों के वक्त तो बड़े लच्छेदार भाषण दिए गए और वोट पाने के बाद आज भाजपा को अपने वायदे याद नही आ रहे है। युवा वर्ग प्रदेश में बेरोजगारी की मार झेल रहा है, युवाओं को नौकरी देने की तो सरकार बात नही करती, उल्टा उन्हें अपने वायदे अनुसार कहे बेरोजगारी भत्ता 6000-9000 मासिक तक भी देने से मुंह मोड़ रही है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पंचायती चुनावों के पहले चरण में जहां भाजपा के खिलाफ आज मतदान हुआ है, वहीं आज भाजपा के मंत्री से लेकर विधायक तक अपने समर्थित उम्मीदवारों को जिताने के लिए जोर लगा रहे है, उनकी हार तो निश्चित है, क्योंकि जब केन्द्र और राज्य सरकारों ने जनता से झुठे वायदे कर सत्ता हथियाने का काम किया है, ऐसे में अब जनता भाजपा के झूठे वायदों में फंसने वाली नही और भाजपा को मुंहतोड़ जवाब देने को तैयार है। इस मौके पर पानीपत शहरी हलका के कार्यकर्ता  व पदाधिकारी भारी संख्या में पहुंचे हुए थे और पंचकूला से पूर्व सरपंच सुच्चा राम, आजाद मलिक, सुरेन्द्र कुंडू, नीरज भल्ला, जसबीर सिंह, हर्ष गुजराज, जितेन्द्र संधू सहित काफी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।