Friday, October 31, 2014

इनेलो ने दी हरियाणा दिवस की बधाई


इनेलो विधायक दल के नेता एवं ऐलनाबाद के विधायक चौधरी अभय सिंह चौटाला ने प्रदेशवासियों को पहली नवम्बर हरियाणा दिवस पर हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य एवं सुख-समृद्धि की कामना की है। इनेलो नेता ने कहा कि हरियाणा के निर्माता जननायक चौधरी देवीलाल की हमेशा यह सोच रही कि हरियाणा आपसी प्रेम-प्यार और भाईचारे की एक मिसाल बने और विकास के मामले में दुनिया में सबसे आगे रहे। उन्होंने कहा कि इनेलो ने सदैव चौधरी देवीलाल की नीतियों पर चलते हुए हरियाणा को बुलंदियों पर पहुंचाने का प्रयास किया है और प्रदेशवासियों के मान-सम्मान व उज्ज्वल भविष्य के लिए इनेलो हमेशा प्रयासरत रहेगी। इनेलो नेता ने भारत के लोहपुरुष सरदार बल्लब भाई पटेल के जन्म दिवस पर भी देश व प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए उन्हें बधाई दी है। इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने भी प्रदेशवासियों को हरियाणा दिवस पर शुभ कामनाएं देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।
इनेलो के पक्ष में मतदान करने के लिए पार्टी नेताओं ने मतदाताओं का आभार जताने के लिए धन्यवादी दौरे किए


 फतेहाबाद में इनेलो विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया ने शुक्रवार सुबह शहर में मुख्य बाजारों में डोर-टू-डोर जनसंपर्क करते हुए दुकानदारों का चुनावी जीत में सहयोग करने पर आभार प्रकट किया। दौलतपुरिया ने अपने इस धन्यवादी जनसंपर्क की शुरूआत स्थानीय लाल बत्ती चौक से की, इसके बाद वे फव्वारा चौक, थाना रोड, पालिका बाजार, जवाहर चौक आदि क्षेत्रों में दुकानदारों, रेहड़ी संचालकों के बीच पहुंचे और उनसे गले मिल अपनी जीत पर उनका धन्यवाद प्रकट किया। इस दौरान उनके साथ पार्टी वरिष्ठ नेताओं में कुलजीत कुलडिय़ा, सुरेन्द्र लेगा, प्रताप पूनिया, केएस बिट्टा, महिला विंग जिलाध्यक्ष सरोज सांगा, एडवोकेट सुमनलता सिवाच, शहरी प्रधान पवन चुघ, पार्षद कुलवंत सवणा, राजू मुंजाल, रमेश गिल्होत्रा आदि भी लोगों से रूबरू हुए। दुकानदारों, रेहड़ी संचालकों ने अपने बीच पहुंचे इनेलो विधायक का फूल-मालाओं के साथ स्वागत किया और लड्डू खिलाकर उन्हें जीत की बधाई भी दी।
बलवान दौलतपुरिया ने लोगों से जनसंपर्क करते हुए कहा कि दस साल विकास का डिंढोरा पिटने वाली पूर्व की कांग्रेस सरकार और उसके स्थानीय नुमांईदे फतेहाबाद शहर के चिल्ली झील, सामान्य अस्पताल, नया बस स्टैंड, रेहड़ी संचालकों को स्थाई ठिकाने जैसे अनेक मुद्दों को हल करवा पाने में फ्लॉप साबित हुए। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी नुमांइदों की क्षेत्र के विकास के प्रति इस तरह की अनदेखी के परिणामस्वरूप ही चिल्ली झील लगातार आमजन और किसान वर्ग के लिए खतरे का मुख्य कारक साबित हो रही है। एक जिला मुख्यालय स्तर का सरकारी अस्पताल न होने की वजह से आज भी क्षेत्र में मामूली दुर्घटनाओं के घायलों और गंभीर रोगियों को हिसार-रोहतक रेफर किया जा रहा है। नया बस स्टैंड न होने की वजह से राष्ट्रीय राजमार्ग बड़े वाहनों की आवाजाही से तंग हालात में रहने लगा है। 


उन्होंने इस तरह की तमाम समस्याओं के लिए सीधे रूप से पूर्व के विधायक और कांग्रेस सरकार के दस साल में फतेहाबाद के विकास की अनदेखी को जिम्मेवार ठहराया। दौलतपुरिया ने कहा कि जनता ने अपने अच्छे-बुरे की पहचान करते हुए इस बार उन्हें विधानसभा में क्षेत्र की आवाज बुलंद करने का अवसर प्रदान किया है। उन्होंने लोगों का आश्वस्त किया कि विधानसभा में अगले पांच सालों में वे हरसंभव प्रयास करके क्षेत्र के गंभीर मुद्दों को हल करवाएंगे और फतेहाबाद क्षेत्र के विकास में किसी तरह की कोई कमी नहीं छोड़ेंगे। इस मौके पर उनके साथ भीम खोवाल, जगदीश नायक, डॉ. रणजीत ओढ, युवा प्रदेश महासचिव स. राणा जोहल, हरपाल तनेजा, सुभाष टूटेजा, यश तनेजा, डॉ. दुर्गा सोनी, जत खांडा सहित अनेक पदाधिकारी, कार्यकत्र्ता उपस्थित रहे। इसके अलावा अन्य हलकों में भी पार्टी प्रत्याशियों व नवनिर्वाचित विधायकों ने धन्यवादी दौरे कर इनेलो के पक्ष में मतदान करने के लिए लोगों का आभार जताया और पार्टी की ओर से उन्हें पूरा सहयोग एवं समर्थन दिए जाने का भरोसा दिलाया।

                      जींद विधानसभा क्षेत्र का होगा चौमुहखी विकास : डा. हरिचंद मिढ़ा


जींद से विधानसभा चुनाव जीतने के बाद विधायक डा. हरिचंद मिढ़ा ने शुक्रवार को गांव पिंडारा, निर्जन, मांडो, मनोहरपुर, बरसाना, दालमवाला, रायचंदवाला का दौरान किया और उन्हें उनका प्रतिनिधि चुनने तथा उन पर विश्वास जताने पर लोगों का धन्यवाद किया। ग्रामीण सभाओं को संबोधित करते विधायक डा. हरिचंद मिढ़ा ने कहा कि जींद की जनता ने उन पर जो दोबारा विश्वास जताया है उस पर वे खरा उतरने का प्रयास करेंगे। उनकी प्राथमिकता यही है कि विकास के मामले में जींद जो पिछड़ गया है अब उसके पिछड़ेपन को दूर करने के लिए वे दिन-रात एक करेंगे। जींद के विकास के लिए वे भाजपा सरकार से टक्कर लेंगे और जींद के विकास के लिए यहां के लोगों की आवाज को विधानसभा में बुलंद करेंगे। उन्होंने कहा कि जींद विधानसभा क्षेत्र उनका परिवार है और इस क्षेत्र के लोगों ने सदा उन्हें मान-सम्मान दिया है और इस मान-सम्मान का अहसान वह जरूर चुकाएंगे। उन्होंने कहा कि उनका पूरा प्रयास रहेगा कि जींद क्षेत्र रोजगार व शिक्षा तथा स्वास्थ्य के मामले में पिछड़ा न रहे। इस समय स्वास्थ्य, पेयजल, सड़कें, बाईपास व ओवरब्रिज,अशिक्षा जींद हलके की बहुत बड़ी समस्याएं हैं। गांवों में लोगों को मूलभूत सुविधाएं भी प्राप्त नहीं हो पा रही हैं। ऐसे में उनका प्रयास रहेगा कि जींद शहर की तरह गांवों को भी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हों। इस मौके पर प्रेम पंजेठा, रणधीर चहल, अनिल लाठर, एडवोकेट कुलदीप, राज सिंह पिंडारा, कर्मपाल ढुल, बिंद्र रूपगढ़, राजेंद्र फौजी, सतनारायण, जगबीर, राजसिंह  खटकड़, जयनारायण, मा. धर्मपाल सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे। 


प्रदेश सरकार किसानों की समस्याओ के प्रति गम्भीर नही : उमेद लोहान

प्रदेश भाजपा सरकार में बैठे नुमाइन्दे चुनाव से पहले तो किसान हित की बड़ी बड़ी बातें करते थे  परन्तु सत्ता में आने के बाद इन लोगो ने किसान हितो को दरकिनार कर दिया है।
यह बात इनेलो के जिला अध्यक्ष उमेद सिंह लोहान ने आज यंहा जारी एक बयान में कही। उन्होंने कहा कि भाजपा के किसान मोर्चा के राष्ट्रिय अध्यक्ष ओ पी धनखर ने लोकसभा व विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश के किसानो से स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने की बात की थी। पर अब जब केंद्र व राज्य में भाजपा की सरकार है तथा ओ पी धनखर स्वंय कृषि मंत्री है। परन्तु स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागु करना तो दूर बल्कि किसानो की फसल गेंहू व चना के न्यूनतम समर्थन मूल्य में क्रमश 50 रुपये व 75 रुपये की मामूली बढोतरी करके उनके साथ भद्दा मजाक किया है। वंही किसान की फसल धान व कपास के दाम भी दिन ब दिन गिरते जा रहे है। जिससे किसान को सीधा नुक्सान हो रहा है। इसे लेकर किसान बार बार आवाज उठा रहा है परन्तु सरकार के कान पर ज़ू तक नहीं रेंग रही। लोहान ने मांग की है कि भाजपा सरकार चुनाव से पहले किसानो से किये अपने वायदों को जल्द से जल्द पूरा करे ताकि किसान खुशहाल हो सके।

स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट लागू की जाए : अशोक अरोड़ा


 इनेलो ने सरकार द्वारा चालू रबी सत्र के लिए गेहूं के न्यूनतम समर्थन मूल्य में 50 रुपए प्रति क्विंटल की बढौतरी को नाकाफी बताते हुए गेहूं का समर्थन मूल्य स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट अनुसार लागू किए जाने की मांग करते हुए कहा कि मौजूदा बढ़ौतरी से किसान का खर्चा व लागत मूल्य भी पूरा नहीं होता और किसान को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2000  रुपए प्रति क्विंटल दिए जाने की मांग करते हुए कहा कि किसानों को मोदी सरकार से भारी उम्मीदें रही हैं और सरकार ने वायदा भी किया था कि किसानों को फसलों के लाभकारी मूल्य देने के लिए स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बासमती धान की कीमतों को लेकर किसान पहले ही काफी घाटा उठा रहा है और अब गेहूं के भी पूरे दाम न मिलने से किसान पूरी तरह बर्बाद हो जाएगा।
श्री अरोड़ा ने कहा कि एक तरफ तो खुद सरकार मानती है कि गेहूं पर किसान का खर्चा प्रति क्विंटल 1654 रुपए आता है और सरकार ने वायदा किया था कि किसानों को उसके लागत मूल्य पर 50 प्रतिशत मुनाफा जोडक़र उसे कृषि उपजों के दाम दिए जाएंगे। स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट में भी किसानों को उसके लागत मूल्य के साथ 50 प्रतिशत मुनाफा जोडक़र भाव दिए जाने की सिफारिश की गई है। इनेलो नेता ने कहा कि डीजल, खाद्य, बीज, दवाएं व कीटनाशक के दामों में भारी बढ़ौतरी होने के कारण किसानों का लागत मूल्य काफी बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि खेती निरंतर घाटे का सौदा बनती जा रही है और पूरा दिन मेहनत करने के बावजूद भी किसान व खेत, मजदूर शाम को अपने परिवार के साथ भूखे पेट सोने को न सिर्फ मजबूर हो रहा है बल्कि निरंतर कर्जे के बोझ तले भी दबता जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों के साथ किए गए अपने वायदे अनुसार उन्हें फसलों के लाभकारी मूल्य प्रदान करे ताकि किसान व कृषि मजदूरों की हालत में कुछ सुधार हो सके। 
इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि इस बार सरकार द्वारा बासमी धान के निर्यात पर पाबंदी लगाए जाने के कारण किसानों को पिछले साल के मुकाबले करीब 1500 रुपए प्रति क्विंटल बासमती धान सस्ता बेचने को मजबूर होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले साल जो धान 3800 से 4000 रुपए प्रति क्विंटल मार्केट में बिकता था वह आज 2000 से 2300 रुपए प्रति क्विंटल के बीच बिक रहा है जिससे किसानों को सीधे 20 हजार रुपए प्रति एकड़ का नुकसान उठाना पड़ रहा है। इनेलो नेता ने कहा कि किसानों ने बारिश व बिजली-पानी की कमी के चलते महंगे दामों पर डीजल खरीदकर धान की पैदावार करने का काम किया और अब उसे पिछले साल के बराबर दाम मिलना तो दूर करीब डेढ हजार रुपए प्रति क्विंटल कम दाम मिल रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस संबंध में अगर कोई तुरंत कदम नहीं उठाए तो किसान का धान तो सस्ते में लुट जाएगा उसके बाद उठाए गए कदमों का किसानों को कोई लाभ नहीं होगा क्योंकि किसान के पास तो धान बचेगा ही नहीं। उन्होंने बासमती धान के उत्पादक किसानों को लाभप्रद मूल्य दिलवाने के लिए तुरंत धान निर्यात पर लगी रोक हटाए जाने और गेहूं का समर्थन मूल्य दो हजार रुपए प्रति क्विंटल दिए जाने और आम उपभोक्ता को सब्सिडी के आधार पर सस्ते दामों पर गेहूं व अन्य कृषि उपज उपलब्ध करवाए जाने की मांग की।

Saturday, October 18, 2014

चुनाव परिणाम पूर्ण रूप से इनेलो के पक्ष में होंगे

इनेलो के राष्ट्रीय सचिव एवं हरियाणा लोकसेवा आयोग के पूर्व सदस्य युद्धवीर सिंह आर्य ने दावा किया है कि विधानसभा चुनाव में इनेेलो पूर्ण बहुमत से सरकार बनाएगी। उन्होंने सर्वे एजेंसियों पर सवालिया निशान उठाते हुए कहा कि वर्ष 2009 के हरियाणा विधानसभा चुनाव के समय भी सभी सर्वे एजेंसियां इनेलो को 10 से 12 सीटें दिखा रही थी व कांग्रेस की पूर्ण बहुमत की सरकार बता रही थी। मगर बाद में इनेलो को 32 सीटें मिली। उसी प्रकार वर्ष 2012 के पंजाब विधानसभा चुनाव में भी सभी सर्वे एजेंसियां कांग्रेस का पूर्ण बहुमत दिखा रही थी, परंतु चुनाव परिणामों में अकालीदल बादल ने अकेले पूर्ण बहुमत प्राप्त कर सरकार बनाई। उस चुनाव में भटिंडा सीट से डेरा सच्चा सौदा प्रमुख संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी के समधि भी चुनाव हार गए थे। इनेलो नेता ने आगे कहा कि बहुत सी सर्वे एजेंसियों के रूख से भाजपा के नेता अपनी सरकार बनाने के व मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार मुख्यमंत्री बनने के सपने संजो रहे हैं, लेकिन 19 अक्टूबर को चुनाव परिणाम आने के बाद उनके ये सपने ख्याल पुलाव साबित होंगे। सर्वे एजेंसियां जहां अभय सिंह चौटाला व दुष्यंत चौटाला को भी हारा हुआ दिखा रही हैं, इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए युद्ववीर सिंह आर्य ने कहा कि चौटाला परिवार के तीनों सदस्य अपने अपने क्षेत्रों से भारी बहुमत से चुनाव जीतेंगे। उन्होंने दावा किया कि इस चुनाव परिणाम पूर्ण रूप से इनेलो के पक्ष में होंगे और इनेलो पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगी।

Friday, October 17, 2014

जिलों के बेरोजगारों के साथ नौकरियों में वास्तव में भेदभाव किया है : पदम जैन


इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा के बिजली मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव के नौकरियों में भेदभाव व जमीन घोटालों के बारें में दिए गए बयान से यह सिद्ध हो गया है कि मुख्यमंत्री हुड्डा ने रोहतक व किलोई के युवाओं को ही रोजगार देकर राज्य के अन्य जिलों के बेरोजगारों के साथ नौकरियों में वास्तव में भेदभाव किया है। इन मामलों को अक्सर इनेलो ने हमेशा ही प्रमुखता से उठाया है। श्री जैन ने कहा कि यदि एक आईएएस ऑफ्सिर के बयान पर इनेलो सुप्रीमों चौधरी ओ३म प्रकाश चौटाला के विरुध मुकद्दमा दर्ज हो सकता है तो फिर एक जिम्मेवार मंत्री के बयान पर मुख्यमंत्री हुड्डा पर अपराधिक मुकद्दमा दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के 10 साल कार्यकाल में सरकारी नियुक्तियों व भूमि घोटालों की यदि निष्पक्षता पूर्ण सीबीआई जांच करवाई जाएं तो एक महा घोटाला सामने आ सकता है। इनेलो नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री हुड्डा ने अपने दस साल के शासनकाल में अपने चेहतों व करीबी रिश्तेदारों को सरकारी नौकरियों की खुली बंदरबांट की वहीं अपने नजदीकी मित्रों को कौडिय़ों के भाव जमीन देकर उन्हें आर्थिक लाभ पहुंचाकर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को पंगु बना दिया है। जिलाध्यक्ष ने राज्यपाल से मांग करते हुए कहा कि बिजली मंत्री कैप्टन अजय यादव के बयान पर संज्ञान लेकर मुख्यमंत्री हुड्डा के विरुध कानूनी कार्यवाही की जाए। 

Wednesday, October 15, 2014

इनेलो के पक्ष में रिकार्ड तोड़ मतदान के लिए प्रदेशवासी व पार्टी कार्यकर्ता बधाई के पात्र: अभय चौटाला



इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं ऐलनाबाद के विधायक चौधरी अभय सिंह चौटाला ने आज प्रदेश में हुए रिकार्ड तोड़ मतदान के लिए मतदाताओं व पार्टी कार्यकर्ताओं का आभार जताते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं को इनेलो की होने जा रही रिकार्ड तोड़ जीत के लिए बधाई दी है। इनेलो नेता ने कहा कि इस बार प्रदेश के मतदाताओं में न सिर्फ प्रदेश की भ्रष्ट कांग्रेस सरकार को सबक सिखाने का काम किया है जिन्होंने षड्यंत्र रचकर इनेलो प्रमुख चौधरी ओमप्रकाश चौटाला, डॉ. अजय सिंह चौटाला और शेर सिंह बडशामी को जेल में भिजवाने का काम किया बल्कि अपने अपमान का बदला लेने का भी काम किया है। इनेलो नेता ने कहा कि आज प्रदेश के मतदाताओं ने जिस तरह से बढ़-चढक़र मतदान में हिस्सा लिया और इनेलो के पक्ष में वोट डालने का काम किया उससे साफ हो गया कि प्रदेश की जनता का भरोसा चौधरी देवीलाल की नीतियों पर चलने वाली इनेलो पार्टी में है और न सिर्फ कांग्रेस इस बार प्रदेश में सिंगल डिजिट में रह जाएगी बल्कि उस भाजपा के बड़े-बड़े दावों की भी लोगों ने पूरी तरह पोल खोल दी है जिसके नेता यह कहकर लोगों को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे थे कि उनकी फोटो दिखाकर वोट मांगे जा रहे हैं। इनेलो नेता ने कहा कि इस बार हुए 73 प्रतिशत से ज्यादा मतदान के लिए प्रदेश के मतदाताओं को मतदान केंद्रों तक लाने और इनेलो के पक्ष में वोट डलवाने के लिए जिस तरह से पार्टी कार्यकर्ताओं ने जी-तोड़ मेहनत की उसके लिए पार्टी कार्यकर्ता न सिर्फ बधाई के पात्र हैं बल्कि उन्होंने पूरी दुनिया में एक नई मिसाल कायम की है। उन्होंने कहा कि जब से हरियाणा प्रदेश का गठन हुआ है तब से लेकर आज तक का सबसे रिकार्ड तोड़ मतदान होना और प्रदेश में हुई छिटपुट घटनाओं के अलावा मतदान पूरी तरह से शांतिपूर्वक रहा जो कि यह दर्शाता है कि विरोधियों के तमाम उकसावे व उत्तेजना पैदा करने के बावजूद इनेलो कार्यकर्ताओं ने जिस तरह से शांति एवं सदभाव बनाए रखने में योगदान निभाया वह अपने आपमें अद्वितीय है। उन्होंने कहा कि अब यह विरोधी भी मानने लगे हैं कि प्रदेश में इनेलो बहुमत से सरकार बनाने जा रही है और लोगों ने इनेलो को ही सरकार बनाने के लिए न सिर्फ स्पष्ट जनादेश दिया है बल्कि कांग्रेस व भाजपा सहित अन्य सभी दलों को पूरी तरह से नकारने का काम किया है। इससे पहले चौधरी अभय सिंह चौटाला ने अपने पैतृक गांव चौटाला में वोट डाला और पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि तमाम तरह के दुष्प्रचार व भ्रमित करने वाली अफवाहों के बावजूद प्रदेश की जनता इनेलो को चुनने जा रही है और 19 अक्तूबर को यह बात पूरी तरह से चुनावी नतीजों के साथ ही साफ हो जाएगी। उन्होंने कहा कि इनेलो की जीत पूरी तरह से पार्टी कार्यकर्ताओं व प्रदेशवासियों की जीत होगी और इनेलो की सरकार भी आम लोगों की व पार्टी कार्यकर्ताओं की ही सरकार होगी।

दिग्विजय चौटाला ने पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग किया।



कांग्रेस द्वारा  इनेलो नेताओं पर अत्याचार करने वाली भ्रष्ट हुड्डा सरकार को आज जड़ उखाड़ कर सत्ता से बाहर फेंक देगी। हरियाणा में इनेलो बहुमत से सरकार बनाएगी और प्रदेश की भावनाओं के अनुरूप काम करेगी। यह बात इनेलो की डबवाली से प्रत्याशी नैना चौटाला अपना मतदान करने के बाद पत्रकारों बातचीत कर रही थी। उन्होंने कहा कि  लोकतंत्र के सबसे बड़े महापर्व के दिन सभी मतदाताओं को अपने मतों का प्रयोग करना चाहिए ताकि लोकतंत्र और भी ज्यादा मजबूत हो सके तथा एक स्वस्थ लोकतंत्र की स्थापना हो सके। नैना चौटाला ने आज सुबह 7 बजे सबसे पहले बरनाला रोड़ स्थित बाल भवन में बने बूथ नं. 18 पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। डा. अजय चौटाला के छोटे सुपुत्र दिग्विजय चौटाला ने भी बाल भवन स्थित बूथ नं 18 पर पहली बार सिरसा में अपने मताधिकार का प्रयोग किया। पत्रकारों से बातचीत करते हुए नैना सिंह ने कहा कि मतदान के दिन डा. अजय सिंह चौटाला सबसे पहले मतदान किया करते थे और मैं भी उनके साथ वोट डालने आती रही हूं, लेकिन इस बार उनके जेल में होने के कारण मुझे उनकी कमी महसूस हो रही है। पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि लगभग 62 साल में पहली बार चौटाला परिवार की महिला किसी चुनाव में बतौर प्रत्याशी मैदान में आई है। उन्होंने कहा कि उनके पति अजय सिंह चौटाला के जेल में होने के कारण उन्हें मजबूरीवश राजनीति में आना पड़ा है तथा मैने इस चुनौती को भी स्वीकार कर लिया है। चौटाला ने कहा कि चुनावों के दौरान मुझे विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में जाने का मौका मिला, मैंने देखा की ग्रामीण क्षेत्रों में महिला शिक्षा की स्थिति अत्यंत दयनीय है और महिलाओं के लिए कोई उच्च शिक्षिण संस्थान नहीं है। उन्होंने कहा कि चौटाला सरकार बनने के बाद उनकी प्राथमिकता महिलाओं की शिक्षा और सुरक्षा रहेगी। इनेलो नेत्री ने कहा कि महिलाओं को हमारे समाज में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है और उनका प्रयास रहेगा कि वे सत्ता में आने बाद महिलाओं की समस्याओं का निदान करावाऐंगी। पत्रकारों के सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि हरियाणा में इस समय इनेलो की जबरदस्त लहर चल रही है तथा निश्चित रूप से चौ. ओमप्रकाश चौटाला प्रदेश के मुख्यमंत्री बनकर जनता की सेवा करेंगे। एक अन्य प्रश्र के उत्तर में उन्होंने प्रधान मंत्री द्वारा इनेलो के प्रति प्रयोग की गई भाषा की आलोचना की। उन्होंने कहा कि एक प्रधानमंत्री को दूसरे राजनैतिक दल के प्रति इस प्रकार की भाषा का प्रयोग नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रजातंत्र में जब तक जनता नहीं चाहती, कोई भी व्यक्ति नेता नहीं बन सकता। इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि इस बार कांग्रेस सरकार के प्रति जनता में भारी रोष है तथा इनेलो स्पष्ट बहुमत लेकर सरकार बनायेंगी। उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव में भ्रष्टाचार, महंगाई, बेरोजगारी व जमीन घोटाले प्रमुख मुद्दे रहे और यह सरकार घोटालों वाली सरकार के नाम से मशहूर हो गई। पत्रकारों के सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि इनेलो सरकार बनने के बाद गरीबों के दो लाख रूपये तक के कर्जे माफ होंगे तथा किसानों को मुफ्त टयूवैल के कैन्कशन दिए जाऐंगे तथा उनका बीमा भी सरकार करवाऐगी, जबकि छोटे दुकानदारों को नुकसान होने पर उनको मुआवजा भी दिया जाएगा। चौटाला ने कहा कि हुड्डा के कारण प्रदेश में कांग्रेस समाप्ती के कगार पर पहुंच गई है तथा कांग्रेस हैर्टिक नही लगा पायेगी। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हमने पिछले पांच सालों में किसानों, व्यापारियों, कर्मचारियों सहित गरीब वर्ग के लोगों की आवाज उठाई है और उनको न्याय दिलवाने हेतू लम्बा संघर्ष किया है, इसलिए इस बार जनता इनेलो को वोट देकर सत्तासीन करेगी।

Tuesday, October 14, 2014

जांत पांत से ऊपर उठकर करें मतदान- मदनलाल ग्रोवर।


हर नागरिक को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वह अपने मतदान का सही उपयोग करते हुए एक योगय उम्मीदवार को अपना प्रतिनिधित्व करने का हक दे। मतदाता द्वारा समय रहते हुए उचित फैसला नहीं लेने से आने वाले 5 साल तक उसका भुगतान करना पड़ता है। उक्त शब्द हाल ही पंजाबी समाज के वरिष्ठ एंव कददावर नेता व प्रसिद्ध समाजसेवी मदनलाल ग्रोवर ने प्रैस के नाम जारी अपने बयान में कहे। उन्होंने क्षेत्रवासियों से अनुरोध करते हुए कहा कि विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश के नागरिक होने के दायित्व का निर्वहन करते हुए देश की लोकतांत्रिक प्रणाली को मजबूत करने में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें। उन्होंने कहा कि नागरिकों को चाहिए कि वे बिना किसी डर अथवा भय के अथवा बिना किसी लालच में आये ऐसे प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करें जो न केवल क्षेत्रवासियों के हितों की रक्षा करने में समर्थ हो बल्कि क्षेत्र को विकास की बुलन्दियों पर ले जाने की क्षमता रखता हो। उन्होंने कहा कि अपने पिछले अनुभवों से यह जाना है कि क्षेत्र को विकास की बुलन्दियों तक ले जाने में केवल इंडियन नैशनल लोकदल पार्टी है। उन्होंने कहा जब जब क्षेत्र में कोई मुसिबत आयी है उसमे चाहे पक्ष में या विपक्ष में हो इनेलो प्रत्याशी गोपीचन्द गहलोत मजबूत चटटान की तरह खड़े होकर जनता को समस्या से निजात दिलाने का काम किया। क्षेत्र के समुचित विकास के लिए व बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए जांति पांति, धर्म मजहब से ऊपर उठकर ताऊ देवीलाल की नीतियों का अनुसरण करने वाली इंडियन नैशनल लोकदल पार्टी के प्रत्याशी गोपीचन्द गहलोत के पक्ष में मतदान करें।

लोकसभा चुनावों की हवा के बहम में विधानसभा में हवा हो जाएगी भाजपा: प्रदीप चौधरी




वर्तमान में विधायक प्रत्याशी प्रदीप चौधरी ने मोरनी, रायपुररानी, पिंजौर और कालका क्षेत्र में डोर-टू-डोर जाकर वोट मांगें। प्रदीप चौधरी ने बरसात के बावजूद मोरनी क्षेत्र में पैदल लोगों के बीच जाकर वोट मांगें और कहा कि इनैलो ही एकमात्र ऐसी पार्टी है, जो सही मायनोंं में क्षेत्र का विकास करवा सकती है और 2001-2005 के बीच इनलो शासनकाल के दौरान क्षेत्र के हर कोने में विकास करवाया और होनहार युवाओं को रोजगार भी दिया, लेकिन मौजूदा कांग्रेस और भाजपा ने लोगों को धोखा दिया, वोट हासिल कर जनता को भूल है। चौधरी ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि इनैलो की हवा से विरोधी घबरा गए थे और आज वो लोग क्षेत्र के मतदाता से उसका अधिकार खरीद कर विधायक बनने का सपना देख रहे है, जबकि क्षेत्र की जनता ने इनैलो पार्टी में अपना विश्वास दिखाते हुए यह तय कर लिया कि वो एक-एक वोट इनैलो के चश्में के निशान पर डालेगें। चौधरी ने मतदाताओं को यह भी बताया कि वोटिंग मशीन पर उनका चश्में का निशान एक नंबर पर है। इनैलो विधायक ने अपने चुनाव की अंतिम तैयारियों को रूप देते हुए अपनी जीत के प्रति आश्वस्त नजर आते हुए कहा कि हलके की जनता बड़ी सुझबान है, जो बाहरी लोगों की बातों और उनके प्रलोभनों में नही आएगी और कालका से इनैलो जीत की होगी, यह हमेंं मतदाता के भसोसे से साफ नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनावोंं के अलग मद्दे थे और उस वक्त कांग्रेस की कमजोरी दुसरों की जीत का आधार बनी, यदि वो लोग आज भी उसी हवा के दम पर अपनी जीत के सपने देख रहे है, तो उनके सपने टूटने तय है। कभी अच्छे दिनों का नारा देते है तो कभी मोदी के साथ  चलने की बात करते है, जनता  को किसी के साथ चलने की जरूरत नही है, जनता को तो किए वायदों का हिसाब चाहिए जो भाजपा अपने साड़े तीन माह में नही दे  पाई। चौधरी ने अपनी विरोधी प्रत्याशी का बिना नाम लिए कहा कि दस वर्ष कांग्रेस राज में जमकर पैसा लूट और फिर अलग पार्टी बना ली, जनता के लूटे पैसे से अब वोट खरीदकर प्रजातंत्र को कमजोर करने वालों की बड़ी हार निश्ििचत  है। अंत में कहा कि हमें क्षेत्र की जनता का भरपूर समर्थन है, लोग हमारे से जुड़े और जुड़ते ही चले गए। इस अवसर पर उनके साथ पार्टी के कई वरिष्ठ और  शीर्ष नेताओं के साथ ही पार्टी कार्यकत्र्ता भी मौजूद थे।

जनता द्वारा दिए गए मान-सम्मान का ऋण कभी नहीं उतार सकता कभी : अशोक अरोड़ा


थानेसर हलके से इनेलो प्रत्याशी अशोक अरोड़़ा ने मतदाताओं से गुण दोष के आधार पर आंकलन करके वोट देने की अपील करते हुए कहा कि मतदाता अंतर्रात्मा की आवाज पर वोट दें और वोट डालने से पहले एक बार अवश्य सोचें की उनके वोट का सही हकदार कौन है? श्री अरोड़ा ने कहा कि आज से 25 वर्ष पहले वे जिस पार्टी से विधायक बनें थे आज भी उसी पार्टी से चुनाव लड़ रह रहे हैं, जबकि उनके विरोधी प्रत्याशी ने 25 वर्षों में अनेक बार कपड़ों की तरह पार्टियां बदली हैं। अपने राजनैतिक जीवन में उन्होंने कभी भी किसी का बुरा नहीं किया और न ही कोई यह कह सकता है कि किसी से रिश्वत ली हो। उनका राजनैतिक जीवन एक खुली किताब है। 25 वर्ष के राजनैतिक जीवन में उन्हें 19 वर्ष विपक्ष में रहने का मौका मिला। सत्ता में रहते हुए जहां जनता के हित के काम किए वहीं विपक्ष में रहते हुए जनता की आवाज उठाई। उन्होंने कहा कि थानेसर हलके की जनता ने उन्हें चार बार विधायक बनाकर जो चौधर सौंपी हुई है वह जनता की चौधर है। उन्हें उम्मीद है कि जनता अपनी इस चौधर को कायम रखने के  लिए इस चुनाव में भी उनका सहयोग और समर्थन करेगी। श्री अरोड़ा ने मतदाताओं से अपील की कि वोट डालने से पहले सभी प्रत्याशियों का चरित्र और व्यवहार अवश्य आंकें। जब सत्ता में रहने का मौका आया तो कुरुक्षेत्र के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी। यहां के युवाओं को भी इनेलो के शासन में उनकी योग्यता के आधार पर नौकरियों में पूरा हिस्सा मिला। भाजपा प्रत्याशी दस वर्ष से कांग्रेस में थे, जब कांग्रेस के राज में इस इलाके की अनदेखी की गई तो उन्होंने कभी भी इस अनदेखी के विरुद्ध आवाज नहीं उठाई। अपने स्वार्थ के लिए अब वे भाजपा का चोला पहनकर चुनाव मैदान में आए हैं। जहां तक कांग्रेस की बात है, कांग्रेस ने इस इलाके के युवाओं के हितों के साथ खिलवाड़ किया। अरोड़ा ने मतदाताओं से अपील की कि वे प्रत्येक उम्मीदवार को अपनी कसौटी पर परखे, यदि  उनके और अन्य प्रत्याशियों में जमीन आसमान का अंतर हो तो एक बार फिर सेवा करने का मौका अवश्य दें। उन्होंने कहा कि इस हलके की जनता के साथ उनका पारिवारिक रिश्ता है और जो मान-सम्मान जनता ने उन्हें दिया है उसका ऋण वे कभी नहीं उतार सकता। डेरा सच्चा सौदा के अनुयाई डेरा प्रेमी राजबीर सिंह सिरसला ने कहा कि डेरा सच्चा सौदा के संत गुरमीत सिंह राम रहीम जी द्वारा किसी भी राजनैतिक दल को समर्थन नहीं दिया गया। कुछ लोग राजनैतिक विंग बनाकर अपने निजी स्वार्थ के लिए  एक विशेष राजनैतिक दल को चुनाव में समर्थन देने का दुष्प्रचार कर रहे हैं जिससे डेरा सच्चा सौदा की बदनामी हो रही है। राजबीर सिंह ने आरोप लगाया कि दुष्प्रचार करने वालों ने किसी लालच में आकर यह काम किया है। उन्होंने डेराप्रेमियों से अपील की कि वे किसी भी प्रकार के दुष्प्रचार में न आकर अपनी आत्मा की आवाज पर ठीक व्यक्ति को वोट दें। उन्होंने कहा कि साध संगत को राजनीति में हिस्सा नहीं लेना चाहिए। जिन लोगों ने चुनाव में एक विशेष राजनैतिक दल को समर्थन देने का दुष्प्रचार किया है, उन्होंने डेरा प्रेमियों की भावना से खिलवाड़ किया है। राजबीर सिंह ने बताया कि उसने परिवार सहित 25 जनवरी 1995 को डेरा सच्चा सौदा सिरसा में हजुर महाराज संत गुरमीत सिंह जी राम रहीम जी से नाम दान की प्राप्ती की थी और मैंने आस पास के लोगों को प्रभावित किया जिससे अनेक लोगों ने नाम दान की प्राप्ति करके अपना जीवन सफल बनाने का कार्य किया है।

सिर्फ इनेलो है सरकार बनाने की स्थिति में, अन्य कोई दल आसपास भी नहीं

हरियाणा में बुधवार को होने जा रहे मतदान से पहले लगभग सभी प्रमुख चैनलों ने यह मान लिया है कि अगर सरकार बनेगी तो सिर्फ इनेलो की बनेगी अन्यथा कोई दूसरा दल सरकार बनाने की स्थिति में नजर नहीं आता। ईटीवी चैनल के अलावा पीटीसी न्यूज, इंडिया न्यूज व जनता टीवी सहित ज्यादातर चैनलों ने अपनी ताजा रिपोर्ट में दो ताजा सर्वे रिपोर्ट में यह दिखाया कि इस समय इनेलो न सिर्फ पहले स्थान पर है बल्कि अन्य दलों से बहुत आगे है। दूसरे और तीसरे स्थान के लिए तो कुछ चैनलों में मतभेद हैं लेकिन हर कोई बेझिझक इनेलो को पहले स्थान पर मान रहा है। जनता टीवी ने अपने ताजा सर्वे में इनेलो को 42 और भाजपा व कांग्रेस को 21-21 सीटों पर जीत दर्ज करने की स्थिति में बताया है। दूसरी तरफ इंडिया न्यूज जो कि पूर्व मंत्री विनोद शर्मा की कंपनी से संबधित चैनल है, ने भी अपनी ताजा सर्वे रिपोर्ट में यह माना कि उनके सर्वे के नतीजे के अनुसार इनेलो को 54.51 फीसदी लोगों ने भाजपा को 28.12, कांग्रेस को 11.51 और हजकां-हजपा गठबंधन को 5.86 प्रतिशत मतदाताओं की पसंद बताया है। उल्लेखनीय है कि विनोद शर्मा एवं उनकी पत्नी खुद हजपा की तरफ से चुनाव मैदान में हैं लेकिन उनके चैनल ने भी स्वीकार किया कि लगभग 55 फीसदी लोगों की पहली पसंद इनेलो ही है और भाजपा व कांग्रेस उनसे बहुत पीछे है। ईटीवी ने पिछले एक हफ्ते के दौरान दो बार सर्वे करवाया और दोनों बार उन्होंने इनेलो को लोगों की पहली पसंद, कांग्रेस को दूसरी व भाजपा को तीसरी पसंद बताया।  दूसरी तरफ पीटीसी न्यूज के सर्वे में भी जहां इनेलो को पहले स्थान पर दिखाया गया वहीं भाजपा को दूसरे और कांग्रेस को तीसरे स्थान पर दर्शाया गया। एनडीटीवी द्वारा बीते दिन हरियाणा के चुनावों को लेकर करवाई गई चर्चा में भी देश के जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार एवं राजनीतिक विश्लेषक एवं जनसत्ता के सम्पादक ओम थानवी ने भी कहा कि आज हरियाणा की जो चुनावी स्थिति है उसके अनुसार इनेलो अन्य दलों से आगे है और सरकार बनाने की स्थिति में नजर आ रही है। पिछली बार एबीपी न्यूज के जिस सर्वे में इनेलो को मात्र आठ सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई थी और यह भी कहा गया था कि कांग्रेस 65 से ज्यादा सीटें जीतेगी। उस समय उनका वे सर्वे पूरी तरह गलत साबित हुआ था और इनेलो जिन्हें केवल आठ सीटें दिखाई जा रही थी उन्हें 32 सीटें मिली और कांग्रेस जिन्हें 65 सीटें दिखाई जा रही थी वे साधारण बहुमत भी नहीं ले पाई और केवल 40 सीटों पर सिमटकर रह गई। इस बार वही चैनल इनेलो को 33 सीटें और कांग्रेस को मात्र 15 सीटें दिखा रहा है। इनेलो नेताओं का कहना है कि जब उन्हें आठ सीटें दिखाई जा रही थी और पार्टी ने 32 सीटें हासिल की तो अब तो साफ है कि जब उन्हें आठ की जगह 33 सीटें दिखाई जा रही है तो पार्टी निश्चित तौर पर दो तिहाई बहुमत हासिल करेगी। इन सभी सर्वे ने एक बात पूरी तरह जरूर साफ कर दी है कि इस बार सरकार बनाने की स्थिति में केवलमात्र इनेलो ही है और इनेलो के अलावा अन्य कोई दल सरकार बनाने की स्थिति तो क्या उसके आसपास भी कोई नहीं है।

विधायक ही नहीं सीएम चुनने के लिए डालें अपना वोट-नैना चौटाला


इनेलो प्रत्याशी नैना सिंह चौटाला ने कहा है कि डबवाली हलके की जनता के पास इस बार एक विधायक के साथ-साथ अपना मुख्यमंत्री चुनने का भी मौका आया है। इस मौके को हाथ से न जाने दें। बुधवार को चश्मे के निशान वाला बटन दबा कर इस हलके का मुख्यमंत्री बनाएं। वे मंगलवार को डबवाली हलके के गांव निलियांवाली में डोर टू डोर जाकर लोगों से संपर्क कर रही थी। इनेलो प्रत्याशी ने कहा कि पिछले दस वर्षों से यह क्षेत्र मुख्यमंत्री बनाने के लिए तरस रहा है। इस क्षेत्र का मुख्यमंत्री न होने का खामियाजा भी इस क्षेत्र ने भुगता है। यहां के युवाओं के साथ रोजगार में घोर भेदभाव बरता गया। पुरानी सडक़ों की मरम्मत तक नहीं की गई। कागजों में जनता के नाम पर आया गया पैसा यहां के कांग्रेसी नेता हड़प गए। हालात ये रहे कि डबवाली हलके के लोग पीने के पानी के लिए भी तरस रहे हैं। अब इस पिछड़ेपन को दूर कर डबवाली हलके को हरियाणा के नक् शे में अलग से चमकाने का मौका आया है, इस मौके को हाथ से न जाने दें। अन्यथा पांच वर्ष फिर पछताना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि ऐनक के निशान पर डाला गया एक-एक वोट ओमप्र्रकाश चौटाला को मुख्यमंत्री बनाएगा। इनेलो प्रत्याशी ने कहा कि यह डबवाली क्षेत्र के लिए सौभाग्य की बात है कि स्व. चौधरी देवीलाल की जन्म स्थली व ओमप्रकाश चौटाला के गृह क्षेत्र से डबवाली से एक महिला को विधानसभा क्षेत्र में जाने का मौका मिल रहा है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के लोगों का साथ, सहयोग व समर्थन हमेशा इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला के साथ रहा है। उन्होंने कहा कि इस हलके से चौटाला परिवार के राजनैतिक नहीं, पारिवारिक रिश्ते हैं। इनेलो नेताओं के जेल जाने के बाद हलके के लोग हर कदम पर पार्टी के साथ खड़े रहे और सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के इनेलो को खत्म करने के मंसूबों पर पानी फेर दिया। नैना सिंह चौटाला ने डबवाली हलके की जनता से आपसी भाईचारा और सोहार्द कायम रखते हुए शांतिपूर्वक मतदान करने और अपनी सरकार बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता मतदाताओं को अपना वोट डालने के लिए प्रेरित करें ताकि अधिक से अधिक मतदान हो जिससे लोकतंत्र को और मजबूती मिले ।

झूठी हवाबाजी की पोल खोलने का काम करें : चौधरी अभय सिंह चौटाला


इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं ऐलनाबाद के विधायक चौधरी अभय सिंह चौटाला ने प्रदेशवासियों से कहा है कि वे न किसी बाहरी के बहकावे में आएं और न ही किसी फर्जी हवाबाजी से प्रभावित हों। उन्होंने कहा कि हरियाणा विधानसभा का चुनाव प्रदेश के अपने गौरव, आत्मसम्मान और स्वाभिमान का चुनाव है और प्रदेशवासी अपनों को पहचानकर अपना एक-एक वोट इनेलो प्रत्याशियों के पक्ष में डालें और उनके द्वारा डाला गया इनेलो के पक्ष में प्रत्येक वोट न सिर्फ इनेलो प्रत्याशियों को विजयी बनाएगा बल्कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के बंधन की एक-एक गांठ खोलने का भी काम करेगा। मतदान की पूर्व संध्या पर इनेलो नेता ने कहा कि आज पूरे प्रदेश में इनेलो के पक्ष में लहर चल रही है और प्रदेशवासी किसी भी प्रकार के भ्रामक एवं मिथ्या प्रचार से विचलित हुए बगैर न सिर्फ झूठी हवाबाजी की  पोल खोलने का काम करें बल्कि प्रदेश में क्षेत्रवाद व भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने वालों से मुक्ति पाने के लिए भी इनेलो को भरपूर सहयोग एवं समर्थन दें। चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि आज केवलमात्र इनेेलो ही सरकार बनाने की स्थिति में है और इनेलो की सरकार किसी व्यक्ति विशेष की न होकर प्रदेशवासियों की अपनी सरकार होगी और चौधरी ओमप्रकाश चौटाला प्रदेश के मुख्यमंत्री होंगे। इनेलो नेता ने मंगलवार को अपने ऐलनाबाद विस क्षेत्र में डोर टू डोर संपर्क चलाकर लोगों से बुधवार को बढ़ चढक़र मतदान में भाग लेने और आपसी प्रेम-प्यार और भाईचारा कायम रखने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पिछले दो महीनों के दौरान उन्हें पूरे प्रदेश में जाने और समाज के सभी वर्गों और राज्य के सभी विधानसभा क्षेत्रों के लोगों से सीधा सम्पर्क करने का अवसर मिला। उन्होंने कहा कि आज पूरे प्रदेश में चौधरी ओमप्रकाश चौटाला और इनेलो के पक्ष में लहर चल रही है और यह पूरी तरह साफ हो गया है कि इनेलो दो तिहाई बहुमत लेकर सरकार बनाएगी।इनेलो के वरिष्ठ नेता ने कहा कि बुधवार को होने वाले मतदान से न सिर्फ देश व प्रदेश की दशा और दिशा तय होगी बल्कि इन चुनावों का प्रदेश के युवाओं के लिए भी विशेष महत्व है। उन्होंने कहा कि इस चुनाव से प्रदेश के युवाओं का भाग्य भी तय होने जा रहा है। इसलिए सभी मतदाता बिना किसी भय अथवा लोभ लालच के एक ऐसी सरकार का चयन करें जो भय एवं भ्रष्टाचार दूर करने, प्रदेश में कानून व्यवस्था स्थापित करने, युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध करवाने और प्रदेश का चहुंमुखी विकास करवाने में सक्षम हो। उन्होंने प्रदेश के प्रशासनिक एवं चुनावी तंत्र से भी बिना किसी भेदभाव एवं दबाव के निष्पक्ष रूप से काम करने का आह्वान करते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद, विश्वास एवं पूरा भरोसा है कि प्रदेश की सूझवान जनता एक अच्छी सरकार का चयन करेगी और इनेलो प्रत्याशियों को विजयी बनाकर चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में एक मजबूत सरकार का गठन करेगी जो कि लोगों की अपनी सरकार होगी। उन्होंने कहा कि अब सही समय आ गया है कि प्रदेशवासी फर्जी हवाबाजी करने वालों और बाहरी लोगों के बहकावे में आए बिना अपनों को पहचानकर इस चुनाव में अपनी खुद की सरकार चुनने का काम करें। जो कि वास्तव में ही प्रदेश का भला कर सके।

नकली वोट डालने से हो सकती है सजा- गोपीचन्द गलहोत।


भारतीय संविधान में प्रत्येक नागरिक का वोट डालने का अधिकार है। प्रजातंत्र की गरीमा को कायम रखने के लिए अपने मत का उपयोग करें। पिछले विधानसभा चुनावों के बाद जिस प्रकार गुडग़ांव के जागरूक नागरिकों ने फर्जी वोटों के खिलाफ  चुनाव आयोग तथा कॉर्ट का सहारा लिया था उससे गुडग़ांव की छवि को धक्का लगा है, ऐसे बहुत से मामले भारतीय निवार्चन आयोग तथा माननीय उच्च न्यायालय एंव गुडग़ांव न्यायालय में विचाराधीन है। अत: मैं एक सम्मानित दल का प्रत्याशी होने के नाते अपने गुडग़ांव विधानसभा के नागरिकों से अपील करता हूं कि फर्जी मतदान करना एक कानूनन जुर्म है जिसके लिए भारतीय संविधान में सजा का प्रावधान भी है। गुडग़ांव विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओं पिछले चुनाव के फर्जी मतदान करने से जहां प्रजातंत्र की गरीमा को ठेस पंहुची थी  वहीं असामाजिक प्रतिनिधीयों का चयन होने की संभावनाएं हो जाती है जो कि लोकहित में नहीं है। हर नागरिक की सामाजिक जिम्मेदारी होती है कि वह यह सुनिश्चित करें कि जो व्यक्ति मतदान करने के लिए मतदान केन्द्र पर मौजूद है वह सही है या गलत। इसके साथ साथ हर नागरिक को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि पोलिंग टीम अपनी जिम्मेदारियों का पूर्ण रूप से निर्वहन कर रही हैं या नहीं, अगर ये पाया जाये कि पोलिंग टीम अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन अच्छी तरह से नहीं करती तो मतदाता उसकी शिकायत तुरन्त निर्वाचन अधिकारी से करें ताकि जल्द से जल्द कार्यवाही हो सके । अत: मैं आप सभी गुडग़ांव वासियों से अनुरोध करता हूं कि इस चुनाव में ज्याद से ज्यादा शान्तिपूर्वक मतदान करें तथा अपने अपने बूथ पर फर्जी मतदान ना होने दे।

कांग्रेस, भाजपा के बहकावों में आकर 15 अक्तूबर को, 15 बरस का बनवास चुनने की गलती न करना : दौलतपुरिया


इनेलो प्रत्याशी बलवान दौलतपुरिया ने सोमवार को अपने चुनाव प्रचार की अंतिम सभा पूर्व सीएम स्व. भजनलाल के पैत्रिक गांव एमपी रोही में की, जहां गांव के सैंकड़ों लोगों ने एकत्रित होकर इस बार जात-पात की राजनीति से उपर उठ एक नये बदलाव के संकेत दिए। इनेलो के समर्थन में गांव एमपी रोही में उमड़े जनसैलाब को देख पार्टी प्रत्याशी बलवान दौलतपुरिया के साथ प्रचार रथ पर मौजूद पूर्व एमएलए रणसिंह बैनीवाल, राष्ट्रीय सचिव युद्धवीर आर्य, वरिष्ठ नेता कुलजीत कुलडिय़ा, गुरमुख सिंह, आत्म प्रकाश बत्तरा, राजेन्द्र चौधरी काका, सुरेन्द्र लेगा, सतपाल पालू आदि वरिष्ठ नेतागण भी गदगद नजर आए। एमपी रोही में चुनाव प्रचार के अंतिम दिन संपन्न हुई इस सभा के दौरान बिश्नोई समाज के गणमान्य लोगों में पूर्व सरपंच हनुमान बिश्नोई खजूरी, पृथ्वी सिंह बिश्नोई, पूर्व सरपंच भगवानाराम बिश्नोई बड़ोपल, पूर्व सरपंच खड़क सिंह बिश्नोई खाराखेड़ी, पूर्व सरपंच सुभाष पृथ्वी सिंह बिश्नोई बड़ोपल, गुरदयाल सिंह बिश्रोई एमपी रोही, इन्द्र सिंह पूर्व सरपंच काजलहेड़ी, कृष्ण बिश्नोई काजलहेड़ी, भागचंद गोदारा एमपी रोही आदि ने भव्य तरीके से इनेलो नेताओं का स्वागत करते हुए आश्वस्त किया कि 15 अक्तूबर के दिन बिश्नोई समाज अपने बच्चों के भविष्य और सामाजिक विकास को ध्यान में रखकर एक बड़े बदलाव की तरफ कदम बढ़ाते हुए रिकार्ड मतदान इनेलो के पक्ष में करेगा। सोमवार शाम संपन्न हुई चुनाव प्रचार की अंतिम सभा को संबोधित करते हुए बलवान दौलतपुरिया ने कहा कि 10 साल कांग्रेस कुशासन से निजात पाने का बड़ा अवसर 15 अक्तूबर मतदान दिवस के रूप में जनता के सामने आ गया है। उन्होंने कहा कि जनता ने इस दानव रूपी कांग्रेस को चलता करने की पहल पिछले विधानसभा चुनाव में भी की थी, लेकिन तब विश्वास के नाम पर विश्वासघात करने वाले प्रहलाद सिंह गिल्लाखेड़ा जैसे आजाद विधायकों और अपना दीन-ईमान बेचने वाले हजकां विधायकों ने जनादेश को ठोकर मारने का काम किया और एक बार फिर जोड़-तोड़, खरीद-फरोख्त से बनी हुड्डा सरकार प्रदेश की जनता पर तानाशाही तरीके से काबिज हो गई। उन्होंने कहा कि जनता से विश्वासघात करके हमेशा अपना राजनीतिक हित साधने वाले प्रहलाद सिंह गिल्लाखेड़ा और हजकां प्रत्याशी दुड़ाराम फिर से जनता को बरगलाने की जी-तोड़ कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि फतेहाबाद क्षेत्र को यदि विकास के मामले में दस बरस तक अंधेरगर्दी का शिकार होने को मजबूर किसी ने किया है तो वह कांग्रेस व हजकां के उम्मीदवार बने गिल्लाखेड़ा और दुड़ाराम ही है। उन्होंने लोगों को सचेत किया कि यदि इस बार भी उन्होंने ऐसी ओच्छी राजनीति करने वाले विश्वासघाती, कब्जाधारी और अपना हित साधने के लिए परिवार तक को छोड़ देने वाले प्रत्याशियों के बहकावे में आकर 15 अक्तूबर के दिन उनके पक्ष में मतदान करने की गलती की तो फतेहाबाद का हर क्षेत्र, हर वर्ग विकास, तरक्की के मामले में 15 बरस का बनवास झेलने को मजबूर हो जाएगा।  उन्होंने दावा किया कि यदि इस बार प्रदेश में बड़े जनसमर्थन के सहारे इनेलो सरकार बनी, वे विधानसभा पहुंचे तो हर क्षेत्र, हर वर्ग को उसका सही हक, सह स्वरूप में दिलाने का काम जरूर करूंगा। इस अवसर पर इस अवसर पर पूर्व विधायक रणसिंह बैनीवाल, वरिष्ठ नेता कुलजीत कुलडिय़ा, आत्मप्रकाश बत्तरा, राजेन्द्र चौधरी काका, पूर्व नपा प्रधान नरोत्तम चौधरी, पूर्व नपा प्रधान किशोरी लाल नारंग, पूर्व मंत्री स्व. लीलाकृष्ण चौधरी के पुत्र तरुण चौधरी, जिला उपाध्यक्ष सुरेन्द्र लेगा, महिला विंग जिलाध्यक्ष सरोज सांगा, वरिष्ठ नेत्री विद्या रत्ति, अग्रवाल समाज महिला संगठन प्रदेशाध्यक्ष सुशीला सर्राफ, सत्या विद्यार्थी कंबोज, एडवोकट सुमनलता सिवाच, पार्षद रमेश गिल्होत्रा, दर्शन नागपाल, कुलवंत सवणा, राजू मुंजाल, सुभाष पपीया, मदन बंसल, गोपाल शर्मा, पूर्व पार्षद सुभाष रॉयल, पूर्व पार्षद राजेन्द्र गर्ग, केएस बिट्टा, बसंत रूखाया, इन्द्र गावड़ी, सरपंच पृथ्वी बिश्रोई खजूरीजाटी, यश तनेजा, भीम खोवाल, बलदेव बजाज, दलीप कथूरिया, अशोक मेहता, सुभाष टूटेजा, राधेश्याम बाघला, रमेश सचदेवा, कृष्ण मेहता, एडवोकेट अंकित मल, जगदीश नायक, डॉ. रणजीत ओड, मोहन लोट, रमेश वाल्मीकि, मनोहर नायक, रामपाल वाल्मीकि, विनोद सिंगीकाट, स. राणा जोहल, दरेश खान, अनिल सक्सेना, शहरी प्रधान पवन चुघ, दिनेश चौधरी, सौरभ चौधरी, नीरज नारंग नीरू, चन्द्र जुनेजा, नवीन कटारिया, केवल कंबोज, सतेन्द्र श्योराण, सन्नी खुराना, कमल शर्मा किरमाणी, नीरज चौधरी, कर्ण खन्ना, संदीप नारंग, तनुज मदान, महेश नारंग, मुनीष आहुजा, ताराचंद एनआरआई, जगदीश कुकड़ेजा, भूप सोनी, एडवोकेट कपिल कुमार, एडवोकेट राजेश शर्मा, एडवोकेट अजय बैनीवाल, चतर सिंह गिजरोईया, अनूप धुडिय़ा, अनिल बैनीवाल, हरपाल बैनीवाल, लक्ष्मी नारायाण देहडू, डॉ. दुर्गा सोनी, रिछपाल बाजिया, राजबीर बैनीवाल, हरपाल तनेजा, लवली मेहता शालू, सुभाष मास्टर, स. बिट्टू सिंह ढाणी बिकानेरी, रमेश वाल्मीकि, हिमांशु मेहता, शुभम कुकड़ेजा, लवकेश वसूजा, अमित गर्ग, धर्मपाल कंबोज, सुभाष गुर्जर, विजय गर्ग, बूटा सिंह बबनपुर, सतनाम हड़ोली व जिला प्रवक्ता प्रमोद बजाज सहित अनेक पदाधिकारी, कार्यकत्र्ता व गणमान्य लोग उपस्थित थे।

किसी को रोजगार देना भ्रष्टाचार नहीं है : नैना सिंह चौटाला


प्रदेश की हॉट सीट बनी डबवाली पर इस बार इनेलो के चौधरी अजय सिंह चौटाला की पत्नी नैना सिंह चौटाला चुनाव मैदान में है। उनका मुख्य मुकाबला कांग्रेस के डॉ के वी सिंह से है। हरियाणा के इतिहास में यह पहला मौका है जब जननायक चौधरी देवीलाल खानदान की बहू सियासी रण में उतरी हैं। डबवाली इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला का गृह क्षेत्र है। ओमप्रकाश चौटाला का पैतृक गांव चौटाला इसी विधानसभा में है। ओमप्रकाश चौटाला और अजय चौटाला की अनुपस्थिति में नैना चौटाला के कंधों पर दोहरी जिम्मेवारी है। पहला जहां उन्हें अपना गढ़ कायम रखना है वहीं उन्हें राजनीति के मैदान में एक सूझ-बूझ वाली महिला के रूप में अपने आपको स्थापित करना है। महिला उत्थान व भ्रष्टाचार उनके मुख्य मुद्दा है। प्रस्तुत है उनसे हमारे बातचीत के मुख्य अंश:-

प्र:  20 दिन पहले आप घर की चारदीवारी तक सीमित थी, आज राजनीति के रण में उतर कर कैसा लग रहा है आपको ?
उ0: बेशक मैंने कभी राजनीति कभी नहीं की, पर मैं उस राजनैतिक घराने की बहु हूं जिसकेा मुखिया स्व. देवीलाल ने पूरे देश की राजनीति को अपनें ही रंग में रंग दिया था, भला मैं राजनीति से अछूती कैसे रहती। पहले परिवार को संभाल रही थी। डबवाली क्षेत्र के लोग भी मेरे परिवार के सदस्य की तरह है और मेंरे अपने हैं। अपनों को संभालने में भला कैसे परेशानी हो सकती है।  जिन भी परिस्तिथिओं में डबवाली हलके के लोगों का दायित्व और उनकी सेवा करने का मौका मिल रहा है, यह मेरा सौभाग्य है।
प्र: विधानसभा चुनावों में भ्रष्टाचार अहम मुद्दा है और जेबीटी शिक्षक भर्ती मामले में इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला व अजय चौटाला जेल में सजा काट रहे है,  भ्रष्टाचार पर आपकी क्या राय है ?
उ0: सब जानते है कि कांग्रेस ने सीबीआई के साथ मिलकर रचे षडयंत्र के तहत मेरे ससुर ओमप्रकाश चौटाला जी व पति अजय चौटाला जेल में है माननीय न्यायालय ने भी अपने निर्णय में कहा है कि कहीं भी पैसे का लेन देन नहीं हुआ है। इनेलो सरकार ने 3 हजार लोगों के घरों के चुल्हे जलाये है। किसी को रोजगार देना भ्रष्टाचार नहीं है। भ्रष्टाचार तो कांग्रेस की जड़ों में है मैं इस भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ूंगी। 
प्र: आपका मुख्य मुकाबला किस पार्टी से है और आपका पार्टी की सीटों को लेकर क्या आकलन है ? 
उ0: स्वाभाविक है कि 10 वर्षों से कांग्रेस सत्ता में है तो मुख्य मुकाबला कांग्रेस से होगा। कांग्रेस जा रही है और इनेलो आ रही है। जो मीडिया 2009 के विधानसभा चुनावों इनेलो की 12 से 15 सीटें और कांग्रेस की 70 सीटें बताता था और इनेलो को उस समय 32 और कांग्रेस को 40 सीटें मिली थी वही मीडिया और सर्वे बता रहे हैं कि हरियाणा में इनेलो की सरकार बनने जा रही है। मंडियों से लेकर चौपालों तक यही चर्चा है कि इनेलो बहुमत के साथ सत्ता में लौट रही है। 
प्र: इन चुनावों को भाजपा भी टक्कर दे रही है, और मोदी लहर की चर्चा है, इसपर क्या कहना है ? 
उ0: भाजपा का हरियाणा में कभी वजूद नहीं रहा, लोकसभा चुनावों में मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए वोट जनता ने दिए था परन्तु अब हरियाणा में भाजपा के पास एक ऐसा चेहरा भी नहीं है जिसे सीएम के रूप में प्रोजेक्ट कर सकें। भाजपा में दम है तो हरियाणा में सीएम पद के लिए नाम क्यों नहीं घोषित करती है। भाजपा का बुलबुला लोकसभा चुनावों में था जो अब फूट चुका है। हरियाणा विधानसभा चुनावों में मोदी के नाम वोट मांग रही है। मोदी देश चलाएंगे या हरियाणा। हरियाणा की जनता को अपने के बीच का मुख्यमंत्री चाहिए और जनता उसे ही वोट देगी। ओमप्रकाश चौटाला जमीन से जुड़े नेता है
प्र-कांग्रेस की टिकट पर आपके चाचा ससुर चुनाव लड़ रहे है आप उनका मुकाबला किस प्रकार करेंगी ? 
उ0: हम चौधरी देवी लाल जी की नीतियों और उनके दिखाये रास्ते पर चल जनता के हितों के लिए संघर्ष कर रहे है। यह चुनाव कांग्रेस के इनेलो पर किए जुल्मों के साथ न्याय और अन्याय का है। फैसला जनता करेगी।
प्र: चौधरी अजय सिंह चौटाला की गैर मौजूदगी में इनेलो का गढ़ बचाने की जिम्मवारी अपके कंधों पर है आप इसे कैसे निभायेगी ?
उ0: चौधरी अजय सिंह चौटाला की कमी अवश्य खल रही है, लेकिन चौधरी अजय सिंह चौटाला के डबवाली की जनता से राजनीतिक नहीं पारिवारिक रिश्ते हैं, यह चुनाव मेरा नहीं बल्कि डबवाली की जनता का चुनाव है और हर बुजूर्ग अपने आपको ओमप्रकाश चौटाला हर व्यक्ति अपने आप को अजय सिंह चौटाला समझ कर चुनाव लड़ रहा है। सुख में तो हर कोई साथ होता है परन्तु अपना तो वही है जो संकट में साथ दे। जनता इस संघर्ष की घड़ी में ओमप्रकाश चौटाला के साथ खड़ी है और वह कांग्रेस के जुल्मों का जवाब देने को आतुर है। 
प्र: एक महिला नेत्री होने के नाते आपकी प्राथमिकताऐं क्या होगी? चुनाव जीतने पर हलके लिए क्या करेंगी ?
उ0: एक महिला होने के नाते मैं महिलाओं की समस्याएं और उनकी पीड़ा अच्छी तरह से समझती हूं। मेरा सर्वाधिक जोर महिलाओं को शिक्षित कर उन्हें सुरक्षित व भयमुक्त माहौल उपलब्ध करवाना, कन्या भ्रुण हत्या रोकने जैसे सरोकारों के साथ क्षेत्र का विकास की नई इबारत लिखना मेरी प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा कि डबवाली हलका मुख्यमंत्री का गृहक्षेत्र होगा। जब सीएम आपका होगा तो जो जनता कहेगी वही काम होगा। दस वर्षों से रोजगार में भेदभाव हुआ है, उसे दूूर किया जाएगा। यहां उद्योग लगाएंगे, पीने का स्वच्छ पानी मिलेगा। डबवाली विधानसभा क्षेत्र हरियाणा के मानचित्र पर अलग से चमकता दिखाएगी। महिलाओं की शिक्षा के लिए अलग शिक्षण संस्थान व कालेज खोलेंगे। 
प्र: यदि इनेलो की सरकार सत्ता में आई तो ओमप्रकाश चौटाला के मुख्यमंत्री बनने को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं ? 
उ0: इनेलो के सत्ता में आने पर किसी प्रकार की उलझन नहीं है। पहले दिन से इनेलो ने स्पष्ट कहा है कि सत्ता में आने पर ओमप्रकाश चौटाला ही मुख्यमंत्री होंगे। वैसे भी विधायक दल का नेता जनता को सीधे नहीं विधायकों का चुनना है। इसमें किसी प्रकार की कानूनी अड़चन नहीं है। 
प्र0: कांग्रेस प्रत्याशी विकास के नाम पर वोट मांग रहे हैं और जीत का दावा कर रहे हैं इसपर आपका क्या कहना है ? 
 उ0: जब से हुड्डा सरकार सत्ता में आई तक से डबवाली हलके को तो विकास के नाम पर प्रदेश के नक्शे से ही निकाल दिया था। पिछले दस वर्षों में डबवाली शहर के सीवरेज की सफाई तक नहीं करवाई गई। इसके कारण लोगों के घरों को विषैला पानी की आपूर्ति हो रही है इससे लोग कैंसर जैसी घातक बीमारी के शिकार हो रहे हैं। टूटी सड़कों पर एक कारी तक नहीं लगाई गई। इनेलो के शासनकाल में जो कालोनियां नियमित की गई थी उन्हें हुड्डा  सरकार ने आते ही दोबारा अवैध घोषित कर दी और उनके घरों को तोडऩा शुरू कर दिया था। डबवाली ही नहीं राजस्थान व पंजाब के लोग भी जानते हैं कि नौ वर्षों तक डबवाली से संगगिया तक सड़क की क्या हालत थी। इनेलो प्रमुख ओप्रकाश चौटाला व अजय सिंह चौटाला ने तीन बार विधानसभा में इस सड़क का मुद्दा उठाया जब नौ वर्ष के बाद इस सड़क के गड्ढे मुंदे गए। 
प्र0: एक आखिरी सवाल। आप अच्छी निशानेबाज रही हैं क्या सियासी खेल में भी सही वक्त पर निशाना लगा जाएंगे ? 
उ0: जीवन एक बड़ा खेल का मैदान है और इसमें सफलता हासिल करने के लिए आपको हर वक्त चौकस व सावधान रहने की जरूरत होती है। निशानेबाजी में यही सीखाया जाता है कि आप ठीक वक्त पर ठीक फैसला लें। निशानेबाजी का यही नुस्खा राजनीति में फिट बैठता है। मैं डबवाली की जनता के हित में सही वक्त पर उनकी भावनाओं के अनुसार फैसले लेकर काम कंरूगी। 

सरकार खड़ी उचाना के द्वार: दुष्यंत चौटाला


इस बार सरकार आपके दरवाजे पर दस्तक दे रही है। इसलिए इनेलो को एक-एक वोट देकर अपने सपनों को साकार करने का काम करें। यह अपील मंगलवार को इनेलो प्रत्याशी दुष्यंत चौटाला ने उचाना हलके के कई गांवों में डोर-टू-डोर चुनाव संपर्क करते हुए की। उन्होंने कहा कि पिछले 10 साल से उचाना हलके के लोग विकास और रोजगार के मामले में भेदभाव का शिकार रहे हैं। जिले में कई बड़े कांग्रेस नेता होते हुए भी आप लोगों को बिजली-पानी, शिक्षा, चिकित्सा और व्यापार के मामले में सरासर अनदेखा किया गया। इलाके की चौधर के नाम पर कई नेताओं ने आपको बार-बार बरगलाकर वोट हासिल करने का काम किया। आपके बलबूते पर वे सरकार में मंत्री बनकर खुद तो मौज करते रहे मगर जनता की भलाई के मामले में वे आपको ठेंगा दिखाते रहे। पिछले चुनावों में जींद जिले की जनता ने इनेलो को भरपूर समर्थन देते हुए पांचों सीटों पर जीत दिलाने का काम किया था। चंद सीटों की कमी से सरकार बनने में अड़चन आ गई थी। इस बार पूरे प्रदेश में इनेलो की आंधी चल रही है और उसकी सरकार बनना तय हो चुका है। हमें उम्मीद है कि इस बार भी इनेलो जिले की सभी सीटों पर जीत हासिल करेगी और सरकार में उसकी पूरी भागीदारी होगी। दुष्यंत ने कहा कि उनके दादा ओमप्रकाश चौटाला को विजयी बनाकर व उनके पिता अजय चौटाला तथा खुद उनको लोकसभा चुनावों में भारी लीड दिलाकर उचाना हलके के लोगों ने उनके परिवार को कर्जदार बनाया है। इस बार सरकार बनने पर सरकार की चाबी उचाना हलके के लोगों के हाथ में होगी और उनको अपने छोटे-बड़े किसी भी काम को करवाने के लिए किसी का मोहताज नहीं होना पड़ेगा। उचाना हलके की सरकार बनने के चलते विकास, रोजगार, व्यापार हर मामले में किसी तरह की कमी नहीं रहेगी और यह हलका पांच सालों में पूरे देश में रोल मॉडल बनाकर दिखाएंगे। दर्जनों गांवों में दुष्यंत चौटाला को ग्रामीणों ने भरोसा दिलाया कि वे इनेलो के पक्ष में ही मतदान करेंगे क्योंकि उन्हें पता है कि चौधर के नाम पर वोट बटोरने वालों के दिन अब लद गए हैं और यहां पर बेरोजगारों की लंबी फौज तैयार हो चुकी है। इनेलो ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो हर वर्ग का ख्याल रखने में सक्षम है। सांसद चौटाला ने बताया कि उचाना क्षेत्र के लोगों ने चार महीने पहले मुझे भारी बहुमत से जीताकर लोकसभा में भेजा था। मेरे संसदीय कोष से मात्र तीन माह के कार्यकाल में उचाना हलके के विकास के लिए एक करोड़ 30 लाख रुपये की ग्रांट जारी की जा चुकी है, जबकि बीरेंद्र सिंह को 3 साल के करीब राज्यसभा सांसद बने हुए हो गए और उन्होंने  एक रुपया भी उचाना में विकास के नाम पर नहीं दिया। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि मेरा तीन माह का कार्यकाल देखो और दूसरी तरफ 40 साल जिसने आपके वोट लेकर काम नहीं किये उनको देखो। फर्क आपको साफ नजर आएगा। सांसद चौटाला ने कहा कि उचाना विधानसभा के लोग जो मान-सम्मान एवं प्यार दे रहे हैं, उन्हें कभी भुला नहीं पाऊंगा। उन्होंने विधानसभा क्षेत्र के सभी मतदाताओं से अपील की कि वे गांव में आपसी भाईचारा कायम रखते हुए शांतिपूर्ण मतदान करें। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं से भी अपील की कि वे सुनिश्चित करें कि मतदान के दिन एक भी मतदाता वोट डालने से वंचित न रहे। इस मौके पर अशोक जैन, डॉ. मुकेश जैन, सतबीर काकड़ोद, दर्शन बंसल, पिरथी श्योकंद, सुभाष बुट्टो, भूरिया श्योकंद, प्रवीण शर्मा, रघबीर जांगड़ा,  रवि सहारण, बलवान दुर्जनपुर, रामनिवास बुडायन, महेंद्र लोधर, सज्जन गोयल आदि मौजूद रहे।

Monday, October 13, 2014

हरियाणा बदलाव की धरती है यहां फिर आएगा बदलाव: कर्नल छिल्लर

जब से चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने मौजूदा विधानसभा चुनाव में धुआंधार प्रचार का आगाज कर प्रदेश की जनता को कांग्रेस के काले कारनामों व भाजपा के दोहरे चरित्र से अवगत करवाया तो जनता ने भी मन बना लिया है कि चौ.औमप्रकाश चौटाला को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाकर कांग्रेस राज में पिछड़पन व उपेक्षा का शिकार रहे बाढड़ा हलके के लिए विकास के दरवाजे खोलने का काम करेंगे। यह बात इनेलो प्रत्याशी कर्नल रघबीर सिंह छिल्लर ने सोमवार को हलके के विभिन्न गांवों से निकाले गए रोड शो के दौरान कही। उन्होंने कहा कि मौजूदा विधानसभा चुनाव में चौ. औमप्रकाश चौटाला की आंधी में तिनके की तरह उडऩे लगी भाजपा व कांग्रेस ने अपना वजूद बचाने के लिए एक बार फिर से षड्यंत्र रच चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को आप लोगों से दूर कर जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। लेकिन विरोधी पार्टियां ये भूल गई की चौधरी ओमप्रकाश चौटाला भी आज चौ. देवीलाल की तरह ही लोगों के दिलों पर राज करते है। कांग्रेस व भाजपा के इस षड्यंत्र को लेकर प्रदेश की जनता में जबरदस्त रोष है और अब प्रदेश का आम आदमी स्वयं चौ. औमप्रकाश चौटाला बनकर कांग्रेस व भाजपा के खिलाफ इस लड़ाई में उठ खड़ा हुआ है और अपने नेता को हरियाणा से दूर करने वालों को सत्ता से दूर करने का मन बना चुका है। जिसके चलते आज पूरे प्रदेश में इनेलो का डंका बज रहा है और वह पूर्ण बहुमत से सरकार बना रही है। इनेलो प्रत्याशी ने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में भी बाढड़ा से इनेलो पार्टी जीती थी। लोकसभा चुनाव में यहां से इनेलो प्रत्याशी को 15 हजार से अधिक मतों की लीड़ मिली थी तथा आज के रोड शो के दौरान जिस तरह से इनेलो के पक्ष में जोश से लबरेज युवा, महिला, बुजुर्गों का साथ मिला हैं तथा विभिन्न गांवों में उनको ग्रामीणों ने सहयोग, समर्थन व आशीर्वाद दिया है, उससे तय हो गया कि अबकी बार भी बाढड़ा से इनेलो पार्टी ही विजयी होगी।

जिन पर टिकटें बेचने का आरोप हो उनसे भ्रष्टाचार खत्म करने की उम्मीद कैसी: अरोड़ा


इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष एवं थानेसर से पार्टी प्रत्याशी अशोक अरोड़ा ने चुनाव प्रचार के अंतिम दिन लोगों से कुरुक्षेत्र की खुशहाली और राजनीति में आ रही गिरावट को रोकने के लिए गुण दोष के आधार पर वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि मतदाता वोट डालने से पहले सभी प्रत्याशियों का गुण दोष के आधार पर आंकलन करें और यदि वे उनकी कसौटी पर खरा उतरते हों तो इनेलो के पक्ष में मतदान करके चौ. ओमप्रकाश चौटाला के हाथ मजबूत करें। गांव अमीन, बीड़ अमीन, डेरा रामपुरा, फतुहपुर कालोनी, सुनहेड़ी खालसा, खेड़ी ब्राह्मणन कालोनी, गोविंदगढ़ तथा नई कालोनी में चुनावी जनसभाओं को संबोधित करते हुए अरोड़ा ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में इस इलाके की अनदेखी की गई है। यहां के युवाओं के हितों पर डाका डाला गया। इन सब के लिए जहां कांग्रेस दोषी है, वहीं भाजपा प्रत्याशी भी बराबर का जिम्मेवार है, क्योंकि भाजपा प्रत्याशी ने दस साल तक कांग्रेस में रहकर सत्ता का आनंद लिया। भाजपा प्रत्याशी ने कभी भी कुरुक्षेत्र के हितों की मांग नहीं उठाई। जननायक चौ. देवी लाल का उल्लेख करते हुए श्री अरोड़ा ने कहा कि हरियाणा में जितनी भी जनकल्याण की योजनाएं गरीब लोगों के लिए चल रही हैं, वे सब चौ. देवी लाल के शासनकाल में शुरू की गई थी। 100 रुपये महीना वृद्धावस्था पेंशन का नीला नोट देवी लाल की कलम से ही दिया जाना शुरू किया गया था। यदि चौ. देवी लाल 100 रुपये का नीला नोट पेंशन के रूप में न देते तो आज यह नोट गुलाबी न बनता। भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने महंगाई कम करने व भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने का वायदा किया था लेकिन भाजपा के राज में महंगाई दिन प्रतिदिन बढ़ रही है और जिस पार्टी पर टिकट बेचने के आरोप लग रहे हों, उससे भ्रष्टाचार खत्म करने की उम्मीद कैसे रखी जा सकती है।

लोगों ने इनेलो सरकार बनाने का मन बनाया: सुखबीर बादल


पंजाब के उप-मुख्यमंत्री एवं अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने सोमवार को अम्बाला शहर में इनेलो व अकाली दल प्रत्याशी बलविंदर पुनिया के समर्थन में चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि हरियाणा के लोगों ने चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में सरकार बनाने का फैसला कर लिया है और अब इस फैसले पर कोई भी फर्जी सर्वे अथवा भ्रमित प्रचार लोगों को विचलित नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि चौटाला साहब भी जुबान के धनी हैं और वे लोगों से किए गए अपने सभी वायदों को पूरा करेंगे। उन्होंने हरियाणा के पूर्व मंत्री विनोद शर्मा की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि लोगों के वोट के सही हकदार बलविंदर पुनिया ही हैं और वे ही अम्बाला का विकास करवा सकते हैं । इस अवसर पर इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला, सांसद प्रेम सिंह चंदूमाजरा, पंजाब के शिक्षा मंत्री डॉ. दलजीत सिंह चीमा, पूर्व सांसद बलवंत सिह रामूवालिया, हीरासिंह गाबड़ीया, सीपीएस एनके शर्मा, एसआर कलेर व दिपेंद्र ढिल्लों के अलावा बलविंदर पुनिया सहित अनेक नेताओं ने भी जनसभा को सम्बोधित किया।


Shiromani Akali Dal (SAD) president Sukhbir Singh Badal today said the people of Haryana had decided to usher in a "Janta Raj" led by Chaudhary Om Prakash Chautala and no amount of fixed surveys could make them waver from this goal. Addressing a mammoth gathering in favour of SAD INLD candidate Balwinder Singh Punia from Ambala city, the SAD president said even during the last assembly elections in Haryana some surveys had been rigged to show the INLD in poor light. "Even now though most genuine surveys are projecting the INLD as the single largest party, few have been fixed". He said this did not however matter as the people had decided to support the INLD - SAD alliance as it promised an inclusive government in which every section would be duly looked after. "Chautala Sahib is a man of his words like Sardar Parkash Singh Badal and when he says his government would waive off  farmer loans up to Rs two lakh, give free tube well connections, provide 25 kilograms of wheat to needy families and give scootys to girls he means it. Chautala Sahab would rather sacrifice himself than go back on his words", Mr Badal added. Speaking about SAD candidate Balwinder Punia, the SAD president said Punia had created a name for himself through his responsive, pro people functioning. He said in direct contrast Haryana Jan Chetna candidate Venod Sharma had earned a name for never being available to the people. He said Punia was the right person to take Ambala forward even as he assured to take the help of Chautala Sahab to develop Ambala as per the aspirations of the people. The SAD president also impressed upon the role played by regional parties in overall development of the nation and said regional parties understood the aspirations of the people of their State. He also appealed to the voters of Haryana to vote for the INLD - SAD combine to bridge the gap created by the Congress between the two States. SAD candidate Balwinder Punia highlighted the arrogance of Jan Chetna party candidate Venod Sharma and said the voters should now teach him a lesson for always ignoring the interests of Ambala City despite being virtual de facto CM of Haryana for a long time. Senior leaders including Prem Singh Chandumajra,'Balwant Singh Ramoowalia, Dr Daljit Cheema, Hira Singh Gabria, N K Sharma, S R Kler and Deepinder Dhillon were also present on the occasion.

नीतीश, शरद, त्यागी, कर्ण व शिवपाल यादव ने इनेलो को जिताने का किया आह्वान


बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, जनता दल (यू) के अध्यक्ष शरद यादव, समाजवादी पार्टी के नेता, उत्तरप्रदेश के वरिष्ठ मंत्री एवं पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह के भाई शिवपाल यादव सहित अनेक प्रमुख नेताओं ने बुधवार को हरियाणा के विभिन्न विधानसभा हलकों का दौरा कर इनेलो प्रत्याशियों के लिए वोट मांगे और लोगों से इनेलो प्रमुख चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाए जाने का आह्वान किया। नीतीश कुमार ने महेंद्रगढ़ जिले के सतनाली, भिवानी, हिसार व गुडग़ांव जिले के सोहना में शिवपाल यादव, जेडीयू नेता केसी त्यागी व युवा इनेलो नेता कर्ण चौटाला के साथ चुनावी सभाओं को सम्बोधित करते हुए कांग्रेस व भाजपा पर तीखे प्रहार किए। जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव ने रेवाड़ी जिले के कोसली विधानसभा क्षेत्र के कस्बा नाहड़ में और सोहना में चुनावी सभाओं को सम्बोधित किया। नीतीश कुमार ने चौधरी देवीलाल को महान युगपुरुष बताते हुए कहा कि भाजपा व कांग्रेस पूंजीपतियों की पार्टी है। अगर मतदाताओं से इस बार चूक हो गई तो देश की तरह प्रदेश में भी पूंजीपतियों का शासन कायम हो जाएगा। अगर पूंजीपति इस देश का राजा बन गया तो फिर जनता भिखारी बन कर रह जाएगी। इसलिए पूंजीवादी शक्तियों को खत्म करने के लिए जनता दल परिवार को एक होना पड़ेगा, अन्यथा कमेरे की आवाज उठाने वाला कोई नहीं बचेगा। उन्होंने जननायक का उल्लेख करते हुए कहा कि चौधरी देवीलाल ने हरियाणा के साथ-साथ बिहार का भी विशेष ध्यान रखा। उन्होंने कहा कि किसान व कमेरे के हितों की लड़ाई लडऩे वाले चौधरी देवीलाल परिवार को आज इस संकट की घड़ी में हम भूल नहीं सकते और हर वर्ग का समर्थन उनके साथ है। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल देश के सर्वसम्मति से प्रधानमंत्री चुन लिए गए थे लेकिन उन्होंने अपने सिर का ताज न सिर्फ वीपी सिंह के सिर पर रख दिया बल्कि कृषि मंत्रालय में अपने साथ कृषि राज्य मंत्री बनवाया। उन्होंने इनेलो को चौधरी देवीलाल की नीतियों पर चलने वाली पार्टी बताते हुए कहा कि 1987 की तरह आज प्रदेश के लोगों के कंधों पर एक बड़ी जिम्मेदारी है जिससे देश की राजनीति में एक नया अध्याय जुड़ेगा। उन्होंने भाजपा पर वायदों के विपरीत काम करने और प्रधानमंत्री जैसे पद पर बैठे व्यक्ति की अमर्यादित भाषा को लेकर भी सवाल उठाते हुए कहा कि वे देश के प्रधानमंत्री की तरह नहीं बल्कि अकेले गुजरात के प्रधानमंत्री की तरह व्यवहार करने का आरोप लगाया। जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव ने नाहड़ में चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस व भाजपा की जोड़ी सास-बहू जैसी है और दोनों ही स्वार्थ की राजनीति करते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में रहकर सत्ता की मलाई खाने वाले लोगों ने भाजपा का दामन थाम लिया और अब वे कांग्रेस की बी टीम के रूप में चुनाव मैदान में हैं। उन्होंने लोगों से कांग्रेस व भाजपा दोनों को उखाड़ फैंकने का आह्वान करते हुए कहा कि रामपुरा हाउस के लोग जनता की भलाई के लिए नहीं बल्कि सत्तासुख भोगने तक ही यह परिवार सीमित है। उन्होंने इनेलो प्रत्याशियों को भारी मतों से विजयी बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि इस बार प्रदेश में कांग्रेस व भाजपा प्रत्याशियों की जमानतें जब्त होनी चाहिए। इन जनसभाओं में पहुंचने पर जनता दल यू व समाजवादी पार्टी के नेताओं का लोगों ने जोरदार स्वागत किया। युवा इनेलो नेता कर्ण चौटाला ने कहा कि आज प्रदेश में इनेलो की लहर चल रही है और जनता के सहयोग से इनेलो की सरकार बनेगी। उन्होंने लोगों को चौधरी ओमप्रकाश चौटाला का संदेश भी दिया और कहा कि सत्ता के भूखे लोग तरह-तरह के प्रलोभन देकर लोगों को बहकाने का काम करेंगे लेकिन इस बार कहीं कोई चूक नहीं होनी चाहिए। जनसभाओं को पार्टी प्रत्याशियों के अलावा अन्य प्रमुख नेताओं ने भी सम्बोधित किया।

ਬਿਹਾਰ ਦੇ ਸਾਬਕਾ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਨਿਤੀਸ਼ ਕੁਮਾਰ, ਜਨਤਾ ਦਲ (ਯੂ) ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਸ਼ਰਦ ਯਾਦਵ, ਸਮਾਜਵਾਦੀ ਪਾਰਟੀ ਦੇ ਆਗੂ, ਉੱਤਰ ਪ੍ਰਦੇਸ਼ ਦੇ ਸੀਨੀਅਰ ਮੰਤਰੀ ਅਤੇ ਸਾਬਕਾ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਮੁਲਾਇਮ ਸਿੰਘ ਦੇ ਭਰਾ ਸ਼ਿਵਪਾਲ ਯਾਦਵ ਸਮੇਤ ਕਈ ਪ੍ਰਮੁੱਖ ਆਗੂਆਂ ਨੇ ਬੁਧਵਾਰ ਨੂੰ ਹਰਿਆਣਾ ਦੇ ਵੱਖੋ-ਵੱਖ ਵਿਧਾਨ ਸਭਾ ਹਲਕਿਆਂ ਦਾ ਦੌਰਾ ਕਰ ਕੇ ਇਨੈਲੋ ਉਮੀਦਵਾਰਾਂ ਲਈ ਵੋਟ ਮੰਗੀ ਅਤੇ ਲੋਕਾਂ ਤੋਂ ਇਨੈਲੋ ਮੁਖੀ ਚੌਧਰੀ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਨੂੰ ਸੂਬੇ ਦਾ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਬਣਾਏ ਜਾਣ ਦਾ ਸੱਦਾ ਦਿਤਾ। ਨਿਤੀਸ਼ ਕੁਮਾਰ ਨੇ ਮਹਿੰਦਰਗੜ੍ਹ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਦੇ ਸਤਨਾਲੀ, ਭਿਵਾਨੀ, ਹਿਸਾਰ ਅਤੇ ਗੁੜਗਾਉਂ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਦੇ ਸੋਹਣਾ 'ਚ ਸ਼ਿਵਪਾਲ ਯਾਦਵ, ਜੇ.ਡੀ.ਯੂ. ਆਗੂ ਕੇ.ਸੀ. ਤਿਆਰਗੀ ਅਤੇ ਯੂਥ ਇਨੈਲੋ ਆਗੂ ਕਰਨ ਚੌਟਾਲਾ ਦੇ ਨਾਲ ਚੋਣ ਰੈਲੀਆਂ ਨੂੰ ਸੰਬੋਧਨ ਕਰਦਿਆਂ ਕਾਂਗਰਸ ਅਤੇ ਭਾਜਪਾ 'ਤੇ ਤਿੱਖੇ ਹਮਲੇ ਕੀਤੇ। ਜੇ.ਡੀ.ਯੂ. ਪ੍ਰਧਾਨ ਸ਼ਰਦ ਯਾਦਵ ਨੇ ਰੇਵਾੜੀ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਦੇ ਕੋਸਲੀ ਵਿਧਾਨ ਸਭਾ ਹਲਕੇ 'ਚ ਕਸਬਾ ਨਾਹੜ 'ਚ ਅਤੇ ਸੋਹਣਾ 'ਚ ਚੋਣ ਰੈਲੀਆਂ ਨੂੰ ਸੰਬੋਧਨ ਕੀਤਾ
ਨਿਤੀਸ਼ ਕੁਮਾਰ ਨੇ ਚੌਧਰੀ ਦੇਵੀਲਾਲ ਨੂੰ ਮਹਾਨ ਯੁਗਪੁਰਸ਼ ਦਸਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਭਾਜਪਾ ਅਤੇ ਕਾਂਗਰਸ ਪੂੰਜੀਪਤੀਆਂ ਦੀ ਪਾਰਟੀ ਹੈ। ਜੇਕਰ ਵੋਟਰਾਂ ਤੋਂ ਇਸ ਵਾਰੀ ਭੁੱਲ ਹੋ ਗਈ ਤਾਂ ਦੇਸ਼ ਵਾਂਗ ਸੂਬੇ ਅੰਦਰ ਪੀ ਪੂੰਜੀਪਤੀਆਂ ਦਾ ਰਾਜ ਕਾਇਮ ਹੋ ਜਾਵੇਗਾ। ਜੇਕਰ ਪੂੰਜੀਪਤੀ ਇਸ ਦੇਸ਼ ਦਾ ਰਾਜਾ ਬਣ ਗਿਆ ਤਾਂ ਫਿਰ ਜਨਤਾ ਭਿਖਾਰੀ ਬਣ ਕੇ ਰਹਿ ਜਾਵੇਗੀ। ਇਸ ਲਈ ਪੂੰਜੀਵਾਦੀ ਤਾਕਤਾਂ ਨੂੰ ਖ਼ਤਮ ਕਰ ਲਈ ਜਨਤਾ ਦਲ ਪਵਾਰ ਨੂੰ ਇਕ ਹੋਣਾ ਪਵੇਗਾ, ਨਹੀਂ ਤਾਂ ਕਮੇਰੇ ਦਾ ਆਵਾਜ਼ ਚੁੱਕਣ ਵਾਲਾ ਕੋਈ ਨਹੀਂ ਬਚੇਗਾ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਜਨਨਾਇਕ ਦਾ ਜ਼ਿਕਰ ਕਰਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਚੌਧਰੀ ਦੇਵੀ ਲਾਲ ਨੇ ਹਰਿਆਣਾ ਦੇ ਨਾਲ ਬਿਹਾਰ ਦਾ ਵੀ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਧਿਆਨ ਰਖਿਆ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਕਿਸਾਨ ਅਤੇ ਕਮੇਰੇ ਦੇ ਹਿੱਤਾਂ ਦੀ ਲੜਾਈ ਲੜਨ ਵਾਲੇ ਚੌਧਰੀ ਦੇਵੀ ਲਾਲ ਪਰਵਾਰ ਨੂੰ ਅੱਜ ਇਸ ਸੰਕਟ ਦੀ ਘੜੀ 'ਚ ਅਸੀਂ ਭੁੱਲ ਨਹੀਂ ਸਕਦੇ ਅਤੇ ਹਰ ਵਰਗ ਦੀ ਹਮਾਇਤ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨਾਲ ਹੈ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਚੌਧਰੀ ਦੇਵੀ ਲਾਲ ਦੇਸ਼ ਦੇ ਸਰਬਸੰਮਤੀ ਨਾਲ ਪ੍ਰਧਾਨ ਮੰਤਰੀ ਚੁਣ ਲਏ ਗਏ ਸਨ ਪਰ ਉਨ੍ਹਾਂ ਅਪਣੇ ਸਿਰ ਦਾ ਤਾਜ ਨਾ ਸਿਰਫ਼ ਵੀ.ਪੀ. ਸਿੰਘ ਦੇ ਸਿਰ 'ਤੇ ਰਖਿਆ ਬਲਕਿ ਖੇਤੀਬਾੜੀ ਮੰਤਰਾਲਾ 'ਚ ਅਪਣੇ ਨਾਲ ਖੇਤੀਬਾੜੀ ਰਾਜ ਮੰਤਰੀ ਬਣਵਾਇਆ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਇਨੈਲੋ ਨੂੰ ਚੌਧਰੀ ਦੇਵੀ ਲਾਲ ਦੀਆਂ ਨੀਤੀਆਂ 'ਤੇ ਚੱਲਣ ਵਾਲੀ ਪਾਰਟੀ ਦਸਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ 1987 ਵਾਂਗ ਅੱਜ ਸੂਬੇ ਦੇ ਲੋਕਾਂ ਦੇ ਮੋਢਿਆਂ 'ਤੇ ਇਕ ਵੱਡੀ ਜ਼ਿੰਮੇਵਾਰੀ ਹੈ, ਜਿਸ ਨਾਲ ਦੇਸ਼ ਦੀ ਸਿਆਸਤ 'ਚ ਇਕ ਨਵਾਂ ਪਾਠ ਜੁੜੇਗਾ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਭਾਜਪਾ 'ਤੇ ਵਾਅਦਿਆਂ ਦੇ ਉਲਟ ਕੰਮ ਕਰਨ ਅਤੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਮੰਤਰੀ ਵਰਗੇ ਅਹੁਦੇ 'ਤੇ ਬੈਠੇ ਵਿਅਕਤੀ ਦੀ ਮੰਦੀ ਭਾਸ਼ਾ ਨੂੰ ਲੈ ਕੇ ਵੀ ਸਵਾਲ ਖੜ੍ਹੇ ਕਰਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਉਹ ਦੇਸ਼ ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਮੰਤਰੀ ਵਾਂਗ ਨਹੀਂ ਬਲਕਿ ਇਕੱਲੇ ਗੁਜਰਾਤ ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਮੰਤਰੀ ਵਾਂਗ ਵਤੀਰਾ ਕਰਨ ਦਾ ਦੋਸ਼ ਲਾਇਆ ਜੇ.ਡੀ.ਯੂ. ਪ੍ਰਧਾਨ ਸ਼ਰਦ ਯਾਦਵ ਨੇ ਨਾਹੜ 'ਚ ਚੋਣ ਰੈਲੀ ਨੂੰ ਸੰਬੋਧਨ ਕਰਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਕਾਂਗਰਸ ਅਤੇ ਭਾਜਪਾ ਦੀ ਜੋੜੀ ਸੱਸ-ਨੂੰਹ ਵਰਗੀ ਹੈ ਅਤੇ ਦੋਵੇਂ ਹੀ ਸਵਾਰਥ ਦੀ ਸਿਆਸਤ ਕਰਦੇ ਹਨ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਕਾਂਗਰਸ 'ਚ ਰਹਿ ਕੇ ਸੱਤਾ ਦੀ ਮਲਾਈ ਖਾਣ ਵਾਲੇ ਲੋਕਾਂ ਨੇ ਭਾਜਪਾ ਦਾ ਪੱਲਾ ਫ਼ੜ ਲਿਆ ਅਤੇ ਹੁਣ ਉਹ ਕਾਂਗਰਸ ਦੀ ਬੀ ਟੀਮ ਵਜੋਂ ਚੋਣ ਮੈਦਾਨ 'ਚ ਹਨ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਲੋਕਾਂ ਨੂੰ ਕਾਂਗਰਸ ਅਤੇ ਭਾਜਪਾ ਦੋਹਾਂ ਨੂੰ ਉਖਾੜ ਕੇ ਸੁੱਟਣ ਦਾ ਸੱਦਾ ਦਿੰਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਰਾਮਪੁਰਾ ਹਾਊਸ ਦੇ ਲੋਕ ਜਨਤਾ ਦੀ ਭਲਾਈ ਲਈ ਨਹੀਂ ਬਲਕਿ ਸੱਤਾ ਦਾ ਸੁੱਖ ਭੋਗਣ ਤਕ ਹੀ ਇਹ ਪਰਵਾਰ ਸੀਮਤ ਹੈ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਇਨੈਲੋ ਉਮੀਦਵਾਰਾਂ ਨੂੰ ਭਾਰੀ ਵੋਟਾਂ ਨਾਲ ਜੇਤੂ ਬਣਾਉਣ ਦਾ ਸੱਦਾ ਦਿੰਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਇਸ ਵਾਰੀ ਸੂਬੇ 'ਚ ਕਾਂਗਰਸ ਅਤੇ ਭਾਜਪਾ ਉਮੀਦਵਾਰਾਂ ਦੀਆਂ ਜ਼ਮਾਨਤਾਂ ਜ਼ਬਤ ਹੋਣੀਆਂ ਚਾਹੀਦੀਆਂ ਹਨ। ਇਨ੍ਹਾਂ ਰੈਲੀਆਂ 'ਚ ਪੁੱਜਣ 'ਤੇ ਜਨਤਾ ਦਲ (ਯੂ) ਅਤੇ ਸਮਾਜਵਾਦੀ ਪਾਰਟੀ ਦੇ ਆਗੂਆਂ ਦਾ ਲੋਕਾਂ ਨੇ ਜ਼ੋਰਦਾਰ ਸਵਾਗਤ ਕੀਤਾ। ਯੂਥ ਇਨੈਲੋ ਆਗੂ ਕਰਨ ਚੌਟਾਲਾ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਅੱਜ ਸੂਬੇ 'ਚ ਇਨੈਲੋ ਦੀ ਲਹਿਰ ਚਲ ਰਹੀ ਹੈ ਅਤੇ ਜਨਤਾ ਦੇ ਸਹਿਯੋਗ ਨਾਲ ਇਨੈਲੋ ਦੀ ਸਰਕਾਰ ਬਣੇਗੀ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਲੋਕਾਂ ਨੂੰ ਚੌਧਰੀ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਦਾ ਸੰਦੇਸ਼ ਵੀ ਦਿਤਾ ਅਤੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਸੱਤਾ ਦੇ ਭੁੱਖੇ ਲੋਕ ਕਈ ਤਰ੍ਹਾਂ ਦੇ ਲਾਲਚ ਦੇ ਕੇ ਲੋਕਾਂ ਨੂੰ ਬਹਿਕਾਉਣ ਦਾ ਕੰਮ ਕਰਨਗੇ, ਪਰ ਇਸ ਵਾਰੀ ਕਿਤੇ ਕੋਈ ਭੁੱਲ ਨਹੀਂ ਹੋਣੀ ਚਾਹੀਦੀ। ਰੈਲੀਆਂ ਨੂੰ ਪਾਰਟੀ ਦੇ ਉਮੀਦਵਾਰਾਂ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਹੋਰ ਮੁੱਖ ਆਗੂਆਂ ਨੇ ਵੀ ਸੰਬੋਧਨ ਕੀਤਾ

Former Chief Minister of Bihar Shri Nitish Kumar, President of the Janata Dal (United) Sharad Yadav, leaders of the Samajwadi party and senior Minister of Uttar Pradesh Shivpal Yadav, who is brother of former UP CM Mulayam Singh Yadav and scores of other leaders visited various assembly segments in the Haryana seeking votes for the candidates of the Indian National Lok Dal (INLD) and vowed the people to make Ch. Om parkash Chautala as the next Chief Minister of the state. Nitish Kumar, while addressing election rallies in Satnali in Mahendergarh district, Bhiwani and Hisar, Shivpal Yadav in Sohna in Gurgaon alongwith JD (U) leader K.C.Tyagi and young INLD leader Karan Chautala, attacked Congress and  BJP. 
Sharad Yadav addressed the rallies in Nahad of Kosli assembly segment in district Rewari and Sohna. Describing Chaudhary Devi Lal as "Yugpurush", Nitish Kumar in his speech termed both Congress and BJP as the parties of the rich. "If a capitalist become the king of this country, then the general masses will become beggars. In order to end these capitalist forces, the Janata Dal family has to get united", he said. Nitish said that apart from Haryana, Devi Lal took special care of Bihar as well. "In this hour of struggle, we can not forget the Devi Lal family. Each and every section is with the Chautala's. While Devi Lal was unanimously decided as the Prime Minister of the country, he gave the crown to V.P.Singh", he added. Terming INLD as a party which follows the ideology of Devi Lal, the former Bihar CM said that similar to the year 1987, today there is a big responsibility on the people of the Haryana. 
Nitish also took BJP to task stating that the union government was working in contradiction with the promises made with the people and the Prime Minister Modi has reduced himself as PM of just one state - Gujarat. Speaking at a rally in Nahad, Sharad Yadav said that Congress and BJP are like mother-in-law and daughter-in-law and both indulge into the politics of opportunism. "This election, cast votes in such a big number in favour of the INLD candidates that security of other candidates should be forfeited", he thundered. INLD youth leader Karan Chautala in his address said that wave is in favour of the INLD and they are sure to constitute the government. He also gave message of the INLD supremo Om Parkash Chautala and also urged the people not to be misguided by the allurement tactics of those who are power hungry and can mislead people for their vested interests.   

इनेलो सरकार अफसरशाही की नहीं प्रदेश के लोगों की सरकार होगी: अभय


इनेलो की ओर से चुनाव प्रचार के आखिरी दिन डबवाली, कालांवाली, रानियां, ऐलनाबाद व उचाना कलां में आयोजित रिकार्ड तोड़ रैलियां करते हुए न सिर्फ विरोधियों को पूरी तरह पछाड़ दिया बल्कि यह भी साफ कर दिया कि आज प्रदेश में इनेलो प्रत्याशियों के समर्थन में एकतरफा लहर चल रही है। इन रैलियों को पंजाब के मुख्यमंत्री स. प्रकाश सिंह बादल व इनेलो के वरिष्ठ नेता चौधरी अभय सिंह चौटाला ने सम्बोधित किया। रैली में उमड़े जनसैलाब को रैला की संज्ञा देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री सरदार प्रकाश सिंह बादल ने कहा कि प्रदेश में इनेलो में लहर चल रही है और आपके पास अपनी सरकार बनाने का मौका है, इस मौके को हाथ से मत जाने देना। उन्होंने कहा कि आपको अपना मुख्यमंत्री बनाना है तो डबवाली से नैना चौटाला, रानियां से रामचंद कम्बोज, कालांवाली से बलकौर सिंह व ऐलनाबाद से अभय सिंह चौटाला को रिकार्डतोड़ मतों से विजयी बना दो। श्री बादल ने नैना चौटाला को अपनी बेटी और बहु की संज्ञा देते हुए कहा कि डबवाली हलके में चुनाव सिर्फ जीतने का नहीं है बल्कि यह पूरे क्षेत्र में सर्वाधिक मतों से नैना चौटाला को विजयी बना कर कांग्रेस को सबक सीखाने का है। उन्होंने मैं ज्योतिषी तो नहीं है परन्तु सियासी ज्योतिषी हूं। मैं एक चक्कर लगाकर बता सकता हूं कि सियासी रूख क्या है। मैंने पूरे हरियाणा का चक्कर लगाया है, मैंने देखा है कि हरियाणा में ओमप्रकाश चौटाला के नाम की आंधी चल रही है और लोगों के दिल में उनके जेल भेजने के खिलाफ बदला लेने की भावना हिलौरे ले रही। इन जनसभाओं को सम्बोधित करते हुए इनेलो के वरिष्ठ नेता चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि हुड्डा सरकार को प्रदेश की बेलगाम अफसरशाही चलाती रही है और मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा व भ्रष्ट अफसरशाही ने मिलकर प्रदेश की जनता और  और सरकारी खजाने को दोनों हाथों से लूटने का काम किया है। उन्होंने कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला की सरकार प्रदेश के लोगों की अपनी सरकार होगी जो कि लोगों के बीच बैठकर ही जनहित के फैसले लेगी। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति जमीन से जुड़ा हुआ हो और वक्त आम लोगों के बीच रहता हो उसे ही मालूम है कि अफसरशाही कैसे तंग करती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश को लूटने में भ्रष्ट अफसरशाही ने मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का पूरा साथ दिया इसीलिए हुड्डा ने पिछले दस सालों के दौरान किसी भी आईएएस/आईपीएस व अन्य चहेते अधिकारी को रिटायर होकर घर नहीं जाने दिया बल्कि उन्हें प्रदेश को लूटने के लिए किसी न किसी बहाने से अहम पदों पर बनाए रखा। उन्होंने कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला हरियाणा में सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के माध्यम से हमेशा लोगों के पास जाकर उनकी दुख तकलीफ सुनते थे और वहीं लोगों के बीच बैठकर विकास के कार्यों को मंजूरी दिया करते थे। उन्होंने कहा कि आज पंजाब में भी मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल संगत दर्शन कार्यक्रम के माध्यम से लोगों के बीच रहकर काम कर रहे हैं। डबवाली की जनसभा में इनेलो नेता ने नैना चौटाला सहित प्रदेश के सभी इनेलो प्रत्याशियों को रिकार्ड तोड़ मतों से विजयी बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि उनका एक-एक वोट विधायक चुनने के साथ-साथ चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को अपना सीएम चुनने के लिए जाएगा। इससे पहले अभय सिंह चौटाला ने उचाना में दुष्यंत चौटाला के समर्थन में उमड़े जनसैलाब को सम्बोधित करते हुए कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला द्वारा कांग्रेस सरकार भय, भ्रष्टाचार व कुशासन से न सिर्फ प्रदेश को निजात दिलाएगा बल्कि अवसरवादी भाजपा को भी सबक सिखाने का काम करेगा। उन्होंने दुष्यंत चौटाला को रिकार्ड तोड़ मतों से विजयी बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि इनेलो की बढ़ती लोकप्रियता से कांग्रेस व भाजपा दोनों बौखला गई और सीबीआई का दुरुपयोग कर इनेलो प्रमुख को फिर जेल भिजवा दिया। चौधरी ओमप्रकाश चौटाला की गैर हाजिरी में दुष्यंत चौटाला की दादी श्रीमती स्नेहलता ने दुष्यंत को उचाना रैली में पहुंचकर जीत का आशीर्वाद दिया और उनके मंच पर आते ही लोगों ने चौटाला जिंदाबाद के गगनभेदी नारों से उनका स्वागत किया। लोगों ने दोनों हाथ खड़े करके उन्हें भरोसा दिलाया कि वे चौधरी ओमप्रकाश चौटाला की अनुपस्थिति में दुष्यंत चौटाला को रिकार्ड तोड़ मतों से विजयी बनाकर भेजने का काम करेंगे। डबवाली की जनसभा को सम्बोधित करते हुए नैना चौटाला बेहद भावुक हो गई और उन्होंने कहा कि कठिन परिस्थितियों में वे लोगों के बीच आई हैं और लोगों ने उन्हें जो सहयोग और समर्थन दिया है उसे वे कभी भुला नहीं पाएंगी। आपके साथ की बदौलत ही जेल की चारदीवारियों में बंद 80 वर्षीय बीमार ओमप्रकाश चौटाला को हौसला मिला है। आप मेरे साथ चट्टान बन कर खड़े हुए इससे मेरा हौसला चार गुना बढ़ गया। मैं आपसे अपील करती हूँ कि 15 तक आप  इसी तरह चट्टान की तरह मेरे साथ खड़े रहना, आगे की जिम्मेवारी मुझ पर छोड़ देना, आपको निराश नही होने दूंगी। इन जनसभाओं को पार्टी प्रत्याशियों के अलावा अन्य प्रमुख नेताओं ने भी सम्बोधित किया। 

ਇੰਡੀਅਨ ਨੈਸ਼ਨਲ ਲੋਕ ਦਲ (ਇਨੈਲੋ) ਵਲੋਂ ਚੋਣ ਪ੍ਰਚਾਰ ਦੇ ਆਖ਼ਰੀ ਦਿਨ ਡਬਵਾਲੀ, ਕਾਲਿਆਂ ਵਾਲੀ, ਰਾਨੀਆਂ, ਏਲਨਾਬਾਦ ਅਤੇ ਉਚਾਣਾ ਕਲਾਂ 'ਚ ਆਯੋਜਤ ਰਿਕਾਰਡਤੋੜ ਰੈਲੀਆਂ ਕਰਦਿਆਂ ਨਾ ਸਿਰਫ਼ ਵਿਰੋਧੀਆਂ ਨੂੰ ਪੂਰੀ ਤਰ੍ਹਾਂ ਪਛਾੜ ਦਿਤਾ ਬਲਕਿ ਇਹ ਵੀ ਸਾਫ਼ ਕਰ ਦਿਤਾ ਕਿ ਅੱਜ ਸੂਬੇ ਅੰਦਰ ਇਨੈਲੋ ਉਮੀਦਵਾਰਾਂ ਦੇ ਹੱਕ 'ਚ ਇਕਤਰਫ਼ਾ ਲਹਿਰ ਚਲ ਰਹੀ ਹੈ। ਇਨ੍ਹਾਂ ਰੈਲੀਆਂ ਨੂੰ ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਸਿੰਘ ਬਾਦਲ ਅਤੇ ਇਨੈਲੋ ਦੇ ਸੀਨੀਅਰ ਆਗੂ ਚੌਧਰੀ ਅਭੈ ਸਿੰਘ ਚੌਟਾਲਾ ਨੇ ਸੰਬੋਧਨ ਕੀਤਾ। ਰੈਲੀ 'ਚ ਆਏ ਲੋਕ ਦੇ ਹੜ੍ਹ ਨੂੰ ਰੈਲਾ ਦਾ ਨਾਮ ਦਿੰਦਿਆਂ ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਸੂਬੇ ਅੰਦਰ ਇਨੈਲੋ ਦੀ ਲਹਿਰ ਚਲ ਰਹੀ ਹੈ ਅਤੇ ਲੋਕਾ ਕੋਲ ਅਪਣੀ ਸਰਕਾਰ ਬਣਾਉਣ ਦਾ ਮੌਕਾ ਹੈ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ, ''ਇਸ ਮੌਕੇ ਨੂੰ ਹੱਥਾਂ ਤੋਂ ਨਾ ਜਾਣ ਦਿਉ। ਤੁਹਾਨੂੰ ਅਪਣਾ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਬਣਾਉਣਾ ਹੈ ਤਾਂ ਡਬਵਾਲੀ ਤੋਂ ਨੈਨਾ ਚੌਟਾਲਾ, ਰਾਨੀਆਂ ਤੋਂ ਰਾਮਚੰਦ ਕੰਬੋਜ, ਕਾਲਾਂਵਾਲੀ ਤੋਂ ਬਲਕੌਰ ਸਿੰਘ ਅਤੇ ਏਲਨਾਬਾਦ ਤੋਂ ਅਭੈ ਸਿੰਘ ਚੌਟਾਲਾ ਨੂੰ ਰੀਕਾਰਡਤੋੜ ਵੋਟਾਂ ਨਾਲ ਜੇਤੂ ਬਣਾ ਦਿਉ।'' ਬਾਦਲ ਨੇ ਨੈਨਾ ਚੌਟਾਲਾ ਨੂੰ ਅਪਣੀ ਬੇਟੀ ਅਤੇ ਨੂੰਹ ਦਸਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਡਬਵਾਲੀ ਹਲਕੇ ਤੋਂ ਚੋਣਾਂ ਸਿਰਫ਼ ਜਿੱਤਣ ਦਾ ਸਵਾਲ ਨਹੀਂ ਹੈ, ਬਲਕਿ ਇਹ ਪੂਰੇ ਖੇਤਰ 'ਚ ਸੱਭ ਤੋਂ ਜ਼ਿਆਦਾ ਵੋਟਾਂ ਨਾਲ ਨੈਨਾ ਚੌਟਾਲਾ ਨੂੰ ਜੇਤੂ ਬਣਾ ਕੇ ਕਾਂਗਰਸ ਨੂੰ ਸਬਕ ਸਿਖਾਉਣ ਦਾ ਹੈ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ, ''ਮੈਂ ਜੋਤਸ਼ੀ ਨਹੀਂ ਹਾਂ ਪਰ ਸਿਆਸੀ ਜੋਤਸ਼ੀ ਹਾਂ। ਮੈਂ ਇਕ ਚੱਕਰ ਲਾ ਕੇ ਦਸ ਸਕਦਾ ਹਾਂ ਕਿ ਸਿਆਸੀ ਰੁਖ ਕੀ ਹੈ। ਮੈਂ ਪੂਰੇ ਹਰਿਆਣਾ ਚੱਕਰ ਲਾਇਆ ਹੈ। ਮੈਂ ਵੇਖਿਆ ਹੈ ਕਿ ਹਰਿਆਣਾ 'ਚ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਦੇ ਨਾਮ ਦੀ ਹਨੇਰੀ ਚਲ ਰਹੀ ਹੈ ਅਤੇ ਲੋਕਾਂ ਦੇ ਦਿਨ 'ਚ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਜੇਲ੍ਹ ਭੇਜਣ ਵਿਰੁਧ ਬਦਲਾ ਲੈਣ ਦੀ ਭਾਵਨਾ ਹਲੂਣਾ ਲੈ ਰਹੀ ਹੈ।'' ਇਨ੍ਹਾਂ ਰੈਲੀਆਂ ਨੂੰ ਸੰਬੋਧਨ ਕਰਦਿਆਂ ਇਨੈਲੋ ਦੇ ਸੀਨੀਅਰ ਆਗੂ ਚੌਧਰੀ ਅਭੈ ਸਿੰਘ ਚੌਟਾਲਾ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਹੁੱਡਾ ਸਰਕਾਰ ਨੂੰ ਸੂਬੇ ਦੀ ਬੇਲਗਾਮ ਅਫ਼ਸਰਸ਼ਾਹੀ ਚਲਾਉਂਦੀ ਰਹੀ ਹੈ ਅਤੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਭੁਪਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਹੁੱਡਾ ਅਤੇ ਭ੍ਰਿਸ਼ਟ ਅਫ਼ਸਰਸ਼ਾਹੀ ਨੇ ਮਿਲ ਕੇ ਸੂਬੇ ਦੀ ਜਨਤਾ ਅਤੇ ਸਰਕਾਰੀ ਖਜ਼ਾਨੇ ਨੂੰ ਦੋਹਾਂ ਹੱਥਾਂ ਨਾਲ ਲੁੱਟਣ ਦਾ ਕੰਮ ਕੀਤਾ ਹੈ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਚੌਧਰੀ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਦੀ ਸਰਕਾਰ ਸੂਬੇ ਦੇ ਲੋਕਾਂ ਦੀ ਅਪਣੀ ਸਰਕਾਰ ਹੋਵੇਗੀ ਜੋ ਕਿ ਲੋਕਾਂ ਵਿਚਕਾਰ ਬੈਠਕ ਕੇ ਹੀ ਜਨਹਿੱਤ ਦੇ ਫ਼ੈਸਲੇ ਲਵੇਗੀ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਜੋ ਵਿਅਕਤੀ ਜ਼ਮੀਨ ਨਾਲ ਜੁੜਿਆ ਹੋਵੇ ਅਤੇ ਹਰ ਸਮੇਂ ਲੋਕਾਂ ਵਿਚਕਾਰ ਰਹਿੰਦਾ ਹੋਵੇ ਉਸ ਨੂੰ ਹੀ ਪਤਾ ਹੈ ਕਿ ਅਫ਼ਸਰਸ਼ਾਹੀ ਕਿਸ ਤਰ੍ਹਾਂ ਤੰਗ ਕਰਦੀ ਹੈ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਸੂਬੇ ਨੂੰ ਲੁੱਟਣ 'ਚ ਭ੍ਰਿਸ਼ਟ ਅਫ਼ਸਰਸ਼ਾਹੀ ਨੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਭੁਪਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਹੁੱਡਾ ਪੂਰਾ ਸਾਥ ਦਿਤਾ ਇਸੇ ਕਾਰਨ ਹੁੱਡਾ ਨੇ ਪਿਛਲੇ ਦਸ ਸਾਲਾਂ ਦੌਰਾਨ ਕਿਸੇ ਵੀ ਆਈ.ਏ.ਐਸ./ਆਈ.ਪੀ.ਐਸ. ਅਤੇ ਹੋਰ ਚਹੇਤੇ ਅਧਿਕਾਰੀ ਨੂੰ ਸੇਵਾਮੁਕਤ ਹੋ ਕੇ ਘਰ ਨਹੀਂ ਜਾਣ ਦਿਤਾ, ਬਲਕਿ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਸੂਬੇ ਨੂੰ ਲੁੱਟਣ ਲਈ ਕਿਸੇ ਨਾ ਕਿਸੇ ਬਹਾਨੇ ਅਹਿਮ ਅਹੁਦਿਆਂ 'ਤੇ ਬਣਾਈ ਰਖਿਆ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਚੌਧਰੀ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਹਰਿਆਣਾ 'ਚ ਸਰਕਾਰ ਆਪਕੇ ਦਵਾਰ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਰਾਹੀਂ ਹਮੇਸ਼ਾ ਲੋਕਾਂ ਕੋਲ ਜਾ ਕੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਦੁੱਖ ਤਕਲੀਫ਼ ਸੁਣਦੇ ਸਨ ਅਤੇ ਲੋਕਾਂ ਵਿਚਕਾਰ ਬੈਠ ਕੇ ਵਿਕਾਸ ਦੇ ਕਾਰਜਾਂ ਨੂੰ ਮਨਜ਼ੂਰੀ ਦਿੰਦੇ ਸਨ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਅੱਜ ਪੰਜਾਬ 'ਚ ਵੀ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਸਿੰਘ ਬਾਦਲ ਸੰਗਤ ਦਰਸ਼ਨ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਰਾਹੀਂ ਲੋਕਾਂ ਵਿਚਕਾਰ ਰਹਿ ਕੇ ਕੰਮ ਕਰ ਰਹੇ ਹਨ। ਡਬਵਾਲੀ ਦੀ ਰੈਲੀ 'ਚ ਇਨੈਲੋ ਆਗੂ ਨੇ ਨੈਨਾ ਚੌਟਾਲਾ ਸਮੇਤ ਸੂਬੇ ਦੇ ਸਾਰੇ ਇਨੈਲੋ ਉਮੀਦਵਾਰਾਂ ਨੂੰ ਰੀਕਾਰਡਤੋੜ ਵੋਟਾਂ ਨਾਲ ਜੇਤੂ ਬਣਾਉਣ ਦਾ ਸੱਦਾ ਦਿੰਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦਾ ਇਕ-ਇਕ ਵੋਟ ਵਿਧਾਇਕ ਚੁਣਨ ਦੇ ਨਾਲ ਚੌਧਰੀ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਨੂੰ ਅਪਣਾ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਚੁਣਨ ਲਈ ਜਾਵੇਗਾ। ਇਸ ਤੋਂ ਪਹਿਲਾਂ ਅਭੈ ਸਿੰਘ ਚੌਟਾਲਾ ਨੇ ਉਚਾਣਾ 'ਚ ਦੁਸ਼ਿਅੰਤ ਚੌਟਾਲਾ ਦੇ ਹੱਕ 'ਚ ਲੋਕਾਂ ਨੂੰ ਸੰਬੋਧਨ ਕਰਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਚੌਧਰੀ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਵਲੋਂ ਕਾਂਗਰਸ ਸਰਕਾਰ ਡਰ, ਭ੍ਰਿਸ਼ਟਾਚਾਰ ਅਤੇ ਕੁਸ਼ਾਸਨ ਨਾਲ ਨਾ ਸਿਰਫ਼ ਸੂਬੇ ਨੂੰ ਨਿਜਾਤ ਦਿਵਾਏਗਾ ਬਲਕਿ ਮੌਕਾਪ੍ਰਸਤ ਭਾਜਪਾ ਨੂੰ ਵੀ ਸਬਕ ਸਿਖਾਉਣ ਦਾ ਕੰਮ ਕਰੇਗਾ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੁਸ਼ਿਅੰਤ ਚੌਟਾਲਾ ਨੂੰ ਰੀਕਾਰਡਤੋੜ ਵੋਟਾਂ ਨਾਲ ਜੇਤੂ ਬਣਾਉਣ ਦਾ ਸੱਦਾ ਦਿੰਦਿਆਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਇਨੈਲੋ ਦੀ ਵਧਦੀ ਮਸ਼ਹੂਰੀ ਤੋਂ ਕਾਂਗਰਸ ਅਤੇ ਭਾਜਪਾ ਦੋਵੇਂ ਡਰ ਗਈਆਂ ਹਨ ਅਤੇ ਸੀ.ਬੀ.ਆਈ. ਦਾ ਦੁਰਉਪਯੋਗ ਕਰ ਕੇ ਇਨੈਲੋ ਮੁਖੀ ਨੂੰ ਮੁੜ ਜੇਲ੍ਰ ਭਿਜਵਾ ਦਿਤਾ। ਚੌਧਰੀ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਦੀ ਗ਼ੈਰਹਾਜ਼ਰੀ 'ਚ ਦੁਸ਼ਿਅੰਤ ਚੌਟਾਲਾ ਦੀ ਦਾਦੀ ਸਨੇਹਲਤਾ ਨੇ ਦੁਸ਼ਿਅੰਤ ਨੂੰ ਉਚਾਣਾ ਰੈਲੀ 'ਚ ਪੁੱਜ ਕੇ ਜਿੱਤਾ ਦਾ ਆਸ਼ੀਰਵਾਦ ਦਿਤਾ ਅਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਮੰਚ 'ਤੇ ਆਉਂਦਿਆਂ ਹੀ ਲੋਕਾਂ ਨੇ ਚੌਟਾਲਾ ਜ਼ਿੰਦਾਬਾਦ ਦੇ ਨਾਹਰਿਆਂ ਨਾਲ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦਾ ਸਵਾਗਤ ਕੀਤਾ। ਲੋਕਾਂ ਨੇ ਦੋਵੇਂ ਹੱਥ ਖੜ੍ਹੇ ਕਰ ਕੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਭਰੋਸਾ ਦਿਤਾ ਕਿ ਉਹ ਚੌਧਰੀ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਦੀ ਹਾਜ਼ਰੀ 'ਚ ਦੁਸ਼ਿਅੰਤ ਚੌਟਾਲਾ ਨੂੰ ਰੀਕਾਰਡਤੋੜ ਵੋਟਾਂ ਨਾਲ ਜੇਤੂ ਬਣਾ ਕੇ ਭੇਜਣ ਦਾ ਕੰਮ ਕਰਨਗੇ। ਡਬਵਾਲੀ ਦੀ ਰੈਲੀ ਨੂੰ ਸੰਬੋਧਨ ਕਰਦਿਆਂ ਨੈਨਾ ਚੌਟਾਲਾ ਬਹੁਤ ਭਾਵੁਕ ਹੋ ਗਈ ਅਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਮੁਸ਼ਕਲ ਸਥਿਤੀਆਂ 'ਚ ਉਹ ਲੋਕਾਂ ਵਿਚਕਾਰ ਆਈ ਹੈ ਅਤੇ ਲੋਕਾਂ ਨੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਜੋ ਸਹਿਯੋਗ ਅਤੇ ਹਮਾਇਤ ਦਿਤੀ ਹੈ ਉਸ ਨੂੰ ਉਹ ਕਦੀ ਭੁਲਾ ਨਹੀਂ ਸਕਣਗੇ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ, ''ਤੁਹਾਡੇ ਸਾਥ ਦੇ ਕਾਰਨ ਹੀ ਜੇਲ੍ਹ ਦੀ ਚਾਰਦੀਵਾਰੀ 'ਚ ਬੰਦ 80 ਸਾਲਾਂ ਦੇ ਬੀਮਾਰ ਓਮ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ ਚੌਟਾਲਾ ਨੂੰ ਹੌਂਸਲਾ ਮਿਲਿਆ ਹੈ। ਤੁਸੀਂ ਮੇਰੇ ਨਾਲ ਚੱਟਾਨ ਬਣ ਕੇ ਖੜ੍ਹੇ ਹੋਏ ਇਸ ਨਾਲ ਮੇਰਾ ਹੌਂਸਲਾ ਚਾਰ ਗੁਣਾ ਵਧ ਗਿਆ। ਮੈਂ ਤੁਹਾਨੂੰ ਅਪੀਲ ਕਰਦੀ ਹਾਂ ਕਿ 15 ਤਕ ਤੁਸੀਂ ਇਸੇ ਤਰ੍ਹਾਂ ਚੱਟਾਨ ਵਾਂਗ ਮੇਰੇ ਨਾਲ ਖੜ੍ਹੇ ਰਹਿਣਾ ਹੈ, ਅੱਗੇ ਦੀ ਜ਼ਿੰਮੇਵਾਰੀ ਮੇਰੇ 'ਤੇ ਛੱਡ ਦਿਉ, ਤੁਹਾਨੂੰ ਨਿਰਾਸ਼ ਨਹੀਂ ਹੋਣ ਦੇਵਾਂਗੀ।'' ਇਨ੍ਹਾਂ ਰੈਲੀਆਂ ਨੂੰ ਪਾਰਟੀ ਉਮੀਦਵਾਰਾਂ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਹੋਰ ਮੁੱਖ ਆਗੂਆਂ ਨੇ ਵੀ ਸੰਬੋਧਨ ਕੀਤਾ

On the last day of the election campaign, a clear wave in favour of the INLD is visible. Series of the election rallies were organised by the INLD at Dabwali, Kalanwali, Rania, Ellanabad and Uchana Kalan. These election rallies were addressed by the Punjab Chief Minister Parkash Singh Badal and senior INLD leader Chaudhary Abhay Singh Chautala. In his address, Mr. Badal said that one sided wave is blowing in favour of the INLD. Exhorting the people, who have turned up in large number at the rallies, Badal said, “You have got a golden chance to form your own government by voting for the INLD candidates. Do not let this opportunity go. If you want your Chief Minister for Haryana, then you have to make victorious Naina Chautala from Dabwali, Ramchand Kamboj from Rania, Balkor Singh from Kalanwali and Abhay Chautala from Elanabad.” Terming Naina Chautala as his daughter, Mr. Badal said that Naina Chautala should be made victorious from Dabwali with such a thumping margin so that the win of the INLD must teach a lesson to the Congress. At his oratory best, Badal said, “I am not an astrologer but I am certainly a political astrologer. By taking just a one round, I can assess and tell that tide is in which party’s favour. I have toured the entire Haryana and my assessment is that there is strong wave in favour of the INLD and its supremo Ch. Om Parkash Chautala. People are waiting for October 15 so that they can vote for INLD and take revenge of sending the stalwart to Jail as a well planned conspiracy.” Addressing the rallies, Chaudhary Abhay Singh Chautala said that the Haryana was being run by the untamed bureaucracy during the Hooda regime. “The Chief Minister Bhupinder Singh Hooda and the corrupt bureaucracy looted the people of the state and the government treasury with both arms for a decade. “Once INLD constitutes government, it would be a people friendly government and decisions would be taken in the larger interests of the state and the masses. It is shocking that corruption was so much rampant that during the last ten years in Haryana, no IAS/IPS or any other blue eyed officers of the Hooda were not retired and kept at plum postings”, he said. Abhay further said that during the Chautala regime, the Chief Minister used to meet the people through the “Sarkar Aapke Dwar” programme and the problems being faced by the commoners were resolved on priority on the spot. He added that at the same time, development works were also sanctioned as per the needs of the masses and that too in a transparent manner. “Our ally SAD is also doing the same works in Punjab. Punjab CM Parkash Singh Badal holds Sangat Darshan programmes to address the problems of the people”, he said. Abhay also said that besides electing the party nominee Naina Chautala from Dabwali, each and every vote polled to the INLD would contribute in making Ch. Om Parkash Chautala as the next Chief Minister of the state. Earlier, addressing election rally in favour of INLD candidate from Uchana Dushyant Chautala, the INLD leader Chaudhary Abhay Singh Chautala said, “Om Parkash Chautala assuming power would mark the end of the Congress misrule and corruption in Haryana.” He appealed to the masses to make Dushyant victorious by a record margin. In absence of Om Parkash Chautala, Dushyant’s grandmother Smt Snehlala went to the rally at Uchana to extend her blessing to Dushyant. The people at the rally assured to make Dushyant victorious by raising their both arms in unison. Meanwhile, addressing the Dabwali rally, Naina Chautala got very emotional and said that she has come in the election arena under difficult circumstances and she would never forget the love and affection given to her by the people. “Just because of the massive support of the people of Haryana, the 80-years-old Ch. Om Parkash Chautala is very confident. Stay with us rock solid till October 15 so that the INLD can transform the dreams of making Haryana the best state in India”, she said.