Tuesday, January 17, 2017

ड़क मार्ग बनवाने पर छात्रों ने विधायक का आभार जताया



चरखी दादरी : कई सालों से जर्जर हाल कालेज रोड का नव निर्माण करवाने पर स्थानीय  जनता पीजी कालेज के छात्रों ने हलके के विधायक राजदीप फौगाट का आभार जताया है। मंगलवार को विधायक को छात्रों ने सम्मानित किया। विधायक राजदीप ने कहा कि विकास कार्यों को पूरा करवाना उनकी प्राथमिकता है। कई सालों से कालेज के सामने से गुजरने वाला सड़क मार्ग जर्जर हाल था। यहां गहरे गड्ढे, बिखरी रोड़ियां आवागमन में बाधक थी। वहीं इस मार्ग पर स्कूल, कालेजों में आने वाले छात्रों, स्टाफ तथा दैनिक राहगीरों, चालकों को काफी परेशानियां होती थी। उन्होंने इस समस्या को गंभीरता से लेते हुए समाधान करवाया है। अब इस मार्ग पर आवागमन सुचारु हो पाया है और शहर के सौंदर्यकरण को बढ़ावा मिला है। विधायक ने कहा कि उनका विपक्ष में रहना विकास के आड़े नही आएगा, जन समस्याओं का समाधान प्राथमिकता से जारी रहेगा। वहीं उन्होंने बताया कि दिल्ली बाईपास से रेलवे ओवरब्रिज के खस्ताहाल मार्ग का निर्माण भी जल्द पूरा हो जाएगा। छात्रों ने वर्तमान में उनके सामने आनी वाली शिक्षा, खेल संबंधी परेशानियों से भी विधायक को अवगत कराया। कालेज में आने-जाने के लिए रोडवेज सेवा संबंधी कुछ खामियों के बारे में भी उन्होंने विधायक को बताया। विधायक ने जल्द समाधान करवाने की बात कही।
20 जनवरी को दादरी में पहुंचने वाली इनेसो कालेज यात्रा को लेकर भी विधायक ने छात्रों को जरूरी दिशानिर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इनेसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला छात्रों को संबोधित करेंगे। दादरी में यात्रा का भव्य स्वागत किया जाएगा। यात्रा के माध्यम से दिग्विजय चौटाला छात्रों की समस्याएं सुनेंगे और पूरा करवाने के लिए सरकार को अवगत कराया जाएगा। इनेसो कार्यकर्ताओं में कालेज यात्रा को लेकर भारी उत्साह है। इस अवसर पर राजेश सोनी, सूरज बेनीवाल, बबलू चौधरी, ललित फौगाट, नितिन धवन, मोहन, दीपक धनखड़, प्रवेश रावलधी, सचिन रावलधी, अतुल फौगाट, विपिन सैनी, जतिन वर्मा, अरविंद सांगवान, प्रदीप भारद्वाज, दीपक कुमार, संदीप, योगेश, अमित फौगाट, नवीन सांगवान, सचिन, मंदीप, लोकेश, साहिल, मनोज जांगड़ा, सत्यम, प्रशांत, नवदीप, भूपेंद्र, योगी, विशाल डबास, बलजीत, मनोज, विकास, मोहित सांगवान इत्यादि मौजूद थे। 


एसवाईएल पर 1 फरवरी से 10 फरवरी तक जनजागरण अभियान चलाएगी इनेलो

एसवाईएल की खुदाई 23 फरवरी को शुरू करने के लिए इनेलो ने प्रदेशभर में 1 फरवरी से लेकर 10 फरवरी तक व्यापक जनजागरण अभियान चलाने का निर्णय लिया है। इस अभियान के अंतर्गत प्रदेश के सभी विधानसभा हलकों के गांवों व वार्ड स्तर पर बैठकें आयोजित कर लोगों को जलयुद्ध में शामिल होने के लिए  न्यौता देने और एसवाईएल पर जागरूक करने के लिए व्यापक रणनीति तैयार की गई है। इनेलो ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को अलग-अलग हलकों का प्रभारी बनाकर उन्हें स्थानीय नेताओं को साथ लेकर सभी गांवों व वार्डों में बैठकें करने की जिम्मेदारी सौंपी है। इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने बताया कि नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला व पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ व्यापक विचारविमर्श के बाद पार्टी नेताओं को इस अभियान के लिए हलका प्रभारी नियुक्त किया गया है।
प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा को थानेसर व शाहबाद, सांसद दुष्यंत चौटाला को उचाना व नारनौंद, पूर्व कृषि मंत्री जसविंदर संधू को पेहवा व असंध, पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा को कलायत व गुहला का प्रभारी बनाया गया है। प्रदीप चौधरी को कालका व पंचकूला, अशोक शेरवाल नारायणगढ़ व सढौरा, बीडी ढालिया अम्बाला शहर व अम्बाला छावनी, एमएस मलिक जगाधरी व यमुनानगर, सांसद आरके कश्यप लाडवा व रादौर, पूर्व विधायक राजबीर सिंह मुलाना, पूर्व मंत्री सुरेंद्र मदान कैथल, कलीराम पटवारी पुण्डरी व सफीदों, परमेंद्र ढुल जुलाना व महम, डॉ. हरिचंद मिड्ढा जींद, पिरथी सिंह नम्बरदार नरवाना, मामू राम गोंदर नीलोखेड़ी, नरेंद्र सांगवान इंद्री व घरौंडा, मनोज वधवा  करनाल, सुरेंद्र दहिया पानीपत शहर व ग्रामीण, युद्धवीर आर्य इसराना, सुरेंद्र पंवार सोनीपत, रामफल कुंडू समालखा व गन्नौर, डॉ. केसी बांगड़ गोहाना व बडौदा, पदम दहिया राई व खरखौदा, बलवंत मायना बादली व झज्जर, सूरजभान काजल बहादुरगढ़, कुलदीप मलिक बेरी व गोपीचंद गहलोत को बावल, नांगलचौधरी व गुडग़ांव का हलका प्रभारी नियुक्त किया गया है। 
अशोक अरोड़ा ने बताया कि पूर्व सांसद कैप्टन इंद्र सिंह को कोसली, पूर्व मंत्री सुभाष गोयल रेवाड़ीव हांसी, सतबीर यादव अटेली, राव बहादुर सिंह महेंद्रगढ़, जसबीर ढिल्लों एडवोकेट नारनौल व गंगाराम और कैप्टन इंद्र सिंह को पटौदी को हलका प्रभारी नियुक्त किया गया है। उन्होंने बताया कि राकेश दोलताबाद को बादशाहपुर, जाकिर हुसैन व बद्रुद्दीन को नूंह, किशोर यादव सोहना, नसीम अहमद फिरोजपुर झिरका, मोहम्मद इलियास पुन्हाना, जगदीश नैयर होडल, केहर सिंह रावल हथीन व पलवल, देवंद्र चौहान पिरथला, जगजीत कौर फरीदाबाद एनआईटी, रामकुमार सैनी को बडख़ल, बल्लबगढ़, फरीदाबाद व तिगांव का प्रभारी नियुक्त किया गया है। सतीश नांदल को सांपला किलोई, राजदीप फोगाट को कलानौर व दादरी, विधायक ओमप्रकाश को लोहारू व भिवानी, सुनील लाम्बा तोशाम व बवानीखेड़ा, कर्नल रघुबीर सिंह बाढड़ा, राजकुमार शर्मा व सतीश नांदल को रोहतक, पूर्ण सिंह डाबड़ा आदमपुर, अनूप धानक उकलाना, वंद नारंग बरवाला, रणबीर गंगवा हिसार व नलवा, सांसद चरणजीत सिंह व बलकौर सिंह कालांवाली, दिग्विजय सिंह चौटाला डबवाली, रामचंद कम्बोज रानिया, मक्खन लाल सिंगला सिरसा, कर्ण चौटाला ऐलनाबाद, निशान सिंह टोहाना, बलवान सिंह फतेहाबाद व प्रो. रविंद्र बलियाला को रतिया का हलका प्रभारी नियुक्त किया गया है।
सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद भी नहर का निर्माण न होना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण - नेता प्रतिपक्ष


इनेलो तब तक चैन से नहीं बैठेगी जब तक प्रदेश को एसवाईएल का पानी नहीं मिल जाता। एसवाईएल का पानी प्रदेश में आते ही खुशहाली का एक नया दौर शुरू होगा और इसके लिए इनेलो कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी। यह बात इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं हरियाणा में नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने मंगलवार को यमुनानगर व अम्बाला में इनेलो की जिलास्तरीय बैठकों को सम्बोधित करते हुए कही। इनेलो नेता ने कहा कि भाजपा सरकार हर मोर्चे पर पूरी तरह विफल हो गई है और भाजपा ने लोगों से किया कोई भी वायदा अभी तक नहीं निभाया जिसके चलते सरकार के प्रति समाज के हर वर्ग में भारी रोष और गुस्सा पाया जा रहा है। इनेलो नेता ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय का फैसला हरियाणा के पक्ष में आने के बावजूद अभी तक हर का निर्माण न होना न सिर्फ सर्वोच्च न्यायालय की अवमानना है बल्कि यह भी दर्शाता है कि कांग्रेस व भाजपा इस मुद्दे पर गम्भीर नहीं है और केवल एसवाईएल पर राजनीति कर रही है। इनेलो नेताओं ने एसवाईएल पर जनसमर्थन जुटाने के लिए आज यमुनानगर व अम्बाला में पार्टी की जिलास्तरीय बैठकों को सम्बोधित किया।
नेता प्रतिपक्ष ने लोगों से भारी संख्या में 23 फरवरी को हरियाणा-पंजाब की सीमा पर स्थित गांव इस्माइलपुर पहुंचने का आह्वान किया ताकि इनेलो प्रदेशवासियों को साथ लेकर अपने स्तर पर एसवाईएल की खुदाई शुरू कर सके। इनेलो नेता ने कहा कि एसवाईएल का निर्माण कार्य शुरू करवाने के लिए सबसे पहले चौधरी देवीलाल की सरकार ने पंजाब सरकार को राशि जारी की थी ताकि नहर के लिए भूमि अधिग्रहण की जा सके। इनेलो नेता ने कहा कि नहर पर सबसे ज्यादा निर्माण कार्य भी चौधरी देवीलाल के कार्यकाल में हुआ और यह बात उनके राजनीतिक विरोधी पूर्व मुख्यमंत्री बंसीलाल ने विधानसभा में खुले तौर पर स्वीकार की थी और वह विधानसभा की कार्रवाई में दर्ज है।  इनेलो नेता ने कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व वाली इनेलो सरकार की जोरदार पैरवी से सर्वोच्च न्यायालय का फैसला हरियाणा के पक्ष में आया था।


इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कांग्रेस व भाजपा पर वोट की राजनीति के लिए एसवाईएल पर दोहरी भाषा बोलने का आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ जहां पंजाब के कांग्रेसी व भाजपा नेता खुले तौर पर कहते हैं कि एसवाईएल से एक बूंद पानी भी हरियाणा को नहीं जाने देंगे वहीं दोनों दलों की राष्ट्रीय व हरियाणा इकाई इस मामले में चुप्पी साधे हुए है। इनेलो नेताओं ने कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उनके द्वारा पंजाब कांग्रेस का चुनाव घोषणा पत्र यह कहते हुए जारी करना कि पंजाब का एक बंूद पानी भी हरियाणा सहित अन्य किसी राज्य को नहीं दिया जाएगा इससे ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण बात कोई हो नहीं सकती। इनेलो नेताओं ने कहा कि सुरजेवाला को न सिर्फ विधायक पद से इस्तीफा देना चाहिए बल्कि एसवाईएल को लेकर बड़े-बड़े दावे करने वाले कांग्रेसी नेताओं को भी पंजाब कांग्रेस के घोषणा पत्र और उसे जारी करने वाले सुरजेवाला के स्टेंड पर भी अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। इनेलो नेताओं ने कहा कि हरियाणा व केंद्र में दस साल तक कांग्रेस की सरकार थी और इस दौरान एसवाईएल के निर्माण के लिए कांग्रेस ने कोई प्रयास करना तो दूर एक शब्द तक नहीं बोला। उन्होंने कहा कि पिछले अढाई साल से प्रदेश व केंद्र में भाजपा की सरकार है और पंजाब में भी इस दौरान भाजपा की भागीदारी वाली सरकार रही लेकिन भाजपा ने नहर निर्माण के लिए कोई कदम नहीं उठाया। जो कि उनकी हरियाणा विरोधी सोच को दर्शाता है। 
यमुनानगर में बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सर्वदलीय बैठक में यह फैसला हुआ था कि सीएम एसवाईएल पर पीएम से मिलने का समय लेंगे और सभी राजनीतिक दल मुख्यमंत्री के नेतृत्व में प्रधानमंत्री से मिलकर सर्वोच्च न्यायालय का फैसला आने के बाद इस नहर को बनवाए जाने का केंद्र से आग्रह करेंगे और अपनी बात रखेंगे। सीएम पिछले दो महीनों से प्रधानमंत्री से मिलने का समय नहीं ले पाए इसलिए अब हम अपने स्तर पर प्रधानमंत्री से मिलने का समय मांगेंगे और अगर समय न दिया गया तो इनेलो कार्यकर्ता जंतर-मंतर पर धरना भी देंगे।यमुनानगर की बैठक में अभय चौटाला व अशोक अरोड़ा के अलावा पूर्व विधायक दिलबाग सिंह, दलमीरा राम सैनी, ईश्वर पलाका, गुरविंदर तेजली, जाहिद खान, अशोक शेरवाल, कुसुम शेरवाल, चरण सिंह, राजकुमार, रामपाल, सेवा सिंह मेयर, रामपाल डिप्टी मेयर, सतपाल, जग्गा, जसबीर सिंह, रामस्वरूप, मकसूद अली, ओमप्रकाश, शिव गुप्ता, गुरविंदर खेड़ी, चंद्रपाल माडो व सुरेश शर्मा सहित पार्टी के अनेक नेता मौजूद थे। अम्बाला की बैठक में अन्य नेताओं के अलावा पूर्व विधायक राजबीर बराड़ा, शीशपाल जंधेड़ी, अशोक शेरवाल, जगमाल सिंह रेलो, मक्खन सिंह लबाणा, अवतार सिंह शेरगिल, कृष्ण राणा, किरपाल अरोड़ा व ओंकार सिंह सहित पार्टी के अनेक प्रमुख नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे।
एसवाईंएल खोदने 23 फरवरी को जाएंगे पंजाब, कानून व्यवस्था बिगडी तो सरकार जिम्मेदार - दुष्यंत चौटाला


इनेलो के युवा सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पिछले दो माह से प्रदेश के मुख्यमंत्री एसवाईएल मामले पर प्रधानमंत्री से मिलने तक का समय नहीं ले पाए। इनेलो कार्यकर्ता हर हाल में 23 फरवरी को एसवाईएल की खुदाई के लिए पंजाब जाएंगे। भाजपा व कांग्रेस की नियत ठीक है तो वह 23 फरवरी को नहर खुदाई के लिए पंजाब बार्डर पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि अगर इस दौरान कानून व्यवस्था बिगड़ती है तो इसके लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार जिम्मेदार होगी। उन्होंने उतर प्रदेश चुनाव को लेकर कहा कि अभी तो बहुत कुछ सामने आएगा। इनेलो सांसद ने राहुल गांधी द्वारा फटा कुर्ता पहनकर चुनाव प्रचार करने को राजनीतिक ड्रामा बताया। मंगलवार को इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने सांपला में आयोजित युवा चौपाल में शिरक्त की। 
इनेलो सांसद ने कहा कि जाट आरक्षण के दौरान जिन अधिकारियों ने लापरवाही बरती, आज सरकार उन्हीं अधिकारियों को क्लीन चिट देकर बहाल करने की फिराक में है। अगर सरकार ने ऐसा किया तो लोकसभा में भी इसको लेकर आवाज उठाई जाएगी और इनेलो हर स्तर पर इसका विरोध करेगी। इनेलो सांसद ने कहा कि नेकीराम कॉलेज में छात्रों पर योजनाबद्ध तरीके से पुलिस कर्मियों ने हमला किया था और अब उन्हें सरकार बचाने में जुटी है। उन्होंने कहा कि प्रकाश सिंह कमेटी रिपोर्ट के बाद सरकार ने उन अधिकारियों को निलंबित किया था लेकिन 11 महीने बाद भी सरकार उन्हें चार्जशीट नहीं कर पाई। एसवाईएल को लेकर इनेलो सांसद ने कहा कि कांग्रेस व भाजपा बेवजह जनता को गुमराह कर रही है। उन्होंने कहा कि कितनी निंदनीय बात है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री एसवाईएल को लेकर प्रधानमंत्री से समय तक नहीं ले पा रहे है। कुछ भी हो जाए हर हाल में इनेलो कार्यकर्ता 23 फरवरी को एसवाईएल खोदने जाएंगे। इसके लिए पार्टी कार्यकर्ता पूरी तरह से तैयार है।
प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर अशोभनीय टिप्पणी की युवा सांसद ने कड़े शब्दों में निंदा की। साथ ही उन्होंने नोटबंदी को लेकर भी केन्द्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि इससे देश को बर्बाद कर दिया गया है। दुष्यंत चौटाला ने युवा चौपाल कार्यक्रम के तहत कुलताना, समचाना, हुमायुपूर व नांदल गांवों में कार्यक्रमों को संबोधित किया और युवाओं का आह्वान किया 23 फरवरी को नहर खुदाई में कस्सी व फावडे लेकर अम्बाला जिले के ईस्माइलपुर गांव पहुंचे। साथ ही उन्होंने कहा कि एसवाईएल को लेकर एक फरवरी से पूरे प्रदेश में जनजागरण अभियान की शुरूआत की जाएगी। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष सतीश नांदल, कृष्ण कौशिक, उमेश देवी, राजेश कुमार, कृष्ण सांपला, सुखमेन्द्र, रविन्द्र सांगवान, प्रदीप देशवाल, सतप्रकाश बिसला, सत्यवान, अशोक, शीला खरैटी, कृष्णा सांपला व रविन्द्र बखेता सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

अपराधिक घटनाओं पर अंकुश नहीं लगा तो करेंगे आंदोलन - लितानी
 
इंडियन नेशनल लोकदल ने शहर में दिनों दिन बढ़ती जा रही चोरियों व लूटपाट सहित अन्य अपराधिक घटनाओं पर कड़ा रोष जताया है। इनेलो के जिलाध्यक्ष राजेंद्र लितानी ने कहा कि पुलिस की नाक के नीचे हो रही इन घटनाओं ने पुलिस प्रशासन की सक्रियता की पोल खोल कर रख दी है। इन बढ़ती घटनाओं से साफ जाहिर है कि भाजपा के सत्ताधारी सत्ता के नशे मेें मदमस्त है और उनकी पुलिस प्रशासन पर कोई पकड़ रही है। शहर के मौजूदा विधायक केवल पार्टी का गुणगान करने में लगे हैं, उन्हें लोगों के सुख दुख से कोई लेना देना नहीं है।  मिलगेट क्षेत्र में पुलिस चौकियों के नजदीक एक साथ कई दुकानों में हुई चोरियों पर पुलिस प्रशासन को आड़े हाथों लेते हुए इनेलो नेता लितानी ने कहा कि प्रशासन पर पकड़ न होने के कारण अधिकारी भी मस्त हैं, जिसके चलते ऐसी घटनाओं पर अंकुश नहीं लगाया जा रहा। उन्होंने मांग की कि सर्दी के चलते बढ़ रही इन घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए रात को पुलिस की गश्त बढ़ाई जाए और समय समय पर इस गश्त का जायजा भी लिया जाए। इसके साथ ही जिन इलाकों में चोरी की घटनाएं हुई हैं, उस इलाके के बीट पुलिस अधिकारी से जवाबदेही मांगी जाए। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर ऐसी अपराधिक घटनाओं पर अंकुश नहीं लगाया गया तो इनेलो लोगों को साथ लेकर आंदोलन करने के लिए मजबूर हो जाएगी, जिसकी सारी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

Monday, January 16, 2017

विधायक नैना चौटाला ने रेलवे संबंधी मांगों को पूरा करवाने के लिए रेलवे मंत्री को लिखा पत्र

डबवाली, 16 जनवरी: डबवाली की विधायक नैना सिंह चौटाला ने डबवाली शहर की रेलवे से जुड़ी समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए रेलवे संबंधी मांगों को पूरा करवाने के पूरा प्रयास लगा दिए है। इस संबंध में विधायक नैना सिंह चौटाला ने बताया कि डबवाली हलके की दिक्क्कतें दूर करवाना ही उनका मकसद है। उन्होंने बताया कि रेलवे संबंधी कई मांगे उनके सामने आई है। जिस पर उन्होंने हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला व सिरसा के सांसद चरणजीत रोड़ी को भी मांगों से अवगत करवाया। जिसके बाद दोनों सांसद रेलवे मंत्री व मंत्रालय के उच्चाधिकारियों से भी मिलकर डबवाली की मांगों को पूरा करने की मांग की है। इसके अलावा सिरसा के सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी ने रेलवे मंत्री को पत्र लिखकर रेलवे संबंधी मांगे पूरी करने की मांग की है।
विधायक नैना सिंह चौटाला ने बताया कि उन्होंने स्वयं भी डबवाली की रेलवे संबंधी मांगों को लेकर रेलवे मंत्री सुरेश प्रभू व डी.आर.एम. बीकानेर मंडल को एक पत्र लिखा है जिसमें डबवाली रेलवे स्टेशन पर गाडिय़ों के ठहराव व अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने की मांग की गई है। पत्र में गाड़ी न. 19107 व 19108 जन्मभूमि एक्सप्रेस उधमपुर से अहमदाबाद, अहमदाबाद से उधमपुर  गाड़ी का डबवाली रेलवे स्टेशन पर 2 मिनट का ठहराव करवाए जाने, गाड़ी न. 19225-19226 भठिंडा से जम्मू तक जाने वाली गाड़ी को गंगानगर तक वाया डबवाली, हनुमानगढ, सादुलशहर तक बढाने, बीकानेर से दिल्ली सराय रौहल्ला जाने वाली गाड़ी को मलोट, अबोहर की बजाय वाया सादुलशहर, हनुमानगढ, डबवाली, भठिंडा से होकर दिल्ली चलाए जाने की भी मांग की गई है। मलोट, अबोहर साइड में कई चलती गाडिय़ां है। इसके अलावा मंडी डबवाली रेलवे स्टेशन के माल गोदाम को एफ..सी.आई. माल गोदाम के पास शिफट किए जाने का मुद्दा उठाया गया है। रेलवे स्टेशन के पास टावर को उतारने की मांग की गई है। इसके अलावा पत्र में कहा गया है कि रेलवे स्टेशन शहर के बीचों बीच है, इसलिए सारा दिन आम लोग व स्कूली बच्चे पैदल ही रेलवे टै्रक के उपर से गुजरते रहते है। जिससे आमजन व बच्चों को जान का जोखिम रहता है व कभी बड़ी घटना हो सकती है। इसलिए रेलवे ट्रैक के उपर से तुरंत प्रभाव से फुटब्रिज बनाया जाए। इसके अलावा रेलवे मंत्री से मांग की गई है कि पिछले कुछ समय से स्टेशन से रिर्जवेशन क्र्लक हटा दिया गया है। वहीं जनरल टिकट के लिए ही टिकट खिडक़ी पर भारी भीड़ रहती है। बुकिंग क्लर्क यू.टी.एस. टिकट ही दे पाता है। इसलिए दोबारा से रिर्जवेशन क्लर्क नियुक्त किए जाने की मांग की गई है। वहीं पत्र में रेलवे यात्रियों के लिए स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए रेलवे स्टेशन पर आर.ओ. सिस्टम लगाए जाने की भी मांग की गई है। इसके अलावा रेलवे पुल के नीचे बन रहे अंडरब्रिज पर आ रही समस्या का भी मुद्दा उठाया गया है। विधायक नैना सिंह चौटाला ने बताया कि रेलवे की इन मांगों को प्राथमिकता के आधार पर जल्द से जल्द पूरा करने की मांग की गई है।
23 फरवरी को इनेलो कार्यकर्ता पंजाब जाएंगे एसवाईएल खोदने के लिए - अशोक अरोड़ा

कुरुक्षेत्र 16 जनवरी: जलयुद्ध की तैयारी को लेकर हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला 18 जनवरी बुधवार को प्रात: 11 बजे स्थानीय जाट धर्मशाला में जिला इनेलो कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करेंगे। यह जानकारी इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कुरुक्षेत्र में पत्रकारों से बातचीत करते हुए दी। इस अवसर पर जिला प्रधान कुलदीप सिंह मुलतानी, रामकरण काला, हलका थानेसर प्रधान रणबीर सिंह किरमिच, पिहोवा हलका प्रधान कर्ण सिंह इशहाक, शाहाबाद हलका प्रधान अमनदीप सिंह कंबोज, लाडवा हलका प्रधान सुरेश सैनी, थानेसर शहरी प्रधान रामस्वरूप चोपड़ा, पिहोवा शहरी प्रधान अशोक गुप्ता, युवा इनेलो नेता जोगध्यान, युवा इनेलो जिला प्रधान सुनील राणा, प्रवीण पुजारा, राहुल पूनिया, तून खान, चंद्रभान बाल्मीकि, महिला प्रकोष्ठ जिला प्रधान सुरजीत कौर सहित पार्टी के अनेक पदाधिकारी उपस्थित थे। 
अशोक अरोड़ा ने कहा कि सतलुज यमुना लिंक नहर हरियाणा के लिए जीवन मरण का प्रश्न है। इनेलो ने इसे जलयुद्ध का नाम दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा व कांग्रेस  इस मामले को लेकर दोहरी नीति अपना रही है। प्रदेश और केंद्र में भाजपा की सरकार है, वहीं पंजाब में अकाली भाजपा गठबंधन सरकार है, लेकिन भाजपा के सभी नेता अलग अलग सुर में बोल रहे हैं। किसी ने भी हरियाणा के हिस्से का पानी दिलवाने के लिए गंभीर प्रयास नहीं किया। दुख की बात तो ये है कि दो महीने से अधिक का समय बीत गया, लेकिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल हरियाणा के सर्वदलीय शिष्टमंडल को प्रधानमंत्री से मिलवाने के लिए समय नहीं ले पाए। इसी प्रकार हरियाणा, पंजाब के कांग्रेसी नेता भी अलग अलग भाषा बोल रहे हैं और जनता को गुमराह कर रहे हैं।  इस मामले को लेकर पजांब व हरियाणा में केंद्र के कांग्रेसी नेता अलग अलग राग अलाप रहे हैं। उन्होंने बताया कि इनेलो ने 23 फरवरी को पंजाब में जाकर एसवाईएल खोदने का फैसला लिया है ताकि हरियाणा के हिस्से का पानी प्रदेश में लाया जा सके।  इसकी तैयारी को लेकर प्रदेश भर में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक आयोजित की जा रही हैं। इसी कड़ी में अभय चौटाला 18 जनवरी को कुरुक्षेत्र आ रहे हैं। इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री जनता को गुमराह कर रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ ने एसवाईएल का निर्णय हरियाणा के हक में दिया है और इस समय देश की किसी भी अदालत में एसवाईएल को लेकर कोई भी मामला लंबित नहीं है। अरोड़ा ने कहा कि भाजपा को हरियाणा के हितों से कोई वास्ता नहीं है। प्रधानमंत्री भी इस मामले को लेकर चुप्पी साधे हुए हैं।